DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, April 9, 2018

माध्यमिक शिक्षा विभाग ने जारी किए प्रकाशक के नाम और किताबों के दाम, 500 वाली किताब "60 में


12वीं की किताबों के दाम

भौतिक विज्ञान प्रथम66 रुपये

भौतिक विज्ञान द्वितीय54 रुपये

रसायन विज्ञान प्रथम66 रुपये

रसायन विज्ञान द्वितीय41 रुपये

गणित भाग एक47 रुपये

गणित भाग दो51 रुपये

जीव विज्ञान66 रुपये

अर्थशास्त्र में सांख्यिकी22 रुपये

भारतीय अर्थव्यवस्था का विकास29 रुपये
ये रहेंगे दाम

एनसीईआरटी के नाम पर यूपी बोर्ड में इस बार नहीं हो सकेगी किताबों में लूट, 

क्लास 9 की किताबों के दाम

गणित60 रुपये

विज्ञान57 रुपये

इतिहास42रुपये

भूगोल17 रुपये

अर्थशास्त्र11 रुपये

लोकतांत्रिक राजनीति25 रुपये

कक्षा दस

गणित60 रुपये

विज्ञान66 रुपये

कक्षा 11

भारत का संविधान35 रुपये

राजनीति सिद्धांत25 रुपये

भौतिक विज्ञान55 रुपये

भौतिक विज्ञान द्वितीय44 रुपये

रसायन विज्ञान प्रथम57 रुपये

रसायन विज्ञान द्वितीय38 रुपये

समाज शास्त्र का परिचय17 रुपये

समाज का बोध16 रुपये

गणित76 रुपये

जीव विज्ञान74 रुपये

विश्व इतिहास58 रुपये

भौतिक भूगोल के मूल सिद्धांत30 रुपये

भौतिक पर्यावरण20 रुपये

भूगोल में प्रायोगिक कार्य22 रुपये

•एनबीटी संवाददाता, लखनऊ : यूपी बोर्ड ने इस बार से एनसीईआरटी की किताबों को अपने पाठ्यक्रम में शामिल कर लिया है। अच्छी बात यह है कि एनसीईआरटी की किताबों के नाम पर निजी प्रकाशक लूट नहीं मचा सकेंगे क्योंकि माध्यमिक शिक्षा विभाग ने इसका भी इंतजाम कर दिया है। विभाग पाठ्यक्रम में कुल 31 किताबें शामिल की गई हैं जिन्हें चार प्रकाशक ही छापेंगे। साथ ही इन किताबों के दाम भी विभाग की ओर से जारी किए गए हैं। निजी प्रकाशक जो गणित की किताब पांच सौ रुपये की देते हैं, यूपी बोर्ड के प्रकाशक वही किताब 60 रुपये में और विज्ञान की किताब 57 रुपये में देंगे।

किताबें छापने के लिए एनसीईआरटी की ओर से माध्यमिक शिक्षा परिषद को कॉपीराइट दिया गया है। बोर्ड ने जिन चार प्रकाशकों को इन किताबों को छापने की अनुमति दी है उनमें राजीव प्रकाशन इलाहाबाद, पीतांबरा बुक्स प्रा.लि. झांसी, जनरल ऑफसेट प्रिंटिंग प्रेस इलाहाबाद और रुचि ऑफसेट प्रिंटर्स आगरा का नाम शामिल है। यहां से प्रकाशित किताबें सभी राजकीय, ऐडेड और वित्तविहीन विद्यालयों में चलाई जाएंगी।

ताकि अभिभावकों

का बोझ कम हो

माध्यमिक शिक्षा निदेशक अवध नरेश शर्मा की ओर से प्रदेश के सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को पत्र जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि किसी भी दशा में इन किताबों के अलावा दूसरी किताबें स्कूलों में न चलाई जाएं। ताकि अभिभावकों का बोझ कम हो। डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि दुकानदार किसी भी तरह से वसूली न कर सकें इसलिए निर्देश जारी किए गए हैं। कक्षा नौ से लेकर 12वीं तक अब यही किताबें चलेंगी। अगर कोई निजी स्कूल अलग-अलग प्रकाशकों की किताबें खरीदने को कहते हैं तो उन पर कार्रवाई भी की जाएगी।

No comments:
Write comments