DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, July 3, 2017

महराजगंज : कामन सर्विस सेंटर के संचालकों की शिथिलता के कारण परिषदीय स्कूलों के लगभग दो लाख बच्चों का आधार कार्ड पंजीकरण अब तक नहीं

महराजगंज : जिले के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय में पंजीकृत लगभग दो लाख 64 हजार बच्चों में से अब तक दो लाख बच्चों का आधार नहीं बन सका है। विभाग द्वारा बच्चों का आधार बनाने के लिए कामन सर्विस सेंटरों को जिम्मेदारी दी गई थी, मगर ज्यादातर सेंटर संचालकों द्वारा गंभीरता न दिखाने के कारण बच्चे इससे वंचित हो गए। अवशेष दो लाख बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए विभाग द्वारा फिर से प्रयास किया जा रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग ने परिषदीय विद्यालयों में होने वाले नामांकन में फर्जीवाड़ा रोकने के लिए जिले के सभी 12 ब्लाकों के परिषदीय विद्यालयों में पंजीकृत कुल दो लाख 64 हजार 216 छात्र-छात्रओं का आधार कार्ड बनवाने की योजना बनाई थी। योजना के तहत सभी परिषदीय विद्यालयों के बच्चों का विद्यालय स्तर पर आधार कार्ड बनवाया जाना था। आधार कार्ड बनवाने का जिम्मा कामन सर्विस सेंटर को सौंपा या था। कुछ कामन सेंटरो ने तो काम करते हुए बच्चों के आधार कार्ड बनाने में रूचि दिखाई, मगर ज्यादातर सेंटर संचालकों द्वारा ध्यान न दिए जाने से लगभग दो हजार स्कूली बच्चों का अब तक आधार नहीं बन सका। आधार से वंचित लगभग दो लाख से अधिक बच्चों के आधार को बनवाने के लिए विभागीय स्तर से फिर से प्रयास शुरू किए गए हैं।

बच्चों को आधार से जोड़ने का फिर से किया जा रह प्रयास- बीएसए :

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश प्रसाद शुक्ल ने कहा कि बच्चों को आधार से जोड़ने के लिए फिर से प्रयास किए जा रहे हैं। अब एक विद्यालयों पर आस-पास के बच्चों को भी बुलवा कर उनके आधार कार्ड को बनवाने का प्रयास किया जाएगा।

सीएससी संचालकों की लापरवाही से नहीं बन सका आधार :

बच्चों को आधार से जोड़ने के लिए विभाग बना रहा नई व्यवस्था अब तक बना है महज 36 हजार बच्चों का आधार सूत्रों के मुताबिक कामन सर्विस सेंटर के संचालकों द्वारा पूरे जिले में अब तक सिर्फ 36 अजार बच्चों का आधार कार्ड बनाया गया है। सेंटर संचालकों की लापरवाही का ही नतीजा है कि अब तक दो लाख बच्चे आधार से नहीं जुड़ पाए। 

आज से सीएचसी संचालक फिर से बनाएंगे आधार : 

डीओ एनआइसी जिला सूचना विज्ञान अधिकारी मनोज कुमार ने कहा कि कामन सर्विस सेंटर के संचालकों को स्कूली बच्चों के आधार को अविलंब बनाने का निर्देश दे दिया गया है। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक सोमवार से संचालक चिह्न्ति स्कूलों पर पहुंच कर आधार बनाने का कार्य करेंगे।


No comments:
Write comments