DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, January 21, 2018

मैनपुरी : प्राथमिक स्कूलों से जूनियर स्कूलों में पदोन्नति पाने वाले शिक्षकों की राह अब आसान नहीं, पदोन्नति पाने के लिए पास करनी होगी टीईटी परीक्षा

प्राथमिक स्कूलों से जूनियर स्कूलों में पदोन्नति पाने वाले शिक्षकों की राह अब आसान नहीं होगी। पदोन्नति पाने के लिए उन्हें उच्च प्राथमिक (जूनियर) की शिक्षक पात्रता परीक्षा पास करनी होगी। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने जनपद निवासी बीएड टीईटी बेरोजगार संघ के प्रदेश महासचिव हरेंद्र सिंह की शिकायत पर प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को इस संबंध में कड़े निर्देश जारी किए हैं।

परिषदीय प्राथमिक स्कूलों के सहायक अध्यापकों तथा प्रधानाध्यापकों को उच्च प्राथमिक (जूनियर) स्कूलों में पदोन्नति दे दी जाती है। पदोन्नति के मामले में राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा था। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के शासनादेश 12 नवंबर 2014 तथा 24 अगस्त 2010 की भी अनदेखी की जा रही थी। इस मामले की शिकायत मैनपुरी निवासी बीएड टीईटी बेरोजगार संघ के प्रदेश महासचिव हरेंद्र सिंह ने 30 दिसंबर 2017 को मानव संशाधन विकास मंत्रालय दिल्ली से की थी।

सचिव मानव संसाधन विकास मंत्रालय दिल्ली आलोक जवाहर ने हरेंद्र की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए 17 जनवरी को प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा परिषद राजप्रताप सिंह को निर्देश जारी करते हुए कहा कि उच्च प्राथमिक विद्यालयों में प्राथमिक स्तर से शिक्षकों की पदोन्नति के मामले में 12 नवंबर 2014 तथा 24 अगस्त 2010 का पालन किया जाए।

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के शासनादेश 12 नवंबर 2014 तथा 24 अगस्त 2010 के तहत उच्च प्राथमिक स्कूलों में उन्हीं शिक्षकों की तैनाती की जाए जो उच्च प्राथमिक स्तर की टीईटी परीक्षा पास हों।

प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में शिक्षण कार्य कर रहे शिक्षकों को बिना उच्च प्राथमिक स्तर की टीईटी परीक्षा पास किए ही पदोन्नति दी जा रही है। सचिव राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के निर्देश के बाद इस पर रोक लग जाएगी।
जानकारी तो मिली है लेकिन सचिव के इस संबंध में अभी निर्देश नहीं प्राप्त हुए हैं। निर्देश मिलते ही पदोन्नति प्रक्रिया में लागू किए जाएंगे।
विजय प्रताप सिंह, बीएसए मैनपुरी

No comments:
Write comments