DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label कस्तूरबा. Show all posts
Showing posts with label कस्तूरबा. Show all posts

Saturday, June 6, 2020

यूपी : 25 जिलों में नौकरी करने वाली शिक्षिका गिरफ्तार


यूपी : फर्जी तरीके से एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ाने के आरोप में शिक्षिका गिरफ्तार


पूछताछ के दौरान पुलिस को छकाती रहीं फर्जी शिक्षिका, बराबर बदलती रही नाम।

25 जिलों में नौकरी करने वाली शिक्षिका गिरफ्तार, 12 दिनों में खुला कासगंज में शिक्षिका का फर्जी चिट्ठा


फोटोकॉपी के आधार पर कई जिलों में शिक्षिका को नियुक्ति दे दी


प्रदेश के 25 जिलों में फर्जी दस्तावेजों से शिक्षिका की नौकरी करने वाली चर्चित अनामिका शुक्ला को शनिवार को कासगंज पुलिस ने बीएसए ऑफिस से गिरफ्तार कर लिया। वो यहां के फरीदपुर स्थित कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में शिक्षिका के पद पर तैनात है। पूछताछ में उसने खुद को कायमगंज, फर्रुखाबाद की रहने वाली बताया। पुलिस उससे लगातार पूछताछ कर रही है। इस मामले में बीएसए ने सोरों कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। वहीं डीएम ने इस संबंध में एक रिपोर्ट शासन को भेजी है।


पुलिस को छकाती रहीं फर्जी शिक्षिका 
अनामिका शुक्ला के नाम से फर्जी नौकरी करने वाली शिक्षिका ने पूछताछ में पुलिस को कई बार छकाया। पूछताछ के दौरान बराबर वह अपना नाम बदलती रही। पकड़ी गई शिक्षिका ने न केवल अपना नाम बदल-बदल कर बताया बल्कि कई बार गुमराह करने वाली जानकारियां देकर पुलिस को परेशान किया।


शासन की ओर से जिला प्रशासन से अनामिका शुक्ला पुत्री सुभाष चंद्र शुक्ला के जनपद में बेसिक शिक्षा विभाग में नौकरी करने संबंधी सूचना मांगी गई थी। उधर मण्डलीय सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक) अलीगढ़ ने भी इस संबंध में बीएसए से जांच रिपोर्ट मांगी थी। बीएसए ने अनामिका शुक्ला नाम की शिक्षिका के बारे में जानकारी की तो पता चला कि फरीदपुर कस्तूरबा गांधी आवासी विद्यालय में इस नाम की विज्ञान की शिक्षिका कार्यरत है। 


उसे एक नोटिस देकर उसकी नियुक्ति संबंधी स्पष्टीकरण मांगा गया। शनिवार को नोटिस को देखकर शिक्षिका घबरा गई। वह अपना इस्तीका और जवाब दाखिल करने एक पड़ोसी युवक संजय के साथ दोपहर बाद बीएसए ऑफिस पहुंच गई। ये सूचना बीएसए ने डीएम और एसपी को दे दी। इस पर सीओ सिटी आरके सिंह एवं सोरों कोतवाली पुलिस बीएसए ऑफिस पहुंच गई। पुलिस तत्काल उसे हिरासत में लेकर कोतवाली ले गई।


प्रदेश के 25 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में एक साथ शिक्षिका के पद पर काम कर रही अनामिका शुक्ला के खिलाफ बागपत जिले में एफआईआर दर्ज कराई गई है।


उत्तर प्रदेश में 25 स्कूलों में फर्जी तरीके से नौकरी करने के मामले में सुर्खियों में आई शिक्षिका अनामिका शुक्ला को कासगंज पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। अनामिका शुक्ला जिले के कस्तूरबा विद्यालय फरीदपुर में विज्ञान की शिक्षिका के रूप में सेवाएं दे रही थी। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।   


बेसिक शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों के निर्देशों पर जिले में अनामिका शुक्ला नाम की शिक्षिका की तलाश की गई तो कस्तूरबा विद्यालय में यह शिक्षिका पाई गई। एक दिन पूर्व शुक्रवार को बीएसए (बेसिक शिक्षा अधिकारी) ने शिक्षिका के वेतन आहरण पर रोक लगाते हुए नोटिस जारी किया था। 
यह नोटिस व्हाट्सएप पर भेजा गया था। 

                                    


शुक्रवार की शाम शिक्षिका ने इस नोटिस को देखा तो शनिवार सुबह को वो अपना इस्तीफा देने बीएसए दफ्तर के बाहर पहुंची। अपने साथ आए एक युवक के माध्यम से उसने इस्तीफे की प्रति बीएसए को भेजी। 


बीएसए ने शिक्षिका के खिलाफ दी तहरीर
जब युवक से शिक्षिका के बारे में पूछताछ की तो उसने बताया कि अनामिका शुक्ला बाहर सड़क पर खड़ी हैं। इस पर बीएसए अंजली अग्रवाल ने सोरों पुलिस को मामले की जानकारी दी और कार्यालय के स्टाफ के माध्यम से घेराबंदी कर ली। 
पुलिस ने तुरंत आकर शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस शिक्षिका को सोरों कोतवाली ले आई। कोतवाली प्रभारी रिपुदमन सिंह ने बताया कि शिक्षिका अनामिका शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया गया है। बीएसए ने शिक्षिका के खिलाफ तहरीर दी है। 


आपको बता दें कि अनामिका को बीते 13 महीने में 25  कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों (केजीबीवी) में करीब कुल एक करोड़ रुपये के मानदेय का भुगतान किया गया है। सभी 25 केजीबीवी से मानदेय एक ही बैंक खाते में गया या अलग-अलग खातों में भुगतान किया गया, इसकी जांच की जा रही है।