DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label छात्र उपस्थिति. Show all posts
Showing posts with label छात्र उपस्थिति. Show all posts

Tuesday, September 8, 2020

सीबीएसई : अब हर शैक्षिक सत्र में छात्रों की हाजिरी की जांच करेगा बोर्ड, अनुपस्थित रहे छात्रों के अभिभावकों को स्कूल नहीं आने पर बताना होगा कारण

सीबीएसई : अब हर शैक्षिक सत्र में छात्रों की हाजिरी की जांच करेगा बोर्ड, अनुपस्थित रहे छात्रों के अभिभावकों को स्कूल नहीं आने पर बताना होगा कारण।

प्रयागराज :  सीबीएसई अब हर शैक्षिक सत्र में छात्रों की एक जनवरी तक की अटेंडेंस चेक करेगा। बोर्ड की ओर से स्कूलों को दिए निर्देश में कहा है कि जो छात्र-छात्राएं नियमित स्कूल नहीं आते हैं, उनका रिकार्ड रखा जाए।



ऐसा देखा जाता है कि दसवीं और बारहवीं के बच्चे डमी स्कूलों में प्रवेश ले लेते हैं। स्कूल वाले भी कम आने वाले बच्चों की सूची और इसकी जानकारी बोर्ड को नहीं देते हैं। इसलिए बोर्ड ने कम उपस्थिति वाले छात्रों के लिए नियमावली तैयार की है। इसमें स्कूल छात्रों एवं अभिभावकों को अटेंडेंस से जुड़े नियमों के बारे में बताएंगे। यह नियम सत्र की शुरुआत में ही छात्रों को बताने होंगे। सीबीएसई की ओर से कहा गया है कि हर शैक्षिक सत्र में एक जनवरी तक की उपस्थिति की गिनती की जाएगी।

दसवीं और बारहवीं में क्षेत्रीय कार्यालय को रिपोर्ट सात जनवरी तक भेजनी होगी, इस बारे में बोर्ड 21 जनवरी तक जवाब देगा। स्कूल नहीं आ रहा बच्चा यदि बीमार है तो अभिभावकों को आवेदन के साथ सरकारी अथवा फिर सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के मेडिकल सर्टिफिकेट देने होंगे।

 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, July 27, 2020

ऑनलाइन पढ़ाई को हाजरी मानेगी सरकार, छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति का बनेगी आधार

ऑनलाइन पढ़ाई को हाजरी मानेगी सरकार, छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति का बनेगी आधार।

लखनऊ :: प्रदेश सरकार ऑनलाइन पढ़ाई को कक्षा में हाजिरी की तरह मानेगी। इसी के आधार पर माध्यमिक, उच्च शिक्षा और तकनीकी एवं व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए समाज कल्याण विभाग प्रस्ताव तैयार कर रहा है।




वर्तमान में छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना का लाभ लेने के लिए यह अनिवार्य है कि विद्यार्थी की उपस्थिति न्यूनतम 75 प्रतिशत रही हो। परीक्षा देने के लिए भी इतनी उपस्थिति जरूरी है।

कोरोना के चलते स्कूल-कॉलेज व अन्य शिक्षण संस्थान ऑनलाइन क्लास चला रहे हैं इसलिए समाज कल्याण विभाग ने ऑनलाइन क्लासेज में उपस्थिति को कक्षा में व्यक्तिगत हाजिरी के समान ही स्वीकार करने का निर्णय लिया है। इस बारे में प्रस्ताव तैयार करने के लिए इसी हफ्ते शासन ने सभी विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों के साथ ऑनलाइन बैठक करने की कार्ययोजना बनाई है। विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बैठक में उपस्थिति को लेकर नियम तय होंगे ताकि, छात्रों को योजना का लाभ मिल सके।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, July 23, 2020

प्रदेश सरकार की ओर से गरीब छात्र-छात्राओं को दी जाने वाली छात्रवृत्ति व फीस भरपाई में फंसा हाजिरी का पेच

प्रदेश सरकार की ओर से गरीब छात्र-छात्राओं को दी जाने वाली छात्रवृत्ति व फीस भरपाई में फंसा हाजिरी का पेच।

लखनऊ :: प्रदेश सरकार की ओर से अनुसूचित जाति व सामान्य वर्ग के गरीब छात्र छात्राओं को दी जाने वाली छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की योजना में अब हाजिरी का पेच फंस गया है। समाज कल्याण विभाग की ओर से चलाई जाने वाली इस योजना में नियमों के तहत ऐसे जरूरतमंद छात्र-छात्राओं को कक्षा में 75 प्रतिशत हाजिरी पर ही छात्रवृत्ति और फीस भरपाई दी जाती है।




कोरोना संकट की वजह से जुलाई से शैक्षिक सत्र ऑनलाइन पढ़ाई के सहारे शुरू हुआ। इस आनलाइन पढ़ाई में कक्षा में हाजिरी का कोई पुख्ता प्रमाण शिक्षण संस्थान कैसे दे पाएंगे? यही नहीं हालात सुधरने पर आगामी महीनों में जब भी ऑनलाइन पढ़ाई शुरू होगी तो फिर बाकी बचे शैक्षिक सत्र के कितने महीनों में कितने प्रतिशत हाजिरी का मानक छात्रवृत्ति, फीस भरपाई दिलवा पाएगा। इस बारे में अभी शुरुआती दौर में सभी शिक्षण संस्थानों के प्रबंधन से बातचीत की जा रही है। समाज कल्याण विभाग के छात्रवृत्ति और फीस भरपाई के मामलों को देख रहे सहायक निदेशक सिद्धार्थ मिश्र ने बताया कि जल्द ही इस बारे में विभाग के निदेशक के साथ बैठक होगी।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Sunday, February 16, 2020

यूपी बोर्ड परीक्षार्थियों की अटेंडेंस प्रतिदिन ऑनलाइन होगी दर्ज, दोनों पालियों के परीक्षार्थियों की उपस्थिति दर्ज करना अनिवार्य

यूपी बोर्ड परीक्षार्थियों की अटेंडेंस प्रतिदिन ऑनलाइन होगी दर्ज, दोनों पालियों के परीक्षार्थियों की उपस्थिति दर्ज करना अनिवार्य।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, December 31, 2019

सीबीएसई : 75 फीसदी से कम हाजिरी वाले छात्र नहीं दे पाएंगे बोर्ड परीक्षा, बोर्ड ने सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों से जनवरी तक परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की मांगी हाजिरी

सीबीएसई : 75 फीसदी से कम हाजिरी वाले छात्र नहीं दे पाएंगे बोर्ड परीक्षा, बोर्ड ने जनवरी तक परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों की मांगी हाजिरी।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, July 29, 2019

सख्ती : स्कूलों की हाजिरी पर सीबीएसई लेगा रिपोर्ट, विशेष मामलों में छात्रों को दी जा सकती है छूट

सख्ती : स्कूलों की हाजिरी पर सीबीएसई लेगा रिपोर्ट, विशेष मामलों में छात्रों को दी जा सकती है छूट।




 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।