DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label बेमियादी धरना. Show all posts
Showing posts with label बेमियादी धरना. Show all posts

Tuesday, October 9, 2018

फतेहपुर : पुरानी पेंशन बहाली को गरजे शिक्षक व कर्मचारी, कर्मचारियों ने दी चेतावनी 25, 26, 27 अक्टूबर को होगी महा हड़ताल, इसमें भी न लिया गया निर्णय तो 28 अक्टूबर से करेंगे बेमियादी आंदोलन

राजधानी में डेरा, स्कूल आफिसों में सन्नाटा

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : एक अप्रैल 2005 से बंद की गई पुरानी पेंशन को दोबारा लागू कराने के लिए कर्मचारियों का कारवां जिले के हर कोने से रवाना हुआ। लखनऊ रवाना होने के पहले शिक्षक-कर्मचारियों ने जीआइसी के सामने शक्ति प्रदर्शन कर पेंशन लेकर रहेंगे का नारा लगाया।

मंच के जिलाध्यक्ष राजेंद्र सिंह, संयोजक अशोक कुमार, सह संयोजक विनोद कुमार श्रीवास्तव, विजय त्रिपाठी, बलराम सिंह, अनुराग मिश्र, धीरेंद्र सिंह, अनुपम अवस्थी आदि कर्मचारी नेता विभाग की भीड़ जुटाने में सफल रहे। जिला सह संयोजक श्री श्रीवास्तव ने बताया कि जिले से 43 बसें और 27 छोटे चार पहिया वाहनों में तीन हजार कर्मचारियों ने हिस्सा लिया। उन्होंने बताया कि शासन से वार्ता विफल हो गई है। अब 25 से 27 अक्टूबर को महा हड़ताल की जाएगी। 28 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल होगी। जिसमें रेलवे और रोडवेज का चक्का जाम हो जाएगा तथा सरकारी अस्पतालों की सेवाएं पूरी तरह से ठप रहेंगी।

धाता की बस हुई खराब: पुरानी पेंशन बचाओ मंच द्वारा आंदोलनकारी साथियों के लिए मुहैया कराई गई बस धाता से चलने के चंद मिनट बाद खराब हो गई। मंच के सह संयोजक विनोद कुमार श्रीवास्तव को कर्मचारियों ने इसकी सूचना दी तो उन्होंने प्राइवेट बस को किराए में लेकर आने के निर्देश दिए। टूरिस्ट कंपनी से बस का इंतजाम करके कर्मचारी जिला मुख्यालय पहुंचे।

लंच पैकेट की रही व्यवस्था : पुरानी पेंशन बहाली मंच के आंदोलन में जाने वालों के लिए जिला के पदाधिकारियों ने लंच पैकेट की व्यवस्था कर रखी थी। वाहन के रवाना होते ही कर्मचारियों की संख्या पूछी गई और एक बड़े गत्ते में ब्लाक का नाम लिखकर लंच रखे गए।

Wednesday, November 22, 2017

बीटीसी 2014 के चतुर्थ सेमेस्टर का रिजल्ट घोषित करने की मांग को लेकर 16वें दिन भी परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पर धरना जारी

इलाहाबाद  : बीटीसी 2014 के चतुर्थ सेमेस्टर का रिजल्ट घोषित करने की मांग को लेकर प्रशिक्षुओं ने मंगलवार को 16वें दिन परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय पर धरना दिया। सुल्तानपुर, फैजाबाद, इलाहाबाद तथा प्रतापगढ़ के प्रशिक्षुओं ने बीटीसी संयुक्त मोर्चा संघ के बैनर तले धरना दिया। जल्द रिजल्ट घोषित हो, वरना अनशन करेंगे।

 डाउनलोड करें  

■  प्राइमरी का मास्टर ● कॉम का  एंड्राइड एप


Tuesday, November 21, 2017

12460 बेसिक शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर परिषद कार्यालय में धरना शुरू, हाईकोर्ट के फैसले को लागू करने के लिए दबाव बनाने की कोशिश, उधर बीटीसी 2014 के रिजल्ट के लिए अभी भी धरना जारी

12460 बेसिक शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर परिषद कार्यालय में धरना शुरू, हाईकोर्ट के फैसले को लागू करने के लिए दबाव बनाने की कोशिश, उधर बीटीसी 2014 के रिजल्ट के लिए अभी भी धरना जारी।


इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक विद्यालयों में 12460 सहायक अध्यापकों की भर्ती पूरी कराने को लेकर सोमवार से धरना शुरू हो गया है। प्रदेश भर के अभ्यर्थी परिषद मुख्यालय के सामने बड़ी संख्या डटे हैं। उनका कहना है कि हाईकोर्ट ने लंबित भर्तियां पूरी करने का आदेश दिया है, लेकिन परिषद ने सिर्फ डीएड अभ्यर्थियों को मौका दिया है, बाकी सारी प्रक्रिया ठप पड़ी है। इसे शुरू कराया जाए। 


 डाउनलोड करें  
■  प्राइमरी का मास्टर ● कॉम का  एंड्राइड एप



अभ्यर्थियों ने बताया कि प्राथमिक स्कूलों में 12460 शिक्षक भर्ती के लिए 18 से 20 मार्च तक पहली काउंसिलिंग हो चुकी है और 25 मार्च को दूसरे चक्र की काउंसिलिंग शुरू होने से पहले ही सरकार ने 23 मार्च को भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी। उसके बाद से इस भर्ती के लिए आवेदन करने वाले बीटीसी व टीईटी पास अभ्यर्थी अधर में लटके हैं। 


Wednesday, September 27, 2017

मौलिक नियुक्ति के लिए प्रशिक्षु शिक्षकों का बेमियादी धरना अब भी जारी, परिषद ने नहीं लिया कोई निर्णय


इलाहाबाद : प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 के तहत छह माह का सैद्धांतिक व क्रियात्मक प्रशिक्षण पूरा करने वाले अभ्यर्थियों की प्रशिक्षु शिक्षक की लिखित परीक्षा जुलाई में कराकर परिणाम जारी किया जा चुका है। अभ्यर्थी मौलिक नियुक्ति की सारी अर्हता पूरी कर चुके हैं, लेकिन उनकी नियुक्ति का आदेश नहीं हो रहा है।

अभ्यर्थियों ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को इस संबंध में ज्ञापन भी सौंपा था, लेकिन उसकी अनसुनी हुई। अब अभ्यर्थी शिक्षा निदेशालय में बीते मंगलवार से बेमियादी धरना दे रहे हैं, धरना आठवें दिन मंगलवार को भी जारी रहा।

Wednesday, January 4, 2017

भूखे रहकर धरने पर डटे शिक्षामित्र, सम्मानजनक भुगतान की मांग कर रहे विद्यालयों में तैनात शिक्षक


इलाहाबाद : प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में तैनात 32 हजार शिक्षामित्र सम्मानजनक भुगतान की मांग पर अड़े हैं। अब तक इस संबंध में शासनादेश न जारी होने से खफा शिक्षामित्र भूख हड़ताल कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब तक सरकार मानदेय बढ़ाने का एलान नहीं करती वह स्कूलों में शिक्षण कार्य नहीं करेंगे। कहा कि सरकार लगातार शिक्षामित्रों की समस्याओं की अनदेखी कर रही है। जब तक मांगे पूरी नहीं होगी आंदोलन चलता रहेगा। बाकी सभी जिलों में शिक्षामित्र कार्य बहिष्कार करके बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने अब भूखे रहकर प्रदर्शन कर रहे हैं। विधानसभा चुनाव से पहले शिक्षामित्र अपना हक लेकर रहेंगे। निदेशालय में अरुण सिंह पटेल, विनय सिंह, बाल गोविंद, अर्चना एवं रेखा आदि अनशन कर रहे हैं।राब्यू, इलाहाबाद : प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में तैनात 32 हजार शिक्षामित्र सम्मानजनक भुगतान की मांग पर अड़े हैं। अब तक इस संबंध में शासनादेश न जारी होने से खफा शिक्षामित्र भूख हड़ताल कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब तक सरकार मानदेय बढ़ाने का एलान नहीं करती वह स्कूलों में शिक्षण कार्य नहीं करेंगे। कहा कि सरकार लगातार शिक्षामित्रों की समस्याओं की अनदेखी कर रही है। जब तक मांगे पूरी नहीं होगी आंदोलन चलता रहेगा। बाकी सभी जिलों में शिक्षामित्र कार्य बहिष्कार करके बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने अब भूखे रहकर प्रदर्शन कर रहे हैं। विधानसभा चुनाव से पहले शिक्षामित्र अपना हक लेकर रहेंगे। निदेशालय में अरुण सिंह पटेल, विनय सिंह, बाल गोविंद, अर्चना एवं रेखा आदि अनशन कर रहे हैं।शिक्षा निदेशालय में क्रमिक अनशन पर बैठे शिक्षा मित्र।

Tuesday, January 3, 2017

एटा : आश्वासन पर शिक्षकों का धरना समाप्त; बीएसए ने कहा, स्थानांतरण प्रक्रिया होगी शुरू