DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, August 8, 2017

बच्चों के साथ मारपीट/दुर्व्यवहार पर स्कूल प्रबंधन के विरुद्ध होगी कार्यवाही, आरोप सिद्ध होने पर रद्द होगी स्कूल की मान्यता

जासं, इलाहाबाद
बच्चों के खिलाफ किसी भी प्रकार की हिंसा सिद्ध होने पर स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सीधी कार्रवाई की जा सकती है। फाफामऊ स्थित रुद्र प्रयाग विद्या मंदिर में छात्र-छात्रओं से मारपीट की घटना को संज्ञान में लेते हुए शिक्षा विभाग में यह फैसला किया है। बेसिक शिक्षा विभाग उस विद्यालय के प्रबंधक-प्रधानाचार्य के खिलाफ सीधी कार्यवाई करेगा। यहां तक कि मान्यता को रद करने की संस्तुति भी की जा सकती है।


फाफामऊ स्थित रुद्र प्रयाग विद्यालय में विद्यालय प्रबंधक द्वारा छात्र की बेरहमी से पिटाई के बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया है। बेसिक शिक्षा विभाग इस दिशा में कड़े कदम उठाने का फैसला किया है। शिक्षा विभाग के नियमों के अनुसार शिक्षक को बच्चों को पीटना या र्दुव्‍यवहार महंगा पड़ सकता है। बच्चों से ऐसा व्यवहार करने पर साल तक के लिए जेल की सजा का प्रावधान है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुशवाहा का कहना है फाफामऊ की घटना शिक्षा विभाग के लिए चिंता का विषय है। इसके पहले भी सेंट जोसफ कालेज में वाइस प्रिंसिपल द्वारा छात्र को मारने की घटना ने पूरे शहर का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया था। ताजा घटना विद्यालयों की व्यवसायिकता को दर्शाती हैं। भविष्य में अगर जांच में मामला सिद्ध होता है तो विद्यालय की मान्यता रद करने संस्तुति शिक्षा विभाग कर सकता है। सहायता प्राप्त एवं निजी विद्यालयों में शिक्षकों को अब शिक्षा के अधिकार के अधिनियम की जानकारी सत्र शुरू होते ही प्रदान कर दी जाएगी।


आज से शुरू होगी जांच, दर्ज होंगे बयान :
फाफामऊ स्थित रूद्र प्रयाग विद्यालय में छात्र के साथ हुई क्रूरता के व्यवहार की जांच मंगलवार से शुरू होगी। जिला प्रशासन द्वारा गठित कमेटी शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ विद्यालय में जाकर बयान दर्ज करेगी। जांच के आधार पर मान्यता और प्रबंधक के खिलाफ जांच होगी। जांच में मुख्य बिंदु प्रबंधक का क्रूर व्यवहार एवं बिना मान्यता के कक्षा 9 से 12 तक के संचालन आदि की जांच प्रमुखता से होगी। जिलाधिकारी के आदेश पर गठित कमेटी जल्द ही घटना की रिपोर्ट तैयार कर शासन को सौंपेगी। प्रदेश बाल संरक्षण आयोग ने इस दिशा में रिपोर्ट तलब की है।
रूद्र प्रयाग विद्या मंदिर स्कूल।प्रिसिंपल सत्येंद्र द्विवेदी।


प्रिंसिपल की तलाश में इलाहाबाद प्रतापगढ़ में दबिश फाफामऊ, इलाहाबाद :
छात्रों को बेरहमी से पीटने वाले रूद्र प्रयाग विद्या मंदिर के प्रिसिंपल सत्येंद्र द्विवेदी की तलाश में सोमवार को भी ताबड़तोड़ छापामारी की गई। मनगढ़ प्रतापगढ़, सोरांव और शहर के सिविल लाइंस इलाके में दबिश दी लेकिन वह पकड़ में नहीं आ सका। सोमवार को स्कूल बंद था, वहां भी फोर्स तैनात की गई है। एसओ सोरांव सत्येंद्र सिंह ने सोमवार को संभावित स्थानों पर दबिश दी। प्रिंसिपल का पुश्तैनी घर प्रतापगढ़ के मनगढ़ में है, ऐसे में पुलिस टीम मनगढ़ पहुंची वहां पूछताछ के बाद सोरांव और सिविल लाइंस में दबिश दी गई। कुछ सुराग मिला है, अब पुलिस प्रिंसिपल के करीबियों से पूछताछ कर रही है। दो छात्रों को पीटने के मामले में फाफामऊ स्थित रूद्र प्रयाग विद्या मंदिर के प्रिसिंपल सत्येंद्र द्विवेदी के खिलाफ सोरांव थाने में धारा 74, 75, 82,66, आइपीसी किशोर न्याय अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत है।

No comments:
Write comments