DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, February 28, 2017

अप्रैल में होगी बीटीसी के पहले सेमेस्टर की परीक्षा, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय इलाहाबाद ने डायट से तलब किया सभी अभ्यर्थियों का विवरण

नए सत्र में बीटीसी प्रशिक्षण में शामिल अभ्यर्थियों के पहले सेमेस्टर की परीक्षा की तैयारियां तेज कर दी हैं। सत्र 2015 के पहले सेमेस्टर की परीक्षा अप्रैल में कराई जाएगी। परीक्षा के बाबत केंद्र निर्धारण एवं अन्य आवश्यक तैयारियों के लिए शासन ने डायट से ब्योरा तलब किया है।

बीटीसी सत्र 2015 में डायट और निजी संस्थानों में प्रवेश पाने वाले अभ्यर्थियों के पहले सेमेस्टर का आगाज सितंबर में हुआ था। इस सत्र में अब तक निजी संस्थानों व डायट में प्रशिक्षणरत अभ्यर्थियों की परीक्षा के बाबत तैयारियां तेज हो गई हैं। परीक्षा से पहले डायट और निजी संस्थानों में पंजीकृत समस्त अभ्यर्थियों का पूरा ब्योरा और प्रत्येक संस्थान में उपलब्ध संसाधनों की जानकारी सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय इलाहाबाद ने तलब की है। शासन ने डायट से निजी संस्थानों की मान्यता और उनमें आवंटित सीटों की संख्या और स्टाफ का विवरण मांगा है। शासन ने परीक्षा को 18 अप्रैल से कराने का प्रस्ताव भेजा है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय से निर्देश मिलने के बाद सत्र 2015 में दो दर्जन से ज्यादा कॉलेजों व डायट पर प्रशिक्षणरत सभी अभ्यर्थियों का विवरण संकलित किया जा रहा है। परीक्षा की प्रस्तावित तिथियां मिलने के बाद आवश्यक तैयारियां पूरी की जा रही हैं। डायट प्रवक्ता आरेंद्र चौहान ने बताया कि परीक्षा को लेकर केंद्र निर्धारण की प्रक्रिया जल्द पूरी कर ली जाएगी। सभी कॉलेजों से संख्यात्मक ब्योरा मांगा है। ब्योरा मिलने के बाद ही सही संख्या शासन को भेजी जाएगी।’

फर्जीवाड़े से परेशान अंबेडकर विवि ने उठाया बड़ा कदम, विवि मार्कशीट का अब ऑनलाइन वेरीफिकेशन, फर्जी सत्यापन का खेल होगा बन्द

फर्जीवाड़े के अंबेडकर विवि में बड़ा कदम उठाया गया है। विवि की मार्कशीट का अब ऑनलाइन वेरीफिकेशन (सत्यापन) होगा, इससे फर्जी सत्यापन नहीं हो सकेगा। सत्यापन के लिए छात्रों से अवैध वसूली नहीं हो सकेगी।
विवि के छात्रों की सरकारी और निजी कंपनी में नौकरी लगने पर मार्कशीट का सत्यापन कराया जाता है। मगर, पिछले कई सालों से मार्कशीट सत्यापन में बड़ा खेल चल रहा है। सरकारी विभागों से भेजी जा रही मार्कशीट का सत्यापन नहीं किया जा रहा था। इससे छात्र परेशान थे, उन्हें 10 से 15 हजार रुपये देकर सत्यापन कराना पड़ रहा था। इसकी रोकथाम के लिए कुलपति डॉ. अरिवंद दीक्षित के निर्देश पर ऑनलाइन वेरीफिकेशन शुरू कर दिया गया है। पीआरओ डॉ. गिरजा शंकर शर्मा ने बताया कि विवि की मार्कशीट का अब ऑनलाइन वेरीफिकेशन ही होगा। इसके लिए वेबसाइट डीबीआरएयूवेरीफिकेशन डॉट ओआरजी पर लॉग इन करना होगा। कंपनी और संस्थान ही मार्कशीट का वेरीफिकेशन करा सकेंगे।

एटा : चूल्हे पर मध्याह्न भोजन पका तो नपेंगे प्रधानाध्यापक, ज़िलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा विभाग की ली बैठक

 

बीएसए के आदेश के अनुपालन में बीईओ ने एनपीआरसी को दी संबद्धिकृत शिक्षकों से संपर्क कर संबंद्धिकरण निरस्त कराने की ज़िम्मेदारी, आदेश देखें

बीएसए के आदेश के अनुपालन में बीईओ ने एनपीआरसी को दी संबद्धिकृत शिक्षकों से संपर्क कर संबंद्धिकरण निरस्त कराने की ज़िम्मेदारी, आदेश देखें

रायबरेली : डायट प्रिंसिपल नियमों को ताक पर रख कर रही मनमानी, प्राइमरी के मास्टर से बीटीसी प्रशिक्षु को दिलवा रहीं प्रशिक्षण

रायबरेली : डायट प्रिंसिपल नियमों को ताक पर रख कर रही मनमानी, प्राइमरी के मास्टर से बीटीसी प्रशिक्षु को दिलवा रहीं प्रशिक्षण

बुलंदशहर : जिलामजिस्ट्रेट ने आदेश जारी कर चेटी चंद के अवकाश की तारीख में किया परिवर्तन, आदेश देखें

बुलंदशहर : जिलामजिस्ट्रेट ने आदेश जारी कर चेटी चंद के अवकाश की तारीख में किया परिवर्तन, आदेश देखें


9 हजार टीजीटी शिक्षकों की नियुक्ति की वैधता को चुनौती, बैगर टीईटी पास अभ्यर्थीयों की हो रही थी नियुक्ति, केवल एलटी ग्रेड के शिक्षकों की होगी नियुक्ति, हाईकोर्ट ने याचिका की निस्तारित


9 हजार टीजीटी शिक्षकों की नियुक्ति की वैधता को चुनौती, बैगर टीईटी पास अभ्यर्थीयों की हो रही थी नियुक्ति, केवल एलटी ग्रेड के शिक्षकों की होगी नियुक्ति, हाईकोर्ट ने याचिका की निस्तारित

महराजगंज : बीएसए ने आगामी विधानसभा चुनाव के चलते मतदान कर्मियों के लिए बनने वाले भोजन के दृष्टिगत विद्यालयों में पर्याप्त रसोई गैस की उपलब्धता सुनिश्चित करने के सम्बन्ध में दिया निर्देश

महराजगंज : बीएसए ने आगामी विधानसभा चुनाव के चलते मतदान कर्मियों के लिए बनने वाले भोजन के दृष्टिगत विद्यालयों में पर्याप्त रसोई गैस की उपलब्धता सुनिश्चित करने के सम्बन्ध में दिया निर्देश।

आगरा : विजलेंस की जाँच में गिरफ्तार बीईओ को गिरफ्तार करवाने वाले शिक्षक दम्पत्त्ति ABRC को डीएम आगरा के आदेश पर बीईओ ने ABRC पद से किया कार्यमुक्त, आदेश देखें

आगरा : विजलेंस की जाँच में गिरफ्तार खण्ड शिक्षा अधिकारी पूनम को गिरफ्तार करवाने वाले शिक्षक दम्पत्त्ति(ABRC) गण को डीएम आगरा के आदेश पर खण्ड शिक्षा अधिकारी ने ABRC पद से किया कार्यमुक्क्त, आदेश देखें



फतेहपुर :  चुनाव ड्यूटी न करने वाले शिक्षकों का माह फरवरी का वेतन रोके जाने के लिए वित्त एवं लेखाधिकारी  ने किया आदेश : देखे पूरी सूची और आदेश

फतेहपुर :  विधानसभा निर्वाचन 2017 में चुनाव ड्यूटी न करने वाले कार्मिकों बेसिक शिक्षकों का माह फरवरी का वेतन रोके जाने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी के आदेश पर वित्त एवं लेखाधिकारी  ने किया आदेश देखे पूरी सूची और आदेश।





रामपुर : दिनांक- 28/02/2017 को राष्ट्रीय कृमि दिवस आयोजित किए जाने के सम्बद्ध में निर्देश जारी, देखें

रामपुर : दिनांक- 28/02/2017 को राष्ट्रीय कृमि दिवस आयोजित किए जाने के सम्बद्ध में निर्देश जारी, देखें

एटा : दिनांक 28.02.2017 को "राष्ट्रीय कृमिमुक्ति दिवस" (नेशनल डी-वर्मिंग डे - NDD) मनाये जाने के सम्बन्ध में बीएसए द्वारा निर्देश जारी, आदेश देखें


 

महराजगंज : कक्षा 1 से 8 तक के विद्यालयों में तैनात रसोइया 3 एवं 4 मार्च को पोलिंग पार्टियों के लिए बनाएंगी भोजन

महराजगंज : कक्षा 1 से 8 तक के विद्यालयों में तैनात रसोइया 3 एवं 4 मार्च को पोलिंग पार्टियों के लिए बनाएंगी भोजन।

गोरखपुर : निर्वाचन 2017 को सुचारू रूप से सम्पन्न करवाने हेतु बीएसए ने जारी की विज्ञप्ति, रसोइयों को करना होगा भोजन और नाश्ते का प्रबन्ध, पूरा विज्ञप्ति देखें

गोरखपुर : निर्वाचन 2017 को सुचारू रूप से सम्पन्न करवाने हेतु बीएसए ने जारी की विज्ञप्ति, रसोइयों को करना होगा भोजन और नाश्ते का प्रबन्ध, पूरा विज्ञप्ति देखें

महराजगंज : 25, 26 एवं 27 फरवरी को मतदान कर्मियों के दूसरे प्रशिक्षण में अनुपस्थित कर्मियों से स्पष्टीकरण के साथ आज 28 फरवरी को प्रशिक्षण लेने के लिए मिलेगा एक और मौका

महराजगंज : 25, 26 एवं 27 फरवरी को मतदान कर्मियों के दूसरे प्रशिक्षण में अनुपस्थित कर्मियों से स्पष्टीकरण के साथ आज 28 फरवरी को प्रशिक्षण लेने के लिए मिलेगा एक और मौका।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार डिमोशन न करने पर जताई नाराजगी, तत्काल रिवर्ट किए जाने और वेतन फ्रीज किए जाने की मांग को लेकर बेसिक शिक्षा सचिव को लिखा पत्र

पदोन्नति में आरक्षण के आधार पर पदोन्नत शिक्षकों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार डिमोशन न करने पर जताई नाराजगी, तत्काल रिवर्ट किए जाने और वेतन फ्रीज किए जाने की मांग को लेकर बेसिक शिक्षा सचिव को लिखा पत्र।


शामली : शिक्षा का उजियारा फैला रहे नीरज, प्राथमिक विद्यालय में बढ़ाई शिक्षा की गुणवत्ता

शामली प्राथमिक विद्यालय का नाम सुनते ही जेहन में शिक्षा के नाम पर खानापूरी का ख्याल आता है। मिड डे मील और वजीफे के बीच शिक्षा की बदहाली सामने आती है। शामली के प्राथमिक विद्यालय नंबर दस के प्रधानाध्यापक नीरज गोयल इस प्रवृत्ति के खिलाफ लड़ रहे हैं। उनके स्कूल में छात्र संख्या के नाम पर खानापूरी नहीं होती है। वे अभिभावकों को प्रेरित करते हैं और शिक्षा की गुणवत्ता बनाने के लिए भरसक प्रयास करते हैं।

बाराबंकी : लंबे समय से गैरहाजिर दस शिक्षक बर्खास्त, नोटिस का जवाब न देने पर बीएसए ने लिया ऐक्शन


लंबे समय से गैरहाजिर दस शिक्षक बर्खास्त, नोटिस का जवाब न देने पर बीएसए ने लिया ऐक्शन

सीबीएसई की वेबसाइट पर ही स्कूलों से ऑनलाइन इंडेंट का होगा प्रबन्ध, स्कूलों को रखनी होंगी एनसीईआरटी की किताबें,


सख्ती
दूसरे प्रकाशकों की किताबें भी पाठ्यक्रम ढांचे के अनुरूप हों इसी तरह मंत्रलय यह भी सुनिश्चित करना चाहता है कि स्कूल परिसर में बेची और पढ़ाई जाने वाली दूसरे प्रकाशकों की किताबें भी राष्ट्रीय पाठ्यक्रम ढांचे के अनुरूप हों। इसके तहत सभी स्कूलों से कहा गया है कि वे अपने यहां पढ़ाई जा रही दूसरे प्रकाशकों की किताबें भी सीबीएसई के साथ साझा करें। सीबीएसई इन किताबों की समीक्षा करेगा।
निजी प्रकाशकों पर रोक नहीं, सस्ती सरकारी किताबों के अभाव का बहाना नहीं बना सकेंगे स्कूल

केंद्र सरकार ने तय किया है कि फिलहाल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से संबद्ध प्राइवेट स्कूलों में निजी प्रकाशकों की किताबों पर रोक तो नहीं होगी, लेकिन स्कूल के लिए एनसीईआरटी की किताबें भी रखना जरूरी होगा। इस तरह सरकार किसी किताब की बिक्री को प्रतिबंधित करने से भी बच जाएगी और निजी स्कूलों का यह बहाना नहीं चल सकेगा कि एनसीईआरटी की सस्ती किताबें उपलब्ध ही नहीं हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रलय ने लंबे विचार-विमर्श के बाद तय किया है कि निजी स्कूलों और प्रकाशनों की सांठ-गांठ को तोड़ने के लिए दोहरा रवैया अपनाया जाएगा। इस संबंध में मंत्रलय के एक वरिष्ठ सूत्र कहते हैं, ‘यह बहुत पेचीदा मामला है। आप स्कूल परिसर में किताबों पर ही प्रतिबंध लगा दें, यह ठीक नहीं। ऐसे में निजी प्रकाशकों की किताबों की बिक्री पर पाबंदी नहीं लगाई जा सकती। साथ ही अब तक एनसीईआरटी की किताबों की उपलब्धता को लेकर कुछ समस्या भी आती रही है। ऐसे में पहले एनसीईआरटी की किताबों के प्रकाशन और वितरण की व्यवस्था को पूरी तरह दुरुस्त किया गया है।’ 680 वितरकों के अलावा के एनसीईआरटी के प्रमुख विक्रय केंद्रों पर भी इन किताबों की उपलब्धता सुनिश्चित कर दी गई है। इसी तरह सीबीएसई की वेबसाइट पर ही स्कूलों से ऑनलाइन इंडेंट (खरीद की मांग) की व्यवस्था भी कर दी गई है। मंगलवार तक सीबीएसई स्कूलों की मांग स्वीकार करेगा। इसके बाद यह पूरा ब्योरा एनसीईआरटी को दे दिया जाएगा। इस तरह स्कूलों की ओर से अपनी हर कक्षा के लिए इन किताबों की खरीद सुनिश्चित की जा सकेगी। (फाइल फोटो)

लखीमपुर : शिक्षा में नवाचार के लिए बीईओ को मिलेगा नेशनल अवार्ड, आगामी सात मार्च को दिल्ली में मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा दिया जाएगा अवार्ड

आमतौर पर बेसिक शिक्षा को लेकर तमाम तरह के सवाल उठाए जाते रहे हैं, लेकिन पूर्व में यहां तैनात रहे इसी बेसिक शिक्षा महकमे के एक अफसर ने शैक्षिक वातावरण सुधारने के लिए अपनी नई सोच व मेहनत के बलबूते एक ऐसी अलख जगाई कि उसकी गूंज दिल्ली तक पहुंच गई। निघासन ब्लाक में अपनी तैनाती के दौरान खंड शिक्षा अधिकारी संजय शुक्ला द्वारा बेसिक शिक्षा के उत्थान के लिए किए गए उत्कृष्ट कार्यों को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। भारत सरकार ने इन्हीं कार्यों के लिए उनका नाम नेशनल अवार्ड के लिए चयनित किया है। आगामी सात मार्च को दिल्ली में आयोजित कार्यशाला में उन्हें यह अवार्ड प्रदान किया जाएगा। निघासन ब्लाक के सभी परिषदीय शिक्षकों ने नेशनल अवार्ड के लिए नाम चयनित होने पर श्री शुक्ला को बधाई दी है। आमतौर पर बेसिक शिक्षा महकमे में हमेशा संसाधनों का ही रोना रोया जाता रहता है, लेकिन पूर्व में जिले के पिछड़े ब्लाकों में शुमार निघासन में तैनात रहे खंड शिक्षा अधिकारी संजय शुक्ला ने इन्हीं सीमित संसाधनों में कुछ नया करने की सोंची। इसके पीछे उनकी सोच एकदम साफ थी। उनका मानना था कि अगर हम संसाधनों का रोना रोने के बजाय उपलब्ध संसाधनों का ही पूरी मेहनत से प्रयोग कर गांवों के परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को कुछ नया देने का प्रयास करें तो न केवल उनकी पढ़ाई के प्रति रूचि बढ़ेगी, बल्कि उनके भीतर छिपी हुई प्रतिभा को सामने लाने में भी काफी मदद मिलेगी। इसे उन्होंने एक चुनौती के रूप में लेने का बीड़ा उठाया। इसकी शुरुआत उन्होंने स्कूलों में सामान्य ज्ञान की प्रतियोगिताओं के आयोजन से की। पहले एक साथ सभी स्कूलों में एक ही समय पर सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें करीब 30 हजार से भी ज्यादा बच्चों ने प्रतिभाग किया। इसके बाद न्याय पंचायत स्तर पर और फिर ब्लाक स्तर पर। बाद में ब्लाक संसाधन केंद्र पर आयोजित एक समारोह में अच्छा प्रदर्शन करने वाले बच्चों को उपजिलाधिकारी द्वारा पुरष्कृत भी कराया गया। स्कूल स्तर पर एक साथ 30 हजार से भी ज्यादा बच्चों को प्रतियोगिता में सफलतापूर्वक प्रतिभाग कराना कोई आसान काम नहीं था, लेकिन यह खंड शिक्षा अधिकारी संजय शुक्ला का जुनून ही था जो उन्होंने इस असंभव कार्य को भी संभव करके दिखा दिया। उनका यह प्रयोग जनपद की अन्य ब्लाकों के लिए भी प्रेरणाश्रोत बना और कई जगह इसका क्रियान्वयन भी हुआ। इसके अलावा निघासन ब्लाक के हर परिषदीय स्कूल की दीवार पर उनके द्वारा लिखवाया गया एक स्लोगन भी काफी चर्चा में रहा। यह स्लोगन था उत्कृष्ट शिक्षा की राह पर निघासन। इस स्लोगन ने शिक्षकों को अपना काम ईमानदारी और जिम्मेदारी से करने के लिए प्रेरित करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। स्कूल पहंुचने पर हमेशा निगाह में पड़ने वाले इस स्लोगन ने शिक्षकों को कभी उनकी जिम्मेदारी से विमुख नहीं होने दिया। अभिवावकों ने भी इस अभियान की काफी सराहना की। एक जुनूनी खंड शिक्षा अधिकारी की अपने ब्लाक को उत्कृष्ट शिक्षा की राह पर आगे बढ़ाने की यह गूंज जिले से होते हुए पहले लखनऊ और फिर देश की राजधानी दिल्ली तक पहुंच गई। वहां न केवल उनके इन नवाचारों को व्यापक सराहना मिली बल्कि केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने 2016-17 के लिए उनका नाम नेशनल अवार्ड के लिए भी चयनित कर लिया। इसके लिए आगामी पांच मार्च से दिल्ली में मंत्रालय द्वारा शिक्षाविदों की एक तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। कार्यशाला के अंतिम दिन सात मार्च को खंड शिक्षा अधिकारी संजय शुक्ला को नेशनल अवार्ड प्रदान किया जाएगा। श्री शुक्ला इस समय बरेली जनपद में तैनात हैं। इस उपलब्धि पर निघासन ब्लाक के सभी शिक्षकों ने उन्हें बधाई दी है।

हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा की तैयारियां इन दिनों अंतिम चरण में, शिक्षा महकमे के अफसरों की भी परीक्षा

दुनिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा की तैयारियां इन दिनों अंतिम चरण में हैं। प्रदेश में परीक्षा केंद्रों का निर्धारण पूरा कर लिया गया है, लेकिन पूरी तरह से नकलविहीन परीक्षा कराने के इंतजाम सिर्फ दावों तक ही सीमित हैं। परीक्षा के प्रवेशपत्र ऑनलाइन देने एवं उस पर परीक्षा कार्यक्रम देकर इस बार बोर्ड ने आंशिक तौर पर ही सही तकनीक के साथ कदमताल तेज किया है। बोर्ड परीक्षाओं में केंद्र निर्धारण की प्रक्रिया पटरी पर नहीं आ रही है। इस बार भी मुख्यालय पर ही कंप्यूटर के जरिये केंद्र बनाने की तैयारी थी, लेकिन शासन ने अंत में पैर वापस खींच लिए। जिला विद्यालय निरीक्षकों पर ही भरोसा जताया गया है। नकल रोकने के तमाम दावे किए गए हैं, लेकिन परिषद से लेकर अफसरों तक में असमंजस बरकरार है, क्योंकि सिर्फ नियमों के दम पर नकल रोकना संभव नहीं है। प्रदेश के कुछ जिलों के गिने-चुने केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा लगाने का प्रयास हुआ, लेकिन इस संबंध में शासन की ओर से निर्देश जारी न होने से यह कदम चंद स्कूलों से आगे नहीं बढ़ सका। 2015 व 2016 की परीक्षाओं में भी यह योजना टांय-टांय फिस्स हो चुकी है। इस बार प्रदेश में डिबार विद्यालयों की संख्या में तेजी से कमी आई है। इसीलिए कुछ जिलों को छोड़कर केंद्र बनाने में ज्यादा वक्त नहीं लगा। 111413 विद्यालय बने परीक्षा केंद्र : ने इस बार 11413 विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया है। हालांकि इस बार करीब साढ़े सात लाख परीक्षार्थी पिछली बार की अपेक्षा घट गए हैं। इसके बाद भी परीक्षा केंद्रों की संख्या में उसके अनुरूप कमी नहीं आई है। इससे स्पष्ट है कि जिला विद्यालय निरीक्षकों ने चहेते स्कूलों को केंद्र बना दिया है। ऐसे में उन स्कूलों में नकल विहीन परीक्षा कराना खासी चुनौती होगी। इस बार 513 राजकीय कालेज, 3692 अशासकीय सहायता प्राप्त कालेज व 6208 वित्तविहीन कालेजों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। मूल्यांकन की चुनौती बरकरार : की प्रायोगिक परीक्षा इस बार भी दो चरणों में हुई। इसमें इंटर में तो बाहर के परीक्षक लगाए गए, लेकिन हाईस्कूल की परीक्षा आंतरिक मूल्यांकन के जरिए हुई। इसमें प्रधानाचार्य ने ही परिषद की वेबसाइट पर परीक्षार्थी के अंक दर्ज कराए हैं।’, बोर्ड परीक्षाओं में केंद्र निर्धारण की प्रक्रिया नहीं आ रही पटरी पर

Monday, February 27, 2017

अलीगढ : परिषदीय विद्यालयों के विभिन्न विषयों के 10-10 शिक्षक-प्रशिक्षण में रूचि रखने वाले शिक्षकों की सूची निर्धारित प्रारूप पर उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में डायट प्राचार्य ने जारी किया आदेश, प्रारूप सह आदेश यहाँ देखें

अलीगढ : परिषदीय विद्यालयों के विभिन्न विषयों के 10-10 शिक्षक-प्रशिक्षण में रूचि रखने वाले शिक्षकों की सूची निर्धारित प्रारूप पर उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में डायट प्राचार्य ने जारी किया आदेश, प्रारूप सह आदेश यहाँ देखें

रामपुर : सुप्रीम कोर्ट में पुनः पीठ के गठन के बाद होगी सुनवाई, समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष बोले भ्रमित ना हो समायोजित शिक्षक

रामपुर : सुप्रीम कोर्ट में पुनः पीठ के गठन के बाद होगी सुनवाई, समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष बोले भ्रमित ना हो समायोजित शिक्षक

बरेली : सभी उ0प्रा0वि0 में विज्ञान सम्बन्धी जागरूकता हेतु विज्ञान क्लब का गठन कर 28 फरवरी को विज्ञान दिवस का आयोजन करने हेतु बीएसए ने जारी किया आदेश, आदेश यहाँ देखें

बरेली : सभी उ0प्रा0वि0 में विज्ञान सम्बन्धी जागरूकता हेतु विज्ञान क्लब का गठन कर 28 फरवरी को विज्ञान दिवस का आयोजन करने हेतु बीएसए ने जारी किया आदेश, आदेश यहाँ देखें

बरेली : शैक्षिक सत्र 2016-17 में स्कूल चलो अभियान के अंतर्गत एक दिवसीय उपस्थिति अभियान सेमीनार के आयोजन हेतु विभिन्न व्यवस्था के लिए बीएसए ने किया समिति का गठन, आदेश देखें

बरेली : शैक्षिक सत्र 2016-17 में स्कूल चलो अभियान के अंतर्गत एक दिवसीय उपस्थिति अभियान सेमीनार के आयोजन हेतु विभिन्न व्यवस्था के लिए बीएसए ने किया समिति का गठन, आदेश देखें

रामपुर : 28 फरवरी को कृमिमुक्ति दवाई परिषदीय विद्यालय के अध्यापकों द्वारा ना खिलवाए जाने के सम्बन्ध में बीएसए ने सीएमओ को लिखा पत्र, पत्र यहाँ देखें

रामपुर : 28 फरवरी को कृमिमुक्ति दवाई परिषदीय विद्यालय के अध्यापकों द्वारा ना खिलवाए जाने के सम्बन्ध में बीएसए ने सीएमओ को लिखा पत्र, पत्र यहाँ देखें

महराजगंज : वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा ने सभी बीईओ को समस्त शिक्षकों/शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के आयकर आगणन प्रपत्र 6 मार्च तक प्रेषित करने का दिया निर्देश

महराजगंज : वित्त एवं लेखाधिकारी बेसिक शिक्षा ने सभी बीईओ को समस्त शिक्षकों/शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के आयकर आगणन प्रपत्र 6 मार्च तक प्रेषित करने का दिया निर्देश।

अलीगढ़ : जनपद के 711 परिषदीय स्कूलों में लगेंगे सोलर प्लांट, विद्यालयों में बिजली पानी की किल्लत दूर करने की कवायद

अलीगढ़ : जनपद के 711 परिषदीय स्कूलों में लगेंगे सोलर प्लांट, विद्यालयों में बिजली पानी की किल्लत दूर करने की कवायद

अलीगढ़ : परिषदीय स्कूलों में बच्चो को सिखाया जाएगा योग, डायट में शिविर लगाकर 300 शिक्षक किये जा चुके प्रशिक्षित

अलीगढ़ : परिषदीय स्कूलों में बच्चो को सिखाया जाएगा योग, डायट में शिविर लगाकर 300 शिक्षक किये जा चुके प्रशिक्षित

सीतापुर : अफसरों ने स्कूल से हटवाई विज्ञान किट, गड़बड़झाले की आशंका

अफसरों ने स्कूल से हटवाई विज्ञान किट, गड़बड़झाले की आशंका

परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने डायट प्राचार्यो को लिखा पत्र, 16 से 20 अप्रैल तक बीटीसी -15 की परीक्षा

परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने डायट प्राचार्यो को लिखा पत्र, 16 से 20 अप्रैल तक बीटीसी -15 की परीक्षा

फतेहपुर : चुनाव के चलते शैक्षिक कार्य में आए व्यवधान की भरपाई के लिए बीएसए ने सभी बीईओ को कियानिर्देशित, बचे समय में तेजी से पढ़ाई कराएं गुरुजी,

विधानसभा चुनाव के चलते सत्र परिवर्तन को लेकर चल रही उठा पटक शांत हो गई है। बेसिक शिक्षा में नया सत्र पहली अप्रैल से ही शुरू होगा। चुनाव के चलते शैक्षिक कार्य में आए व्यवधान की भरपाई के लिए बीएसए ने सभी बीईओ को निर्देशित किया है कि वह शेष बचे समय में तेजी से पढ़ाई करवाएं। जो पाठ पढ़ाने से छूटे हैं वह पढ़ाए जाएं और इसके बाद पूरे पाठ्यक्रम को दोहराने का प्लान तैयार करवाया जाए।

विधानसभा चुनाव के चलते बीते कई माह से तमाम जरूरी काम भी प्रभावित होते रहे हैं। खासकर एक माह से शैक्षिक कार्य बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। गुरुजी के चुनावी कामों में व्यस्त हो जाने के चलते वह चाह कर भी बच्चों को नहीं पढ़ा पाए। चुनावी जरूरत को पूरा करने के लिए दिखाए जा रहे हौव्वा के आगे उन्होंने पढ़ाई लिखाई कराने से पहले सरकारी काम को पूरा करने में ही भला समझा। आए दिन मतदेय स्थलों का निरीक्षण, उनकी प्रगति रिपोर्ट तैयार करने में शिक्षक-शिक्षिकाएं व्यस्त रहे।

इधर सुगबुगाहट होने लगी थी कि मौजूदा माहौल के चलते शिक्षा सत्र दोबारा जुलाई माह से शुरू हो सकता है। कारण कि अप्रैल माह में परीक्षाएं और फिर उनका मूल्यांकन तथा नई कक्षाओं में प्रवेश प्रक्रिया खासी भारी पड़ रही है। सत्र परिवर्तन की संभावनाओं पर शासन ने फिलहाल विराम लगा दिया है।

बीएसए विनय कुमार सिंह ने कहाकि शासन से अगर को दिशा निर्देश आएगा तो उसका पालन हम सभी को करना है। फिलहाल उन्होंने सभी खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह अपने ब्लाक क्षेत्र में पढ़ाई लिखाई पर पूरा ध्यान लगाए। जो पाठ्यक्रम अधूरा रह गया है उसे पूरा कराया जाए। इसके साथ पढ़ाए गए पाठों का रिवीजन कराया जाए।

लखनऊ : आरटीई के ऑफलाइन आवेदन आज से, बीएसए कार्यालय से मिलेंगे फॉर्म

राइट टु एजुकेशन के तहत शहर के निजी स्कूलों की 25% प्रतिशत सीटों पर दाखिले के लिए ऑफलाइन आवेदन 27 फरवरी से शुरू होंगे। इच्छुक अभिभावक सिटी स्टेशन स्थित बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय से फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं। अधिकारियों के मुताबिक एक से दो दिन में ऑनलाइन पोर्टल भी शुरू हो जाएगा।

बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी ने बताया कि कार्यालय में इसके लिए अलग से काउंटर बनाया गया है। फॉर्म पूरी तरह नि:शुल्क है। इसे संबंधित प्रमाणपत्रों की कॉपी लगाकर कार्यालय में ही जमा करना होगा। आरटीई से संबंधित जानकारी भी अभिभावकों को कार्यालय में मिलेगी। बच्चे का चयन होने के बाद फोन पर ही इसकी सूचना दी जाएगी।

विभाग की ओर से नहीं किया गया प्रचार

विभाग की ओर से इस बार ऑनलाइन आवेदन तो कर दिया गया है, लेकिन किस यूआरएल पर आवेदन करना है, उसका कोई प्रचार प्रसार नहीं किया गया। ऐसे में लोगों को पता ही नहीं है कि ऑनलाइन कहां आवेदन करना है।

Sunday, February 26, 2017

देवरिया : मतदान कार्मिकों के भोजन व्यवस्था के संबंध में आया आदेश , तदनुसार व्यवस्था करने हेतु अवश्य देखें यह महत्वपूर्ण आदेश

देवरिया : मतदान कार्मिकों के भोजन व्यवस्था के संबंध में आया आदेश , तदनुसार व्यवस्था करने हेतु अवश्य देखें यह महत्वपूर्ण आदेश

गोरखपुर : श्री अरविंदो सोसाइटी द्वारा प्रस्तावित 11 नवाचार में से एक को विद्यालय में लागू कराये जाने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी किये निर्देश , निर्देश देखें

गोरखपुर : श्री अरविंदो सोसाइटी द्वारा प्रस्तावित 11 नवाचार में से एक को विद्यालय में लागू कराये जाने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी किये निर्देश, निर्देश देखें