DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, May 14, 2019

सीतापुर : "बहुत बड़े मास्टर बने हो न तुम", चहेते की शादी के लिए स्कूल न देने पर पुलिस इंस्पेक्टर ने दादागिरी दिखाते हुए शिक्षक को धमकाया, शिक्षकों में उबाल

नया अपडेट : 

सीतापुर : ताला तोड़ बारात टिकवाने के मामले में डैमेज कंट्रोल में जुटे कोतवाल, तहरीर में भी घिरी पुलिस, शिक्षक संघ मामले को लेकर गुस्से में। 





सीतापुर : "बहुत बड़े मास्टर बने हो न तुम", 
चहेते की शादी के लिए स्कूल न देने पर पुलिस इंस्पेक्टर ने दादागिरी दिखाते हुए शिक्षक को धमकाया 


हमें न सिखाओ, मैं ताला ही तोड़वा दूंगा..


पहली कॉल : इंस्पेक्टर महोली बोल रहा हूं यार..हमारे यहां जो दूध देता है शुक्ला उसके यहां शादी है आज..स्कूल चाहिए था। 

दूसरी कॉल : कहां हो यार..इंस्पेक्टर महोली बोल रहा हूं..आपसे मिलना था थोड़ा..हम आएं या आप आओगे..स्कूल की नहीं फील्ड की चाबी चाहिए..स्कूल में मांगलिक कार्यक्रम की रोक इलेक्शन तक थी..हमें न सिखाओ..चलो अब मैं ताला ही तोड़वा दूंगा..बहुत बड़े मास्टर बने हो ना तुम..।

दूरभाष पर प्राथमिक विद्यालय देवरिया के प्रधानाध्यापक वीरेंद्र कुमार दीक्षित से महोली इंस्पेक्टर धर्म प्रकाश शुक्ल के बातचीत के अंश हैं। ये ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इंस्पेक्टर शुक्ला की दबंगई सामने आने के बाद पूरे दिन शिक्षक संगठन बीएसए, एसपी कार्यालय से कलक्ट्रेट तक अधिकारियों को कार्रवाई के लिए ज्ञापन देते नजर आए। 

बीएसए अजय कुमार ने भी डीएम को मामले की जानकारी दी। वायरल ऑडियो में प्रधानाध्यापक वीरेंद्र दीक्षित इंस्पेक्टर को परिषदीय विद्यालय में बारात आदि ठहराने की मनाही होने और सचिव बेसिक शिक्षा परिषद का आदेश होने की बात कहते सुने जा रहे हैं। मामला महोली क्षेत्र के देवरिया गांव के शिशुपाल शुक्ल की बेटी की शादी में बरात ठहराने से जुड़ा है। 12 मई को उसकी बारात आई और महोली इंस्पेक्टर ने जबरन प्राथमिक विद्यालय के गेट का ताला तोड़वाकर उसमें बरात ठहराई।

प्रधानाध्यापक वीरेंद्र कुमार दीक्षित को दूरभाष पर धमकाने का आरोप गलत है। हमने सिर्फ शिशुपाल की बेटी की शादी में बरात ठहराने के लिए प्राथमिक विद्यालय प्रांगण के गेट की चाबी मांगने का निवेदन किया था।  - धर्म प्रकाश शुक्ल, इंस्पेक्टर महोली कोतवाली

रविवार को विद्यालय गेट का ताला तोड़कर उसमें बरात ठहराई गई, जबकि महोली इंस्पेक्टर को हमने फोन पर ऐसा करने से मना किया था। अभी डेढ़ महीने पहले ही विद्यालय का रंग-रोगन व लेखन कार्य कराया है। - वीरेंद्र कुमार दीक्षित प्रधानाचार्य-प्रा. वि. देविरया 

मामला संज्ञान में आया है। प्रकरण की जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित की जा रही है। इसकी जांच रिपोर्ट आने के बाद हम अग्रिम कार्रवाई करेंगे। - अजय कुमार, बीएसए



शिक्षकों ने डीएम-एसपी को ज्ञापन देकर जताया विरोध

सीतापुर : महोली के देवरिया प्राथमिक विद्यालय के मामले में शिक्षक संगठन के पदाधिकारियों ने डीएम-एसपी और बीएसए को ज्ञापन देकर क्षेत्रीय कोतवाली इंस्पेक्टर के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। उप्र प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला महामंत्री रवींद्र दीक्षित, महोली ब्लॉक अध्यक्ष शरद मिश्र व मंत्री शिव सागर वर्मा सहित कई शिक्षकों ने डीएम से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा और उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी है।

इसी तरह इन शिक्षकों ने एसपी व बीएसए को भी ज्ञापन दिया है। इस दौरान संगठन मंत्री नवीन श्रीवास्तव, खैराबाद ब्लॉक अध्यक्ष सुशील गुप्त, मंत्री प्रदीप वर्मा, मछरेहटा के ब्लॉक मंत्री दिनेश मिश्र आदि शिक्षक नेता मौजूद रहे। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र गुप्त के नेतृत्व में जिला मंत्री आराध्य शुक्ल, मीडिया प्रभारी खुशतर रहमान खां, मोहम्मद नईम शेख ने भी प्राथमिक विद्यालय देवरिया के प्रधानाध्यापक के समर्थन में आकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में ज्ञापन दिया है। इस ज्ञापन में शिक्षक नेताओं ने प्राथमिक विद्यालय देवरिया प्रकरण में कोतवाल की भूमिका का उल्लेख करते हुए बताया गया है कि किस प्रकार कोतवाल ने शिक्षक पर नियम विरुद्ध विद्यालय में बारात ठहराने के लिए दबाव बनाया गया। उन्होंने बताया कि, स्कूल में बारात ठहराने को लेकर महोली इंस्पेक्टर व प्रधानाध्यापक के बीच दूरभाष पर हुई बातचीत का ऑडियो भी सोशल मीडिया पर वॉयरल हो रहा है। शिक्षकों का आरोप है कि कोतवाल ने दबंगई दिखाते हुए विद्यालय गेट का ताला तोड़वा दिया और वहां बारात ठहराई, जो निदनीय है।

No comments:
Write comments