DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, September 17, 2017

हरदोई : राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की तरफ से हुई व्यवस्था, मोबाइल पर भी पढ़ सकेंगे परिषदीय विद्यालयों की पुस्तकें,

परिषदीय विद्यालयों में भले ही सभी विषयों की किताबें न पहुंच पाई हों लेकिन अब वेबसाइट पर हर किताब उपलब्ध रहेगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने सर्व शिक्षा अभियान के तहत खास योजना बनाई है।

कक्षा एक से आठ तक के सभी पाठ्य पुस्तकों का डिजिटलाइजेशन तक इ-बुक तैयार की गई है। जिसे कंप्यूटर या लैपटॉप आदि पर आसानी से पढ़ा जा सकेगा। विभाग का मानना है कि बच्चों के पास को किताबें हैं लेकिन शिक्षण कार्य के लिए अध्यापकों की तैयारी के लिए लाभकारी साबित होगी।शिक्षा का आधुनिकीकरण किया जा रहा है। सीबीएससी बोर्ड या अन्य अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों की ज्यादातर पाठ्य पुस्तकें वेबसाइट पर मौजूद रहती हैं। जिन्हें जरूरत पड़ने पर कोई भी व्यक्ति आसानी से पढ़ सकता है। उसी तर्ज पर परिषदीय विद्यालयों के लिए भी खास व्यवस्था की गई है। अब परिषदीय विद्यालयों की सभी कक्षाओं की प्रचलित पाठ्य पुस्तकें वेबसाइट पर मौजूद रहेंगी। बेसिक शिक्षा निदेशक के हवाले से संयुक्त निदेशक सर्व शिक्षा अभियान ने इस संबंध में प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों से लेकर अन्य अधिकारियों को पत्र जारी किया है। निदेशक ने बताया कि राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की तरफ से यह व्यवस्था की गई है। जोकि काफी लाभकारी होगी। वैसे देखा जाए तो विद्यालयों में सभी किताबें नहीं पहुंची है लेकिन अधिकारियों का कहना है कि इससे बच्चों को ही नहीं अध्यापकों को भी लाभ मिलेगा और कभी किसी किताब की जरूरत पड़ जाने से परेशान नहीं होना पड़ेगा बल्कि आसानी से वेबसाइट पर किताब मिल जाएगी। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी मसीहुज्जमा सिद्दीकी ने बताया कि इसका प्रचार प्रसार कराया जा रहा है।

कंप्यूटर, लैपटाप पर पढ़ने के लिए करना होगाकंप्यूटर या लैपटाप आदि पर पाठ्य पुस्तकों को पढ़ने के लिए खास व्यवस्था की गई है। इसे पढ़ने के लिए इ पब रीडर साफ्टवेयर इंस्ट्राल करना होगा। इ-बुक को डाउनलोड करने की प्रक्रिया में 666.2ङ्घी134स्र.ङ्घ.्रल्ल पर जाना होगा। फिर मीनू बार में शैक्षिक सामग्री क्लिक करनी होगी। पाठ्यक्रम, विषय के अंतर्गत सेलेक्ट को क्लिक इ- बुक का चयन करें। फिर सेमेस्टर का चयन करें और अन्य प्रक्रिया में सेलेक्ट को क्लिक कर अदर यानी कि अन्य में जाना होगा। व्यू फाइल पर क्लिक कर फाइल को डाउनलोड करना होगा। 1मोबाइल पर पढ़ने के लिए करें1इ-बुक को मोबाइल पर पढ़ने के लिए 666.2ङ्घी134स्र.ङ्घ.्रल्ल पर क्लिक कर होमपेज की स्क्रोलिंग में इ-पोथी का चयन कर डाउनलोड करना मोबाइल में इंस्ट्राल करना होगा। इंस्ट्रालेशन के पश्चात इ-पोथी को खोले तथा डाउनलोड स्टडी मैटेरियल पर क्लिक करें।’>>कक्षा एक से आठ तक की सभी पुस्तकें वेबसाइट पर रहेंगी उपलब्ध

No comments:
Write comments