DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, September 6, 2018

फतेहपुर : नई पारी शुरू करने को स्कूल किये लॉक, नवनियुक्त 679 निशक्त और महिला शिक्षकों को हुआ स्कूल आवंटन

नई पारी शुरू करने को स्कूल किए लॉक

सहायक अध्यापक भर्ती

जासं, फतेहपुर : राजकीय इंटर कॉलेज कैंपस में बुधवार को चयनित महिला एवं दिव्यांग शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए स्कूल आवंटन प्रक्रिया आयोजित की गई। खुली सूची देखकर मनचाहे विद्यालय के चयन से इन नव नियुक्त अध्यापकों के चेहरे पर खुशी झलक रही थी। लगातार 8 घंटे चली स्कूल आवंटन प्रक्रिया में 679 विद्यालयों को महिला एवं दिव्यांग शिक्षक-शिक्षिकाओं ने स्कूल लॉक किए। स्कूल आवंटन प्रक्रिया को आयोजित कराने के लिए डीएम द्वारा नियुक्त प्रतिनिधि एएसडीएम प्रह्लाद सिंह, डायट प्राचार्य आनंदकर पाण्डेय, बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह सुबह 10 बजे पहुंचे। तब तक कैंपस ठसाठस भर चुका था। पहले कक्ष में तीनों अधिकारियों ने चयनित सहायक अध्यापकों से चयनित ब्लाक पूछा और अलग अलग कमरों में बनाए गए काउंटरों में स्कूल लॉक करने के लिए भेजा। खंड शिक्षाधिकारियों के समक्ष पहुंच कर स्कूल लॉक किए। बीएसए श्री सिंह ने बताया कि स्कूल आवंटन के लिए 1819 स्कूलों की सूची निकाली गई थी। जिसमें 666 महिलाएं एवं 17 दिव्यांग महिला एवं पुरुष शामिल रहे हैं। नियुक्ति पत्र तैयार होने के बाद वितरण तिथि घोषित की जाएगी।

सूची देखने में हुई जद्दोजहद : रिक्त पदों के स्कूलों की सूची जैसी ही चश्पा की गई। देखने के लिए भीड़ दौड़ पड़ी। कैंपस के ध्वजारोहण चबूतरे में मारामारी शुरू हो गई तो पुलिस कर्मियों को हस्तक्षेप करना पड़ा। बात नहीं बनी तो महिला कांस्टेबलों ने स्थिति को नियंत्रित किया। लाइन लगवाकर सूची को दिखाया। वहीं बाद में बीएसए ने एक साथ दस स्थानों में सूची लगवाकर स्थिति को नियंत्रित किया।

झलिकयां : बच्चों की परवरिश के लिए आए परिजन : जीआइसी कैंपस में नव चयनित महिला शिक्षिकाओं की गोद में परवरिश को परिजन भी साथ आए। कैंपस में परिजन बच्चों को गोद में लेकर उन्हें दुलारते पुचकारते रहे।

वाहनों की कतार से लगा जाम : स्कूल आवंटन के लिए आई नव नियुक्त महिलाएं अधिकांश चार पहिया वाहनों से आई थी। जिसके चलते जिला अस्पताल के गेट में कई बार दिन में जाम की स्थिति पैदा हुई।

सुरक्षा के लिए लिहाज से तैनात रहा भारी पुलिस बल : एसी राहुलराज के दिशा निर्देश पर महिला एवं पुरुष पुलिस कर्मियों की भारी संख्या में तैनाती की गई थी। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए इन्हें मशक्कत भी करनी पड़ी।सहायक अध्यापक शिक्षक भर्ती की सूची देखने के लिये जीआइसी में कुछ इस तरह जद्दोजहद करते अभ्यर्थी

>>महिला एवं दिव्यांगों को आवंटित किए गए स्कूल

>>प्रक्रिया को संचालित करने के लिए एएसडीएम डटे रहेस्कूल आवंटन प्रक्रिया एक नजर में

खोले गए स्कूल : 1819

कुल स्कूल आवंटन : 679

महिला : 666

कुल दिव्यांग : 17 प्रक्रिया

जिले में कुल रिक्त सीटें : 2,000

जिले में आवंटित कंडीडेट : 1,710

काउंसिलिंग में प्रतिभाग : 1683

रोस्टर से पुरुषों का आवंटन : 1006

No comments:
Write comments