DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, February 25, 2018

महराजगंज : विद्यालय में बच्चों को योग सिखाने के लिए 250 शिक्षकों को दिया जाएगा प्रशिक्षण, पांच बैच में प्रशिक्षण कराने की है तैयारी

महराजगंज : परिषदीय विद्यालयों के बच्चों को शारीरिक रूप से स्वस्थ बनाने के लिए उन्हें योग सिखाया जाएगा। बच्चों को योग सिखाने के लिए जिले के 250 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत शिक्षक संबंधित विद्यालयों के बच्चों को योग सिखाएंगे। योग को मन, मस्तिष्क व शरीर को शुद्ध करने का माध्यम माना जाता है। परिषदीय स्कूल के छात्र-छात्राओं को शारीरिक रूप से स्वस्थ बनाने के लिए जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान द्वारा 250 शिक्षकों को प्रशिक्षित किए जाने का निर्णय लिया गया है। 50 की संख्या में शिक्षक पांच बैच के माध्यम से प्रशिक्षित किए जाने है। सोच है कि जब शिक्षक योग के बारे में प्रशिक्षित होंगे तो वह अपने विद्यालय के बच्चों को भी योग सिखा सकेंगे। योग सीख कर जहां बच्चे स्वयं को चुस्त-दुरूस्त व स्वस्थ रख सकेंगे वहीं उनकी गतिविधियां अन्य के लिए भी प्रेरणादायी सिद्ध होंगी। संस्थान ने होली के बाद यह प्रशिक्षण प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। प्रशिक्षण देने के लिए शीतल मिश्र व सत्यप्रकाश को प्रशिक्षक नियुक्त किया गया है।

 चार दिन तक प्रशिक्षित होगा एक बैच : 
 योग प्रशिक्षण की जानकारी देते हुए रामजी ने बताया कि प्रत्येक बैच को चार दिन का प्रशिक्षण दिया जाना है। पांच बैच को प्रशिक्षित किए जाने में कुल 20 दिन का समय लगेगा। जब शिक्षक प्रशिक्षित होंगे तो वह स्वयं के विद्यालय के साथ-साथ आसपास के विद्यालयों में भी बच्चों को प्रशिक्षित कर सकेंगे।


No comments:
Write comments