DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label उपस्थिति. Show all posts
Showing posts with label उपस्थिति. Show all posts

Monday, October 14, 2019

महराजगंज : 'कायाकल्प' मॉड्यूल, 'मध्याह्न भोजन' मॉड्यूल तथा 'उपस्थिति' मॉड्यूल विषयक बीएसए का दिशानिर्देश जारी, आदेश देखें

महराजगंज : 'कायाकल्प' मॉड्यूल, 'मध्याह्न भोजन' मॉड्यूल तथा 'उपस्थिति' मॉड्यूल विषयक बीएसए का दिशानिर्देश जारी, आदेश देखें-


Tuesday, September 24, 2019

फतेहपुर : शिक्षामित्र और अनुदेशक भी प्रेरणा एप से देंगे हाजिरी, शासन ने दिया मोबाइल में प्रेरणा एप डाउनलोड कराने का आदेश

फतेहपुर : शिक्षामित्र और अनुदेशक भी प्रेरणा एप से देंगे हाजिरी, शासन ने दिया मोबाइल में प्रेरणा एप डाउनलोड कराने का आदेश।










 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Sunday, September 8, 2019

पीलीभीत : समस्त शिक्षक/शिक्षिकाओं/शिक्षामित्रों/अनुदेशकों को प्रेरणा ऍप के माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराए जाने हेतु सभी बीईओ को निर्देश, देखें

पीलीभीत : समस्त शिक्षक/शिक्षिकाओं/शिक्षामित्रों/अनुदेशकों को प्रेरणा ऍप के माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराए जाने हेतु सभी बीईओ को निर्देश, देखें।

Friday, August 30, 2019

अनुदेशक भी प्रेरणा एप से हाजिरी का करेंगे विरोध, सेल्फी के जरिए नहीं दर्ज कराएंगे उपस्थिति : प्रदेश अध्यक्ष

प्रेरणा एप से हाजिरी के विरोध में अनुदेशक भी
प्रयागराज | वरिष्ठ संवाददाता**30 Aug 2019

परिषदीय शिक्षकों के लिए शिक्षक दिवस 5 सितंबर से प्रेरणा एप से सेल्फी के जरिए लागू होने जा रही हाजिरी के विरोध में अनुदेशक भी उतर आए हैं। उच्च प्राथमिक अनुदेशक कल्याण समिति ने निर्णय लिया है कि सेल्फी के जरिए उपस्थिति दर्ज नहीं कराएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष भोलानाथ पांडेय ने कहा कि जब तक सरकार उन्हें 17 हजार रुपये मानदेय नहीं देती और अनुदेशकों को उनके आवास के पास तैनाती नहीं मिलती वह सेल्फी से हाजिरी नहीं देंगे। 2013 में नियुक्ति के बाद से अनुदेशकों का तबादला नहीं हुआ है। एक-एक अनुदेशक 100 किमी दूर नौकरी कर रहा है। उच्च प्राथमिक स्कूलों के अनुदेशकों ने निर्णय लिया है कि इन विषम परिस्थितियों में सेल्फी से हाजिरी लगाना हमारे लिए मुमकिन नहीं। जिले में 668 अनुदेशक कार्यरत हैं।

प्रेरणा एप के विरोध में डीएम को देंगे ज्ञापन

अंतर्जनपदीय शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने प्रेरणा एप के विरोध में मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन दो सितंबर को डीएम को देने का निर्णय लिया है। जिलाध्यक्ष अनुराग पांडेय ने शिक्षकों से सहयोग की अपील की है।






 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, August 19, 2019

परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को टैबलेट दिए जाने की तैयारी शुरू, विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की हाजिरी का रखा जाएगा पूरा रिकॉर्ड, राज्य एवं जिला स्तर पर बनेगा कंट्रोल रूम

परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को टैबलेट दिए जाने की तैयारी शुरू, विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की हाजिरी का रखा जाएगा पूरा रिकॉर्ड, राज्य एवं जिला स्तर पर बनेगा कंट्रोल रूम






Thursday, August 15, 2019

ऑनलाइन सेल्फी द्वारा उपस्थिति का शिक्षिकाओं और बच्चियों की मान-मर्यादा के प्रतिकूल होने के कारण प्रभावी हस्तक्षेप हेतु मा0 मुख्यमंत्री को मांग पत्र

ऑनलाइन सेल्फी द्वारा उपस्थिति का शिक्षिकाओं और बच्चियों की मान-मर्यादा के प्रतिकूल होने के कारण प्रभावी हस्तक्षेप हेतु मा0 मुख्यमंत्री को मांग पत्र

सर्वजन हिताय संरक्षण समिति
रजि संख्या 166 / 2019 . हाइडिल फील्ड हॉस्टल , 17 - राणा प्रताप मार्ग , लखनऊ

पत्र सं 07 - 2019 / बेसिक शिक्षा                    14 - 08 - 2019

माननीय श्री योगी आदित्य नाथ जी
मुख्यमंत्री
 उत्तर प्रदेश सरकार
लखनऊ
विषय- प्रदेश के बेसिक शिक्षकों की  प्रेरणा ऐप के माध्यम से ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज किए जाने पर पुनर्विचार हेतु |

महोदय,
आपको अवगत कराना है कि प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग में  शिक्षकों व् शिक्षिकाओं की प्रेरणा ऐप के माध्यम से ऑनलाइन सेल्फी के द्वारा उपस्थिति सुनिश्चित कराए जाने की व्यवस्था लागू की जा रही है |  इस आदेश से ऐसा प्रतीत होता है कि  प्रदेश के बेसिक शिक्षकों की निष्ठा पर सरकार एवं शासन द्वारा  संदेह व् अविश्वास व्यक्त किया जा रहा है |

2. यह आदेश प्रदेश के बेसिक शिक्षा एवं बेसिक शिक्षकों के व्यापक हित में नहीं है|   ऐसे आदेश से बेसिक शिक्षकों में न केवल आक्रोश व्याप्त है बल्कि यह आदेश उनके मनोबल पर भी भारी प्रतिकूल प्रभाव डाल रहा है |आपके संज्ञान में हम यह भी लाना चाहते हैं अधिकांश बेसिक शिक्षक महिलाएं हैं , ऐसे में यह आदेश सामान्य तौर पर शिक्षकों की मर्यादा के विरुद्ध  है | विशेषकर महिला शिक्षकों द्वारा सेल्फी लेकर भेजना महिलाओं और छोटी बच्चियों की फोटो डालना निश्चय ही उनके लिए अपमानजनक तो है ही साथ ही उनके निजता के अधिकार का उल्लंघन भी है जिसे तत्काल वापस लिया जाना महिला शिक्षकों व बच्चियों के व्यापक हित  में उपयुक्त होगा |

3. महोदय आप स्वीकार करेंगे बेसिक शिक्षक प्रदेश की नई पीढ़ी की आधारशिला रखने में सबसे महत्वपूर्ण कड़ी हैं | अतः आपसे अनुरोध है कि प्रेरणा ऐप के माध्यम से सेल्फी लेकर भेजने की प्रारंभ की जा रही  प्रक्रिया के संबंध में आप तत्काल प्रभावी हस्तक्षेप करने की कृपा करें जिससे शिक्षकों विशेषकर महिला शिक्षकों व छोटी बच्चियों  की मर्यादा व मान-सम्मान सुरक्षित रह सके और उनमे अनावश्यक कुंठा न व्याप्त हो |
आदर सहित |


शैलेंद्र दुबे
अध्यक्ष

प्रतिलिपि प्रतिष्ठा में --
1. माननीया श्रीमती अनुपमा जयसवाल,बेसिक शिक्षा मंत्री, उत्तर प्रदेश सरकार, लखनऊ |
2.  अपर मुख्य सचिव, बेसिक शिक्षा, उत्तर प्रदेश शासन, लखनऊ |
3. राज्य परियोजना निदेशक, सर्व शिक्षा अभियान, उत्तर प्रदेश, लखनऊ |
4. शिक्षा निदेशक, बेसिक शिक्षा , उत्तर प्रदेश, लखनऊ |
5. सचिव,बेसिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश, प्रयागराज |
6. समस्त बेसिक शिक्षा अधिकारी, उप्र




Saturday, July 20, 2019

लखनऊ : प्रार्थना एवं विद्यालयी गतिविधियों की सेल्फी प्रतिदिन व्हाट्सएप ग्रुप में प्रेषित किये जाने सम्बन्धी बीएसए का आदेश जारी

लखनऊ : प्रार्थना एवं विद्यालयी गतिविधियों की सेल्फी प्रतिदिन व्हाट्सएप ग्रुप में प्रेषित किये जाने सम्बन्धी बीएसए का आदेश जारी

Thursday, March 14, 2019

फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति के सम्बन्ध में


फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति के सम्बन्ध में।



Saturday, February 23, 2019

लखनऊ : मोबाइल एप ECHO ATTENDANCE के माध्यम से शिक्षकों और नामांकित छात्रों की कक्षावार उपस्थिति दर्ज किए जाने हेतु सभी बीईओ को निर्देश, देखें

लखनऊ : मोबाइल एप ECHO ATTENDANCE के माध्यम से शिक्षकों और नामांकित छात्रों की कक्षावार उपस्थिति दर्ज किए जाने हेतु सभी बीईओ को निर्देश, देखें।

Thursday, February 14, 2019

फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में इको अटेंडेंस एप से ली जाएगी हाजिरी, विद्यालयों की चाक चौबंद व्यवस्था के तहत शासन आए दिन कर रहा नई नवेली योजनाएं क्रियान्वित


फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में इको अटेंडेंस एप से ली जाएगी हाजिरी, विद्यालयों की चाक चौबंद व्यवस्था के तहत शासन आए दिन कर रहा नई नवेली योजनाएं क्रियान्वित।




Monday, February 4, 2019

कुशीनगर : "शारदा" (SHARDA - स्कूल हर दिन आवें) कार्यक्रम के संचालन हेतु जनपद स्तरीय एक दिवसीय कार्यशाला संबंधी कार्यक्रम/निर्देश सभी बीईओ को जारी, देखें

कुशीनगर : "शारदा" (SHARDA - स्कूल हर दिन आवें) कार्यक्रम के संचालन हेतु जनपद स्तरीय एक दिवसीय कार्यशाला संबंधी कार्यक्रम/निर्देश सभी बीईओ को जारी, देखें।


Thursday, January 31, 2019

फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति ऑनलाइन पोर्टल/मोबाइल ऐप के माध्यम से करने हेतु आदेश जारी, क्लिक करके देखें आदेश


फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति ऑनलाइन पोर्टल/मोबाइल ऐप के माध्यम से करने हेतु आदेश जारी, क्लिक करके देखें आदेश।










शिक्षकों की होगी ऑनलाइन हाजिरी, फतेहपुर समेत सूबे के दस पिछड़े जिलों में लागू होगी नई व्यवस्था, बेसिक शिक्षा निदेशक ने जारी किए निर्देश, मोबाइल ऐप से दर्ज की जाएगी हाजिरी


शिक्षकों की होगी ऑनलाइन हाजिरी, फतेहपुर समेत सूबे के दस पिछड़े जिलों में लागू होगी नई व्यवस्था, बेसिक शिक्षा निदेशक ने जारी किए निर्देश, मोबाइल ऐप से दर्ज की जाएगी हाजिरी।




Wednesday, January 9, 2019

फतेहपुर : परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में साफ-सफाई एवं उपस्थिति सफाई कर्मी रजिस्टर में सफाई कर्मी द्वारा हस्ताक्षर करने के सम्बन्ध में

फतेहपुर : परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में साफ-सफाई एवं उपस्थिति सफाई कर्मी रजिस्टर में सफाई कर्मी द्वारा हस्ताक्षर करने के सम्बन्ध में।


Monday, December 31, 2018

गोरखपुर : शिक्षामित्रों, अंशकालिक अनुदेशकों, बीआरसी लेखाकार एवं कंप्यूटर ऑपरेटर आदि के उपस्थिति प्रमाण पत्र ससमय उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में आदेश

गोरखपुर : शिक्षामित्रों, अंशकालिक अनुदेशकों, बीआरसी लेखाकार एवं कंप्यूटर ऑपरेटर आदि के उपस्थिति प्रमाण पत्र ससमय उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में आदेश

Sunday, December 30, 2018

उच्च शिक्षा : अब तक सरकार ने नकल रोकने पर लगाया जोर, अगले सत्र से छात्रों और शिक्षकों की उपस्थिति पर होगी सख्ती- उपमुख्यमंत्री

उच्च शिक्षा : अब तक सरकार ने नकल रोकने पर लगाया जोर, अगले सत्र से छात्रों और शिक्षकों की उपस्थिति पर होगी सख्ती- उपमुख्यमंत्री।


मैनपुरी : वाट्सएप व्यवस्था फेल, बायोमेट्रिक का फरमान, स्कूलों में हाजिरी का नया आदेश जारी

मैनपुरी : वाट्सएप व्यवस्था फेल, बायोमेट्रिक का फरमान, स्कूलों में हाजिरी का नया आदेश जारी।

Saturday, December 29, 2018

मुरादाबाद : परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति की सूचना विद्यालय खुलने के 30 मिनट के भीतर निर्धारित प्रपत्र पर उपलब्ध कराए जाने के सम्बन्ध में

मुरादाबाद : परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति की सूचना विद्यालय खुलने के 30 मिनट के भीतर निर्धारित प्रपत्र पर उपलब्ध कराए जाने के सम्बन्ध में

Friday, December 14, 2018

भवन है न संसाधन, कैसे लगे ऑनलाइन हाजिरी, ऑनलाइन हाजिरी में स्कूल फेल, सितंबर-2017 से शुरू कर दी गई थी प्रक्रिया, कई महीने से बंद है वेबसाइट


सरकारी स्कूलों में ऑनलाइन हाजिरी बंद होने की जानकारी नहीं है। इसे दिखावाया जाएगा, कहां पर दिक्कत आ रही है। -डॉ. मुकेश कुमार सिंह, डीआईओएस

सबसे पहले स्कूलों में संसाधन होना जरूरी है। कई सरकारी स्कूल तो जूनियर हाईस्कूल के कमरे में चल रहे हैं। कर्मचारी हैं नहीं। सरकार को चाहिए पहले संसाधन मुहैया करवाए। -पारस नाथ पांडेय, प्रांतीय अध्यक्ष, राजकीय शिक्षक संघ उप्र

एक शिक्षक ने बताया कि स्कूल में कोई संसाधन नहीं दिया गया। फिर भी कुछ स्कूल में शिक्षकों ने अपने पास से पैसे खर्च करके साइबर कैफे के माध्यम से ऑनलाइन हाजिरी की सूचना अपलोड की। लेकिन ज्यादा दिन तक यह व्यवस्था नहीं चल पाई।

राजधानी में 49 सरकारी स्कूल संचालित हैं। इनमें 36 स्कूल राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत चल रहे हैं। लेकिन ज्यादातर के पास न तो अपना भवन है और न ही बिजली और न बैठने के लिए फर्नीचर। कुछ तो कई साल से एक-दो कमरे में चल रहे हैं। ऐसे में यहां के शिक्षकों व कर्मचारियों की ऑनलाइन हाजिरी शुरू ही नहीं हो पाई।
साइबर कैफे पर खर्च करने पड़े पैसे


• अखिल सक्सेना, लखनऊ: सरकारी स्कूलों के शिक्षकों व कर्मचारियों के लिए ऑनलाइन हाजिरी दर्ज करवाने की योजना कागजों तक सीमित रह गई। जिस वेबसाइट पर उपस्थिति अपलोड की जानी थी, वह कई महीने से बंद है। वहीं, इस व्यवस्था को शुरू तो कर दिया गया, लेकिन स्कूलों को संसाधन तक नहीं उपलब्ध करवाए गए। विभागीय जिम्मेदारों ने भी इसे गंभीरता से नहीं लिया। नतीजा, ऑनलाइन हाजिरी का सिस्टम फेल हो गया।

केंद्र सरकार ने बीते वर्ष एक सितंबर से सभी राजकीय स्कूलों के शिक्षकों व कर्मचारियों की उपस्थिति ऑनलाइन भेजने की योजना शुरू की थी। इसमें www.shaladarpanup.com पर हर स्कूल के प्रिंसिपल को शिक्षकों व कर्मचारियों की उपस्थिति हर सप्ताह अपलोड की जानी थी। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अभियान (यूपीएमएसए) के तहत सभी डीआईओएस को निर्देश जारी किए गए। वहीं, स्कूलों के प्रिंसिपल को यूजर एवं पासवर्ड एसएमएस के माध्यम से भेज दिए गए। विभागीय सूत्रों के मुताबिक कुछ महीने ऑनलाइन हाजिरी की प्रक्रिया चली, उसके बाद से वेबसाइट ही बंद है।

Tuesday, October 23, 2018

फतेहपुर :  शिक्षकों की उपस्थिति और उनके वेतन आहरण में खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा की जा रही कतिपय अनियमिताओं के संबंध में शासन के आदेश के अनुसार स्पष्टीकरण मांगते हुए पत्र जारी

फतेहपुर :  शिक्षकों की उपस्थिति और उनके वेतन आहरण में खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा की जा रही कतिपय अनियमिताओं के संबंध में शासन के आदेश के अनुसार स्पष्टीकरण मांगते हुए पत्र जारी।