DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, July 31, 2017

गाजीपुर : आज शाम शासन और संगठन के प्रदेश नेतृत्व से होने वाली वार्ता पर टिकी हैं नजरें, मौखिक दबाव पर नहीं झुकेंगे शिक्षामित्र


आक्रोश
शिक्षामित्र हैं तनाव में

शिक्षामित्र घायल
उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ मरदह ब्लाक अध्यक्ष कल्पनाथ यादव लंका अंधऊ बाइपास मार्ग पर आसमानी चक के पास सड़क दुर्घटना में घायल हो गए। वह विकास भवन में चल रहे धरने में शामिल होने आ रहे थे। आनन-फानन में उन्हें जिला अस्पताल लाया गया। यहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बीएचयू ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा सहायक शिक्षक पद पर समायोजन रद करने के बाद ित शिक्षामित्रों का धरना पांचवे दिन रविवार को भी जारी रहा। पांचवें दिन शिक्षामित्रों ने धरना स्थल विकास भवन में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। उन्होंने मामला हल होने तक धरना प्रदर्शन जारी रखने का संकल्प दोहराया।

उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष रामप्रताप सिंह यादव ने कहा कि यह हमारे जीवन की सबसे महत्वपूर्ण लड़ाई है और किसी को भी हिम्मत नहीं हारना है। संघर्ष के बल पर सरकार को इतना मजबूर कर देना है कि वह हमारी मांग पूरी करने पर विवश हो जाए। सरकार अधिकारियों के माध्यम से हम लोगों पर स्कूल जाने के लिए दबाव बना रही है, लेकिन मौखिक दबाव से शिक्षामित्र नहीं झुकेंगे। किसी लिखित आदेश के बाद ही हम लोग विद्यालय में लौटेंगे। यह शिक्षामित्रों के जीवन मरण का प्रश्न है।

आदर्श समायोजित शिक्षक संघ वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष अशोक राय ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के पांच दिन बाद भी सरकार द्वारा कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है। यह उसकी उदासीनता की पराकाष्ठा है। इसे शिक्षामित्र किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। कहा कि सोमवार की शाम प्रदेश नेतृत्व और शासन से वार्ता होनी है, इसमें प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र शाही सहित अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे। शिक्षामित्र इस समय गंभीर तनाव में चल रहे हैं। धरने में छोटेलाल यादव, रामानंद, अर¨वद राय, संजय, अंबिका दुबे, दुर्गेश प्रताप सिंह, विकास, संतोष राय, रामप्रताप, अजय राय, अनीता, ¨डपल, सरिता, माया साहू, राजेश यादव, अरूण, कैलाश अमित, अर¨वद, राजेश, प्रमिला, नाजिया आदि शामिल रहीं

।विकास भवन परिसर में अर्ध वस्त्र में प्रदर्शन करते शिक्षामित्र

अपनी मांगों को लेकर पांचवे दिन भी दिया धरना

सरकार पर लगाया लापरवाही करने का आरोप

No comments:
Write comments