DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Wednesday, March 7, 2018

बोर्ड परीक्षा : मेधावी परीक्षार्थियों का हौंसला बढ़ाने का खींचा जा रहा है खाका, अब यूपी बोर्ड के टॉपरों की कॉपियां होंगी वेबसाइट पर


इलाहाबाद : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2018 के टॉपर औरों के लिए मिसाल बनेंगे। अव्वल आने वाले 20-20 परीक्षार्थियों के नामों का न केवल एलान होगा, बल्कि उनकी कॉपियों को भी डिस्प्ले किया जाएगा। तैयारी है कि उनकी उत्तरपुस्तिकाओं को बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा, ताकि अन्य परीक्षार्थी व छात्र-छात्रएं उनकी तर्ज पर प्रश्नों का उत्तर देने को प्रेरित हो सकें।

माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में एक ओर नकल पर सख्ती हुई है इससे नकलची परीक्षार्थी परेशान हुए। अब मेधावी परीक्षार्थियों का हौंसला बढ़ाने का भी खाका खींचा जा रहा है। शासन के निर्देश पर बोर्ड प्रशासन ने इंटर के उन विषयों का चिह्नंकन करने जा रहा है, जिनकी कॉपियां मॉडल के तौर पर वेबसाइट पर अपलोड की जाएंगी। वहीं, हाईस्कूल में छह विषयों की कॉपियों का प्रकाशन करना तय कर लिया गया है। बोर्ड प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि यह प्रयास तभी कारगर होगा, जब कॉपियों का मूल्यांकन सही से कराया जाए और मेधावियों की शोहरत भी बढ़ेगी।

ज्ञात हो कि बोर्ड प्रशासन कुछ वर्ष पहले तक टॉपर परीक्षार्थियों की पूरी सूची जारी करता रहा है लेकिन, कुछ पर विवाद गहराने पर इस कार्य से बोर्ड पीछे हट गया और अनौपचारिक रूप से मीडिया को चुनिंदा टॉपर के नाम व प्राप्तांक उपलब्ध करा दिए जाते रहे हैं।

शासन की मंशा है कि अब फिर पहले की तर्ज पर न केवल हाईस्कूल व इंटर के अव्वल बीस-बीस परीक्षार्थियों का एलान किया जाए, बल्कि उनकी उत्तरपुस्तिकाएं तक मॉडल के रूप में डिस्प्ले की जाए। बोर्ड ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी है। हाईस्कूल में छह विषयों को ही रखा गया है, जबकि इंटर में विषयों का चयन जल्द ही किया जाएगा। शासन की मंशा है कि हाईस्कूल का परीक्षा परिणाम भी इंटर के पहले जारी किया जाए।

■ मूल्यांकन कार्य 17 मार्च से : यूपी बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन आगामी 17 मार्च से प्रदेश भर में एक साथ शुरू होगा। इसके लिए मूल्यांकन प्रपत्र जिलों में भेजे जा रहे हैं और बुधवार से कॉपियां भी तय जिलों को भेजने की प्रक्रिया शुरू होगी। मूल्यांकन सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगा और कार्य हर हाल में 15 दिन में पूरा कराने का लक्ष्य रखा गया है।



No comments:
Write comments