DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Friday, June 9, 2017

प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में प्राचार्य के 284 पदों का विज्ञापन जारी, अभ्यर्थियों के लिए आवेदन शुल्क तीन हजार रुपये तय

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग इलाहाबाद ने स्नातक व परास्नातक कॉलेजों में प्राचार्य के पदों पर नियुक्ति का विज्ञापन जारी कर दिया है। प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में 284 पदों पर चयन के लिए आवेदन आमंत्रित किये गए हैं। पिछले सप्ताह ही आयोग ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद प्राचार्य के पदों का विज्ञापन निकालने का निर्णय लिया था, उसका गुरुवार को अनुपालन हो गया है।

आयोग की ओर से जारी विज्ञापन में परास्नातक कॉलेजों में पुरुषों के लिए खाली पदों की संख्या 159 व महिला के लिए 37 है, जबकि स्नातक कॉलेज में पुरुष के लिए खाली पदों की संख्या 71 व महिला के लिए 17 है। इसके अलावा विधि और बीएड महाविद्यालयों के लिए भी कुल छह पद घोषित हैं, इनमें पुरुष अभ्यर्थी महिला पदों के लिए अर्ह नहीं है, वहीं महिला अभ्यर्थी स्नातक व परास्नातक कॉलेजों में महिला के साथ रिक्त पुरुष के पदों के लिए भी आवेदन कर सकती हैं।

इच्छुक अभ्यर्थी वेबसाइट 666.4स्रँी2ङ्घल्ल’्रल्ली.्रल्ल पर क्लिक करके आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की अंतिम तारीख 13 जुलाई निर्धारित है, वहीं एकेडमिक परफार्मेश इंडिकेटर प्रोफार्मा साक्ष्यों के साथ आयोग में प्राप्ति की अंतिम तारीख 13 अगस्त तय की गई है। आयोग की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि अभ्यर्थियों की आयु एक जुलाई 2016 को 62 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। आयोग ने अभ्यर्थियों के लिए आवेदन शुल्क तीन हजार रुपये तय किया है। यह धनराशि सामान्य व अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए है तथा अनुसूचित जाति व जनजाति के लिए दो हजार रुपये शुल्क निर्धारित है। यही नहीं बताया गया है कि निदेशक उच्च शिक्षा द्वारा उपलब्ध कराये गये अधियाचन में प्राचार्य पदों पर क्षैतिज आरक्षण व श्रेणीवार आरक्षण शून्य है।

No comments:
Write comments