DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, August 28, 2017

अमरोहा : अब कप्तान साहब पढ़ाएंगे क ख ग, एसपी ने प्राइमरी स्कूल लिया गोद, सप्ताह में लेंगे एक क्लास

अभिषेक कुमार’ अमरोहा1अपराधियों को कानून का पाठ पढ़ाने वाले पुलिस कप्तान अब गुरुजी की भूमिका में नजर आएंगे। परिषदीय स्कूल में वह बच्चों को ‘क ख ग..’ पढ़ाएंगे। सरकारी स्कूलों और शिक्षा के प्रति लोगों को प्रेरित करने के लिए उन्होंने यह फैसला लिया है। उनकी इस अनूठी पहल का स्वागत करते हुए बेसिक शिक्षा विभाग ने जोया ब्लाक के ग्राम रामपुर घना प्राथमिक विद्यालय उन्हें गोद दे दिया है। 1प्राथमिक विद्यालयों में कई शिक्षकों द्वारा शिक्षण व्यवस्था को लेकर बरती गई लापरवाही के चलते अधिकांश लोगों का इन स्कूलों से मोह भंग हो गया है। यही वजह है कि गरीबी में जीवन-बसर करने वाले भी अपने बच्चों को कान्वेंट स्कूलों में ही दाखिला दिलाने को प्राथमिकता देते हैं। परिषदीय स्कूलों की खोई साख वापस दिलाने को सरकार से लेकर शिक्षा विभाग तरह-तरह के जतन कर रहा है। ऐसे में कुछ पुलिस व प्रशासनिक अफसर भी इसमें अहम भूमिका निभा रहे हैं। ऐसे अफसरों की फेहरिस्त में अमरोहा के पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र भी शामिल हो गए हैं। 1उन्होंने बीएसए से बात कर अमरोहा के एक ऐसे प्राइमरी स्कूल को गोद देने को कहा जिसमें बच्चों की संख्या पर्याप्त हो। इस पर बीएसए ने उन्हें एसपी आफिस के नजदीक ही रामपुर घना प्राइमरी विद्यालय का नाम सुझाया है। 1अब पुलिस अधीक्षक सप्ताह में कम से कम एक बार इस स्कूल में जाकर विद्यार्थियों से बातचीत करेंगे और उनमें पढ़ाई के प्रति ललक पैदा करेंगे। एसपी ने बताया कि इसी सप्ताह से वह पढ़ाने की प्रक्रिया शुरू कर देंगे।1’>>एसपी ने जोया ब्लाक के रामपुर घना प्राइमरी स्कूल को लिया गोद 1’>>सप्ताह में लेंगे एक क्लास, शिक्षा के प्रति अभिभावकों को भी करेंगे प्रेरितप्रमुख सचिव से मिली नसीहत1हाल ही में दौरे पर अमरोहा आईं प्रमुख सचिव अनीता सिंह ने पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को नसीहत देते हुए कहा था कि वह अपने मूल काम के इतर सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन करें। समाज के निचले तबके में पैठ बनाने से इन लोगों की समस्याओं की जड़ का पता लगाया जा सकता है। एसपी ने बताया कि इसके बाद प्राथमिक विद्यालय के बच्चों के बीच कुछ सकारात्मक समय व्यतीत करने का ख्याल आया।1प्राथमिक स्कूल में पहुंचकर सप्ताह में कम से कम एक घंटा समय बिताने का फैसला किया है। इस दौरान बच्चों की जिज्ञासाओं को शांत करने के साथ ही उनमें शिक्षा के प्रति और ललक पैदा करने का प्रयास करेंगे। इससे मुङो भी संतुष्टि मिलेगी। 1संतोष कुमार मिश्र, पुलिस अधीक्षक1पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने प्राथमिक विद्याल में पढ़ाने की इच्छा जताई थी। ऐसे में उनके इस सार्थक पहल को गंभीरता से लेते हुए जोया ब्लाक के रामपुर घना प्राथमिक विद्यालय का चयन किया गया है।1गौतम प्रसाद, बीएसए।

No comments:
Write comments