DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label आधार कार्ड. Show all posts
Showing posts with label आधार कार्ड. Show all posts

Thursday, June 11, 2020

छात्रवृत्ति के लिए समय-सारणी जारी


छात्रवृत्ति के लिए समय-सारणी जारी 

लखनऊ। समाज कल्याण विभाग ने छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना के लिए समय सारणी जारी कर दी है। कक्षा 11-12 और इससे ऊपर की कक्षाओं के विद्यार्थी 1 अगस्त से 5 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। रिनुअल श्रेणी के उन छात्रों को जिनका डाटा ठीक होगा, उन्हें 1 अक्टूबर को भुगतान कर दिया जाएगा। शेष छात्रों को 25 जनवरी को भुगतान होगा। इसी तरह से कक्षा 9 व 10 में के छात्र 24 जुलाई से 12 अक्टूबर तक आवेदन कर सकेंगे


छात्रवृत्ति आवेदन के लिए गाइडलाइन जारी, छात्रवृत्ति के लिए आधार से मोबाइल नंबर व बैंक खाता लिंक करना अनिवार्य


छात्रवृत्ति योजना में गड़बड़ी रोकने के लिए छात्रों के आधार का ऑनलाइन सत्यापन कराया जाएगा। चालू वित्तीय वर्ष में छात्रों के आधार नंबर के सत्यापन और ओटीपी के बिना आवेदन सब्मिट नहीं हो सकेगा। इस प्रक्रिया में छात्र- छात्राओं के नाम, पिता-पति के नाम केसत्यापन के बाद आधार से लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाएगा। ओटीपी भरने के बाद ही छात्रवृत्ति आवेदन ऑनलाइन अनिवार्य स्वीकार होगा।




सरकारी छात्रवृत्ति अब आधार के बगैर नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल दिया था आदेश


अब आधार कार्ड के बगैर समाज कल्याण विभाग से अनुसूचित जाति व सामान्य वर्ग के गरीब जरूरतमंद छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की सुविधा नहीं मिल पाएगी।
बुधवार को इस बाबत प्रमुख सचिव समाज कल्याण मनोज सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में तय हुआ कि आगामी शैक्षिक सत्र से उन्हीं छात्र-छात्राओं के छात्रवृत्ति और फीस भरपाई के आवेदनों पर विचार किया जाएगा जिनके आवेदन के साथ त्रुटिरहित आधार की प्रमाणित प्रति संलग्न होगी।


यही नहीं छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की स्वीकृत धनराशि आवेदक के उसी बैंक खाते में भेजी जाएगी जो आधार से लिंक रहेगा।


इस बाबत पिछले साल ही सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था। मगर जब तक सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश पर केंद्र सरकार का गजट नोटिफिकेशन आता तब तक उ.प्र. में छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की प्रक्रिया काफी आगे बढ़ चुकी थी, इसलिए इस बार नये शैक्षिक सत्र से इस व्यवस्था को अनिवार्य रूप से लागू करने का निर्णय लिया गया।

Wednesday, May 13, 2020

आधार प्रमाणीकरण के बगैर नहीं हो सकेंगे छात्रवृत्ति के आवेदन, वर्तमान वित्तीय वर्ष से सभी विभागों में लागू होगी व्यवस्था

आधार प्रमाणीकरण के बगैर नहीं हो सकेंगे छात्रवृत्ति के आवेदन, वर्तमान वित्तीय वर्ष से सभी विभागों में लागू होगी व्यवस्था


लखनऊ : प्रदेश सरकार ने छात्रवृत्ति की गड़बड़ी रोकने के लिए आधार नंबर प्रमाणीकरण अनिवार्य कर दिया है। प्रमाणीकरण के बगैर छात्र-छात्राएं छात्रवृत्ति के ऑनलाइन आवेदन पत्र नहीं भर पाएंगे। यानी आवेदन पत्र में दर्ज विवरण का आधार से मिलान होने के बाद ही छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के आवेदन पत्र आगे बढ़ाये जाएंगे। यह व्यवस्था वर्तमान वित्तीय वर्ष से सभी विभागों की छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति योजना में लागू होगी। समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, पिछड़ा वर्ग कल्याण, दिव्यांगजन सशक्तिकरण व जनजाति विकास विभाग में संचालित छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति योजना में अब आधार नंबर प्रमाणीकरण अनिवार्य कर दिया गया है। छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के ऑनलाइन आवेदन भरने में छात्र-छात्राओं को नाम,पिता का नाम, जन्म तिथि व जेंडर भरना होगा। आधार नंबर डालने के बाद सॉफ्टवेयर यूआइडीएआइ की वेबसाइट से विवरण मिलाएगा। यदि विवरण मेल नहीं खाया तो आधार नंबर प्रमाणीकरण नहीं होगा। ऐसे में आवेदन पत्र आगे नहीं बढ़ेगा। यानी आप जो विवरण ऑनलाइन आवेदन पत्र में भर रहे हैं वह आपके आधार कार्ड में दर्ज विवरण से मिलना चाहिए। आधार नंबर प्रमाणीकरण के बाद छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के आवेदन पत्रों को पूरा भरकर जमा करना होगा। इस नई व्यवस्था से ऐसे छात्र-छात्राएं भी आवेदन नहीं कर पाएंगे, जिनके आधार कार्ड में दर्ज विकिरण हाईस्कूल से अलग हैं। यानी नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि व जेंडर में एक भी चीज आधार से मिसमैच नहीं होनी चाहिए।







 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Saturday, February 22, 2020

फतेहपुर : आपूर्ति की गई आधार किटों के क्रियान्वयन तथा सतर्कता निवारण के सम्बन्ध आदेश जारी, देखें

फतेहपुर : आपूर्ति की गई आधार किटों के क्रियान्वयन तथा सतर्कता निवारण के सम्बन्ध आदेश जारी, देखें।






 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, January 2, 2020

यूपी बोर्ड : बोर्ड परीक्षा के दौरान संदिग्ध परीक्षार्थियों की होगी पहचान, आधार कार्ड का देना होगा ब्योरा, बोर्ड को भेजी जाएगी रिपोर्ट

यूपी बोर्ड : बोर्ड परीक्षा के दौरान संदिग्ध परीक्षार्थियों की होगी पहचान, आधार कार्ड का देना होगा ब्योरा, बोर्ड को भेजी जाएगी रिपोर्ट।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Friday, December 27, 2019

महराजगंज : आधार नामांकन की प्रगति सम्बन्धी समीक्षा बैठक आयोजन के सम्बन्ध में बीएसए ने किया निर्देशित, आदेश देखें

महराजगंज : आधार नामांकन की प्रगति सम्बन्धी समीक्षा बैठक आयोजन के सम्बन्ध में बीएसए ने किया निर्देशित, आदेश देखें-

Tuesday, November 19, 2019

फतेहपुर : बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने शुरू की कवायद, दस ब्लाकों में टीम सक्रिय

फतेहपुर : बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने शुरू की कवायद, दस ब्लाकों में टीम सक्रिय।

बच्चों के आधार नामांकन शुरू दस ब्लॉकों में टीम सक्रिय
19 Nov 2019

फतेहपुर। आज के समय में सभी के लिए जरुरी हो रहे आधार कार्ड को लेकर परिषदीय स्कूलों के बच्चों का भी सुलभ तरीके से आधार कार्ड बनवाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने कवायद शुरू कर दी है। जिले के 10 ब्लाकों में दो सदस्यीय टीमों को सक्रिय कर दिया गया है। शेष तीन ब्लाकों के लिए कार्य प्रगतिशील है।

बेसिक शिक्षा विभाग के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्र-छात्राओं का आधार कार्ड आसानी से बनवाए जाने के लिए हर ब्लाक में दो सदस्यीय टीम गठित किया गया है। यह टीमें सम्बंधित ब्लाक के बीआरसी भवन में कैम्प लगा कर क्षेत्र के स्कूली बच्चों का आधार नामांकन किया जा रहा है।

हालांकि अभी तीन ब्लाक मलवां, तेलियानी व बहुआ में टीमें गठित होना शेष है। स्थानीय अभिभावकों ने खुशी जताते हुए कहा कि बच्चों के लिए जरुरी हुए आधार कार्ड को बनवाने के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा था। अब स्कूल स्तर पर ही आधार कार्ड बनने से परेशानी दूर होगी। आधार कार्ड का काम देख रहे आशीष दीक्षित ने बताया कि अभी 20 टीमें काम शुरू कर दिया गया है। शेष तीन ब्लाकों की टीमें भी काम करने लगेंगी। यह टीमें बीआरसी में बैठकर बच्चों का आधार नामांकन करेंगी।








 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।