DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label यूपी बोर्ड. Show all posts
Showing posts with label यूपी बोर्ड. Show all posts

Monday, May 10, 2021

UP Board 10th, 12th Exam 2021 : यूपीएमएसपी हाईस्कूल, इंटर की परीक्षाओं पर अभी फैसला नहीं, छात्र 20 मई के बाद पा सकेंगे अपडेट

UP Board 10th, 12th Exam 2021 : यूपीएमएसपी हाईस्कूल, इंटर की परीक्षाओं पर अभी फैसला नहीं, छात्र 20 मई के बाद पा सकेंगे अपडेट

UP Board 10th, 12th Exam 2021 : उत्तरर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपीएमएसपी) यानी यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटर की बोर्ड परीक्षाओं पर अभ कोई फैसला नहीं किया गया है। 15 अप्रैल को मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ की अध्यक्षता में हुई कोरोना समीक्षा बैठक में बोर्ड परीक्षाओं को 20 मई 2021 तक स्थगित करने फैसला लिया गया था। अब 20 मई के बाद ही यूपी बोर्ड परीक्षाओं पर कुछ अपडेट मिल सकता है। इस दौरान स्कूल के शिक्षकों को वर्क फ्रॉम होम काम करने की अनुमति दी गई है। लेकिन महामारी के बढ़़ते प्रकोप के कारण जिस तरह से सीबीएसई और आईसीएससीई बोर्ड ने कक्षा 10 की परीक्षाओं को रद्द कर दिया था उससे यूपी बोर्ड 10वीं के भी कई छात्र परीक्षा रद्द होने को लेकर असमंजस में हैं।


चूंकि सरकार ने  पहले ही परीक्षाओं को 20 मई तक के लिए स्थगित किया है ऐसे में अब परीक्षाओं को लेकर नई सूचना 20 मई के बाद ही मिल सकती है। यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ल ने मीडिया को बताया कि अभी 10वीं परीक्षा को रद्द किए जाने को लेकर कोई फैसला नहीं किया गया है। 

यूपी सरकार ने राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज और शिक्षण संस्थाओं को 15 तक बंद रखने का आदेश दिया था। लेकिन अब राज्य में लॉकडान 17 मई तक होने से इस दौरान स्कूल कॉलेज भी बंद रह सकते हैं।


परीक्षाओं को लेकर चिंतित छात्र और शिक्षक-
कोरोना महारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कई छात्र और शिक्षक चिंतित हैं। उन्हें डर सता रहा है कि इस महामारी के दौर में परीक्षाएं कराने से कहीं संक्रमण छात्रों में भी न फैल जाए। वहीं यह भी चिंता है कि कहीं परीक्षाएं रद्द हो गई तो उनकी मेहनत न बेकार  चली जाए।

56 लाख छात्रों को परीक्षा का इंतजार :
यूपी बोर्ड कक्षा  इसमें से कक्षा 12 परीक्षा के लिए 29,94,312 छात्रों ने और कक्षा 10 परीक्षा के लिए 26,09,501 छात्रों ने आवेदन किया है। कुल मिलाकर 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 56,03,813 परीक्षार्थियों ने पंजीकरण कराया है।

Sunday, May 9, 2021

कोरोना ने यूपी बोर्ड को दिखाया परीक्षा में सुधार का रास्ता

कोरोना ने यूपी बोर्ड को दिखाया परीक्षा में सुधार का रास्ता


 प्रयागराज : कोरोना की दूसरी लहर ने बड़ी संख्या में लोगों की सांसें छीन ली है और हजारों लोग बीमारी से जूझ रहे हैं। विकट दौर ने परीक्षार्थियों की संख्या के हिसाब से सबसे बड़े परीक्षा संस्थान यूपी बोर्ड में सुधार करने का रास्ता भी दिखाया है। इस समय परीक्षाएं होना संभव नहीं और सीबीएसई की तरह यूपी बोर्ड हाईस्कूल के छात्र-छात्रओं को प्रमोट करने की स्थिति में नहीं है। बोर्ड के पास विद्यालय स्तर पर होने वाली वर्षभर की परीक्षाओं का रिकॉर्ड नहीं है। बोर्ड के साथ शासन भी इसका रास्ता खोज रहा है।




असल में, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने अप्रैल माह में निर्णय लिया कि इस वर्ष हाईस्कूल की परीक्षा नहीं होगी, परीक्षार्थी अगली कक्षा में प्रमोट होंगे। इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इंटर के संबंध में फैसला होना है। सीबीएसई व यूपी बोर्ड का पाठ्यक्रम लगभग समान है लेकिन, दोनों की परीक्षा प्रणाली में अंतर बरकरार है। सीबीएसई में मासिक टेस्ट के अलावा छमाही व वार्षिक परीक्षा का पूरा रिकॉर्ड ऑनलाइन है। केंद्रीय बोर्ड छात्र-छात्रओं के प्रदर्शन के आधार पर हाईस्कूल में आसानी से प्रमोट कर सकता है।

Saturday, May 8, 2021

UP बोर्ड परीक्षा पर अभी भी असमंजस की स्थिति

UP बोर्ड परीक्षा पर अभी भी असमंजस की स्थिति


 
माध्यमिक शिक्षा विभाग 20 मई तक स्थगित हाई स्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा को लेकर असमंजस की स्थिति में है। विभाग के अधिकारी का कहना है कि संक्रमण की वर्तमान स्थिति में परीक्षा कराना संभव नहीं है। ऐसे में सीबीएसई की तर्ज पर हाई स्कूल की परीक्षा को रद्द कर इंटरमीडिएट परीक्षा ही आयोजित कराने का विचार है। 


विभाग के प्रमुख सचिव अनिल कुमार का कहना है कि ऐसा सुझाव आया है, लेकिन उस पर उप मुख्यमंत्री और मुख्यमंत्री से मार्गदर्शन लेने के बाद ही निर्णय किया जाएगा।

Wednesday, May 5, 2021

यूपी बोर्ड : परीक्षा तैयारियों पर कोरोना का ग्रहण

यूपी बोर्ड : परीक्षा तैयारियों पर कोरोना का ग्रहण



प्रयागराज : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 भले ही स्थगित हैं लेकिन बोर्ड मुख्यालय व क्षेत्रीय कार्यालयों में तैयारियां अनवरत चलती हैं। इधर, कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ने का असर मुख्यालय व क्षेत्रीय कार्यालयों पर पड़ा है।






अफसर से लेकर कर्मचारी तक संक्रमण का शिकार हैं। यह नौबत इसलिए आई क्योंकि बोर्ड के अधिकांश अधिकारी व कर्मचारियों की पंचायत चुनाव में ड्यूटी लगी थी। आमतौर पर पंचायत चुनाव व अन्य निर्वाचन कार्य में यूपी बोर्ड प्रशासन नहीं लगाया जाता रहा है, क्योंकि बोर्ड में हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाओं की तैयारियां लगभग वर्ष भर चलती हैं।


 इस बार चुनिंदा अधिकारी व कर्मियों को छोड़कर अधिकांश को चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी गई। चुनाव कराकर लौटने वाले संक्रमण का शिकार हैं या फिर घरों में आइसोलेट हैं। बोर्ड के एक उप सचिव का निधन भी हो चुका है, वहीं कई उप सचिव इन दिनों संक्रमण से जूझ रहे हैं। प्रयागराज क्षेत्रीय कार्यालय के अपर सचिव कई दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं।

Sunday, May 2, 2021

UP: उत्तर प्रदेश के माध्यमिक स्कूल 15 मई तक बंद, ऑनलाइन पढ़ाई भी स्थगित

UP: उत्तर प्रदेश के माध्यमिक स्कूल 15 मई तक बंद, ऑनलाइन पढ़ाई भी स्थगित


उत्तर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा परिषद के सभी स्कूल 15 मई तक बंद कर दिए गए हैं।

School Closed In UP कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्राथमिक स्कूलों के बाद अब उत्तर प्रदेश के माध्यमिक स्कूल भी 15 मई तक बंद कर दिए गए हैं। इस दौरान छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन पढ़ाई भी स्थगित रहेगी। शिक्षक छात्र व अन्य कर्मियों को स्कूल नहीं जाना होगा।


लखनऊ । कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्राथमिक स्कूलों के बाद अब उत्तर प्रदेश के माध्यमिक स्कूल भी 15 मई तक बंद कर दिए गए हैं। इस दौरान छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन पढ़ाई भी स्थगित रहेगी। शिक्षक, छात्र व अन्य कर्मियों को स्कूल नहीं जाना होगा। माध्यमिक शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों को विभागीय कार्य घर से ही करना होगा। इन दिनों शिक्षक व कर्मचारियों को प्रशासनिक दायित्व मिलने पर पूरा करना होगा।

शासन ने कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए पहले माध्यमिक स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद करने का आदेश दिया था। 20 अप्रैल को जारी शासनादेश में निर्देश हुआ था कि शिक्षक वर्क फ्रॉम होम रहते हुए छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन पढ़ाई कराएं। शासन ने अब माध्यमिक स्कूलों को 15 मई तक बंद करने का आदेश दिया है साथ ही इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई भी स्थगित रहेगी। महामारी की वजह से शिक्षण कार्य बंद होने से शिक्षक व कर्मचारी विभागीय कार्य घर से ही पूरा करें। यह जरूर है कि जिला प्रशासन या फिर सक्षम प्राधिकारी की ओर से दिया गया प्रशासनिक कार्य करना होगा।

यूपी बोर्ड : हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षाओं पर अभी कोई निर्णय नहीं

यूपी बोर्ड : हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षाओं पर अभी कोई निर्णय नहीं



प्रयागराज : कोरोना संक्रमण निरंतर बढ़ने की वजह से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 के संबंध में अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है। जिस तरह के हालात हैं उसमें अभी किसी तरह का कार्यक्रम घोषित करने की भी उम्मीद नहीं है, क्योंकि उपमुख्यमंत्री समेत विभागीय बड़े अफसर संक्रमण की चपेट में हैं साथ ही माध्यमिक कालेजों की ऑनलाइन पढ़ाई तक बंद है। इस माह परीक्षा कार्यक्रम घोषित नहीं होगा। संकेत है कि हालात में सुधार होने पर ही इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा।


माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की परीक्षाएं पहले त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनाव और फिर कोरोना संक्रमण की वजह से स्थगित चल रही हैं। शासन ने 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं के लिए दो बार परीक्षा कार्यक्रम जारी किया था। पहली बार परीक्षाएं 24 अप्रैल से और दूसरी बार आठ मई से होना प्रस्तावित थी। हाईकोर्ट के आदेश पर पंचायत चुनाव की तारीखें घोषित होने व दूसरी बार कोविड-19 का प्रकोप बढ़ने से परीक्षाओं को स्थगित किया गया। 


उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने अप्रैल माह में कहा था कि परीक्षाओं के संबंध में मई के पहले सप्ताह में बैठक करके निर्णय लिया जाएगा। इसी बीच माध्यमिक शिक्षा के अफसर व मंत्री तक संक्रमण की गिरफ्त में आ गए, ऐसे में बैठक अभी नहीं हो रही है। कहा जा रहा है कि हालात सुधरने पर मुख्यमंत्री इस संबंध में फैसला करेंगे। परीक्षाएं अब जून के अंत या फिर जुलाई में ही संभावित हैं।


ज्ञात हो कि सीबीएसई व आइसीएसई बोर्ड भी परीक्षाएं स्थगित कर चुका है। सीबीएसई ने तो हाईस्कूल की परीक्षा रद कर दी है और इंटर की परीक्षाओं पर जून में निर्णय होगा। परीक्षार्थी सीबीएसई की तर्ज पर यूपी बोर्ड से भी निर्णय की उम्मीद लगाए थे लेकिन, दोनों का परीक्षा ढांचा अलग होने से एक जैसे निर्णय की उम्मीद नहीं है, बल्कि यूपी बोर्ड की परीक्षाएं देर से ही सही होने की उम्मीद है।