DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label भर्ती. Show all posts
Showing posts with label भर्ती. Show all posts

Friday, May 14, 2021

97 हजार पदों के लिए विज्ञापन जारी करने की मांग

97 हजार पदों के लिए विज्ञापन जारी करने की मांग

प्रयागराज । प्राथमिक विद्यालयों में खाली 97 हजार शिक्षक पदों को भरने के लिए सोशल मीडिया चलाये जा रहे अभियान का युवा मंच ने समर्थन किया है। 


युवा मंच मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उनसे प्राथमिक विद्यालयों में खाली पदों को भरने के लिए विज्ञापन जारी करने की मांग की गई है।


Wednesday, May 12, 2021

UPTET 2020 व एडेड शिक्षक भर्ती : दो माह में दो अहम परीक्षाएं स्थगित

UPTET 2020 व एडेड शिक्षक भर्ती :  दो माह में दो अहम परीक्षाएं स्थगित


■ 18 अप्रैल को एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती पंचायत चुनाव से टली

■ अब यूपीटीईटी 2020 का संक्रमण से विज्ञापन व आवेदन रोकना पड़ा


प्रयागराज : प्राथमिक स्तर की परीक्षा कराने वाली संस्था को दो माह में दो अहम परीक्षाएं स्थगित करना पड़ा है। ये नौबत इसलिए आई क्योंकि शासन ने दोनों प्रकरणों में अनुमति देने में देरी की। परीक्षा संस्था ने तय समय पर प्रस्ताव भेजे थे लेकिन, वे लंबे समय तक अनुमति के इंतजार में लटके रहे। हालांकि दोनों परीक्षाओं को अलग वजहों से टालना पड़ा है। अब हालात सामान्य होने पर ही दोनों परीक्षाओं की तारीखें नए सिरे से तय होंगी।


परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय उप्र ने फरवरी माह में ही उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) 2020 कराने का प्रस्ताव भेजा था लेकिन, उस पर मुहर करीब एक माह बाद 15 मार्च को लग सकी। उस समय शासन ने आवेदन से लेकर परीक्षा व परिणाम तक की समय सारिणी घोषित कर दी। इसमें 11 मई को विज्ञापन, 18 मई से ऑनलाइन पंजीकरण व आवेदन और 25 जुलाई को परीक्षा होनी थी। इस इम्तिहान के बाद ही प्राथमिक स्कूलों की शिक्षक भर्ती परीक्षा होती है। यदि उसी समय आवेदन लिए जाते तो शायद अब तक परीक्षा हो जाती। लेकिन, इधर कोरोना संक्रमण की वजह से परीक्षा के साथ ही उसकी आवेदन आदि की प्रक्रिया रोकनी पड़ी है।


इसी तरह से प्रदेश के तीन हजार से अधिक अशासकीय सहायताप्राप्त जूनियर हाईस्कूलों में प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक के 1894 पदों की लिखित परीक्षा 18 अप्रैल को होना प्रस्तावित थी। इसके आवेदन हो चुके थे लेकिन, परीक्षा के ठीक दूसरे दिन त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनाव होने की वजह से कुछ दिन पहले ही परीक्षा स्थगित करनी पड़ी, क्योंकि कई जिलों के डीएम ने इम्तिहान कराने में असमर्थता जताई थी।


अब इन दोनों परीक्षाओं की नई तारीखें हालात सामान्य होने के बाद ही तय होंगी। साथ ही प्राथमिक स्कूलों की शिक्षक भर्ती की परीक्षा के लिए भी प्रतियोगियों को इंतजार करना पड़ेगा।

Saturday, May 1, 2021

एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल शिक्षक भर्ती 2021 : आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी

एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल शिक्षक भर्ती 2021 :  आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी


एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूलों ( ईएमआरएस ) में शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ा दी गई है। इच्छुक उम्मीदवार अब 31 मई 2021 तक recruitment.nta.nic.in या tribal.nic.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पहले अंतिम तिथि 30 अप्रैल थी। 1 जून तक फीस जमा कराई जा सकती है। 


इस भर्ती के माध्यम से देश भर के 17 राज्यों के विभिन्न जिलों में स्थित एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों में रिक्त पड़े प्रिंसिपल, वाइस प्रिंसिपल, टीजीटी व पीजीटी शिक्षकों के कुल 3479 पदों को भरा जाएगा। इसमें पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (पीजीटी) के 1244 पद, ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) के 1944 पद, प्रिंसिपल के 175 पद और वाइस प्रिंसिपल के 116 पद हैं। आवेदन की प्रक्रिया 1 अप्रैल 2021 से शुरू हुई थी।


राज्यवार रिक्तियों की संख्या
आंध्र प्रदेश – 117 पद
छत्तीसगढ़ – 514 पद
गुजरात – 161 पद
हिमाचल प्रदेश – 8 पद
झारखण्ड – 208 पद
जम्मू एवं कश्मीर – 14 पद
मध्य प्रदेश – 1279 पद
महाराष्ट्र – 216 पद
मणिपुर – 40 पद
मिजोरम – 10 पद
ओडिशा – 144 पद
राजस्थान – 316 पद
सिक्किम – 44 पद
तेलंगाना – 262 पद
त्रिपुरा – 58 पद
उत्तर प्रदेश – 79 पद
उत्तराखण्ड – 9 पद

योग्यता 




चयन
कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) और इंटरव्यू के आधार पर । 

आवेदन फीस
प्रिंसिपल व वाइस प्रिंसिपल - 2000 रुपये
पीजीटी व टीजीटी - 1500 रुपये

परीक्षा 
 3 घंटे की परीक्षा होगी। पहली शिफ्ट सुबह 9 से 12 बजे तक और दूसरी दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक होगी।


वेतनमान 
प्रिंसिपल - लेवल 12 (Rs. 78800 –209200/-)
वाइस प्रिंसिपल - लेवल 10 (Rs. 56100- 177500/-)
पीजीटी - लेवल 8 (Rs.47600- 151100/-)
टीजीटी - लेवल 7 (Rs.44900 – 142400/-)

Wednesday, April 28, 2021

एडेड स्कूलों में पढ़ाई से लेकर शिक्षकों की भर्ती तक सरकार के हवाले

एडेड स्कूलों में पढ़ाई से लेकर शिक्षकों की भर्ती तक सरकार के हवाले


अब एडेड स्कूलों में भी पढ़ाई से लेकर शिक्षकों तक की गुणवत्ता पर सरकार शिकंजा कसेगी। राज्य सरकार पहली बार एडेड जूनियर हाईस्कूलों के शिक्षकों की भर्ती करने जा रही है। वहीं यहां पर मिशन प्रेरणा के साथ मानव संपदा पोर्टल भी अनिवार्य कर दिया गया है। इन स्कूलों में सरकारी स्कूलों वाला शैक्षणिक कैलेण्डर लागू होगा।


मिशन प्रेरणा के तहत यहां के लर्निंग गोल भी वहीं होंगे जो सरकार ने तय किए हैं। वहीं यहां भी विद्यार्थियों के सीखने के लिए वे सभी मॉड्यूल लागू होंगे जो सरकारी स्कूलों में चलाए जा रहे हैं। इसके साथ ही यहां के विद्यार्थियों की आधार सीडिंग का काम भी शुरू हो गया है। अभी तक सरकार इन स्कूलों में शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों का वेतन देती है, साथ ही निःशुल्क यूनिफार्म, पाठ्य पुस्तकें व मिड डे मील की व्यवस्था सरकारी स्कूलों की तर्ज पर की जाती है। सरकार ने तय किया है कि जब ये स्कूल सरकारी सहायता से चलते हैं तो यहां भी पढ़ाई की गुणवत्ता पर सरकार नजर रखेगी।


प्रदेश में लगभग आठ हजार एडेड स्कूल हैं जिनमें जूनियर हाईस्कूल, प्राइमरी व माध्यमिक के वे स्कूल शामिल हैं जहां कक्षा एक से आठ तक की कक्षाएं चलाई जाती हैं।

Friday, April 23, 2021

कैट ने बदला नवोदय विद्यालय समिति का फैसला, पोस्ट ग्रेजुएट भी शामिल हो सकेंगे टीजीटी इंटरव्यू में

कैट ने बदला नवोदय विद्यालय समिति का फैसला, पोस्ट ग्रेजुएट भी शामिल हो सकेंगे टीजीटी इंटरव्यू में


केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरण (कैट) ने नवोदय विद्यालय समिति के फैसले को बदल दिया है। अब प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक (टीजीटी) इंटरव्यू में पोस्ट ग्रेजुएट उम्मीदवार भी शामिल हो सकेंगे। 


नई दिल्ली में कैट की प्रिंसिपल बेंच ने नवोदय विद्यालय के टीजीटी (सामाजिक अध्ययन) साक्षात्कार में बैठने की अनुमति दी, जिसे नवोदय विद्यालय समिति द्वारा अवैध रूप से साक्षात्कार में बैठने से रोक दिया गया था।


इससे पहले, अदालत ने अधिकारियों से जवाब मांगा था और अंतिम दलीलें सुनने के बाद, नवोदय समिति के फैसले को रद्द कर दिया और पोस्ट ग्रेजुएट उम्मीदवारों को इंटरव्यू में उपस्थित होने की अनुमति दे दी। आप यह ख़बर प्राइमरी का मास्टर डॉट इन पर पढ़ रहे हैं।

इससे पहले, अदालत ने उम्मीदवार की याचिका पर सुनवाई कर अधिकारियों से जवाब मांगा था और अंतिम दलीलें सुनने के बाद, नवोदय समिति के फैसले को रद्द कर उम्मीदवार को साक्षात्कार में उपस्थित होने की अनुमति दी।

अधिवक्ता हरप्रीत सिंह होरा के माध्यम से दायर याचिका में उम्मीदवार ने आरोप लगाया है कि कर्मचारियों ने उन्हें यह कहते हुए अवैध रूप से रोक दिया कि उन्होंने संबंधित विषयों में 50 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त किए हैं। नवोदय विद्यालय समिति का यह कार्य अवैध और भर्ती मापदंडों के खिलाफ है।

Friday, April 16, 2021

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की परीक्षा की नई तारीख पर कोरोना का साया

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की परीक्षा की नई तारीख पर कोरोना का साया


 प्रयागराज : एकेडमिक के साथ ही प्रतियोगी परीक्षाएं भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण में फंस गई हैं। जिस तरह से तय परीक्षाओं को टालने पर मंथन शुरू हुआ है, उसे देखते हुए स्थगित परीक्षाओं की नई तारीख जल्द घोषित होने के आसार नहीं हैं। माना जा रहा था कि एडेड जूनियर हाईस्कूल की शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा यूपी बोर्ड का इम्तिहान शुरू होने से पहले हो सकती है लेकिन, संक्रमण बढ़ती रफ्तार को देखते हुए इसके आसार नहीं हैं।


ज्ञात हो कि अशासकीय सहायताप्राप्त जूनियर हाईस्कूल के 1894 पदों की शिक्षक भर्ती की परीक्षा 18 अप्रैल को प्रस्तावित थी, इसी के ठीक दूसरे दिन कई जिलों में पंचायत चुनाव था ऐसे में परीक्षा स्थगित कर दी गई। उस समय यह भी कहा गया कि यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले ये इम्तिहान कराया जा सकता है। सीबीएसई बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा रद व इंटर की स्थगित हो गई है। इसी तर्ज पर यूपी बोर्ड की परीक्षाएं भी टल सकती हैं।


 परीक्षाओं का संशोधित कार्यक्रम सात अप्रैल को ही जारी हुआ था। इसलिए एडेड जूनियर हाईस्कूल भर्ती की नई तारीख जल्द आने की उम्मीद नहीं है।इसी तरह से एडेड माध्यमिक कालेजों की 2016 की प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक का साक्षात्कार आठ से 13 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया है और उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग की एडेड महाविद्यालयों की प्राचार्य भर्ती का साक्षात्कार भी स्थगित हो चुका है।

Sunday, April 11, 2021

900 केंद्रों पर होगी एडेड जूनियर हाईस्कूलों की शिक्षक भर्ती परीक्षा, 3.35 लाख ने किया अंतिम रूप से आवेदन

900 केंद्रों पर होगी एडेड जूनियर हाईस्कूलों की शिक्षक भर्ती परीक्षा, 3.35 लाख ने किया अंतिम रूप से आवेदन


प्रयागराज : एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा की तारीख जल्द घोषित हो सकती है। मंडल मुख्यालयों पर परीक्षा कराने के लिए केंद्र निर्धारण करीब पूरा हो चुका है। लगभग 900 केंद्रों पर परीक्षा कराने की तैयारी है। इसके लिए पंचायत चुनाव के बाद व यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले की तारीख तय हो सकती है।


इस भर्ती की लिखित परीक्षा 18 अप्रैल को प्रस्तावित थी, लेकिन ठीक दूसरे दिन पंचायत चुनाव होने से कई जिलाधिकारियों ने परीक्षा टालने का अनुरोध किया। शासन ने छह अप्रैल को ही भर्ती की लिखित परीक्षा स्थगित कर दी थी। उस समय तक यूपी बोर्ड परीक्षा की तारीखें तय नहीं थीं इसलिए परीक्षा की नई तारीख प्रस्तावित नहीं की जा सकी। बोर्ड परीक्षा आठ से 28 मई तक होने का कार्यक्रम जारी हो गया है। इसी मुताबिक भर्ती की परीक्षा संस्था भी बोर्ड इम्तिहान से पहले लिखित परीक्षा कराने का प्रस्ताव शासन को भेज रही है। माना जा रहा है कि शासन से अनुमति मिल जाएगी।

परीक्षा के लिए केंद्र निर्धारण का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। 3.35 लाख परीक्षार्थियों के लिए मंडल मुख्यालयों पर करीब 900 केंद्र बनाए गए हैं। लिखित परीक्षा की तारीख घोषित होने के बाद केंद्रों की अधिकृत संख्या जारी की जाएगी। उसके बाद प्रवेशपत्र वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे। इस संबंध में परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय तैयारियां कर रहा है। ज्ञात हो कि प्रदेश के 3049 अशासकीय सहायताप्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूलों की शिक्षक भर्ती में प्रधानाध्यापक के 390 व सहायक अध्यापक के 1504 सहित 1894 पदों के लिए लिखित परीक्षा होनी है। इसके लिए करीब 3.35 लाख अभ्यर्थियों ने अंतिम रूप से आवेदन किया है।

एडेड जूनियर हाईस्कूलों में भर्ती का मामला, प्रदेश में कुछ जिलों को छोड़ अधिकांश का केंद्र निर्धारण पूरा

Thursday, April 8, 2021

पंचायत चुनाव बाद ही हो सकेगी एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की स्थगित हुई परीक्षा

पंचायत चुनाव बाद ही हो सकेगी एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की स्थगित हुई परीक्षा

UP Shikshak Bharti 2021: मई के पहले सप्ताह में हो सकती है स्थगित 1894 पदों पर एडेड भर्ती परीक्षा


अशासकीय सहायता प्राप्त जूनियर हाईस्कूलों में प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापकों के 1894 पदों पर भर्ती के लिए स्थगित परीक्षा मई के पहले सप्ताह में हो सकती है। सरकार ने पंचायत चुनाव के कारण 18 अप्रैल को प्रस्तावित परीक्षा टाल दी है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बुधवार को सभी मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशकों और जिला विद्यालय निरीक्षकों को परीक्षा स्थगित किए जाने की सूचना भेज दी।

सूत्रों के अनुसार पंचायत चुनाव की मतगणना और यूपी बोर्ड की संभावित संशोधित परीक्षा तिथि के बीच एडेड जूनियर हाईस्कूलों की शिक्षक भर्ती कराने की तैयारी है। दो मई को पंचायत चुनाव की मतणगना होगी। यूपी बोर्ड की परीक्षा 8 या 9 मई के आसपास शुरू होने के आसार बन रहे हैं। ऐसे में दो से 8 मई के बीच किसी दिन परीक्षा हो सकती है।


वैसे तो ऐसी परीक्षा रविवार को रखी जाती है लेकिन यह परीक्षा किसी कार्यदिवस में भी करवाई जा सकती है। गौरतलब है कि शिक्षक भर्ती परीक्षा के लिए 3.25 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।


प्रयागराज। प्रदेश के सहायता प्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूलों के लिए प्रधानाध्यापक एवं सहायक अध्यापक के 1894 पदों के लिए 18 अप्रैल को होने वाली भर्ती परीक्षा स्थगित करने का आदेश जारी कर दिया गया है। 


सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी की ओर से प्रदेश के सभी संयुक्त शिक्षा निदेशक एवं मंडल मुख्यालय स्थित जिला विद्यालय निरीक्षकों को भेजे पत्र में परीक्षा स्थगित करने की जानकारी दी गई है। इससे पहले सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से पंचायत चुनाव के कारण 18 अप्रैल को प्रस्तावित शिक्षक भर्ती परीक्षा स्थगित करने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया था। 


शासन की मंजूरी के बाद सचिव की ओर से औपचारिक रूप से सभी संयुक्त शिक्षा निदेशकों एवं जिला विद्यालय निरीक्षकों को जानकारी भेज दी गई है।ऐसे में उम्मीद है कि अब पूरे चुनाव निपटने के बाद ही होगी एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की स्थगित परीक्षा. 

Tuesday, April 6, 2021

पंचायत चुनाव के चलते एडेड जूनियर स्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा टालने का प्रस्ताव शासन को गया भेजा

पंचायत चुनाव के चलते एडेड जूनियर स्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा टालने का प्रस्ताव शासन को गया भेजा। 


प्रयागराज। प्रदेश के सहायता प्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूल में प्रधानाध्यापक एवं सहायक अध्यापक के 1894 शिक्षक भर्ती की परीक्षा पंचायत चुनाव के चलते आगे बढ़ाई जा सकती है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने 18 अप्रैल की प्रस्तावित परीक्षा तिथि को आगे बढ़ाने का प्रस्ताव शासन के पास भेजा है।


सचिव की ओर से प्रस्तावित परीक्षा तिथि को आगे बढ़ाने के लिए प्रस्ताव भेजे जाने के बाद अब तय हो गया है कि परीक्षा 18 अप्रैल को संभव नहीं है।

Saturday, April 3, 2021

चुनाव ड्यूटी व एडेड भर्ती परीक्षा के बीच फंसे हजारों शिक्षक, परीक्षा तिथि में संशोधन की मांग

चुनाव ड्यूटी व एडेड भर्ती परीक्षा के बीच फंसे हजारों शिक्षक, परीक्षा तिथि में संशोधन की मांग 


प्रदेश के 3049 अशासकीय सहायता प्राप्त जूनियर हाईस्कूलों में प्रधानाध्यापक के 390 और सहायक अध्यापकों के 1504 पदों पर भर्ती के लिए 18 अप्रैल को प्रस्तावित लिखित परीक्षा को लेकर हजारों शिक्षक परेशान हैं। इस भर्ती के लिए आवेदन करने वाले हजारों शिक्षकों एवं अन्य विभागों के कर्मचारियों ने परीक्षा तिथि में संशोधन की मांग की है।


समस्या यह है कि इन शिक्षकों की ड्यूटी चुनाव में भी लगाई गई है। 19 अप्रैल को 16 जिलों में मतदान होना है जिसके लिए पोलिंग पार्टियों के साथ 18 अप्रैल को आवेदन करने वाले शिक्षकों व सरकारी कर्मचारियों को भी रवाना होना है। इस स्थिति में हजारों आवेदक परेशान हैं कि पेपर दें या चुनाव ड्यूटी करें। शिक्षकों और प्रतियोगी छात्रों का कहना है कि जिन जिलों में चुनाव है वहां के शिक्षकों को परीक्षा से वंचित होना पड़ सकता है। 68500 भर्ती में चयनित एवं एडेड जूनियर भर्ती के लिए आवेदन करने वाले शिक्षक संजीव त्रिपाठी का कहना है कि इस विकट परिस्थिति में परीक्षा नियामक प्राधिकारी को सभी आवेदकों के हित में उचित फैसला लेना चाहिए।


अब आवेदन करने वाले संजीव त्रिपाठी, संजीव कुमार मिश्र, अभिषेक त्रिपाठी, बालाजी तिवारी आदि शिक्षक ट्विटर और मेल के जरिए परीक्षा तिथि में संशोधन की मांग उठा रहे हैं । हालांकि सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण त्रिपाठी का कहना है कि परीक्षा तिथि में संशोधन के संबंध में कोई प्रार्थनापत्र उन्हें नहीं मिला है। गौरतलब है कि इस भर्ती के लिए 3.25 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।

Wednesday, March 31, 2021

शुरू हुई 53 हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती प्रक्रिया, जानिए कैसे भरना होगा आनलाइन आवेदन

शुरू हुई 53 हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती प्रक्रिया, जानिए कैसे भरना होगा आनलाइन आवेदन




लखनऊ : आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं के करीब 53 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू हो गई है। जिलेवार भर्ती विज्ञापन जारी होने लगे हैं। इस बार भर्ती के आवेदन आनलाइन स्वीकार किए जाएंगे। विज्ञापन जारी होने के बाद आवेदन के लिए 21 दिन का समय मिलेगा। भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के लिए 45 दिनों की समय सीमा निर्धारित की गई है।


दरअसल, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं के करीब 53 हजार पद रिक्त चल रहे हैं। सरकार ने इसी साल 29 जनवरी को चयन प्रक्रिया निर्धारित की है। सभी जिलों में डीएम की देखरेख में चयन समिति गठित कर पदों की भर्ती के निर्देश दिए गए हैं। चयन समिति की संस्तुति पर डीएम के अनुमोदन के बाद भर्ती प्रक्रिया पूरी होगी। डीएम की देखरेख में गठित चयन समिति में जिले में तैनात समूह ‘क’ व ‘ख’ संवर्ग की महिला अफसर भी सदस्य बनाई गई हैं। नई चयन प्रक्रिया मे बीपीएल परिवारों की अभ्यर्थियों की वरीयता दी जाएगी। ग्रामीण क्षेत्र के परिवारों के लिए सालाना आय सीमा 46,080 व शहरी क्षेत्रों के लिए आय सीमा 56,460 रुपये तय की गई है।


जिलेवार विज्ञापन जारी होना शुरू 45 दिन में प्रशासन को पूरी करनी होगी भर्ती प्रक्रिया

ऐसे भरना होगा आनलाइन आवेदन
आनलाइन आवेदन पत्र चार भागों में भरा जाएगा। पंजीकरण के भाग एक में उम्मीदवार का व्यक्तिगत विवरण दर्ज होगा। आवेदिका से दिए गए विवरण की जांच करने और आवेदन पत्र में अंकित विवरण में यदि कोई संशोधन हो तो उसे करने के लिए कहा जाएगा। भविष्य के संदर्भो के लिए पंजीकरण नंबर जरूरी है। पंजीकरण के दूसरे भाग में शैक्षिक योग्यता भरनी होगी। ग्रेड/सीजीपीए और प्रतिशत की गणना स्वचालित रूप से हो जाएगी। तीसरे भाग में फोटोग्राफ और हस्ताक्षर अपलोड करने होंगे। फोटोग्राफ का डिजिटल आकार 20 केबी से अधिक नहीं होना चाहिए। हस्ताक्षर भी अपलोड करने होंगे। चौथे भाग में घोषणा के लिए सहमत होना होगा। आवेदन की अंकित तिथि से पहले भविष्य में सुधार करने के लिए ‘सेव ड्राफ्ट’ का बटन दबा सकते हैं। अंत में ‘फाइनल सबमिट’ के बाद फार्म में संशोधन नहीं किया जाएगा।


Sunday, March 28, 2021

इंटर के बाद शिक्षक प्रशिक्षण लेने वाले चयनितों को नियुक्ति देने का हाईकोर्ट का आदेश

इंटर के बाद शिक्षक प्रशिक्षण लेने वाले चयनितों को नियुक्ति देने का हाईकोर्ट का आदेश



इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इंटर मीडिएट के बाद शिक्षक प्रशिक्षण का डिप्लोमा या डिग्री लेने वालों को सहायक पद पर नियुक्ति के लिए योग्य मानते हुए  चयनित याची शिक्षकों को एक माह में नियुक्ति पत्र जारी करने का आदेश दिया है। बेसिक शिक्षा विभाग ने इनको नियुक्ति पत्र देने से यह कह कर इंकार कर दिया था कि उन्होंने स्नातक किए बिना ही शिक्षण प्रशिक्षण प्राप्त किया है इसलिए नियुक्ति के लिए अर्ह नहीं हैं। सोनी व दो अन्य की याचिका पर न्यायमूर्ति सलिल कुमार राय ने यह आदेश दिया। 


याचीगण के अधिवक्ता सीमांत सिंह का कहना था कि याचीगण ने 2019 की सहायक अध्यापक परीक्षा उत्तीर्ण की है। बीएसए मैनपुरी ने उनको यह कहते हुए नियुक्ति पत्र देने से इंकार कर दिया कि स्नातक की डिग्री के बिना प्रशिक्षण प्राप्त करने के कारण वह नियुक्ति की अर्हता नहीं रखते हैं।


अधिवक्ता का कहना था कि विक्रम सिंह व चार अन्य तथा सूरज कुमार त्रिपाठी केस में हाईकोर्ट ने इसका समाधान कर दिया है कि एनसीटीई की गाइड लाइन के अनुसार इंटर मीडिएट के बाद प्रशिक्षण डिप्लोमा करने वाले अभ्यर्थी सहायक अध्यापक नियुक्त होने के लिए अर्ह हैं। ऐसे में बीएसए द्वारा नियुक्ति पत्र न देना अवैधानिक है। कोर्ट ने पूर्व में पारित आदेशों को दृष्टिगत रखते हुए याचीगण को एक माह में नियुक्तिपत्र जारी करने का आदेश दिया है।

Saturday, March 27, 2021

चंदौली : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी

चंदौली : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी


Thursday, March 25, 2021

गोण्डा : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी

गोण्डा : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी



मेरठ : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी

मेरठ : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी



69000 शिक्षक भर्ती : धरने पर बैठे दिव्यांगों की मांगें पूरी करने का वादा, DGSE ने जल्द निस्तारण का दिया भरोसा

69000 शिक्षक भर्ती : धरने पर बैठे दिव्यांगों की मांगें पूरी करने का वादा, DGSE ने जल्द निस्तारण का दिया भरोसा



प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में दिव्यांगों को नियुक्ति दिलाने का आश्वासन मिला है। आसार है कि 100 दिन बाद आंदोलन खत्म हो जाए। दिव्यांगों का कहना है कि महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने प्रतिनिधिमंडल को प्रकरण का निस्तारण करने का वादा किया है। परिषदीय स्कूलों में 69000 शिक्षक भर्ती चल रही है। 


भर्ती में आरक्षण विसंगति को लेकर दिव्यांग 100 दिन से बेसिक शिक्षा निदेशालय मुख्यालय प्रयागराज पर आंदोलन कर रहे हैं। दिव्यांग प्रतिनिधिमंडल बुधवार को लखनऊ में महानिदेशक स्कूल शिक्षा से मिला और सार्थक वार्ता हुई, जिसमें महानिदेशक की ओर से उन्हें भरोसा दिया कि निस्तारण हर हाल में करेंगे। आरक्षण के अनुपालन में जो भी त्रुटियां थी, उनको लेकर विभाग का रुख सकारात्मक है, धरने को खत्म करने को कहा और विश्वास दिलाया कि अगर आपकी मांगों पर न्यायसंगत विचार न दिखे तो धरना देने को दिव्यांग स्वतंत्र हैं। 


प्रतिनिधि मंडल में शामिल धनराज कुमार यादव, प्रदीप शुक्ला, कौशल मिश्र, शिवप्रकाश, विष्णु, प्रेमकुमार, राघवेन्द्र सिंह शिवेंद्र व दिनेश यादव ने बताया कि डीजी से सकारात्मक वार्ता हुई और उन्होंने नीति नियम के अधीन सभी मुद्दों को हल करने का भरोसा दिया है।

Wednesday, March 24, 2021

ललितपुर : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी

ललितपुर : कस्तूरबा विद्यालयों में शिक्षक व शिक्षणेत्तर भर्ती हेतु विज्ञप्ति जारी


Tuesday, March 23, 2021

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा हेतु मंडल मुख्यालयों पर तय किए जाएंगे परीक्षा केंद्र

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा हेतु मंडल मुख्यालयों पर तय किए जाएंगे परीक्षा केंद्र


प्रयागराज : प्रदेश के 3049 अशासकीय सहायताप्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूलों में प्रधानाध्यापकों व सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए आवेदन पूरे हो चुके हैं। लिखित परीक्षा की तैयारियां तेज हो गई हैं। इसी सप्ताह मंडल स्तर पर परीक्षा केंद्रों का निर्धारण होगा, होली के अवकाश के पहले केंद्रों की सूची परीक्षा संस्था को भेजे जाने के निर्देश हैं। परीक्षा संस्था ने आवेदकों की अंतिम संख्या 3.36 लाख घोषित कर दी है।



जूनियर विद्यालयों की शिक्षक भर्ती के लिए 3.62 लाख अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था, जिसमें से 3,36,942 अभ्यर्थियों ने शनिवार तक अंतिम रूप से आवेदन कर दिया है। सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि प्रधानाध्यापक पद के लिए 20,979 आवेदन मिले हैं। इसमें 18,596 अभ्यर्थियों ने प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक, दोनों पदों के लिए आवेदन किया है। सहायक अध्यापक पद के लिए 3,15,963 अभ्यर्थियों ने दावेदारी की है। ज्ञात हो कि इस भर्ती में प्रधानाध्यापक के 390 व सहायक अध्यापक के 1504 सहित 1894 पद हैं। इसकी लिखित परीक्षा 18 अप्रैल को एक साथ कराई जाएगी।


भर्ती में सहायक अध्यापक बनने वालों के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा होगी। प्रत्येक पद के लिए औसतन 210 से अधिक दावेदार हैं। दोनों परीक्षाओं में पहला पेपर अनिवार्य है। प्रधानाध्यापक पद के अभ्यर्थियों के लिए प्रबंधन के दूसरे प्रश्नपत्र की लिखित परीक्षा होगी। आवेदन पूरा होने के बाद परीक्षा संस्था ने सभी 18 मंडल मुख्यालयों को संख्या भेजकर परीक्षा केंद्र निर्धारित करने का आदेश दिया है। 25 मार्च को केंद्र तय करने के लिए बैठक होगी, वहीं 27 मार्च तक मंडल मुख्यालयों से केंद्रों की सूची परीक्षा संस्था को भेजी जाएगी। अगले सप्ताह परीक्षा संस्था केंद्रों की सूची एनआइसी को भेजेगी, ताकि प्रवेशपत्र निर्गत किए जा सकें।

नई शिक्षा नीति आई पर शिक्षक के पद नहीं जा रहे भरे

नई शिक्षा नीति आई पर शिक्षक के पद नहीं जा रहे भरे


राष्ट्रीय शिक्षा नीति आने के बाद देश भर के उच्च शिक्षण संस्थानों को नालंदा और तक्षशिला जैसी प्रतिष्ठा दिलाने की बातें तो हो रही है, लेकिन जब उच्च शिक्षण संस्थानों में पढ़ाने के लिए शिक्षक ही नहीं होंगे, तो यह मुकाम कैसे हासिल हो पाएगा। स्थिति कुछ ऐसी ही है। देश भर के उच्च शिक्षण संस्थानों में पर्याप्त शिक्षक ही नहीं है। यह कमी भी कोई सौ-दो सौ शिक्षकों की नहीं है, बल्कि अकेले केंद्रीय उच्च शिक्षण संस्थानों में ही 14 हजार से ज्यादा पद रिक्त हैं। इनमें सबसे खराब स्थिति केंद्रीय विश्वविद्यालयों की है, जहां फिलहाल शिक्षकों के छह हजार से ज्यादा पद खाली हैं। आइआइटी, एनआइटी और आइआइएम का भी कुछ ऐसा ही हाल है।


उच्च शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों के खाली पदों को लेकर यह सवाल उस समय उठ रहे है, जब राष्ट्रीय शिक्षा नीति को सरकार तेजी से लागू करने में जुटी है। खासबात यह है कि नीति में शिक्षकों के खाली पदों को लेकर चिंता जताई गई है, साथ ही कहा गया है कि जब तक शिक्षकों के खाली पदों को भरा नहीं जाएगा, तब तक नीति का फायदा मिल पाना मुश्किल है। यही वजह है कि सरकार से उच्च शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों के खाली पदों को लेकर सवाल किए जाने लगे हैं। हाल ही में संसद में भी इसे लेकर सवाल पूछे गए हैं। इस बीच सरकार ने जो जानकारी दी है, उसके मुताबिक केंद्रीय स्तर के उच्च शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों के स्वीकृत पदों की कुल संख्या 42 हजार है, इनमें से 14,268 पद खाली हैं। इन संस्थानों में केंद्रीय विश्वविद्यालय,आइआइटी, टिपलआइटी, एनआइटी, आइआइएम जैसे संस्थान शामिल हैं।


शिक्षा मंत्रलय की ओर से संसद को दी गई जानकारी में बताया गया है कि मौजूदा समय में सभी 42 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में शिक्षकों के कुल स्वीकृत पदों की संख्या 18 हजार हैं, इनमें से 6,074 पद खाली हैं। आइआइटी में शिक्षकों के कुल स्वीकृत पद 10 हजार हैं, इनमें से 3,876 पद खाली हैं। टिपलआइटी में शिक्षकों के कुल स्वीकृत पदों की संख्या 919 हैं, जबकि इनमें से 461 पद खाली हैं।

Saturday, March 20, 2021

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की परीक्षा की तारीख को लेकर उपजा संशय, जानिए क्यों

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की परीक्षा की तारीख को लेकर उपजा संशय, जानिए क्यों


एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा वैसे तो 18 अप्रैल को होना प्रस्तावित है। पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने से तय समय पर परीक्षा हो सकेगी इसको लेकर संशय गहरा गया है। जिलों में उन दिनों पूरा सरकारी अमला चुनाव में व्यस्त रहेगा। 


हालांकि इस संबंध में अधिकृत निर्देश पंचायत चुनाव की अधिसूचना के बाद ही जारी होगा। परीक्षा संस्था का कहना है कि वे शासन की ओर से जारी निर्देश का अमल कर रहे हैं।