DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label काउंसिलिंग. Show all posts
Showing posts with label काउंसिलिंग. Show all posts

Thursday, January 14, 2021

बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए सीबीएसई शुरू करेगा कॉउंसलिंग सेवा

बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए सीबीएसई शुरू करेगा कॉउंसलिंग सेवा, दसवीं-बारहवीं के छात्रों के लिए पढ़ाई के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव, खानपान की दी जाएगी जानकारी

प्रयागराज :  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से दसवीं और बारहवीं के बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए फरवरी-मार्च में काउंसलिंग सेवा शुरू होगी। इस दौरान विशेषज्ञ छात्र छात्राओं को बोर्ड परीक्षा की तैयारी के साथ कैरियर, कोरोना संक्रमण से बचाव, खान-पान, सोशल डिस्टेंसिंग, योग-व्यायाम और परीक्षा जुड़ी अन्य सलाह दी जाएंगी। बोर्ड की ओर से यह प्रक्रिया परीक्षा और परिणाम आने के बाद भी जारी रहेगी।


सीबीएसई की ओर से जारी सूचना में कहा दसवीं , बारहवीं की परीक्षा से पहले छात्र-छात्राएं मानसिक दवाब और तनाव की स्थिति में रहते हैं इसके चलते उन्हें परीक्षा के समय घबराहट, भूख कम लगना, विभिन्न विषयों को लेकर आने वाली परेशानी, अंकों का दबाव सहित ढेर सारी समस्याएं सामने होती हैं। सीबीएसई की ओर से हर साल छात्रों की सुविधा के लिए परीक्षा से पहले काउंसलिंग सेवा की जाती रही है। इस बार कोरोना के चलते बोर्ड परीक्षाएं मई में हो रही हैं, ऐसे में बोर्ड काउंसलिंग फरवरी मार्च में शुरू करेगा।

सीबीएसई के विशेषज्ञों से छात्र कर सकेंगे समस्या का समाधान : सीबीएसई की ओर से कहा गया है कि परीक्षार्थियों को बोर्ड परीक्षा के बारे में योजनाबद्ध तरीके से जानकारी देने के लिए विशेषज्ञ ऑनलाइन, मोबाइल, लैंडलाइन के साथ टोल फ्री नंबर पर उपलब्ध होंगे। परीक्षार्थी इस दौरान तनाव, दबाव कम करने के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव के बारे में सलाह ले सकेंगे विशेषज्ञ कोरोना संक्रमण के चलते इस बार छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने सहित स्वास्थ्य से जुड़ी दूसरी जानकारी भी देंगे यूपी बोर्ड की ओर से हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के छात्रों के लिए जुलाई अगस्त से ही लगातार काउंसलिंग कार्यक्रम चला रहा है।

Friday, November 27, 2020

पॉलीटेक्निक काउंसिलिंग का अंतिम चरण शुरू, चार दिसम्बर को आएगा परिणाम, पांच तक लेना होगा प्रवेश।

पॉलीटेक्निक काउंसिलिंग का अंतिम चरण शुरू, चार दिसम्बर को आएगा परिणाम, पांच तक लेना होगा प्रवेश।

संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद द्वारा हो रही पॉलीटेक्निक काउंसिलिंग का अंतिम चरण बुधवार से शुरू हुआ। गुरुवार को विकल्प भरने की अंतिम तिथि है। शुक्रवार को परिणाम आएगा और पांच दिसंबर को प्रवेश का अंतिम मौका होगा। इसी के साथ तीन महीने से चल रही प्रवेश प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी।


इससे पहले नवें चरण की काउंसिलिंग के घोषित परिणाम में राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थानों में 83 फीसद सीटें भर गई हैं। अनुदानित संस्थानों में मात्र 25 फीसद सीटें रिक्त बची हैं, जबकि निजी संस्थानों में अभी भी 60 फीसद सीटें रिक्त हैं। निजी संस्थानों में प्रवेश का अधिक अवसर देने के लिए 10वां चरण शुरू किया गया है। प्रवेश पर एक नजर डालें तो 150 सरकारी, 19 अनुदानित और 1,202 निजी पॉलीटेक्निक संस्थानों में कुल सीटें 2,39,155 हैं।

नवें चरण तक 1,18,883 पर प्रवेश हुआ है जबकि 1,20,272 सीटें रिक्त हैं। अंतिम चरण पांच दिसंबर को समाप्त हो रहा है। ऐसे में सीटें भर पाएंगी कि नहीं, इस पर असमंजस बना हुआ है।

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने पांच तक प्रवेश प्रक्रिया पूरी करने का निर्देश दिया है। ऐसे में यह काउंसिलिंग का अंतिम चरण है। इसके बाद रिक्त सीटों पर प्रवेश नहीं होगा। सरकारी व अनुदानित संस्थानों के साथ ही निजी संस्थानों की सीटें अंतिम चरण में भरने की संभावना है।
एसके वैश्य, सचिव, संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद




पॉलीटेक्निक में दाखिले के कॉउंसलिंग को बढ़ाकर किया 10 चरण तक।

लखनऊ : एआईसीटीई द्वारा दाखिला की तिथि बढ़ाने के बाद मिला एक और अवसर


पॉलीटेक्निक में दाखिले के लिए छात्रों को कॉउंसिलिंग में एक और अवसर दिया जाएगा। अब तक नौ चरण तक कॉउंसिलिंग कराने की घोषणा हुई थी, लेकिन एआईसीटीई द्वारा 5 दिसंबर तक दाखिला देने की अनुमति मिलने के बाद अब कॉउंसिलिंग 10 चरण तक होगी। अभी नौवें चरण की कॉउंसिलिंग जारी है। इस संबंध में सभी जानकारियां संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद की वेबसाइट www.jeecup.nic.in पर उपलब्ध करा दी गई हैं।


परिषद के सचिव एसके वैश्य ने बताया कि पहले एआईसीटीई द्वारा दाखिले की अंतिम तिथि 30 नवंबर निर्धारित थी। इससे पहले कॉउंसिलिंग खत्म करनी थी। इसलिए नौ चरणों तक कॉउंसिलिंग की घोषणा की गई थी। अब एआईसीटीई ने दाखिले की अंतिम तिथि बढ़ाकर पांच दिसंबर कर दी है। इसलिए कॉउंसिलिंग भी बढ़ाकर 10 चरण तक कर दी गई है। 10वें चरण के लिए पंजीकरण प्रक्रिया 27 से 30 नवंबर तक चलेगी। जिन छात्रों को नौ चरण तक की कॉउंसिलिंग में दाखिला नहीं मिला है वे दो और तीन दिसंबर को पंजीकरण कराएंगे। इन्हीं तिथियों पर कॉलेज चयन किया जाएगा और चार को सीट आवंटन का परिणाम जारी होगा। 

छात्रों को पांच दिसंबर तक प्रमाणपत्र सत्यापन और फीस जमा कर दाखिले की प्रक्रिया पूरी कर लेनी होगी। नौवें चरण के लिए सीट लॉक का आज अंतिम दिन
सचिव ने बताया कि नौवें चरण की कॉउंसिलिंग के लिए सीट लॉक करने की अंतिम तिथि 27 नवंबर है। सीट आवंटन का परिणाम 28 नवंबर को सुबह नौ बजे घोषित होगा। छात्रों को 28 से 30 नवंबर तक संस्थाओं में प्रवेश की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। आठवें चरण की कॉउंसिलिंग के बाद कुल 238849 सीटों के सापेक्ष 106685 सीटों पर प्रवेश हुआ है।

Sunday, November 1, 2020

यूपी: अब नौ चरणों में होगी "पॉलीटेक्निक की काउंसिलिंग, खाली सीटों के कारण फैसला

यूपी: अब नौ चरणों में होगी "पॉलीटेक्निक की काउंसिलिंग, खाली सीटों के कारण फैसला

लखनऊ  :  यूपी के पॉलिटेक्निक संस्थानों में दाखिले की काउंसिलिंग अब 9 चरणों में होगी। अभी तक चार चरणों की काउंसिलिंग पूरी हो चुकी है। शुक्रवार से पांचवें चरण की काउंसिलिंग भी शुरू हो गई। चार चरणों की काउन्सिलिंग के बाद राजकीय संस्थाओं में कुल 10,097 व अनुदानित में 3863 सीटें रिक्त हैं। निजी पॉलिटेक्निक में कुल 1,85,667 सीटें रिक्त हैं।


जो अभ्यर्थी प्रवेश परीक्षा में शामिल नहीं हुए हैं उनकी काउंसिलिंग छठे चरण में शुरू होगी। इनका पंजीकरण 4 नवंबर 2020 तक किया जाएगा। 5 नवंबर से 6 नवंबर के बीच विकल्प भरे जाएंगे। 7 नवंबर से प्रवेश होगा। प्रवेश की अंतिम तिथि 30 नवंबर निर्धारित की गई है। इसी के साथ काउंसलिंग का एक चरण और बढ़ाया गया है। पहले 8 चरणों में काउंसलिंग होनी थी। लेकिन अब 9 चरणों में होगी।

Saturday, October 24, 2020

फतेहपुर : पुरुष शिक्षकों की भी हो खुली काउंसिलिंग, प्राथमिक शिक्षक संघ ने उठाई मांग, जनपद के 479 शिक्षकों की हुई है नियुक्ति, इनमें 340 हैं पुरुष

फतेहपुर : पुरुष शिक्षकों की भी हो खुली काउंसिलिंग, प्राथमिक शिक्षक संघ ने उठाई मांग, जनपद के 479 शिक्षकों की हुई है नियुक्ति, इनमें 340 हैं पुरुष।

फतेहपुर : प्राथमिक शिक्षक संघ ने नव नियुक्त पुरुष शिक्षकों की भी खुली काउंसलिंग कराकर स्कूल आवंटित करने की मांग उठाई है।

शुक्रवार को संगठन के जिलाध्यक्ष राजेंद्र सिंह और जिला महामंत्री विजय त्रिपाठी ने बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह को ज्ञापन देकर शिक्षा और शिक्षक हित में खुली काउंसलिंग कराने की मांग की। बीएसए ने नियमानुसार स्कूल आवंटन करने का आश्वासन दिया है। बता दें कि शासन से निर्देश हैं कि महिला विकलांग, पुरुष विकलांग, आम महिला की क्रमबद्ध तरीके से खुली काउंसलिंग कराई जाए। जबकि पुरुषों शिक्षकों के मामले में विभाग के विवेक पर निर्भर करता है कि वह इनकी खुली काउंसलिंग कराता है या फिर रोस्टर के हिसाब से विद्यालय आवंटित करता है।


स्कूलों का आवंटन किया जाना है। इसी तरह पुरुष शिक्षकों की भी खुली काउंसलिंग कराते हुए स्कूलों का आवंटन किया जाए, जिससे शिक्षक अपने नजदीकी स्कूल का चयन कर सकें। रोस्टर से स्कूलों के आवंटन में किसी भी शिक्षक को रिक्तियां होने के बावजूद नजदीकी स्कूल में नियुक्ति नहीं हो पाती है। ऐसे में उसे दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।