DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, July 31, 2018

फतेहपुर : भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर 01 अगस्त 2018 को सभी विद्यालय बन्द रखने का आदेश जारी, विद्यालय का समय भी बदल कर सुबह  8 बजे से 1 बजे तक किया गया

फतेहपुर : भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर 01 अगस्त 2018 को सभी विद्यालय बन्द रखने का आदेश जारी, विद्यालय का समय भी बदल कर सुबह  8 बजे से 1 बजे तक किया गया। 



■ स्कूलों में डीएम ने अवकाश घोषित किया 

दो दिनों से रही बरसात और जलभराव तथा गंगा-यमुना नदी में आ रही बाढ़ को दृष्टिगत रखते हुए डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने 1 अगस्त को सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है। विद्यालयों में एक दिनी अवकाश की घोषणा करते हुए डीएम ने सभी स्कूलों का संचालन सुबह 8 से 1 बजे तक किए जाने के आदेश दिए हैं।स्कूलों 


फतेहपुर : सर्वशिक्षा अभियान के अंतर्गत उच्च प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत अंशकालिक अनुदेशकों की कार्यभार ग्रहण आख्या उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी किया आदेश , देखें

फतेहपुर : सर्वशिक्षा अभियान के अन्तर्गत उच्च प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत अंशकालिक अनुदेशकों की कार्यभार ग्रहण आख्या उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी किया आदेश , देखें।

फतेहपुर : माँ समूह सम्बन्धी सूचना दिनांक -05/08/2018 तक निर्धारित प्रारूप पर उपलब्ध कराने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें

फतेहपुर : माँ समूह सम्बन्धी सूचना दिनांक -05/08/2018 तक निर्धारित प्रारूप पर उपलब्ध कराने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें।

फतेहपुर : 10 अगस्त को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (National De-worming Day) के सफल क्रियान्वयन और संचालन के सम्बंध में विस्तृत दिशा निर्देश जारी

फतेहपुर : 10 अगस्त को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (National De-worming Day) के सफल क्रियान्वयन और संचालन के सम्बंध में विस्तृत दिशा निर्देश जारी।


दो विषय से एलटी ग्रेड परीक्षा देने की मांग पर जवाब तलब, याचियों ने की थी आयोग से दो दिन परीक्षा कराने की मांग

दो विषय से एलटी ग्रेड परीक्षा देने की मांग पर जवाब तलब, याचियों ने की थी आयोग से दो दिन परीक्षा कराने की मांग

फतेहपुर : बीएसए कार्यालय में शिक्षकों के आने पर सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक ने लगाई रोक, कार्यालय आने पर अनिवार्य रूप से बीईओ या बीएसए की लेनी होगी लिखित अनुमति

फतेहपुर : बीएसए कार्यालय में शिक्षकों के आने पर सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक ने लगाई रोक, कार्यालय आने पर अनिवार्य रूप से बीईओ या बीएसए की लेनी होगी लिखित अनुमति।

फतेहपुर : नीति आयोग के सलाहकार जानेंगे शिक्षा और संसाधनों के हाल, 6,7 व 8 अगस्त को माध्यमिक और शिक्षा विभाग का भौतिक सत्यापन कर 8 बिन्दुओं की तैयार करेंगे बृहद रिपोर्ट

फतेहपुर : नीति आयोग के सलाहकार एससी अरोड़ा माध्यमिक एवं बेसिक शिक्षा विभाग के हालात जानने के लिए तीन दिवसीय डेरा जिले में डालेंगे। आयोग का कार्यक्रम आते ही दोनों विभागों में हलचल तेज हो गई है। सरकारी शिक्षा की बदहाली किसी से छिपी नहीं है ऐसे में पिछड़े जनपदों में शुमार किए जाने वाली शिक्षा का सच्चा आइना आयोग की निगाह से बच नहीं पाएगा। 


नीति आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के तहत सलाहकार 6 अगस्त को दिल्ली से चलकर सुबह 6:30 बजे जिले पहुंच रहे हैं। इसके बाद वह 6,7,8 अगस्त को माध्यमिक एवं शिक्षा विभाग के सरकारी स्कूलों का भौतिक सत्यापन करेंगे। आयोग द्वारा निर्धारित किए गए 8 ¨बदुओं की बृहद रिपोर्ट तैयार करेंगे। वह किन विद्यालयों में जाएंगे इसको लेकर तस्वीर साफ नहीं है। जिसको लेकर दोनों विभाग के जिम्मेदार परेशान हैं। सलाहकार किन किन ¨बदुओं की जांच करेंगे इसको लेकर खासी उत्सुकता दिखाई दे रही है।

फतेहपुर : गुरुवंदन समारोह : जीवन जीने की कला सिखाने वाला ही गुरु, शिक्षा को संस्कारों से जोड़ना जरूरी - डीएम

फतेहपुर: गुरुवंदन समारोह में बोलते हुए जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने कहा कि गुरु वह है जो जीवन जीने की कला सिखाता है। उन्होंने गुरु ही बच्चों में आत्मबल भरता है, जिससे वह विपरीत परिस्थितियों में भी कभी धैर्य नहीं छोड़ते हैं। उन्होंने वेद, पुराणों व महाभारत काल का उदाहरण देते हुए कहा कि गुरु ही सृष्टि का निर्माणकर्ता है। उन्होंने सभी शिक्षकों से गुरुतर दायित्वों का निर्वहन पूरी ईमानदारी से करने का आह्वान किया। उन्होंने विशिष्ट सेवाओं के लिए शिक्षिका नीलम भदौरिया व प्रवीण त्रिवेदी को प्रशस्तिपत्र देकर सम्मानित किया।

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के तत्वावधान में हुए कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि शरीक हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी शिवेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि शिक्षकों को समाज की दिशा एवं दशा बदलने की अहं जिम्मेदारी है और इसे साधना समझकर करना चाहिए।संचालन करते हुए संघ के जिलाध्यक्ष अदीप सिंह ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग कार्यवाह ज्ञानेंद्र सिंह ने दायित्वों पर जोर दिया। कार्यक्रम के अंत में अधिकारियों व शिक्षक-शिक्षिकाओं ने पौधरोपण कर हरियाली फैलाने का आह्वान किया। विद्या मंदिर के प्रधानाचार्य राम सिंह, शैलेंद्र शरन सिंपल के अलावा मधुसूदन, मंडलीय मंत्री सुरेश सिंह, केशव अग्निहोत्री, शैलेंद्र भदौरिया, दीपक चौधरी, दुर्गादत्त मिश्र, मयंक शुक्ल, दयाराम, अभिषेक श्रीवास्तव, वरुण गुप्त, वैभव सिंह, योगेंद्र, मयंक, रंजीत, राहुल मिश्र, चंपा शर्मा, रामशंकर प्रजापति समेत सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिकाएं रहीं।

गोरखपुर : 16 कस्तूरबा गांधी विद्यालयों को किया जाएगा उच्चीकृत, नजदीकी इंटर कालेजों में कक्षा 9 एवं 10 की पढ़ाई जारी रखने के लिए बनेगा छात्रावास

गोरखपुर : कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में पढ़ने वाली छात्राओं की पढ़ाई कक्षा आठ के बाद भी जारी रह सकेगी। विपरीत परिस्थिति के कारण पढ़ाई छोड़ देने वाली छात्राओं को अब सहारा मिल सकेगा। जनपद के 16 कस्तूरबा विद्यालयों को उच्चीकृत करने की तैयारी है। यहां अलग छात्रावास बनाए जाएंगे, जिनमें कक्षा नौ व 10 की छात्राएं रहेंगी। ये छात्राएं नजदीक के इंटर कॉलेजों में शिक्षा ग्रहण करेंगी। सर्व शिक्षा अभियान के तहत कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों का संचालन हर ब्लॉक में किया जाता है। इन विद्यालयों में गरीब घरों की 11 वर्ष से 14 वर्ष आयु तक की छात्राओं का प्रवेश लिया जाता है। छात्राओं के रहने, खाने व पढ़ने की पूरी विद्यालय में ही होती है। उनकी देखभाल के लिए हॉस्टल वार्डेन व पूर्णकालिक महिला शिक्षक कार्यरत होती हैं।

चार और विद्यालयों में बढ़ेगी संख्या :
उच्चीकरण की सूची से बाहर रहने वाले चार अन्य कस्तूरबा विद्यालयों में नई डारमेट्री बनाई जाएगी। यहां भी संख्या 100 से बढ़ाकर 150 की जाएगी लेकिन यह संख्या कक्षा आठ तक की छात्राओं की ही होगी। चरगांवा, उरुवा, सहजनवा व गगहा के विद्यालय इसमें शामिल हैं। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह ने कहा कि जनपद में 16 कस्तूरबा विद्यालयों के उच्चीकरण की योजना है। उच्चीकरण के बाद कक्षा नौ व 10 की छात्राएं भी यहां रह सकेंगी।

बढ़ेंगी एक विद्यालय में 50 छात्राएं :
एक कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में उच्चीकरण के बाद छात्राओं की संख्या 100 से बढ़कर 150 हो जाएगी। बढ़ी हुई 50 छात्राएं कक्षा नौ व 10 की होंगी। इन छात्राओं को भी सारी सुविधाएं मिलेंगी। नजदीकी इंटर कॉलेजों में दाखिला दिलाया जाएगा। वार्डेन की देखरेख में ये हाई स्कूल तक की पढ़ाई पूरी करेंगी।

यूपी बोर्ड : अभिभावक भी होंगे जवाबदेह, पंजीकरण में लिखकर देंगे सिर्फ यहीं पढ़ रहा पाल्य

इलाहाबाद : यूपी बोर्ड ने इस वर्ष से कक्षा नौ व 11 के पंजीकरण व हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के परीक्षा फार्म भरने में बड़ा बदलाव किया है। माध्यमिक कालेजों में छात्र-छात्रओं के दाखिले से लेकर परीक्षा उत्तीर्ण होने तक अभ्यर्थी के संबंध में किसी तरह की गड़बड़ी उजागर होने पर सिर्फ अफसर ही जिम्मेदार नहीं होंगे, बल्कि उनके अभिभावक भी जवाबदेह होंगे। इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण में अतिरिक्त कॉलम जोड़ा गया है। इसके तहत अभिभावक लिखकर देंगे कि उनका पाल्य सिर्फ इसी बोर्ड में पढ़ रहा है।

यूपी बोर्ड में कक्षा नौ व 11 का पंजीकरण हो या फिर हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा का फार्म भरना। दोनों प्रक्रिया में लाखों अभ्यर्थी आवेदन करते हैं। एक साथ सभी छात्र-छात्रओं के अभिलेखों का परीक्षण करना या फिर उनके संबंध में पूरी जानकारी हासिल करना संभव नहीं हो पाता।

बोर्ड प्रशासन सिर्फ सरसरी तौर पर अभिलेख जांच पाता है और विवाद होने पर अफसर एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ते हैं। मसलन, यूपी बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालय से जवाब-तलब करता है और रीजनल ऑफिस डीआइओएस से पूछता है। जिला विद्यालय निरीक्षक संबंधित कालेज प्रधानाचार्य से रिपोर्ट मांगते हैं। ऐसे में जवाबदेही तय नहीं हो पाती। 2018 की इंटरमीडिएट की परीक्षा में तो प्रदेश के फरुखाबाद जिले में श्री गजेंद्र सिंह मीरा देवी बालिका इंटर कालेज के प्रबंधक की पुत्री ने जिला टॉप किया था। यहां तक गनीमत रही कि जिस कालेज में मां प्रधानाचार्य और पिता प्रबंधक हो उसकी बेटी टॉपर हो गई।

‘दैनिक जागरण’ ने राजफाश किया कि टॉपर छात्र ने इसी वर्ष सीबीएसई बोर्ड से भी इंटर की परीक्षा दी है। इस पर हंगामा मचा और छात्र का परीक्षा परिणाम रद किया गया। इस घटना से सबक लेकर यूपी बोर्ड ने इस बार से पंजीकरण व परीक्षा फार्म भरने में यह नियम जोड़ा है कि हर अभ्यर्थी के अभिभावक से लिखवाकर लिया जाएगा कि उनका पाल्य इसी बोर्ड में पढ़ रहा है। इसका मकसद है कि आगे की परीक्षाओं की फरुखाबाद जैसी स्थिति सामने आने पर अभिभावक को भी कटघरे में खड़ा होगा। यही नहीं इस कदम से लोगों को साफ संदेश होगा कि उन्हें दो नावों पर एक साथ सफर नहीं करना है। बोर्ड प्रशासन ने माना कि इसमें छात्र-छात्र को जवाबदेह बनाने से बेहतर है कि उसके अभिभावक को जोड़ा जाए, क्योंकि इस मुकाम तक पाल्य के सारे निर्णय अभिभावक ही करते हैं। यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि इस कदम से बोर्ड जैसी संस्था को असहज स्थिति का सामना नहीं करना पड़ेगा। प्रधानाचार्य इस निर्देश का हर हाल में अनुपालन कराएं।

फरुखाबाद जिले की इंटर टॉपर की घटना से बोर्ड प्रशासन ने लिया सबक

गोरखपुर : पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर शिक्षकों एवं कर्मचारियों ने रैली निकाल सरकार को दी चेतावनी, मांगें न मानने पर प्रधानमंत्री के क्षेत्र वाराणसी में प्रदर्शन की हुई घोषणा

गोरखपुर : पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर शिक्षकों एवं कर्मचारियों ने सोमवार को रैली निकाल सरकार को चेतावनी दी। नगर निगम के रानी लक्ष्मीबाई पार्क से निकाली गई रैली को धर्मशाला के पास रोक लिया गया। प्रशासन द्वारा मुख्यमंत्री से मिलवाने के आश्वासन के बाद प्रदर्शनकारी माने। रेलवे स्टेशन पर महाराणा प्रताप की प्रतिमा के पास आयोजित सभा में पदाधिकारियों ने घोषणा की कि यदि जल्द ही सरकार ने मांग नहीं मानी तो अगला प्रदर्शन प्रधानमंत्री के क्षेत्र वाराणसी में किया जाएगा। विशिष्ट बीटीसी वेलफेयर एसोसिएशन, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद और पुरानी पेंशन बहाली महासंघ के संयुक्त तत्वावधान में शिक्षक एवं कर्मचारी नगर निगम परिसर में एकत्रित हुए। यहां से रैली निकाली गई, जो गांधी प्रतिमा, गोलघर, काली मंदिर होते हुए धर्मशाला के पास पहुंची। वहां जिला प्रशासन ने आगे जाने से रोक दिया। एडीएम सिटी ने प्रदर्शनकारियों से ज्ञापन लेते हुए मुख्यमंत्री से मिलवाने का आश्वासन दिया। रैली रेलवे स्टेशन स्थित महाराणा प्रताप की प्रतिमा के पास समाप्त हुई। एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संतोष तिवारी, प्रदेश मंत्री और जिलाध्यक्ष तारकेश्वर शाही, प्रदेश महामंत्री सुभाष कन्नौजिया, प्रदेश कोषाध्यक्ष दिलीप चौहान, प्रदेश मीडिया प्रभारी राजेश शुक्ल ने भी संबोधित किया। रैली में पेंशन विहीन मोर्चा के अध्यक्ष डॉ. महेंद्र राय, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष रूपेश श्रीवास्तव, आनंद राय, चंदन मिश्र, अखंड प्रताप सिंह, यशोवर्धन त्रिपाठी, शालिनी मिश्र, संजय शर्मा, मंगेश यादव, आदि उपस्थित रहे।

फतेहपुर : सोशल मीडिया एवं डिजिटल आपरेशन से जुड़ेगा एमडीएम, बेसिक शिक्षा मंत्री ने योजना को जोड़ने की शुरू की पहल

फतेहपुर : माध्यमिक एवं परिषदीय विद्यालयों में बनाकर बांटा जाने वाला एमडीएम (मध्याह्न भोजन) यूं तो कागजों में पहले से ही दुरुस्त चल रहा है। पड़ताल में बेसिक शिक्षामंत्री ने इस महत्वाकांक्षी योजना में पारदर्शिता की जरूरत को देखते हुए सोशल मीडिया एवं डिजिटल आपरेशन से जोड़े जाने की पहल शुरू की है। शासन ने बीएसए से एमडीएम का डाटा अपडेट करते हुए तत्काल इसे भेजने के निर्देश दिए हैं।

बेसिक शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा में कक्षा 8 तक के छात्र-छात्रओं स्कूल अवधि में मध्यावकाश के समय भोजन बनाकर वितरित किया जा रहा है। इस योजना को पारदर्शी ढंग से क्रियान्वित करने के लिए मां समूह का गठन किया गया है। इस समूह को बेसिक शिक्षामंत्री ने समूह की महिला सदस्यों के नाम के साथ पति का नाम एवं मोबाइल नंबर दर्ज कर भेजने को कहा है। निर्देशित किया है कि विद्यालय में एक रजिस्टर रखवाया जाए। जिसमें समूह की सदस्य भोजन को चखने के साथ वितरण एवं अनुश्रवण लिख कर दर्ज करते हुए हस्ताक्षर करेंगी। सुझाव रजिस्टर को प्रतिमाह बेसिक शिक्षा कार्यालय मंगाया जाएगा जिससे उनके सुझाव पर विचार किया जा सके। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि शिक्षामंत्री के आदेश पर बदलाव करते हुए मांगी गई सूचना भेजी जा रही है। समूह के सदस्यों को नए अधिकार दिए जाने के पीछे पारदर्शी माध्यम से एमडीएम का क्रियान्वयन है।

क्या है मां समूह : शासन के निर्देश पर एमडीएम बांटे जाने वाले विद्यालयों में मां समूह का गठन किया गया है। इस समूह में विद्यालय में पढ़ने वाले 6 बच्चों की माताओं को मां समूह का सदस्य बनाया गया है। इस समूह की निगरानी में एमडीएम का बनाया जाना एवं वितरण होता आया है। छह महिला सदस्यों को समूह में शामिल करने के साथ ही एक सदस्य का विद्यालय आना और एमडीएम का चखा जाना जरूरी है।

Monday, July 30, 2018

लखनऊ : भारी वर्षा में स्कूली बच्चों की समस्याओं के दृष्टिगत कक्षा 12 तक के समस्त विद्यालयों में 31 जुलाई का अवकाश घोषित

लखनऊ : भारी वर्षा में स्कूली बच्चों की समस्याओं के दृष्टिगत कक्षा 12 तक के समस्त विद्यालयों में 31 जुलाई का अवकाश घोषित

हिन्दुस्तान टीम, लखनऊ
राजधानी में शाम से ही जारी भारी बारिश को ध्यान में रखते हुए डीएम ने मंगलवार को स्कूलों में छुट्टी कर दी है। 12वीं तक के स्कूल मंगलवार को बंद रहेंगे। डीएम कौशल राज शर्मा ने अपने आदेश में कहा है कि मौसम विभाग ने मंगलवार को भी भारी बारिश की संभावना जताई है।
यह निर्णय सोमवार को बारिश के कारण स्कूली बच्चों को हुई दिक्कत को देखते हुए लिया गया है। डीएम ने यह भी स्पष्ट किया है कि यह निर्णय यूपी बोर्ड, सीबीएसई, आईसीएसई बोर्ड समेत सभी सरकारी और निजी स्कूलों पर लागू होगा।
 दरअसल लखनऊ में सुबह से हो रही बरिश से मुख्य सड़कों पर एक-डेढ़ फ़ीट तक पानी लग गया है। सप्रु मार्ग, अशोक मार्ग, ला-प्लास और गोमती नगर में पानी जम गया है। घरों में पानी घुसने लगा है। वहीं कई इलाकों जैसे इंदिरानगर, इस्माइलगंज, डालीगंज, गोमतीनगर, जानकीपुरम, आलमबाग, राजाजीपुरम, पानी गांव पुराने लखनऊ में जलभराव हो गया है। केके अस्पताल के सामने कमर तक पानी भर गया है। डीएम कौशल राज शर्मा ने  बारिश और जलभराव को ध्यान रखते हुए 12वीं तक के स्कूल मंगलवार को बंद करने आदेश दिया है।


आभार: हिंदुस्तान

इटावा : खिलौनों से खेलेंगे आंगनबाड़ी केन्द्रों के नौनिहाल, सीडीओ के संरक्षण में विकास भवन में बनेगा खिलौना बैंक

इटावा : खिलौनों से खेलेंगे आंगनबाड़ी केन्द्रों के नौनिहाल, सीडीओ के संरक्षण में विकास भवन में बनेगा खिलौना बैंक।

महराजगंज : परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक/शिक्षिकाओं के पारस्परिक स्थानांतरण हेतु निर्धारित आवेदन पत्र उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी की सूचना, आदेश देखें

महराजगंज : परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक/शिक्षिकाओं के पारस्परिक स्थानांतरण हेतु निर्धारित आवेदन पत्र उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में बीएसए ने जारी की सूचना, आदेश देखें-


एटा : जनपद के अंदर पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति जारी, आदेश देखें

जनपद के अंदर पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति



कुशीनगर : जनपद के अंदर पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति जारी, आवेदन हेतु विवरण व प्रारूप देखें

कुशीनगर : जनपद के अंदर पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति जारी, आवेदन हेतु विवरण व प्रारूप देखें।

हाथरस : वर्ष 2018-19 में वृक्षारोपण हेतु आवंटित लक्ष्य के सम्बंध में आदेश जारी, ब्लॉकवार आवंटित लक्ष्य सह आदेश देखें

हाथरस : वर्ष 2018-19 में वृक्षारोपण हेतु आवंटित लक्ष्य के सम्बंध में आदेश जारी, ब्लॉकवार आवंटित लक्ष्य सह आदेश देखें

इलाहाबाद : समस्त प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों का दिनाँक 31 जुलाई को शेड्यूल निरीक्षण के सम्बंध में आदेश जारी, देखें

इलाहाबाद : समस्त प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों का दिनाँक 31 जुलाई को शेड्यूल निरीक्षण के सम्बंध में आदेश जारी, देखें

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा विभाग के 4.14 लाख पौधरोपण किये जाने सम्बन्धी कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रत्येक विकासखण्ड हेतु लक्ष्य निर्धारित, देखें

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा विभाग के 4.14 लाख पौधरोपण किये जाने सम्बन्धी कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रत्येक विकासखण्ड हेतु लक्ष्य निर्धारित, देखें

इलाहाबाद : उ0प्र0 कर्मचारी आचरण नियमावली 1956 के नियम 27 के अनुसार स्थानांतरण हेतु बाह्य प्रभाव का प्रयोग करने वाले शिक्षक/कर्मचारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्यवाही सम्बन्धी आदेश जारी

इलाहाबाद : उ0प्र0 कर्मचारी आचरण नियमावली 1956 के नियम 27 के अनुसार स्थानांतरण हेतु बाह्य प्रभाव का प्रयोग करने वाले शिक्षक/कर्मचारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्यवाही सम्बन्धी आदेश जारी

अलीगढ़ : बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारियों/शिक्षकों द्वारा सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना प्रसारित/प्रकाशित करने अथवा विभाग के विरुद्ध बयान देने पर बिना स्पष्टीकरण मांगे कार्यवाही किये जाने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें

अलीगढ़ : बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारियों/शिक्षकों द्वारा सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना प्रसारित/प्रकाशित करने अथवा विभाग के विरुद्ध बयान देने पर बिना स्पष्टीकरण मांगे कार्यवाही किये जाने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें

हाथरस : दिनाँक 1 अगस्त से कक्षा 1-8 के समस्त विद्यालयों का संचालन प्रातः 8 से 1 बजे तक किये जाने सम्बन्धी आदेश जारी, आदेश देखें

हाथरस : दिनाँक 1 अगस्त से कक्षा 1-8 के समस्त विद्यालयों का संचालन प्रातः 8 से 1 बजे तक किये जाने सम्बन्धी आदेश जारी, आदेश देखें

गोण्डा : एक अगस्त तक करें आवेदन, तभी होगा स्थानांतरण

एक अगस्त तक करें आवेदन, तभी होगा स्थानांतरण


लखनऊ : परिषदीय शिक्षकों कर्मचारियों की सूची तलब, 50 साल से ऊपर वाले शिक्षक व कर्मचारियों की होगी स्क्रीनिंग

परिषदीय शिक्षकों कर्मचारियों की सूची तलब, 50 साल से ऊपर वाले शिक्षक व कर्मचारियों की होगी स्क्रीनिंग


वाराणसी : डीएम का आदेश, इंटर तक के सभी विद्यालय सावन के प्रत्येक सोमवार को रहेंगे बंद

: इंटर तक के सभी विद्यालय सावन के प्रत्येक सोमवार को बंद रहेंगे। डीएम का आदेश बेसिक शिक्षा परिषद, यूपी बोर्ड, सीबीएसई, आइसीएसई सहित सभी पर लागू होगा। यदि किसी विद्यालय संचालक को लगता है कि कांवड़ यात्र से किसी छात्र को असुविधा नहीं होगी, तो वे स्कूल खोल सकते हैं। साथ ही छात्रहित में सोमवार के स्थान पर रविवार को स्कूल संचालित करने का निर्णय भी संचालकों की स्वेच्छा पर निर्भर है।सावन के सभी सोमवार को बंद रहेंगे विद्यालय

विद्यालय अवधि में बीएसए कार्यालय आने वाले शिक्षकों को चिह्नित करने एवं उनके द्वारा लिए गए अवकाश की जानकारी उपरांत ही प्रार्थना पत्र पर विचार करने सम्बन्धी एडी (बेसिक) इलाहाबाद का आदेश जारी

विद्यालय अवधि में बीएसए कार्यालय आने वाले शिक्षकों को चिह्नित करने एवं उनके द्वारा लिए गए अवकाश की जानकारी उपरांत ही प्रार्थना पत्र पर विचार करने सम्बन्धी एडी (बेसिक) इलाहाबाद का आदेश जारी

फतेहपुर : अप्रैल के बाद नामांकित बच्चों को मिलेगा यूनिफॉर्म, शासन से बजट आते ही कराया जाएगा यूनिफॉर्म वितरण - बीएसए

फतेहपुर : अप्रैल के बाद नामांकित बच्चों को मिलेगा यूनिफॉर्म, शासन से बजट आते ही कराया जाएगा यूनिफॉर्म वितरण - बीएसए।

फतेहपुर : अंग्रेजी माध्यम स्कूलों से तबादलों पर सवाल, 5 अगस्त 2018 तक होना है समायोजन और पारस्परिक तबादला

फतेहपुर : अंग्रेजी माध्यम स्कूलों से तबादलों पर सवाल, 5 अगस्त 2018 तक होना है समायोजन और पारस्परिक तबादला।

फतेहपुर : जर्जर भवनों में बच्चों को बैठाने में बीएसए ने लगाई रोक, दुर्भाग्यवश कोई घटना होती है तो जवाबदेह होंगे बीईओ

फतेहपुर : जर्जर भवनों में बच्चों को बैठाने में बीएसए ने लगाई रोक, दुर्भाग्यवश कोई घटना होती है तो जवाबदेह होंगे बीईओ ।

प्रतापगढ़ : अगस्त में 1489 बेसिक शिक्षकों को मिलेगी मनचाहे स्कूल में तैनाती, विभाग में हो रही तैयारी, जल्द शिक्षकों से मांगा जाएगा आवेदन

प्रतापगढ़ : अगस्त में 1489 बेसिक शिक्षकों को मिलेगी मनचाहे स्कूल में तैनाती, विभाग में हो रही तैयारी, जल्द शिक्षकों से मांगा जाएगा आवेदन।

गोरखपुर : पुरानी पेंशन बहाली की मांग, पुरानी पेंशन बहाली को लेकर चेतावनी रैली आज


गोरखपुर। विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन की बैठक रविवार को तारामंडल स्थित कैंप कार्यालय पर हुई जिसमें निर्णय लिया गया कि एसोसिएशन की तरफ से 30 जुलाई को पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर निकाली जाने वाली चेतावनी रैली में अधिक से अधिक प्राथमिक शिक्षक शामिल हो। बैठक की अध्यक्षता प्रदेश मंत्री व जिलाध्यक्ष तारकेश्वर शाही ने किया। इस अवसर पर पेंशन विहीन मोर्चा के अध्यक्ष डॉ. महेन्द्र राय, राज्य कर्मचारी संयुक्त जिला परिषद के अध्यक्ष रुपेश श्रीवास्तव, राजेश शुक्ल, भारतेंदु यादव, राजेश तिवारी आदि मौजूद रहे।

इलाहाबाद : मूल तैनाती वाले विद्यालय में भेजने के लिए किया आवेदन, सैकड़ो शिक्षामित्रों ने मांगी घर मे तैनाती

मूल तैनाती वाले विद्यालय में भेजने के लिए किया आवेदन, सैकड़ो शिक्षामित्रों ने मांगी घर मे तैनाती


उर्दू शिक्षकों के आवेदकों को भर्ती का इंतजार, सवा साल से भर्ती शुरू होने की लगाई है आस


उर्दू शिक्षकों के आवेदकों को भर्ती का इंतजार, सवा साल से भर्ती शुरू होने की लगाई है आस

गोरखपुर, बस्ती मण्डल : इस्लामिक स्कूल : प्रधानाध्यापकों व बीईओ पर होगी कार्रवाई, एडी बेसिक ने कार्रवाई के लिए शासन को लिखा पत्र

इस्लामिक स्कूल : प्रधानाध्यापकों व बीईओ पर होगी कार्रवाई, एडी बेसिक ने कार्रवाई के लिए शासन को लिखा पत्र


सीतापुर : जनपद के अंदर समायोजन/पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति जारी, आवेदन हेतु विवरण देखें

जनपद के अंदर समायोजन/पारस्परिक स्थानान्तरण हेतु विज्ञप्ति जारी, आवेदन हेतु विवरण देखें


सीतापुर : महिलाओं को ससुराल में तैनाती का मिलेगा मौका, निर्देश : दो दिन में विकल्प भरें शिक्षामित्र

महिलाओं को ससुराल में तैनाती का मिलेगा मौका, निर्देश : दो दिन में विकल्प भरें शिक्षामित्र 


उच्च शिक्षा : शिक्षा संस्थानों की फंडिंग के लिए बनेगी ऑटोनॉमस बॉडी, ग्रांट देने वाली प्रस्तावित इकाई को NAAC की तर्ज पर बनाने की योजना

देश के उच्च शैक्षणिक संस्थानों की फंडिंग के लिए बन रही एजेंसी काफी हद तक नेशनल असेसमेंट एंड एक्रेडिटेशन काउंसिल (नैक) के मॉडल पर आधारित होगी। नैक एक इंटर-यूनिवर्सिटी सेंटर के तौर ऑटोनॉमस बॉडी के रूप में रजिस्टर्ड है, जो यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (यूजीसी) के तहत आती है। यह संस्था स्वतंत्र रूप से काम करती है। ईटी को पता चला है कि फंडिंग एजेंसी के लिए नैक-आधारित मॉडल को सबसे अच्छे विकल्प के रूप में देखा जा रहा है क्योंकि यूजीसी रूल बुक के मुताबिक इसे आसानी से बनाया जा सकता है। साथ ही, इस एजेंसी को सोसायटी एक्ट के तहत रजिस्टर कराने की जगह प्रस्तावित हायर एजुकेशन कमीशन ऑफ इंडिया (एचईसीआई) में एक ऑटोनॉमस बॉडी के तौर पर भी बनाया जा सकता है।

एचईसीआई को मानव संसाधन विकास मंत्रालय यूजीसी की जगह लाने की तैयारी में है, जिसकी वजह से उसे आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। एचईसीआई की फंडिंग से जुड़ी सभी शक्तियों को खत्म कर उसे मंत्रालय को दे देने की मूल योजना की काफी आलोचना हो रही थी। बहुतों का मानना था कि इससे यूजीसी के दौर की तरह की दोबारा वही सरकारी हस्तक्षेप और लालफीताशाही देखने को मिलेगी। हालांकि मंत्रालय ने इस बारे में तुरंत ही घोषणा करते हुए स्पष्टीकरण दिया कि फंडिंग का अधिकार एक अलग एजेंसी को दिया जाएगा, जो मंत्रालय के हस्तक्षेप से बाहर रहेगी। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संसद को बताया है, 'ग्रांट बांटने वाली नई संस्था एचआरडी मंत्रालय नहीं, बल्कि यह शिक्षाविदों की अध्यक्षता में एक स्वतंत्र संस्था होगी।'

हालांकि सरकार में उच्च स्तर पर इस बारे में चर्चा हो रही है कि कैसे सरकारी संस्थानों को अनिवार्य रूप से ग्रांट देने वाली एक एजेंसी एचआरडी मंत्रालय और एचईसीआई के हस्तक्षेप से बाहर रह सकती है। इसके अलावा एजेंसी को मिलने वाले फंड के बारे में भी सरकार से सवाल पूछे जा रहे हैं कि क्या बजट में फंड की घोषणा होने के बाद वह रकम सीधे नई एजेंसी के पास आ जाएगी या फिर वह एचईसीआई के जरिए होकर आएगी/ अभी तक यूजीसी के लिए बजट में अलग से फंड का प्रावधान किया जाता है।

इस दौरान एचईसीआई ड्राफ्ट बिल को लेकर आई आलोचनाओं और नए सुझावों के आधार पर इस पर दोबारा काम किया जा रहा है। इसे अब, 'देश की उच्च शैक्षणिक संस्थाओं को टेक्नोलॉजी आधारित सिस्टम के जरिए एक पारदर्शी और मेरिट आधारित अप्रोच के साथ फंडिंग के बारे में विचार करने और निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र संस्था बनाने के लिए संशोधित किया गया है।' ड्राफ्ट बिल के इस नए वर्जन अगले हफ्ते कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेजे जाने की उम्मीद है, जिसके बाद इसे संसद में पेश किया जाएगा।

Sunday, July 29, 2018

बदायूँ : 50 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके परिषदीय शिक्षक/ शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्त हेतु स्क्रीनिंग कराने के संबंध में निर्धारित प्रारूप पर सूचना उपलब्ध कराने हेतु बीएसए का आदेश जारी, देखें

बदायूँ : 50 वर्ष आयु पूर्ण कर चुके परिषदीय शिक्षक/ शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्त हेतु स्क्रीनिंग कराने के संबंध में निर्धारित प्रारूप पर सूचना उपलब्ध कराने हेतु बीएसए का आदेश जारी, देखें