DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, March 8, 2018

कुशीनगर : शिक्षक संघ के चुनाव में अध्यक्ष व महामंत्री पद के उम्मीदवारों का पर्चा खारिज किए जाने को लेकर हंगामा, चुनाव स्थगित

जागरण संवाददाता, कसया, कुशीनगर: कसया स्थित बीआरसी परिसर में बुधवार को आयोजित प्राथमिक शिक्षक संघ के चुनाव में अध्यक्ष व महामंत्री पद के सशक्त उम्मीदवारों का पर्चा खारिज किए जाने को लेकर हंगामा हुआ। एक घंटे तक अफरा-तफरी और हंगामा की स्थिति बनी रही। पुलिस को मामला संभालना पड़ा। चुनाव स्थगित होने के बाद माहौल शांत हुआ। सुबह 10 बजे चुनाव अधिकारी जिला मंत्री राजकुमार सिंह, श्रीकांत व संतोष श्रीवास्तव की देखरेख में चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई। अध्यक्ष पद के लिए सुरेश रावत, पयोदकांत मिश्र व महेंद्र सिंह एवं मंत्री पद के लिए राजीव नयन द्विवेदी, नीरज श्रीवास्वत एवं हरेंद्र चौरसिया ने तीन-तीन सेटों में पर्चा भरा। जांच के दौरान चुनाव अधिकारी द्वारा अध्यक्ष पद के उम्मीदवार पयोदकांत मिश्र व मंत्री पद के दावेदार राजीव नयन का पर्चा खारिज कर दिया। तर्क दिया गया कि तीन वर्ष लगातार संघ की सदस्यता संबंधित प्रत्याशी की नहीं है। संघ के नियमों के अनुसार चुनाव के लिए यह अनिवार्य है। पर्चा खारिज होने की जानकारी होते ही दोनों प्रत्याशियों के समर्थक चुनाव अधिकारी पर धांधली का आरोप लगाते हुए सामने आ गए। इसे लेकर हंगामा खड़ा हो गया। सभी प्रत्याशियों ने वर्तमान सूची पर ही चुनाव कराने का लिखित निवेदन चुनाव अधिकारी को दिया, पर वे अपनी जिद पर अड़े रहे। इस बात को लेकर बवाल बढ़ने लगा। माहौल तनावपूर्ण हो गया। मारपीट की स्थिति उत्पन्न हो गई। जानकारी होते ही पुलिस बल मौके पर पहुंची और स्थिति को संभाला। बवाल टालने के लिए चुनाव स्थगित करने की घोषणा करनी पड़ी, तब जाकर माहौल शांत हुआ और शिक्षक परिसर से बाहर निकले। इस अवसर पर शैलेश त्रिपाठी, मनोज सिंह, मनोज चतुर्वेदी, संजय यादव, नागेंद्र तिवारी, भगवंत सिंह,महेश रजक, सुनील गुप्त आदि उपस्थित रहे।

No comments:
Write comments