DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, April 30, 2018

यूपी बोर्ड परीक्षाफल : लंबे समय बाद आया बदलाव, मेरिट में लड़कों ने लड़कियों को पछाड़ बाजी मारी

■ छह वर्ष बाद हाईस्कूल व इंटर का गिरा परिणाम

पहली बार हाईस्कूल ने इंटर को पीछे छोड़ा 1यूपी बोर्ड 2018 का रिजल्ट इस मायने में अनूठा है कि शायद पहली बार हाईस्कूल के परीक्षार्थियों का सफलता प्रतिशत इंटरमीडिएट के छात्र-छात्रओं से बेहतर रहा है। बोर्ड के इतिहास में हर वर्ष इंटर का रिजल्ट हाईस्कूल से अच्छा आता रहा है, जबकि इस बार हाईस्कूल का परिणाम इंटर से 2.73 फीसदी से आगे है। नब्बे के दशक में भी जब दोनों के रिजल्ट में बड़ी गिरावट का दौर था, तब भी इंटर का रिजल्ट हाईस्कूल से बेहतर ही रहा है। 


प्रदेश की टॉप थ्री, टॉप टेन और जिलों के टॉपरों में लड़कों की भरमार, 24 जिलों में हाईस्कूल व इंटर दोनों में छात्र व 11 जिलों में छात्रएं अव्वल 



 इलाहाबाद : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर परीक्षा के सफलता प्रतिशत में भले ही लड़कियां आगे हैं लेकिन, मेधावियों की दौड़ में लड़के उनसे आगे निकल गए हैं। बोर्ड के इतिहास में लंबे समय बाद टॉपर सूची में लड़कों ने बढ़-चढ़कर जगह बनाई है। हालांकि कई जिले ऐसे भी हैं, जहां की टॉपर सूची में लड़के और लड़कियों ने समान अंक हासिल किया है। फिर भी बोर्ड की ओर घोषित टॉप थ्री, टॉप टेन और जिलों में लड़कों का बोलबाला है। 



बोर्ड ने परीक्षा परिणाम का प्रतिशत देने के साथ ही टॉप थ्री का भी एलान किया। इसमें हाईस्कूल में चार व इंटर में पांच कुल की घोषणा हुई, उनमें तीन लड़कियां व छह लड़के शामिल हैं। ऐसे ही प्रदेश की टॉप टेन सूची में हाईस्कूल के 55 छात्र-छात्रओं में से 28 लड़के और 27 लड़कियां हैं, वहीं इंटर में 42 परीक्षार्थियों में से 26 लड़के और 16 लड़कियां हैं। इसी तरह की तस्वीर जिलों में भी दिख रही है। 



मुरादाबाद, अमरोहा, संभल, पीलीभीत, उन्नाव, रायबरेली, कानपुर, कानपुर देहात, जालौन, झांसी, हमीरपुर, बांदा, प्रतापगढ़, सुलतानपुर, श्रवस्ती, संतकबीर नगर, सिद्धार्थ नगर, गोरखपुर, बलिया, सोनभद्र, फिरोजाबाद व मैनपुरी आदि जिलों में हाईस्कूल व इंटर दोनों में लड़कों ने जिला टॉप किया है। जबकि बरेली, फरुखाबाद, इटावा, ललितपुर, कौशांबी, बलरामपुर, आजमगढ़, जौनपुर, मिर्जापुर व मथुरा आदि जिलों में लड़कियां वरीयता में शिखर पर हैं। ऐसे ही इंटर में हाथरस, महोबा, कन्नौज, चंदौली, आगरा व हाईस्कूल में हापुड़, बहराइच, बस्ती की टॉपर सूची में लड़कियों के साथ लड़कों ने भी शीर्ष पर जगह बनाई है। 



अन्य जिलों में लड़के व लड़कियों ने हाईस्कूल व इंटर में अलग-अलग पहला मुकाम पाया है। आमतौर पर सुविधा व संसाधन में पीछे रहने वाले छोटे जिले यानि गांवों से बड़ी संख्या में मेधावी निकले हैं। दूसरी ओर से महानगरों के परीक्षार्थियों ने कम संख्या में मेरिट में जगह बनाई है। टॉप टेन सूची में हाईस्कूल में 34 छोटे जिलों के व 21 बड़े जिले के परीक्षार्थी हैं, जबकि इंटर में दोनों का आकड़ा कमोबेश बराबर का रहा है। 




कानपुर के एक ही कालेज से चार मेरिट में : इंटर के परीक्षा परिणाम में वीएनएसडी शिक्षा निकेतन इंटर कालेज कानपुर के तीन छात्र नवीं रैंक पर आए हैं व चौथे को दसवीं रैंक मिली है। प्रखर वर्मा, ऋषभ सोनकर व श्याम द्विवेदी ने 455/500 को 91 फीसदी अंक मिले हैं। वहीं, हितेश बिश्नोई 454 अंक पाकर प्रदेश में दसवें स्थान पर आए हैं।



परिणाम में बाराबंकी का जलवा : यूपी बोर्ड के रिजल्ट में इस बार भी बाराबंकी जिले का जलवा दिखा है। टॉप टेन के 97 परीक्षार्थियों में से 14 इसी जिले से हैं। इनमें हाईस्कूल में 11 और इंटर में तीन परीक्षार्थी अव्वल आए हैं। यही नहीं इस जिले के एक ही स्कूल से छह परीक्षार्थी हाईस्कूल व इंटर में टॉप टेन में जगह बनाने में सफल रहे हैं।


No comments:
Write comments