DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Saturday, April 29, 2017

फिरोजाबाद : बगैर मान्यता एवं अवैध कक्षाएं संचालन के संबंध में जिलाधिकारी का सख्त कदम, ढाई दर्जन स्कूलों पर मुकदमे की तैयारी

लार्ड एमएस स्कूल पचोखरा में मान्यता कक्षा आठ तक है, लेकिन कक्षा नौ एवं दस में भी स्कूल ने प्रवेश ले रखे हैं। पिछले दिनों जांच के दौरान एमएस स्कूल जैसे ढाई दर्जन से ज्यादा स्कूल विभाग ने पकड़े हैं। स्कूलों को सात दिन के अंदर अमान्य कक्षाओं को बंद करने का आदेश दिया है। सात दिन बाद विभाग फिर से जांच कराएगा तथा अमान्य कक्षाएं बंद न करने वाले स्कूलों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

जिले में बगैर मान्यता एवं अवैध कक्षाएं संचालन के संबंध में जिलाधिकारी नेहा शर्मा एवं शिक्षा विभाग को पिछले दिनों से शिकायतें मिल रहीं थी। इन शिकायतों के बाद जिला विद्यालय निरीक्षक रवींद्र सिंह ने इन स्कूलों की जांच कराई। स्कूलों की जांच के दौरान विभाग को टूंडला, शिकोहाबाद, नारखी क्षेत्र में 31 स्कूल अवैध रूप से संचालित होते मिले। इनमें कई स्कूलों के पास मान्यता नहीं थी तो कई स्कूल ऐसे हैं जिनमें मान्यता से उच्च स्तर की कक्षाएं संचालित हो रही हैं। जिविनि रवींद्र सिंह ने इन स्कूलों को नोटिस जारी करते हुए सात दिन का अल्टीमेटम दिया है। एक सप्ताह में कक्षाएं बंद करने के आदेश देते हुए कहा है स्कूल भविष्य में उच्च स्तर की कक्षाएं संचालित न करने का शपथ पत्र सौंपे। अमान्य कक्षाओं को बंद न करने पर स्कूलों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। 1बगैर मान्यता के संचालित हो रहे हैं स्कूल : भगवान सिंह उमावि स्कूल वामई, एसबीेएल हायर सेकेंड्री स्कूल खैरगढ़, प्रभात पब्लिक स्कूल खैरगढ़, केपी जूनियर हाईस्कूल खैरगढ़, सरस्वती ज्ञान मंदिर खैरगढ़, वारेलाल जूनियर हाईस्कूल खैरगढ़, चंद्रशेखर आजाद जूनियर हाईस्कूल शेखूपुरा खैरगढ़, गुलारी जूनियर हाईस्कूल प्रतापपुर फीरोजाबाद, छत्रपति शिवाजी शिक्षा निकेतन मक्खनपुर नवादा, मां महारानी स्कूल नवादा, वीणा वादिनी स्कूल बरामई, एकता शिक्षण संस्थान जिजौली, मॉर्डन पब्लिक स्कूल विजयपुरा, मां वादमी स्कूल जेबड़ा चौराहा मक्खनपुर, अवंतीबाई स्कूल विजयपुरा फीरोजाबाद, ठार गोला माधवन सिंह स्कूल ठारबल्दी, श्रीमती शांतीदेवी स्कूल ठार तुलसी रसूलाबाद, श्रीमुरारीलाल मैमोरियल स्कूल रसूलाबाद, मीरा देवी स्कूल रसूलाबाद, श्रीमती प्रेमादेवी गदलपुरा रसूलाबाद, गो¨वद बिहारी स्कूल बजहेरा रसूलाबाद, ओमवती देवी स्कूल गाडन भीकनपुर बजहेरा, ओसपाल स्कूल धीरपुरा, जनवेद स्कूल कुर्रा टूंडला, लार्ड एमएस स्कूल पचोखरा, महर्षि दयानंद स्कूल डेरा बंजारा कोटकी टूंडला, सालिगराम विद्या मंदिर कोटकी टूंडला, आरपीएस स्कूल शिवपुरी कॉलोनी गली नंबर तीन एटा रोड टूंडला, जीएस पब्लिक स्कूल छरी छप्पर चौराहा, राधाकृष्ण किसान स्कूल घाघऊ शिकोहाबाद।

कई बार हुआ है हंगामा : कक्षा आठ तक मान्यता प्राप्त स्कूलों द्वारा हाईस्कूल एवं इंटर के छात्रों को दूसरे स्कूलों से संबंद्ध कराया जाता है। कई बार स्कूलों के बीच समन्वय न बैठने पर बच्चे परीक्षा में नहीं बैठ पाते। इस पर पूर्व में जिले में हंगामे भी हुए हैं।

No comments:
Write comments