DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Saturday, July 29, 2017

रामपुर : स्कूल बंद करने वाले शिक्षकों पर होगी कार्यवाही, शिक्षा प्रेरक खोलेंगे बंद स्कूल

स्कूल बंद करने वाले शिक्षकों पर होगी कार्रवाई

स्कूल बंद करने वाले शिक्षकों पर होगी कार्रवाई

शिक्षा प्रेरक खोलेंगे बंद स्कूल


रामपुर निज संवाददातास्कूल बंद करने वाले शिक्षक-शिक्षामित्रों पर विभाग ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। जिला बेसिक शिक्षाधिकारी ने बंद स्कूलों की संख्या मांगी है, जिनके संबंधित शिक्षकों पर कार्रवाई की जाएगी। समायोजन रद्द होने के बाद शिक्षामित्र स्कूल नहीं जा रहे हैं। वे हर रोज आंदोलन कर रहे हैं। शिक्षामित्रों ने स्कूलों में ताला जड़ दिया है। जनपद में शिक्षामित्रों की हड़ताल से लगभग दो सौ स्कूल बंद हैं। बंद स्कूलों के बच्चे नहीं पढ़ पा रहे हैं और वापस लौट रहे हैं। ग्रामीण और प्रधान बंद स्कूलों की जानकारी बीएसए और खंड शिक्षाधिकारी को दे रहे हैं। इस पर बीएसए ने बंद स्कूलों की जानकारी जुटाई है। सभी बीईओ से बंद स्कूलों की जानकारी मांगी है। बंद स्कूलों के संबंधित शिक्षक या शिक्षामित्रों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

बंद स्कूलों की जानकारी जुटाई जा रही है। जिले में एक भी स्कूल बंद नहीं रहने दिया जाएगा। इनसे संबंधित शिक्षकों पर कार्रवाई की जाएगी। -सर्वदानंद, बीएसए

बंद स्कूलों की जानकारी जुटाई जा रही है। जिले में एक भी स्कूल बंद नहीं रहने दिया जाएगा। इनसे संबंधित शिक्षकों पर कार्रवाई की जाएगी। -सर्वदानंद, बीएसए

बेसिक शिक्षा विभाग ने शिक्षामित्रों का विकल्प खोज लिया है। साक्षरता मिशन में काम कर रहे शिक्षा प्रेरकों से स्कूल खुलवाने की तैयारी की जा रही है। जिले में दो सौ से अधिक स्कूल बंद हैं। इन स्कूलों को खोलने के लिए शिक्षा प्रेरकों पर नजर गई है। वे भी विभाग के मानदेय कर्मचारी हैं और साक्षरता मिशन में काम कर रहे हैं।
बेसिक शिक्षा विभाग ने शिक्षामित्रों का विकल्प खोज लिया है। साक्षरता मिशन में काम कर रहे शिक्षा प्रेरकों से स्कूल खुलवाने की तैयारी की जा रही है। जिले में दो सौ से अधिक स्कूल बंद हैं। इन स्कूलों को खोलने के लिए शिक्षा प्रेरकों पर नजर गई है। वे भी विभाग के मानदेय कर्मचारी हैं और साक्षरता मिशन में काम कर रहे हैं।

No comments:
Write comments