DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Wednesday, November 20, 2019

मेरठ : कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में कई पदों में चयन हेतु (संविदा) विज्ञप्ति जारी, देखें विज्ञप्ति सह आवेदन पत्र प्रारूप

मेरठ : कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में कई पदों में चयन हेतु (संविदा) विज्ञप्ति जारी, देखें विज्ञप्ति सह आवेदन पत्र प्रारूप।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

फतेहपुर : स्कूलों में संसाधनों की कमी बताएंगे भ्रमणशील शिक्षक, प्रशिक्षित कर 15 दिसम्बर तक सूचनाओं को अपलोड करने का सौंपा जिम्मा

फतेहपुर : स्कूलों में संसाधनों की कमी बताएंगे भ्रमणशील शिक्षक, प्रशिक्षित कर 15 दिसम्बर तक सूचनाओं को अपलोड करने का सौंपा जिम्मा।

सूचनाएं अपलोड करने को प्रशिक्षण
फतेहपुर | हिन्दुस्तान संवाद**20 Nov 2019

प्रेरणा ऐप के माध्यम से कायाकल्प की सभी सूचनाओं को सही से और समय पर अपलोड कराने के लिए मंगलवार को विशेष शिक्षकों समेत समन्वयकों को प्रशिक्षण दिया गया। जिले भर के सभी विद्यालयों की सूचनाएं मार्च 2020 तक पूरी की जानी है।

शहर के महात्मा गांधी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में राज्य परियोजना निदेशक विजय करन आनंद के निर्देशानुसार एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें जिला समन्वयक अरुण मिश्रा की अध्यक्षता में प्रेरणा तकनीकी फ्रेमवर्क के तहत कायाकल्प व एमडीएम माडयूल में आवश्यक डाटा फीड करने के लिए विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यक्रम में उपस्थित विशेष वर्ग के सभी शिक्षकों ने मन में उठ रही जिज्ञासाओं को शांत किया। श्री मिश्रा ने बताया कि विद्यालयो में तैनात आईटी अध्यापकों को प्रेरणा एप के माध्यम से स्कूलों से कायाकल्प, मध्यान्ह भोजन मॉड्यूल संबंधी सूचनाएं एकत्रित करने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है। अब अध्यापको के अतिरिक्त आईटी अध्यापक भी स्कूल से प्रेरणा संबंधित समस्त सूचना ऑनलाईन अपलोड कर सकेंगे। जिससे शासन को स्कूल से संबंधित समस्त वास्तविक सूचना मिल सकेगी। बताया कि यह डाटा मार्च 2020 तक हर हाल में पूरा किया जाना है। इस मौके पर डीसी एमडीएम आशीष दीक्षित, डीसी सिविल एमएल वर्मा समेत समन्वयक आदि उपस्थित रहे।









 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

यूपी बोर्ड : प्रयोगात्मक परीक्षाएं 15 दिसम्बर से होंगी शुरू, दो चरणों 15 से 29 दिसम्बर और 30 दिसम्बर से 13 जनवरी के बीच होंगी सम्पन्न

यूपी बोर्ड : प्रयोगात्मक परीक्षाएं 15 दिसम्बर से होंगी शुरू, दो चरणों 15 से 29 दिसम्बर और 30 दिसम्बर से 13 जनवरी के बीच होंगी सम्पन्न।











 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, November 19, 2019

लखनऊ : ARP हेतु लिखित परीक्षा में 60% अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों की सूची एवं माइक्रो टीचिंग हेतु आदेश जारी, देखें

लखनऊ : ARP हेतु लिखित परीक्षा में 60% अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों की सूची एवं माइक्रो टीचिंग हेतु आदेश जारी, देखें



हाथरस : 82 जर्जर एवं निष्प्रयोज्य विद्यालयों की नीलामी हेतु अनुमानित लागत एवं कार्यक्रम जारी, सूची सह आदेश देखें

हाथरस : 82 जर्जर एवं निष्प्रयोज्य विद्यालयों की नीलामी  हेतु अनुमानित लागत एवं कार्यक्रम जारी, सूची सह आदेश देखें




हाथरस / मथुरा : शिक्षक की पीट-पीटकर कर दी हत्या, अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

शिक्षक की पीट-पीटकर हत्या
हाथरस | हिन्दुस्तान संवाद**19 Nov 2019


आगरा रोड स्थित एक होटल में रविवार की रात विवाद के बाद कुछ लोगों ने एक शिक्षक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। शिक्षक के भांजे की तहरीर पर कोतवाली सदर पुलिस ने सात-आठ अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। शिक्षक मथुरा जनपद की छाता तहसील के एक प्राथमिक स्कूल में तैनात है।

परिजनों के अनुसार रविवार की रात लगभग दस बजे प्रेम सिंह पुत्र नन्नू मल निवासी नाई का नगला भांजे अभय सिंह पुत्र अशोक कुमार के साथ आगरा रोड के एक होटल में खाना खाने के लिए निकला था। वहां पहले से बैठे कुछ लोगों से उसका विवाद हो गया। कुछ ही देर में विवाद बढ़ा और उन लोगों ने प्रेमसिंह के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद कुछ और लोग भी उनके साथ आ गए और सात से आठ लोगों ने प्रेमसिंह को जमकर पीटा। प्रेम ने किसी तरह वहां से भागने की कोशिश की और बाहर तक आ गया लेकिन हमलावर उसके पीछे आए और पकड़कर उसे एक बार फिर पीटने लगे। शिक्षक जब बेदम हो गया तो हमलावर भाग निकले।

कुछ देर में अभय वहां पहुंचा और परिजनों को घटना की जानकारी दी। परिजन जब वहां पहुंचे तो प्रेमसिंह की मौत हो चुकी थी। बाद में परिजन कोतवाली पहुंचे और पुलिस को घटना की जानकारी दी। कोतवाली सदर पुलिस ने प्रेम के पिता नन्नूमल की तहरीर पर सात-आठ अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। प्रेम मथुरा जनपद की छाता तहसील के एक प्राथमिक स्कूल में शिक्षक के पद पर तैनात था। एक दिन पहले ही वे अपने घर हाथरस आया था। मामले के लेकर कोतवाली सदर प्रभारी प्रवेश राणा ने बताया कि तहरीर के मुताबिक मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश की जा रही है।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

बिजनौर : ऑनलाइन डाटा फीडिंग का शिक्षकों पर दबाव बना रहे बीईओ, फीडिंग हेतु बीईओ को जारी की गई है धनराशि, मामले की जांच कर होगी कार्रवाई : बीएसए

बिजनौर : ऑनलाइन डाटा फीडिंग का शिक्षकों पर दबाव बना रहे बीईओ, फीडिंग हेतु बीईओ को जारी की गई है धनराशि, मामले की जांच कर होगी कार्रवाई : बीएसए।






 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

प्रतापगढ़ : साइट न खुलने के कारण ऑनलाइन छुट्टी व्यवस्था फेल, साइट खुलने तक ऑफलाइन व्यवस्था पूर्व की भांति रहेगी लागू : बीएसए

प्रतापगढ़ : साइट न खुलने के कारण ऑनलाइन छुट्टी व्यवस्था फेल, साइट खुलने तक ऑफलाइन व्यवस्था पूर्व की भांति रहेगी लागू : बीएसए।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

उच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार को आईआईटी परिसरों में विद्यालय खोलने की मांग पर विचार कर निर्णय लेने का दिया निर्देश

केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग पर केंद्र निर्णय ले, उच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार को आईआईटी परिसरों में विद्यालय खोलने की मांग पर विचार कर निर्णय लेने का दिया निर्देश


19 Nov 2019

उच्च न्यायालय ने सोमवार को केंद्र सरकार से देशभर के आईआईटी परिसरों में केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग पर विचार करने और समुचित निर्णय लेने का निर्देश दिया है। न्यायालय ने केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा 2016 में जारी उस अधिसूचना पर विचार करने के बाद यह आदेश दिया है।


मंत्रालय की ओर से 2016 में जारी अधिसूचना के अनुसार आईआईटी परिसरों में चल रहे निजी स्कूलों को बंद करने और उनके स्थान पर केंद्रीय विद्यालय खोलने निर्देश दिया गया था। मुख्य न्यायाधीश डी. एन. पटेल और न्यायमूर्ति सी. हरि. शंकर की पीठ ने याचिकाकर्ता के वकील का पक्ष सुनने और मानव संसाधन विकास मंत्रालय जारी अधिसूचना पर गौर करने के बाद सरकार को कानून के दायरे में इस इस बारे में समुचित निर्णय लेने को कहा है।

इसके साथ ही पीठ ने याचिका का निपटारा कर दिया। आईआईटी के पूर्व कर्मचारी सुजीत स्वामी ने न्यायालय में याचिका दाखिल कर आईआईटी परिसरों में निजी स्कूलों की जगह केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग की है। उन्होंने इसके लिए जुलाई 2016 में की अधिसूचना का हवाला दिया।

अजब गजब : 12 सौ के पूर्णांक में छात्रा को दे दिए 1209 अंक

अजब गजब : 12 सौ के पूर्णांक में छात्रा को दे दिए 1209 अंक

19 Nov 2019

डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विवि अयोध्या की ओर से एमएड की एक छात्रा को जारी किए गए अंकपत्र में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। दोनों वर्षों को मिलाकर कुल 12 सौ अंकों के पूर्णांक में छात्रा को 1209 अंक मिले हैं। महाविद्यालय की तरफ से अंकपत्र प्रमाणित कर छात्रा को दे भी दिया गया है।


सन्त तुलसीदास पीजी कालेज कादीपुर की छात्रा महिमा द्विवेदी को जो अंक पत्र दिया गया है उसके अनुसार उसे एमएड प्रथम वर्ष में कुल 600 अंकों में 761 अंक मिले हैं। वहीं द्वितीय वर्ष के 600 पूर्णांक में 448 अंक दिए गए हैं। दोनों वर्षों को मिलाकर कुल 12 सौ के पूर्णांक में छात्रा को 1209 अंक मिले हैं।

यूनिवर्सिटी की ओर से अंक पत्र महाविद्यालय भेजा गया। उसे प्रमाणित करने के बाद छात्रा को वितरित कर दिया गया। इस संबंध में संत तुलसीदास पीजी कालेज कादीपुर के प्राचार्य डा. जितेन्द्र तिवारी ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से ही मुझे भी इसकी जानकारी मिली है। कल रिकार्ड देखकर की कुछ बता पाऊँगा।

फतेहपुर : बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने शुरू की कवायद, दस ब्लाकों में टीम सक्रिय

फतेहपुर : बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने शुरू की कवायद, दस ब्लाकों में टीम सक्रिय।

बच्चों के आधार नामांकन शुरू दस ब्लॉकों में टीम सक्रिय
19 Nov 2019

फतेहपुर। आज के समय में सभी के लिए जरुरी हो रहे आधार कार्ड को लेकर परिषदीय स्कूलों के बच्चों का भी सुलभ तरीके से आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने कवायद शुरू कर दी है। जिले के 10 ब्लाकों में दो सदस्यीय टीमों को सक्रिय कर दिया गया है। शेष तीन ब्लाकों के लिए कार्य प्रगतिशील है।

बेसिक शिक्षा विभाग के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्र-छात्राओं का आधार कार्ड आसानी से बनवाए जाने के लिए हर ब्लाक में दो सदस्यीय टीम गठित किया गया है। यह टीमें सम्बंधित ब्लाक के बीआरसी भवन में कैम्प लगा कर क्षेत्र के स्कूली बच्चों का आधार नामांकन किया जा रहा है।

हालांकि अभी तीन ब्लाक मलवां, तेलियानी व बहुआ में टीमें गठित होना शेष है। स्थानीय अभिभावकों ने खुशी जताते हुए कहा कि बच्चों के लिए जरुरी हुए आधार कार्ड को बनवाने के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा था। अब स्कूल स्तर पर ही आधार कार्ड बनने से परेशानी दूर होगी। आधार कार्ड का काम देख रहे आशीष दीक्षित ने बताया कि अभी 20 टीमें काम शुरू कर दिया गया है। शेष तीन ब्लाकों की टीमें भी काम करने लगेंगी। यह टीमें बीआरसी में बैठकर बच्चों का आधार नामांकन करेंगी।








 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

डीआईओएस नहीं ले रहे काम मे रुचि, समीक्षा बैठक में खुली पोल, बोर्ड परीक्षा को लेकर नहीं हैं गम्भीर

डीआईओएस नहीं ले रहे काम मे रुचि, समीक्षा बैठक में खुली पोल, बोर्ड परीक्षा को लेकर नहीं हैं गम्भीर।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

माध्यमिक शिक्षा विभाग : माध्यमिक स्कूलों में पढ़ाने के लिए नहीं मिल रहे रिटायर्ड शिक्षक, शिक्षक नहीं मिलने से बिगड़ रही शिक्षण व्यवस्था

माध्यमिक शिक्षा विभाग : माध्यमिक स्कूलों में पढ़ाने के लिए नहीं मिल रहे रिटायर्ड शिक्षक, शिक्षक नहीं मिलने से बिगड़ रही शिक्षण व्यवस्था।






 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

फर्जी लेटर पैड पर तबादले की सिफारिश करने वाला गिरफ्तार, बिहार सरकार के लेटर पैड पर यूपी सरकार से की थी दो शिक्षकों के तबादले की सिफारिश

फर्जी लेटर पैड पर तबादले की सिफारिश करने वाला गिरफ्तार, बिहार सरकार के लेटर पैड पर यूपी सरकार से की थी दो शिक्षकों के तबादले की सिफारिश।








 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

उच्च शिक्षा : रोजगारपरक होगी प्रदेश की उच्च शिक्षा, विश्वविद्यालयों में समान पाठ्यक्रम लागू करने पर लगी मुहर

उच्च शिक्षा : रोजगारपरक होगी प्रदेश की उच्च शिक्षा, विश्वविद्यालयों में समान पाठ्यक्रम लागू करने पर लगी मुहर।

सभी राज्य विश्वविद्यालयों में एक समान स्नातक का पाठ्यक्रम तैयार होने के बाद शासन द्वारा तय कमेटी की अंतिम बैठक में नये पाठ्यक्रम लागू किए जाने को मंजूरी दे दी।

बैठक में कमेटी ने सभी 15 राज्य विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों से बात कर सहमति ले ली है। अब यह कोर्स विश्वविद्यालयों में लागू किए होने के लिए तैयार है। दो दिन में उच्च शिक्षा विभाग को इसे भेज दिया जाएगा। कमेटी के अध्यक्ष सिद्धार्थ विवि के कुलपति प्रो. सुरेन्द्र दुबे ने बताया कि नया कोर्स भेजने के साथ उच्च शिक्षा विभाग से अपेक्षा की जाएगी कि वह इसे जल्द सभी राज्य विश्वविद्यालयों को भेज दें ताकि विवि स्तर पर बनी स्थानीय कमेटियों से मंजूर कराने के बाद सत्र 2020-21 से इसे अनिवार्य रूप से लागू कर दिया जाए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया से गुजरकर अंतिम निर्णय तक पहुंचने में कमेटी को 21 महीने लग गए। जनवरी 2018 में शासन ने समान पाठ्यक्रम लागू करने के लिए पांच सदस्यीय कमेटी गठित की थी। प्रो. दुबे की अध्यक्षता में इस कमेटी का सचिव उच्च शिक्षा विभाग के अपर सचिव आरके चतुर्वेदी को बनाया था, जबकि सदस्य के रूप में आगरा विवि के कुलपति प्रो. आरविंद दीक्षित, रुहेलखंड विवि बरेली के कुलपति प्रो. अनिल शुक्ल व लविवि के प्रति कुलपति प्रो. यूएन द्विवेदी शामिल थे। प्रो. दुबे ने बताया कि पाठ्यक्रम तैयार करने में लोकतांत्रिक प्रक्रिया का पालन किया गया।











 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हाईकोर्ट : जाति प्रमाण पत्र फर्जी तो नौकरी स्वतः होगी शून्य

हाईकोर्ट : जाति प्रमाण पत्र फर्जी तो नौकरी स्वतः होगी शून्य।

जाति प्रमाणपत्र फर्जी तो नौकरी शून्य
प्रयागराज | विधि संवाददाता**19 Nov 2019

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक आदेश में कहा है कि सक्षम अधिकारी यदि जाति प्रमाण पत्र को फर्जी घोषित कर देता है तो उसके आधार पर प्राप्त नियुक्ति स्वत: शून्य हो जाएगी। इसके लिए यह जरूरी नहीं कि विभागीय जांच कराई जाए।

कोर्ट ने कहा कि ऐसे कर्मचारी को कारण बताओ नोटिस देकर बर्खास्त किया जाना विधि के विपरीत नहीं है। इसलिए आईआईटी कानपुर द्वारा विभागीय अनुशासनिक जांच कार्रवाई कर याची को बर्खास्त करना नियमों के विपरीत नहीं है।

यह आदेश न्यायमूर्ति सुनीत कुमार ने रमाकांत की याचिका को खारिज करते हुए दिया है। आईटीआई कानपुर की ओर से अधिवक्ता रोहन गुप्ता एवं केंद्र सरकार के अधिवक्ता सभाजीत सिंह ने याचिका का प्रतिवाद किया। याची आईआईटी कानपुर में बस कंडक्टर नियुक्त किया गया था। उसने यह नियुक्ति स्वयं के अनुसूचित जाति मझवार के प्रमाण पत्र के आधार पर प्राप्त की थी। इसकी शिकायत की गई तो तहसीलदार की जांच के बाद याची को केवट जाति का पाया गया जो अन्य पिछड़ा वर्ग में आती है। इस पर याची के जाति प्रमाणपत्र को गलत बताते हुए रद्द कर दिया गया।

हाईकोर्ट का फैसला

' केवट ने मझवार जाति बता पाई थी आईआईटी में नौकरी

' बर्खास्तगी आदेश के खिलाफ दाखिल याचिका खारिज












 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, November 18, 2019

फतेहपुर : विश्व शौचालय दिवस मनाए जाने एवं जिला स्तरीय गंगा किनारे के परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों की कार्यशाला हेतु विद्यालयों की सूची जारी, देखें

फतेहपुर : विश्व शौचालय दिवस मनाए जाने एवं जिला स्तरीय गंगा किनारे के परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों की कार्यशाला हेतु विद्यालयों की सूची जारी, देखें।













 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

देवरिया : विरोध में आवाज उठाने वाले भी एआरपी बनने को आतुर, एआरपी के पदों पर आवेदन करने वालों में शिक्षक संघ के पदाधिकारी भी शामिल

देवरिया : विरोध में आवाज उठाने वाले भी एआरपी बनने को आतुर, एआरपी के पदों पर आवेदन करने वालों में शिक्षक संघ के पदाधिकारी भी शामिल
 

जिले में एआरपी के पदों पर आवेदन करने वालों में शिक्षक संघ के पदाधिकारी भी शामिल हैं। यह हाल तब है जब शिक्षक संगठन खुद एआरपी व्यवस्था का विरोध कर रहे हैं और शिक्षकों से आवेदन नहीं करने का अनुरोध कर रहे हैं।

एकेडमिक रिसोर्स परसन (एआरपी) के 85 पदों के सापेक्ष कुल 58 आवेदन आए हैं। इसमें से एक आवेदक तो एक संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष बताए जाते हैं। वहीं दूसरे आवेदक जिला कार्यकारिणी के एक पदाधिकारी के करीबी रिश्तेदार हैं। जानकारों की मानें तो दोनो आवेदक का संबंध एक ही संगठन से है। इसकी चर्चा शिक्षकों के बीच आम हो गई है। इस बीच आवेदन की तिथि आगे खिसकने के बाद अन्य संगठनों के पदाधिकारी भी सतर्क हो गए हैं। वह एसएसए कार्यालय में पहुंचकर आवेदकों की लिस्ट खंगालने की जुगत में हैं। एक अन्य संगठन के पदाधिकारी तो आवेदन कर चुके शिक्षकों से बाकायदा परीक्षा नहीं देने की अपील करते घूम रहे हैं। इसको लेकर विभागीय हलकों में काफी हलचल है।

आवेदकों में अधिकांश रह चुके हैं एबीआरसी: सूत्रों की मानें तो एआरपी पद के आवेदकों में से 75 फीसदी आवेदक ऐसे हैं जो पहले कभी न कभी एबीआरसी रह चुके हैं या हाल ही में कार्यरत रहे हैं। इसमें सदर बीआरसी से हाल ही में कार्यरत रहे तीन एबीआरसी ने आवेदन किया है। इसमें से दो पुरुष और एक महिला एबीआरसी बताई जा रही हैं।

इसी तरह रुद्रपुर, गौरीबाजार, बैतालपुर समेत अन्य ब्लॉकों से भी कार्यरत रहे कुछ एबीआरसी ने आवेदन किया है।

हाथरस : मानव सम्पदा पोर्टल के माध्यम से अवकाश स्वीकृति हेतु डाटा अपलोड किए जाने के सम्बन्ध में आदेश

हाथरस : मानव सम्पदा पोर्टल के माध्यम से अवकाश स्वीकृति हेतु डाटा अपलोड किए जाने के सम्बन्ध में आदेश

फतेहपुर : विद्या ज्ञान प्रारम्भिक प्रवेश परीक्षा दिनांक- 24 नवम्बर 2019 हेतु परीक्षा केंद्र बनाए जाने के सम्बन्ध में

फतेहपुर : विद्या ज्ञान प्रारम्भिक प्रवेश परीक्षा दिनांक- 24 नवम्बर 2019 हेतु परीक्षा केंद्र बनाए जाने के सम्बन्ध में।






 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।