DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, August 1, 2017

शिक्षामित्रों का विरोध प्रदर्शन पांचवे दिन भी जारी, बीजेपी को याद दिलाया घोषणा पत्र

शिक्षामित्रों का विरोध प्रदर्शन पांचवें दिन भी जारी
जिला मुख्यालय पर धरना दे रहे शिक्षा मित्रों से मिलने पहुंचे बीजेपी के विधायक बैजनाथ रावत व शरद अवस्थी को सौंपा गया चुनावी घोषणा पत्र।•एनबीटी, बाराबंकी : समायोजन निरस्त होने के विरोध में शिक्षामित्रों का आंदोलन जारी है। जिला मुख्यालय पर पांचवें दिन भी करीब 3300 शिक्षामित्र जमे रहे। प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने पहुंचे बीजेपी विधायक बैजनाथ रावत व शरद अवस्थी को प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी का घोषणा पत्र सौंपते हुए चुनाव के दौरान किया गया वादा याद दिलवाया।

शिक्षामित्रों ने विधायकों को घोषणा पत्र सौंपते हुए याद दिलाया कि चुनाव के दौरान बीजेपी ने सरकार बनने पर तीन माह में समाधान का वादा किया था। जबकि सरकार बनने के बाद बेरोजगार कर दिया गया। बातचीत के दौरान विधायकों ने चुनाव के दौरान किए गए वादे पूरे करने का आश्वासन देते हुए बताया कि सीएम जल्द ही फैसला लेंगे। शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार वर्मा व राजबीर सिंह पटेल ने कहा कि न्याय मिलने तक आंदोलन जारी रहेगा।

उधर, दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ की जिला इकाई का गन्ना कार्यालय परिसर में धरना जारी रखा। जिलाध्यक्ष रामधन यादव के नेतृत्व में चल रहे धरने में महिला इकाई अध्यक्ष बरखा रानी वर्मा, अखिलेश कुमार वर्मा, संजय कुमार वर्मा, विकास कुमार, प्रदीप कुमार वर्मा, सुशील कुमार, यदुवीर सिंह, प्रमोद यादव, रामसरन मौर्य, कामिनी देवी मौजूद रहे। इस दौरान कानून बनाकर समायोजन का रास्ता साफ करने की मांग उठाई गई।

स्कूलों में लटकते रहे ताले : शिक्षामित्रों के स्कूल न जाने से बाराबंकी में दो सौ से अधिक स्कूलों में सोमवार को भी ताले लटकते रहे। त्रिवेदीगंज में 25 स्कूल न खुलने से बच्चे लौटने को विवश हुए।

आदर्श शिक्षा मित्र वेलफेयर असोसिएशन के ब्लॉक अध्यक्ष जयशंकर वर्मा ने बताया कि ज्यादातर स्कूल बंद पड़े हैं। वहीं, एबीएसए रामकुमार द्विवेदीने सारे स्कूल खुलने का दावा करते हुए बताया कि चाभी न मिलने से कुछ स्कूल नहीं खुल सके। हालांकि वहां के बच्चों को आसपास के स्कूलों में पढ़ाया जा रहा है।

No comments:
Write comments