DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Wednesday, September 6, 2017

शिक्षा प्रेरकों ने मांगा बकाया तो मिलीं लाठियां, अपनी मांगों को लेकर विधानसभा घेरने निकले तो पुलिस और पीएसी कर्मियों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

लखनऊ : मांगों को लेकर विधानभवन का घेराव करने जा रहे हजारों शिक्षा प्रेरकों, समन्वयकों पर मंगलवार सुबह करीब 10:45 बजे बर्लिगटन चौराहे पर पुलिस और पीएसी के जवानों ने लाठीचार्ज कर दिया। जिसमें बहुत सी महिलाएं, पुरुष और बच्चे घायल हो गए। भगदड़ के दौरान कई राहगीर भी चोटिल हो गए। कुछ महिलाओं और पुरुषों के कपड़े भी फट गए।


प्रदर्शन कर रहे प्रेरक और समन्वयक आदर्श साक्षरता कर्मी वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले अपनी मांगों को लेकर विधानभवन का घेराव करने जा रहे थे। हजारों की संख्या में चारबाग स्टेशन से निकलकर पैदल रहे महिला और पुरुष प्रदर्शनकारियों के कारण स्टेशन रोड पर भीषण जाम लग गया। दफ्तर जा रहे लोग जाम में फंसकर बेहाल हो गए। चारों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। जिसमें कई एंबुलेंस और हजारों की संख्या में वाहन चालक फंसकर कराह उठे। हालात बिगड़ते देख थाना प्रभारी हुसैनगंज राजकुमार सिंह, थानाध्यक्ष महिला थाना, थानाध्यक्ष वजीरगंज पंकज सिंह समेत कई अन्य थानों के पुलिस बल व पीएसी ने उदयगंज रोड, कैंट रोड पर बेरीकेटिंग कर दी, ताकि प्रदर्शनकारी विधानभवन की ओर न जा सकें।


इस बीच प्रदर्शन कर रहे कुछ लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। इससे गुस्साई पुलिस ने उनपर लाठियां भांजना शुरू कर दी। जिससे भगदड़ मच गई। बचने के लिए कोई एटीएम के केबिन तो कोई होटलों, दुकानों और रेस्टोरेंटों में जा छुपा। पुलिस ने उन लोगों को निकालकर पीटना शुरू कर दिया। लाठी चार्ज में गोरखपुर बेलघाट के जर्नादन, सुनीता और बदायूं के प्रवेश कुमार का सिर फटा, हरदोई टेड़ियांव के कमलेश चंद्र, बलिया की मीरा भारती, कुशीनगर के सुनील, इलाहबाद की प्रिया, बहराइच की रंजना, प्रतापगढ़ की सुमन, सीता वर्मा, गीता सिंह अलीगढ़ के पैर में चोट आ गई। घायलों का इलाज सिविल अस्पताल, अलीगंज स्थित प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र समेत कई अन्य अस्पतालों में कराया गया।


एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु प्रताप सिंह ने बताया कि 32 महीनों से प्रेरकों और शिक्षा समन्वयकों को मानदेय नहीं मिला है। मानदेय समेत विभिन्न मांगों को लेकर 10 जुलाई से संघ के लोगों के साथ वह लक्ष्मण मेला स्थल पर धरने पर बैठे थे। बावजूद इसके शासन ने उनकी कोई सुनवाई नहीं की। इससे क्षुब्ध होकर वह साथियों के साथ विधानभवन में जिम्मेदारों से मिलने जा रहे थे। तभी पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया।र्ब्िलगटन चौराहे पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते शिक्षा प्रेरकों पर लाठियां बरसाते पुलिसकर्मीलाठीचार्ज में घायल शिक्षिका को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया।


हमें 30 महीने से नहीं मिला मानदेय, खाने के लाले पड़े लखनऊ : इलाहाबाद से आई शिक्षा प्रेरक प्रिया ने बताया कि 30 महीने से उन्हें मानदेय नहीं मिला है। इतनी महंगाई में घर खर्च नहीं चल पा रहा है। वह हाड़ तोड़ मेहनत कर दो हजार रुपये मानदेय पर बच्चों को शिक्षा दे रहे हैं। इसके बाद भी आज तक उनका मानदेय उतना ही है। मानदेय बढ़ोतरी और बकाया के भुगतान की मांग के लिए विधानभवन जा रहे थे। तभी पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया।


दिव्यांग और बच्चों पर भी पुलिस को नहीं आया तरस लाठीचार्ज करने वाली पुलिस ने दिव्यांग और बच्चों तक नहीं छोड़ा। बैसाखी के सहारे मांगों को लेकर विधानसभा जा रहे अलीगढ़ इगलास निवासी दिव्यांग गीतम सिंह को भी दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। प्रीतम ने बताया कि भगदड़ के दौरान वह गिर गया था। इसके बाद पुलिस ने उस पर लाठियां बरसानी शुरू कर दी थी। जिससे उसकी पीठ और हाथ में गंभीर चोटें आयी हैं। वहीं, बलिया की मीरा भारती ने बताया कि उनके साथ दो साल की बेटी आकांक्षा भी थी। पुलिस की लाठी चार्ज के दौरान जब भगदड़ हुई तो पुलिस ने उनकी बेटी को भी नहीं छोड़ा।


पथराव में कई पुलिस कर्मी भी घायल
पथराव के दौरान रायबरेली स्थित 25 वाहिनी पीएसी बटालियन के सिपाही चंद्रहास घायल हो गए। उनका दाहिना कान फट गया। इसके अलावा कई अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हुए। उन्हें इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया।

No comments:
Write comments