DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्ति. Show all posts
Showing posts with label प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्ति. Show all posts

Wednesday, January 23, 2019

सहायक अध्यापक बनने से वंचित बीएड टीईटी 2011 के चयनितों ने 72825 शिक्षक भर्ती के नए विज्ञापन को बहाल करने की रखी मांग


सहायक अध्यापक बनने से वंचित बीएड टीईटी 2011 के चयनितों ने 72825 शिक्षक भर्ती के नए विज्ञापन को बहाल करने की रखी मांग। 

Friday, August 31, 2018

72825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती के अन्तर्गत 923 अभ्यर्थियों को 15 सितम्बर 2018 तक मिलेंगे नियुक्ति पत्र, अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा ने ट्वीट कर दी जानकारी

72825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती के अन्तर्गत 923 अभ्यर्थियों को 15 सितम्बर 2018 तक मिलेंगे नियुक्ति पत्र, अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा ने ट्वीट कर दी जानकारी

Sunday, July 22, 2018

उन्नाव : प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के अंतर्गत नियुक्ति पाए स०अ० के समस्त शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन प्राप्त हो जाने पर कार्यभार ग्रहण तिथि से वेतन भुगतान का आदेश जारी, सूची देखें

उन्नाव : प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के अंतर्गत नियुक्ति पाए स०अ० के समस्त शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन प्राप्त हो जाने पर कार्यभार ग्रहण तिथि से वेतन भुगतान का आदेश जारी, सूची देखें।

Wednesday, July 11, 2018

फतेहपुर : शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार की पहल, 360 स्कूलों में प्रशिक्षुओं की होगी तैनाती

फतेहपुर : शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार की पहल, 360 स्कूलों में प्रशिक्षुओं की होगी तैनाती।



Monday, February 26, 2018

सीसीटीवी की निगरानी में होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा, आधार कार्ड के साथ लाने होंगे ये दस्तावेज, देखें


सीसीटीवी की निगरानी में होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा, आधार कार्ड के साथ लाने होंगे ये दस्तावेज, देखें

Friday, February 2, 2018

प्रशिक्षु शिक्षकों का आंदोलन लंबा खिंचने के आसार, मांगें पूरी न होने पर कफन ओढ़ सांकेतिक अंत्येष्टि का एलान


इलाहाबाद : शिक्षा निदेशालय प्रांगण में प्रशिक्षु शिक्षकों का आंदोलन लंबा खिंचने के आसार हैं। बेमियादी अनशन अब भी जारी है। प्रशिक्षु शिक्षकों का कहना है कि मौलिक नियुक्ति मिले बिना नहीं हटेंगे। कहा कि मांगें पूरी न होने पर कफन ओढ़ लेंगे और अपनी सांकेतिक अंत्येष्टि करेंगे।

प्रशिक्षु शिक्षक संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष संदीप पांडेय ने बताया कि उनके साथी भोजराज सिंह और रामसजीवन विश्वकर्मा की सेहत गिरती जा रही है, जबकि सरकार कोई सुध नहीं ले रही है। चेतावनी दी कि सरकार उनकी मौलिक नियुक्ति का आदेश जारी नहीं करती है तो अनशनकारी प्रशिक्षु शिक्षक कफन ओढ़कर अपनी सांकेतिक अंत्येष्टि करने को बाध्य होंगे। गुरुवार को अनशन स्थल पर काफी संख्या में प्रशिक्षु शिक्षक शामिल रहे।

Thursday, February 1, 2018

इलाहाबाद : 1100 याचियों की तदर्थ/औपबंधिक नियुक्ति विषयक मा0 उच्चतम न्यायालय के आदेश के क्रम में नियुक्त शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की सत्यापन आख्या प्राप्ति के फलस्वरूप वेतन भुगतान का आदेश जारी

इलाहाबाद : 1100 याचियों की तदर्थ/औपबंधिक नियुक्ति  विषयक मा0 उच्चतम न्यायालय के आदेश के क्रम में नियुक्त शिक्षकों के प्रमाणपत्रों की सत्यापन आख्या प्राप्ति के फलस्वरूप वेतन भुगतान का आदेश जारी

Sunday, January 28, 2018

बेमियादी अनशन की राह पर प्रशिक्षु शिक्षक,  मौलिक नियुक्ति न मिलने से खफा

इलाहाबाद  : नौकरी पाने व नियमों में बदलाव को लेकर प्रतियोगियों का आंदोलन पूरे उफान पर है। शहर भर में जगह-जगह बेमियादी आंदोलन व प्रदर्शन का सिलसिला जारी है। चयन बोर्ड कार्यालय के सामने गणतंत्र दिवस के मौके पर शुरू हुआ अनशन दूसरे भी चलता रहा, वहीं बेसिक शिक्षा परिषद मुख्यालय पर प्रशिक्षु शिक्षक मौलिक नियुक्ति के लिए अनशन पर तीसरे भी डटे रहे।


बालसन चौराहे पर पुलिस भर्ती व आयोगों की बहाली का मुद्दा शनिवार को भी गूंजा तो हाईकोर्ट के अंबेडकर चौराहे पर आंदोलनकारियों ने तिरंगा यात्र निकाली।  शिक्षा निदेशालय पर बैठे प्रशिक्षु शिक्षक भोजराज सिंह और रामसजीवन विश्वकर्मा ने बताया कि उन लोगों ने अक्टूबर, 2016 में भी अनशन किया था। मौलिक नियुक्ति जल्दी ही मिलने के आश्वासन पर अनशन तोड़ दिया था लेकिन, तीन महीने बीत जाने के बाद भी अनसुनी जारी है। गणतंत्र दिवस पर भी उन्हें न्याय मिला। बोले, इस बार खोखले वादे पर हटेंगे नहीं, जब तक नियुक्ति नहीं मिलती तब तक अनशन पर बैठे रहेंगे।

Friday, January 26, 2018

नहीं मिल स्की प्रशिक्षु शिक्षकों को नियुक्ति, आज से बेमियादी अनशन

इलाहाबाद : नौकरी पाने के लिए कई दिनों से क्रमिक अनशन कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों व प्रतियोगियों ने 26 जनवरी से बेमियादी अनशन की तैयारी कर ली है। इसमें शिक्षा निदेशालय पर बैठे प्रशिक्षु शिक्षकों ने तो गुरुवार से ही इसकी शुरुआत कर दी है।

स्कूलों में मौलिक नियुक्ति की मांग पर प्रशिक्षु शिक्षकों का बेमियादी अनशन दूसरी बार शुरू हुआ है। क्रमिक अनशन गुरुवार को जारी रहा। मोर्चा संयोजक विक्की खान ने कहा कि प्रदेश सरकार की उदासीनता के कारण प्रतियोगी छात्रों को अनशन के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। उन्होंने सभी प्रतियोगी छात्रों से अनशन स्थल पर अधिक संख्या में पहुंचने की अपील की है। मोर्चा कोर कमेटी के अध्यक्ष अनिल कुमार पाल ने कहा कि शुक्रवार को सुबह ध्वजारोहण करने के बाद 11 बजे से बेमियादी अनशन शुरू कर दिया जाएगा।

Wednesday, January 24, 2018

सहायक अध्यापक भर्ती 2011 में चयनित होने के बाद परिषदीय स्कूलों में मौलिक नियुक्ति की मांग कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों ने भिक्षा मांग जताया विरोध

प्रशिक्षु शिक्षकों ने मांगी भिक्षा

इलाहाबाद  : सहायक अध्यापक भर्ती 2011 में चयनित होने के बाद परिषदीय स्कूलों में मौलिक नियुक्ति की मांग कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों ने सिविल लाइंस में भिक्षा मांग कर सरकार से अपना विरोध जताया। एक दिन पहले ही इन प्रशिक्षु शिक्षकों ने मानव श्रृंखला बनाई थी। शिक्षकों ने इस प्रदर्शन में यह दिखाने का प्रयास किया कि सत्यापन के नाम पर शैक्षिक प्रमाण पत्र जमा हो चुके हैं ऐसे में कहीं दूसरी जगह नौकरी की मांग नहीं कर सकते, लिहाजा जीवन गुजारे के लिए भिक्षा मांगने की नौबत आ गई है।1प्रशिक्षु शिक्षक संघर्ष मोर्चा का आंदोलन कई दिन से शिक्षा निदेशालय पर जारी है। अध्यक्ष संदीप पांडेय का कहना है कि प्राइवेट नौकरी छोड़कर प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती 2011 के अंतर्गत दिसंबर 2016 में छह महीने का प्रशिक्षण लिया। इस दौरान 7300 रुपये प्रतिमाह मानदेय मिला। नियमानुसार प्रशिक्षण पूरा होने के एक महीने के अंदर मूलरूप से सहायक अध्यापक के निर्धारित वेतनमान पर नियुक्ति मिलनी चाहिए थी, जबकि पांच महीने हो चुके हैं, मौलिक नियुक्ति के संबंध में प्रक्रिया शासन में लंबित है। कहा कि मानदेय खर्च हो चुका है, दैनिक गुजारे के लिए कोई साधन उपलब्ध नहीं है। इसलिए भिक्षा मांगने को विवश हो गए हैं। भिक्षा मांगने के प्रदर्शन के दौरान भोजराज सिंह, अनिल यादव, ज्योति गोस्वामी, कल्पना, सुनीता, परशुराम शर्मा और भंवर सिंह सहित करीब तीन सैकड़ा प्रशिक्षु शिक्षक शामिल रहे।



Tuesday, January 23, 2018

नौकरी पाने के लिए सड़क पर संघर्ष कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों ने श्रृंखला बनाकर जताया विरोध

इलाहाबाद : नौकरी पाने के लिए सड़क पर संघर्ष कर रहे युवाओं का आंदोलन चरम पर पहुंच रहा है। पांच दिनों से शिक्षा निदेशालय पर धरना दे रहे प्रशिक्षु शिक्षकों ने सोमवार को शिक्षा निदेशालय से सुभाष चौक तक मानव श्रृंखला बनाई। इसके जरिए अपनी एकता का परिचय देते हुए सरकारी उपेक्षा पर मौन विरोध जताया। वहीं, पीसीएस जे के प्रतियोगियों ने 26 जनवरी को ‘तिरंगा मार्च’ निकालने का संकल्प लिया।


प्रशिक्षु शिक्षक संघर्ष मोर्चा ने शिक्षा निदेशालय से सिविल लाइंस के सुभाष चौक तक मानव श्रृंखला बनाई। इसमें महिला प्रशिक्षु शिक्षिकाओं ने भी भाग लिया। पांच दिनों से प्रशिक्षु शिक्षक, शिक्षा निदेशालय पर धरना दे रहे हैं। अध्यक्ष संदीप पांडेय का कहना है कि प्रशिक्षु शिक्षक 2011 की भर्ती में चयन के बाद उन लोगों ने प्राइवेट नौकरी छोड़ दी। शिक्षा विभाग में सत्यापन के लिए मूल शैक्षिक प्रमाण पत्र जमा हैं। ऐसे में किसी दूसरी नौकरी के लिए आवेदन भी नहीं कर सकते। शासन ने पांच महीने से उनकी नियुक्ति को लटका रखा है।





Monday, January 15, 2018

SCERT लखनऊ में धरना 17 से, प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के तहत 72, 825 सहायक अध्यापक की भर्ती में अब तक चयनित न हो सके अभ्यर्थी जताएंगे विरोध

इलाहाबाद : प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के तहत 72, 825 सहायक अध्यापक की भर्ती में अब तक चयनित न हो सके अभ्यर्थियों ने लखनऊ में एससीईआरटी पर धरना प्रदर्शन करने की तैयारी की है। 17 जनवरी को विशाल धरना शुरू करने पर अभ्यर्थियों की सहमति बनी है।



यह जानकारी देते हुए अभ्यर्थी कुशल सिंह, विराट पटेल, वेद निमेश, रमेश सिंह, प्रदीप त्रिपाठी और राघवेंद्र आदि ने कहा कि वे सभी सर्वोच्च न्यायालय से निर्धारित मापदंड सामान्य वर्ग में 105 टीईटी अंक और आरक्षित में 90 टीईटी अंक की अर्हता को पूरा करते हैं। इसके बावजूद उनका चयन अब तक नहीं हो सका है।


यह भी कहा कि शेष रह गए सात हजार पदों पर नियमानुसार भर्ती करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 25 जुलाई 2017 को अंतिम आदेश दिया है। पांच महीने बीत गए हैं और भर्ती प्रक्रिया शुरू नहीं की जा सकी है। इसलिए सभी अचयनित अभ्यर्थी 17 जुलाई ने एससीईआरटी पर धरना शुरू करेंगे।

Sunday, October 22, 2017

काउंसिलिंग कराने के बाद भी घर बैठे 7654 आवेदक, अचयनित प्रशिक्षु शिक्षकों का लखनऊ में धरना कल 

प्राथमिक स्कूलों में 72825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती को पूरा किए बिना इसे ठंडे बस्ते में डाल शासन ने नए सिरे से 68500 शिक्षकों की भर्ती करने की योजना तैयार कर ली है। वहीं साढ़े सात हजार से अधिक उन आवेदकों ने 23 अक्टूबर को एससीईआरटी निशातगंज के समक्ष धरना देने का एलान कर दिया है जिनका चयन काउंसिलिंग के बाद भी रुका है। हरदोई के एक मामले का जिक्र करते हुए आवेदकों का कहना है कि बेसिक शिक्षा विभाग डेढ़ साल में भी नियुक्ति नहीं दे सका है।


प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती 2011 को लेकर शासन में उच्चाधिकारियों की बैठक 23 अक्टूबर को होनी है, जिसमें सचिव बेसिक शिक्षा संजय सिन्हा, निदेशक एससीईआरटी सर्वेद्र विक्रम और आरपी सिंह सहित तमाम अन्य अधिकारी होंगे। वहीं प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती को लेकर 25 जुलाई, 2017 को सर्वोच्च न्यायालय से हुए आदेश के पहले से ही भर्ती की प्रक्रिया थमी हुई है।


काउंसिलिंग कराने के बाद भी घर बैठे 7654 आवेदकों का कहना है कि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से निर्धारित मापदंड सामान्य वर्ग में 70 फीसद (105 टीईटी अंक) तथा आरक्षित वर्ग में 60 फीसद (90 टीईटी अंक) से बचे हुए पदों पर भर्ती पूरी की जाए।1

Tuesday, October 10, 2017

प्रशिक्षु शिक्षकों का बेमियादी अनशन खत्म, सचिव बेसिक शिक्षा परिषद ने मौलिक नियुक्ति के लिए अनुस्मारक भेजने का दिया आश्वासन


इलाहाबाद  : प्राथमिक स्कूलों में मौलिक नियुक्ति मांग कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों का बेमियादी अनशन मंगलवार को खत्म हो गया। हालांकि मौलिक नियुक्ति का अभी आदेश नहीं हुआ है। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव संजय सिन्हा ने मंगलवार को अनशनकारियों से वार्ता की और उन्हें आश्वस्त किया कि वह शासन को मौलिक नियुक्ति का आदेश जारी करने का अनुस्मारक भेज रहे हैं।


 उम्मीद है कि जल्द ही अनुमति मिल जाएगी। ज्ञात हो कि परिषद ने इसके पहले सात सितंबर को भी शासन को पत्र लिखकर मौलिक नियुक्ति का आदेश देने का अनुरोध किया था। मौलिक नियुक्ति की मांग को लेकर प्रशिक्षु शिक्षक रामसजीवन विश्वकर्मा, भोजराज सिंह, चंद्रसेन, नाहर सिंह व अश्वनी कुमार बीते चार अक्टूबर से बेमियादी अनशन पर बैठे थे। उन्हें समर्थन देने के प्रदेश के 28 जिलों से 350 शिक्षक भी शिक्षा निदेशालय में 22 दिनों से डटे रहे हैं।





Monday, October 9, 2017

प्रशिक्षु शिक्षकों की हालत बिगड़ी : मौलिक नियुक्ति को लेकर शिक्षा निदेशालय में आमरण अनशन रविवार को भी जारी, करवाचौथ के बाद भी महिलाएं रही डटी

इलाहाबाद  :  प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक पद पर मौलिक नियुक्ति को लेकर शिक्षा निदेशालय में प्रशिक्षु शिक्षकों का आमरण अनशन रविवार को पांचवें दिन भी जारी रहा। डॉक्टरों की टीम ने रविवार सुबह चार अनशनकारियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जिसमें उनकी हालत नाजुक मिली। सूचना पर एसीएम द्वितीय शिवानी सिंह पुलिसबल के साथ 11 बजे अनशन स्थल पर पहुंचीं और चारों अनशनकारियों को बेली अस्पताल में भर्ती करा दिया।

रामसजीवन विश्वकर्मा, भोजराज सिंह, चंद्रसेन, नाहर सिंह एवं अश्वनी कुमार चार अक्तूबर से आमरण अनशन पर हैं। अश्वनी कुमार की तबीयत शनिवार रात में ही बिगड़ने पर बेली अस्पताल में भर्ती करा दिया गया था। 72,825 प्रशिक्षु शिक्षक चयन-2011 के तहत 2016 में चयनित ये प्रशिक्षु शिक्षक अपना छह महीने का सैद्धांतिक एवं क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा कर चुके हैं और मौलिक नियुक्ति के लिए सारी योग्यताएं पूरी करते हैं।छह माह के प्रशिक्षण का परिणाम 30 अगस्त को परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने घोषित किया लेकिन 39 दिनों बाद भी ये प्रशिक्षु अपनी तैनाती के लिए शासन से आदेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

निदेशालय में 20 दिनों से धरना दे रहे दो दर्जन से अधिक जिलों के प्रशिक्षुओं में कई महिलाएं भी हैं जो रविवार को करवाचौथ का व्रत होने के बावजूद अपने घर नहीं गईं। प्रशिक्षुओं का कहना है कि जब तक उनकी नियुक्ति का आदेश जारी नहीं होता वे धरना समाप्त नहीं करेंगे।

Friday, October 6, 2017

मौलिक नियुक्ति की माँग को लेकर प्रशिक्षु शिक्षकों का अनशन अब भी जारी, अनशन खत्म कराने की प्रशासनिक कवायद हुई फेल

इलाहाबाद : प्राथमिक विद्यालयों में मौलिक नियुक्ति की मांग कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों का अनशन खत्म कराने की प्रशासनिक कोशिश गुरुवार को असफल साबित हुई। 16 दिन से अनवरत आंदोलन कर रहे प्रशिक्षु शिक्षकों ने मांग पूरी न होने पर इसे बेमियादी कर दिया है, वहीं उनसे वार्ता करने गईं सिटी मजिस्ट्रेट शिवानी सिंह को लौटना पड़ा।

अनशन पर बैठे सचिव बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय के सामने रामसजीवन विश्वकर्मा, भोजराज सिंह, चंद्रसेन, नाहर सिंह, अश्वनी कुमार का कहना है कि प्रशिक्षु शिक्षक चयन-2011 के तहत वर्ष 2016 में चयनित प्रशिक्षु शिक्षक अपना छह माह का सैद्धांतिक एवं क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा कर चुके हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से जुलाई में आयोजित लिखित परीक्षा पास करने के साथ मौलिक नियुक्ति के लिए आवश्यक सारी अर्हताएं पूरी कर चुके हैं, फिर भी मौलिक नियुक्ति का शासनादेश जारी नहीं हो रहा है। इनके समर्थन में कई जिलों से प्रशिक्षु शिक्षकों के आने का क्रम शुरू हो गया है।

Wednesday, October 4, 2017

मौलिक नियुक्ति को लेकर कैंडल मार्च, निदेशालय में प्रशिक्षु दे रहे 14 दिन से लगातार धरना

मौलिक नियुक्ति को लेकर कैंडल मार्च, निदेशालय में प्रशिक्षु दे रहे 14 दिन से लगातार धरना।


★ यह खबर भी क्लिक करके पढ़ें: 

■ शिक्षक भर्ती में आधार की अनिवार्यता समाप्त, बिना आधार कार्ड नंबर डाले भी शिक्षक भर्ती के आवेदन पत्र सबमिट हो रहे


Saturday, September 30, 2017

मौलिक नियुक्ति के लिए अब भी धरने पर प्रशिक्षु शिक्षक, लगातार दूसरे दिन उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से मुलाकात कर नियुक्ति की लगाई गुहार


इलाहाबाद। बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक पद पर मौलिक नियुक्ति की मांग को लेकर प्रशिक्षु शिक्षक नवमी के दिन शुक्रवार को शिक्षा निदेशालय में धरने पर बैठे रहे। प्रशिक्षुओं ने लगातार दूसरे दिन उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से मुलाकात कर नियुक्ति की गुहार लगाई।

बीएड-टीईटी पास प्रशिक्षु शिक्षकों को पिछले साल परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में संबंधित जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों ने नियुक्त किया था। प्रक्रिया के अनुसार इन्हें छह माह का प्रशिक्षण प्रदान किया गया एवं उसके बाद लिखित परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा इन्होंने सफलतापूर्वक उत्तीर्ण कर ली है जिसका परिणाम 30 अगस्त को जारी हुआ।

Friday, September 29, 2017

प्रशिक्षु शिक्षकों को जल्द नियुक्ति का आश्वासन, पैदल मार्च निकाल पंहुंचे डिप्टी सीएम केशव के पास

प्रशिक्षु शिक्षकों को जल्द नियुक्ति का आश्वासन, पैदल मार्च निकाल पंहुंचे डिप्टी सीएम केशव के पास। 


मौलिक नियुक्ति के लिए केशव से लगाई गुहार


इलाहाबाद वरिष्ठ संवाददाताबेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक पद पर मौलिक नियुक्ति के लिए अभ्यर्थियों ने गुरुवार को उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से गुहार लगाई। शिक्षा निदेशालय में बेसिक शिक्षा परिषद कार्यालय के बाहर 10 दिनों से धरना दे रहे अभ्यर्थियों ने निदेशालय से उपमुख्यमंत्री के अशोक नगर आवास तक पैदल मार्च किया।सुबह 11 बजे उपमुख्यमंत्री ने मुलाकात की और भरोसा दिलाया कि शीघ्र ही मौलिक नियुक्ति मिलेगी। 72825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में चयनित ये अभ्यर्थी छह महीने का सैद्धांतिक एवं क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा कर चुके हैं। इनका परिणाम 30 अगस्त को परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने घोषित किया लेकिन 29 दिन बीतने के बावजूद मौलिक नियुक्ति का शासनादेश जारी नहीं हुआ। पैदल मार्च निकालने वालों में संदीप पांडेय, आशीष पांडेय, भानु प्रकाश त्रिपाठी, अनिल यादव, पुष्पेन्द्र सिंह, प्रतिभा सिंह, सोहिनी शुक्ला, रुचि श्रीवास्तव आदि शामिल थीं।



Wednesday, September 27, 2017

मौलिक नियुक्ति के लिए प्रशिक्षु शिक्षकों का बेमियादी धरना अब भी जारी, परिषद ने नहीं लिया कोई निर्णय


इलाहाबाद : प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के तहत छह माह का सैद्धांतिक व क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा करने वाले अभ्यर्थियों की प्रशिक्षु शिक्षक की लिखित परीक्षा जुलाई में कराकर परिणाम जारी किया जा चुका है। अभ्यर्थी मौलिक नियुक्ति की सारी अर्हता पूरी कर चुके हैं, लेकिन उनकी नियुक्ति का आदेश नहीं हो रहा है।

अभ्यर्थियों ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को इस संबंध में ज्ञापन भी सौंपा था, लेकिन उसकी अनसुनी हुई। अब अभ्यर्थी शिक्षा निदेशालय में बीते मंगलवार से बेमियादी धरना दे रहे हैं, धरना आठवें दिन मंगलवार को भी जारी रहा।