DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label पत्र. Show all posts
Showing posts with label पत्र. Show all posts

Monday, January 20, 2020

CBSE : दसवीं और बारहवीं के प्रवेश पत्र जारी, स्कूल के लॉग इन से डाउनलोड होंगे प्रवेश पत्र

CBSE : दसवीं और बारहवीं के प्रवेश पत्र जारी, स्कूल के लॉग इन से डाउनलोड होंगे प्रवेश पत्र।







CBSE : बोर्ड परीक्षाओं के लिए प्रवेश पत्र जारी, स्कूलों को ही अपनी लॉगिन आईडी का इस्तेमाल कर छात्रों को देना होगा प्रवेश पत्र।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Saturday, January 4, 2020

यूपी बोर्ड : प्रवेशपत्र की गड़बड़ी करा सकेंगे संशोधित, रिजल्ट के पहले गड़बड़ी दूर करने के लिए खुलेगी बोर्ड की वेबसाइट

यूपी बोर्ड : प्रवेशपत्र की गड़बड़ी करा सकेंगे संशोधित, रिजल्ट के पहले गड़बड़ी दूर करने के लिए खुलेगी बोर्ड की वेबसाइट।















 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Friday, November 15, 2019

फतेहपुर : जनपद के समस्त परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालयों में "ढाई आखर" वार्षिक पत्र लेखन प्रतियोगिता आयोजित कराने के सम्बन्ध में

फतेहपुर : जनपद के समस्त परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालयों में "ढाई आखर" वार्षिक पत्र लेखन प्रतियोगिता आयोजित कराने के सम्बन्ध में।














 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, February 12, 2019

फतेहपुर : 303 परिषदीय विद्यालयों में अटका विद्युतीकरण, बीते सत्र में शासन से विद्युत विभाग को मिल चुका है बजट, बीएसए ने डीएम को लिखा शिकायती पत्र


फतेहपुर : 303 परिषदीय विद्यालयों में अटका विद्युतीकरण, बीते सत्र में शासन से विद्युत विभाग को मिल चुका है बजट, बीएसए ने डीएम को लिखा शिकायती पत्र।





Saturday, January 5, 2019

फतेहपुर : 31 मार्च 2019 को सेवानिवृत्त हो रहे शिक्षकों की सेवानिवृत्त देयकों से सम्बन्धित पत्रावलियां प्रेषित करने के संबंध में

फतेहपुर :  31 मार्च 2019 को सेवानिवृत्त हो रहे शिक्षकों की सेवानिवृत्त देयकों से सम्बन्धित पत्रावलियां प्रेषित करने के संबंध में।


Tuesday, August 21, 2018

गोरखपुर : समायोजन में बेतरतीब व्यवस्था के विरुद्ध विधान परिषद सदस्य ने सचिव को लिखा पत्र, देखें

समायोजन में बेतरतीब व्यवस्था के विरुद्ध विधान परिषद सदस्य ने सचिव को लिखा पत्र, देखें 


Saturday, January 13, 2018

कुलपतियों और प्राचार्यो को पत्र लिख विशेष प्रयास करने की अपेक्षा, युवा शिक्षा पर करें ध्यान केंद्रित : सीएम 

योगी आदित्यनाथ ने कुलपतियों व प्राचार्यो से कहा कि वे परिसर में शिक्षा का माहौल बनाएं। माहौल ऐसा होना चाहिए ताकि युवा केवल शिक्षा पर ही ध्यान केंद्रित कर सकें। युवा किसी दुष्प्रचार व अराजक-तत्वों आदि से प्रभावित न हों। इससे छात्र-छात्रएं शिक्षण संस्थाओं में उपलब्ध अवसर का सदुपयोग कर अपना भविष्य संवारने के साथ-साथ राष्ट्र के नव निर्माण में अमूल्य योगदान दे सकेंगे।


मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों व डिग्री कॉलेजों के प्राचार्यो को पत्र लिखकर विशेष प्रयास करने की अपेक्षा की है। उन्होंने कहा कि युवाओं को राष्ट्र निर्माण के लिए आगे आना चाहिए। कई बार विश्वविद्यालय व महाविद्यालय प्रशासन एवं विद्यार्थियों के बीच समुचित संवाद स्थापित न होने के कारण उनकी छोटी-छोटी समस्याओं का समाधान नहीं हो पाता है। इस कारण धरना-प्रदर्शन की स्थिति उत्पन्न होती है। 


छात्रवासों में अवांछनीय तत्वों पर रखी जाए विशेष नजर : मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालय व महाविद्यालय परिसर में विशेष रूप से छात्रवासों में अवांछनीय तत्वों की गतिविधियों पर नजर रखी जाए। छात्रवासों में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश एवं उनके हस्तक्षेप से मुक्त रखने के लिए विशेष ध्यान दिया जाए। खास तौर से देश के बाहर से आने वाले छात्र-छात्रओं को पर्याप्त सुरक्षा का माहौल मुहैया कराया जाए। 


छेड़छाड़ रोकने के लिए कैंपस में लगें सीसीटीवी कैमरे : मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्रओं की सुरक्षा व खासतौर पर छात्रओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए परिसरों में सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने के निर्देश दिए। नए छात्र-छात्रओं की रैगिंग के माध्यम से उत्पीड़न न हो।


केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं की जानकारी दें : मुख्यमंत्री ने कहा कि छात्र-छात्रओं को केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं जैसे स्टैंड-अप इंडिया, स्टार्ट-अप इंडिया, डिजिटल इंडिया व स्वच्छ भारत मिशन के बारे में जानकारी दी जाए। राष्ट्रीय एकता एवं अखंडता के मूलभूत सिद्धांतों का अनुसरण करने के लिए पाठ्यक्रमों में आवश्यक बिंदु शामिल किए जाएं।

समय पर मिले छात्र-छात्रओं को छात्रवृत्ति : मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय प्रशासन द्वारा यह सुनिश्चित किया जाए कि समस्त पात्र छात्र-छात्रओं को ससमय छात्रवृत्ति उपलब्ध कराई जाए। इसके लिए छात्रवृत्ति का आवेदन ऑनलाइन भरते समय छात्र-छात्रओं द्वारा त्रुटिरहित आवेदन फार्म भरवाने में उन्हें पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाए

Friday, January 5, 2018

अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण में 5 वर्ष के बजाय 3 वर्ष की न्यूनतम सेवा अर्हता किये जाने के संबंध में प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन ने सीएम को लिखा पत्र

■ अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण में 5 वर्ष के बजाय 3 वर्ष की न्यूनतम सेवा अर्हता किये जाने के संबंध में प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन ने सीएम को लिखा पत्र। 


■ पति पत्नी परिषदीय शिक्षकों को न्यूनतम सेवा की अर्हता से मुक्त किये जाने का निवेदन।


■  पारस्परिक स्थानांतरणों को भी सेवावधि की न्यूनतम अर्हता से मुक्त किये जाने की मांग।



Sunday, August 20, 2017

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने सीएम को पत्र लिखकर की मांग, वेतन विसंगतियों की लंबित संस्तुतियों पर लें जल्द निर्णय

'वेतन विसंगति का हल छह माह में निकले'
सातवें वेतनमान के लिए मुख्य सचिव

को लिखा गया पत्र• एनबीटी, लखनऊ: प्रदेश के विभिन्न निगमों के कर्मचारियों को सातवें की जगह चौथा और पांचवां वेतनमान मिल रहा है। इसके सहित कई अन्य लम्बित मांगों के लिए शनिवार को उप्र राज्य निगम कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष मनोज मिश्र ने मुख्य सचिव राजीव कुमार को पत्र लिखकर वार्ता के लिए समय मांगा है।

मनोज मिश्र ने बताया कि अब तक सिर्फ चार निगमों को सातवां वेतनमान मिल रहा है। निगमों का गठन लाभ के नजरिए से नहीं किया गया है बल्कि उनका लक्ष्य दूरस्थ क्षेत्रों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना है। निगमों के प्रमुखों की निष्पक्ष जांच करवाई जाए। दूसरी ओर वहां के कर्मचारियों को संबंधित विभागों में समायोजित करवाया जाए। उन्होंने कहा कि हमारी मुख्य मांगें है कि सभी निगमों के कार्मिकों को सातवें वेतनमान का लाभ 1 जनवरी 2016 से दिया जाए। महंगाई भत्ता 2002 से पहले की व्यवस्था की तरह दिया जाए। सभी निगमों के रिटायमेंट आयु 60 वर्ष की जाए। संविदा कर्मियों को नियमित और कैशलेस चिकित्सा की सुविधा दी जाए।• एनबीटी, लखनऊ

विभागवार और पदवार कर्मचारियों की वेतन विसंगतियों की लंबित संस्तुतियों पर जल्द निर्णय लेने की मांग राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के मुख्य संयोजक जेएन तिवारी ने की। इस संबंध में शनिवार को सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा।

जेएन तिवारी ने संवाददाताओं को बताया कि वेतन समिति को रिपोर्ट देने में एक साल का समय लगा। ऐसे में उनकी मांग है कि समिति अब अपने बढ़े कार्यकाल, छह माह में ही अपनी बकाया रिपोर्ट प्रस्तुत कर दे। दूसरी ओर महामंत्री शशि सिंह ने वेतन समिति की रिपोर्ट सीएम को देने और वेतन समिति के अध्यक्ष के रूप में वृंदा स्वरूप की नियुक्ति का

स्वागत किया।

Thursday, June 29, 2017

गोरखपुर : प्राoशिo संघ जनपद कार्यकारणी ने पदोन्नति व समायोजन के सम्बन्ध में बीएसए को लिखा बिंदुवार पत्र, देखें


प्राoशिo संघ जनपद कार्यकारणी ने  पदोन्नति व समायोजन के सम्बन्ध में बीएसए को लिखा पत्र, देखें


Tuesday, June 27, 2017

एटा : बच्चों को स्कूल भेजने की ज़िम्मेदारी निभाएंगे प्रधान, स्कूल चलो अभियान को सीएम ने जारी किए प्रधानों को पत्र


 

Monday, June 19, 2017

गांव के मुखिया के पास पहुंची योगी की चिट्ठी, बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने का किया गया आह्वान

⚫ स्कूल चलो अभियान में मांगा ग्राम प्रधानों का सहयोग


प्रतापगढ़ : प्राइमरी स्कूलों की व्यवस्था सुधारने की कमान सूबे के मुखिया ने स्वयं संभाल रखी है। स्कूल चलो अभियान के अंतर्गत बच्चों के नामांकन के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे के सभी ग्राम प्रधानों को चिट्ठी लिखी है। प्रतापगढ़ स्थित बेल्हा के एक हजार से अधिक प्रधानों के पास अब तक यह चिट्ठी पहुंच चुकी है। इसमें उन्होंने ग्राम प्रधानों को छह से 14 वर्ष के बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने का आह्वान किया है।




चिट्ठी में मुख्यमंत्री ने कहा है कि छह से 14 वर्ष तक की आयु के बच्चों के लिए निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा मौलिक अधिकार है। हम सबका उत्तरदायित्व है कि ऐसे प्रत्येक बच्चे को विद्यालय में प्रवेश दिलाकर उसे प्रारंभिक शिक्षा सुलभ कराई जाए। शिक्षा से बच्चों के बौद्धिक विकास के साथ ही उसे देश के श्रेष्ठ नागरिक बनने का मार्ग प्रशस्त होता है और रूढ़िवादिता व अंधविश्वास से मुक्त बेहतर समाज का निर्माण होता है। 




सरकार की मंशा है कि बच्चों की बुनियादी शिक्षा व्यवस्था दुरुस्त हो। बच्चों को समय से निश्शुल्क पाठ्य पुस्तकें, यूनीफार्म, जूते व नियमित गुणवत्तायुक्त भोजन मिले।1सीएम ने कहा है कि प्रदेश में अभी भी काफी बच्चे विद्यालय में नामांकित नहीं हो पाते। इस कारण उन्हें निशुल्क शिक्षा व्यवस्था का लाभ नहीं मिल पा रहा है। मुख्यमंत्री ने नवीन शैक्षिक सत्र में शत-प्रतिशत बच्चों का विद्यालयों में नामांकन कराने की मंशा जाहिर की है। इस कार्य में उन्होंने प्रधानों का सहयोग मांगा है। 




जिले में एक जुलाई से 31 जुलाई तक स्कूल चलो अभियान चलाया जाएगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने ग्राम प्रधानों को जो चिट्ठी भेजी थी, उसे उनके पास पहुंचाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। एक हजार प्रधानों तक चिट्ठी पहुंच चुकी है। बाकी बचे 255 प्रधानों तक जल्द ही चिट्ठी पहुंचा दी जाएगी। -बीएन सिंह, बीएसए प्रतापगढ़।



Sunday, April 30, 2017

इलाहाबाद डीएम ने लिखा बेसिक शिक्षा सचिव को पत्र, सत्र खत्म, पाठ्य पुस्तकों की सप्लाई पूरी नही


इलाहाबाद डीएम ने लिखा बेसिक शिक्षा सचिव को पत्र, सत्र खत्म, पाठ्य पुस्तकों की सप्लाई पूरी नही

Sunday, February 12, 2017

परिषदीय विद्यालयों में नियुक्ति पाने के लिए किए जा रहें सारे जतन, प्रदेश के 21 जिलों के बीएसए को भेजा गया अनुस्मारक पत्र, शिक्षकों की नियुक्ति पर बीएसए मौन

राज्य ब्यूरो, इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में नियुक्ति देने से पहले ही बीएसए मौन साधे हैं। परिषद की ओर से अर्ह पाए गए अभ्यर्थियों के संबंध में जानकारी भेजने में आनाकानी हो रही है। यही वजह है कि प्रदेश के 21 जिलों के बीएसए को अनुस्मारक भेजा गया है। उनसे चार सवालों का जवाब मांगा गया है, ताकि नियुक्ति प्रक्रिया पूरी हो। परिषदीय विद्यालयों में नियुक्ति पाने के लिए सारे जतन किए जा रहे हैं।

Thursday, February 9, 2017

प्रदेश के बेसिक शिक्षकों की प्रमुख मांगों को जारी घोषणा पत्र में शामिल न किए जाने के संबंध में जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ ने माननीय मुख्यमंत्री को लिखा बिंदुवार पत्र, देखें

प्रदेश के बेसिक शिक्षकों की प्रमुख मांगों को जारी घोषणा पत्र में शामिल न किए जाने के संबंध में जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ ने माननीय मुख्यमंत्री को लिखा बिंदुवार पत्र, देखें

Friday, December 30, 2016

देश भर के केंद्रीय विद्यालय के शिक्षकों को साफ निर्देश,मंत्री-अफसरों को सीधे पत्र नहीं लिख पाएंगे शिक्षक

देश भर के केंद्रीय विद्यालय के शिक्षकों को साफ निर्देश दिया गया है कि वे अपनी सेवा से जुड़े मामलों में सीधे मंत्रियों या मंत्रलय के वरिष्ठ अधिकारियों से पत्र के जरिये संपर्क नहीं करें। साथ ही उन्हें यह भी हिदायत दी गई है कि अगर वे अपने क्षेत्रीय सांसदों या अन्य जन प्रतिनिधियों के जरिये भी ऐसे मसलों को उठाएंगे तो उन्हें अनुशासनात्मक कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। केंद्रीय विद्यालय संगठन ने बाकायदा दिशा निर्देश जारी कर अपने शिक्षकों को आगाह किया है। सरकार का कहना है कि यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि अध्यापक अपने ट्रांसफर आदि के लिए सिफारिश कराने से बचें।

केंद्रीय विद्यालयों के शिक्षकों और अन्य सभी कर्मचारियों को बकायदा नोटिस जारी कर इस पर उनके दस्तखत भी लिए जा रहे हैं। इसमें कहा गया है कि वे ऐसे किसी मामले में मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री या किसी अन्य गणमान्य व्यक्ति या किसी भी मंत्रलय के वरिष्ठ अधिकारी को सीधे पत्र नहीं लिखेंगे। केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) के आयुक्त संतोष कुमार मल्ल ने इस संबंध में बीते शुक्रवार को सभी प्रिंसिपल को निर्देश जारी किया है। सेवा शर्तो का हवाला देते हुए शिक्षकों से कहा गया है कि अगर भविष्य में कभी इस तरह की बात दोहराई गई तो उनके खिलाफ सेवा संबंधी नियमों (सीसीए और सीसीएस) के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। शिक्षकों से यह भी कहा गया है कि वे किसी रिश्तेदार या मित्र के जरिये अथवा किसी सांसद, विधायक आदि जन प्रतिनिधियों के माध्यम से भी इस तरह के मामले उठाते हैं तो उन्हें कार्रवाई का सामना करना होगा। आयुक्त का कहना है कि शिक्षक और कर्मचारी खास तौर पर अपने तबादले रुकवाने या प्रोन्नति आदि के लिए ऐसी सिफारिश कराते हैं। एचआरडी मंत्रलय के वरिष्ठ सूत्र कहते हैं कि कुछ मामलों में तो अध्यापक की ऐसी सिफारिश पर सांसदों ने सीधे मंत्री पर भी दबाव बना कर पत्र लिखवा लिया है। इसी वजह से यह सख्ती करनी पड़ रही है।

Tuesday, December 27, 2016

SCERT अध्यक्ष ने सपा सुप्रीमो को लिखा पत्र, प्रदेश के सभी ABRC के स्थाईकरण के लिए किया अनुरोध

SCERT अध्यक्ष ने सपा सुप्रीमो को लिखा पत्र,  प्रदेश के सभी ABRC के स्थाईकरण के लिए किया अनुरोध





Monday, December 26, 2016

सांसद रेवती रमण ने लिखा ABRC के स्थाईकरण के लिए बेसिक शिक्षा मंत्री को पत्र, पत्र देखें

सांसद रेवती रमण ने लिखा ABRC के स्थाईकरण के लिए बेसिक शिक्षा मंत्री को पत्र, पत्र देखें

Thursday, December 22, 2016

कन्नौज : परिषदीय शिक्षकों का माह नवम्बर 2016 के वेतन अपलोड में हो रही तकनीकी समस्या के निस्तारण के सम्बन्ध में लेखाधिकारी ने जिला सूचना अधिकारी को लिखा पत्र, देखें


परिषदीय शिक्षकों का माह नवम्बर 2016 के वेतन अपलोड में हो रही तकनीकी समस्या के निस्तारण के सम्बन्ध में लेखाधिकारी ने जिला सूचना अधिकारी को लिखा पत्र, देखें


Tuesday, December 20, 2016

बाराबंकी : वेतन भुगतान एवं विद्यालय मद के धन आहरित करने हेतु अलग काउंटर का प्रबंध करने हेतु वित्त एवं लेखाधिकारी ने जनपद के सभी बैंकों को लिखा पत्र, देखें

वेतन भुगतान एवं विद्यालय मद के धन आहरित करने हेतु अलग काउंटर का प्रबंध करने हेतु वित्त एवं लेखाधिकारी ने जनपद के सभी बैंकों को लिखा पत्र, देखें