DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label यूपीटेट. Show all posts
Showing posts with label यूपीटेट. Show all posts

Friday, November 13, 2020

एक तैयारी में दे सकेंगे शिक्षक पात्रता की दो परीक्षाएं, UPTET फरवरी माह में संभावित तो CTET 31 जनवरी को

एक तैयारी में दे सकेंगे शिक्षक पात्रता की दो परीक्षाएं,  UPTET फरवरी माह में संभावित तो CTET 31 जनवरी को


प्रतियोगी परीक्षाएं वर्ष भर होती हैं और हजारों प्रतियोगी उनमें शामिल होते आ रहे हैं। नए साल में शिक्षक पात्रता की ऐसी दो परीक्षाएं एक माह के अंतराल में होने की उम्मीद है। खास बात यह है कि प्रतियोगियों को एक ही तैयारी में दोनों परीक्षाएं देने का अवसर मिलेगा। संयोग से दोनों परीक्षाओं में अभ्यर्थियों की तादाद लाखों में होती है। उनमें से एक का कार्यक्रम घोषित है और दूसरे का शासनादेश जारी हो गया है। परीक्षा तारीख इसी माह घोषित होगी।


राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद यानी एनसीटीई का निर्देश है कि वर्ष में दो बार शिक्षक पात्रता परीक्षा कराई जाए। केंद्र सरकार पिछले वर्ष तक छह-छह माह के अंतराल पर दो परीक्षाएं कराती आ रही है, वहीं उत्तर प्रदेश में यह परीक्षा एक बार ही आयोजित हो रही है। सीटीईटी यानी केंद्र की परीक्षा पांच जुलाई को होना प्रस्तावित था लेकिन, कोरोना संक्रमण की वजह से नहीं हो सकी थी। अब यह परीक्षा 31 जनवरी 2021 को कराने की तारीख तय है। देशभर में परीक्षा केंद्र के शहरों की संख्या 112 से बढ़ाकर 135 की गई है। अभ्यर्थियों से केंद्र बदलने के आवेदन इन दिनों लिए जा रहे हैं।


उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) 2020 का गुरुवार को शासनादेश जारी हो गया है। यह परीक्षा अब फरवरी माह के अंत में संभावित है। शासन ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव से विस्तृत प्रस्ताव मांगा है। परीक्षा प्रदेश के सभी जिलों में कराई जानी है कड़े निर्देश हैं कि उन्हीं राजकीय व एडेड कालेजों को केंद्र बनाया जाए, जिनकी छवि साफ हो। इस बार भी आवेदकों की संख्या करीब 15 लाख के आसपास हो सकती है। सचिव जल्द ही परीक्षा तारीख और आनलाइन आवेदन लेने का कार्यक्रम जारी करेंगे।


यह परीक्षा अहम क्यों : सभी अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण करना अनिवार्य है, तभी वे प्राथमिक स्तर की शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में प्रतिभाग कर सकते हैं। इसमें सामान्य व आरक्षित वर्ग के लिए अलग-अलग कटऑफ अंक तय हैं। हालांकि हर बार परीक्षा में उत्तीर्ण होने वालों की तादाद काफी कम रहती है।


दो स्तर की होती है परीक्षा
टीईटी प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्तर की होती है। दोनों परीक्षाओं का आयोजन एक ही दिन दो पालियों में होता रहा है। अभ्यर्थी दोनों के लिए आवेदन कर सकते हैं। पहले में पाठ्यक्रम इंटर स्तर का ही है।

Tuesday, August 11, 2020

टीईटी फेल को भी 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा करा दिया पास, एसटीएफ की जांच में सामने आई बात

टीईटी फेल वालों को भी 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा करा दिया पास, एसटीएफ की जांच में सामने आई बात

 
प्रयागराज। 69 हजार शिक्षक भर्ती परीक्षा धांधली मामले में जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, वैस-वैसे चौंकाने वाली बातें सामने आ रही हैं। पता चला है कि नकल माफिया गिरोह ने ऐसे अभ्यर्थियों को भी परीक्षा पास करा दी, जो टीईटी तक में उत्तीर्ण नहीं हो सके। गिरोह के कब्जे से मिली डायरी में लिखे नाम वाले अभ्यर्थियों से पूछताछ में यह बात सामने आई है।


शिक्षक भर्ती परीक्षा धांधली मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजे गए नकल मफिया गिरोह सरगना केएल पटेल समेत अन्य के कब्जे से डायरी बरामद हुई थी। इसमें कई अभ्यर्थियों के नाम थे जो न सिर्फ शिक्षक भर्ती परीक्षा में पास हुए थे बल्कि उन्होंने अच्छे खासे नंबर भी हासिल किए थे। विवेचना के दौरान एसटीएफ ने इन अभ्यर्थियों की जांच पड़ताल शुरू की तो चौंकाने वाली बात सामने आई। पता चला कि इनमें ऐसे भी अभ्यर्थी शामिल थे, जिन्होंने शिक्षक भर्ती परीक्षा में तो पासिंग नंबर आसानी से हासिल कर लिए लेकिन वह टीईटी तक पास नहीं कर पाए।



यह अभ्यर्थी नकल माफिया गिरोह के संपर्क में थे और गिरोह की मदद से ही उन्होंने परीक्षा पास की। हालांकि बेसिक जानकारी न होने के कारण वह टीईटी उत्तीर्ण नहीं कर सके। एसटीएफ सूत्रों का कहना है कि डायरी में एक महिला अभ्यर्थी का भी नाम था जो परीक्षा में उत्तीर्ण थी। लेकिन जब उससे पूछताछ की गई तो पता चला कि वह टीईटी में पास नहीं हो सकी।


तीन अभ्यर्थी भेजे जा चुके हैं जेल
शिक्षक भर्ती परीक्षा मामले में अब तक कुल 14 आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं। इनमें से तीन अभ्यर्थी भी हैं। दो अभ्यर्थी धर्मेंद्र पटेल व विनोद कुमार को सोरांव पुलिस ने जेल भेजा था जबकि बलवंत कुमार नाम के एक अभ्यर्थी को हाल ही में एसटीएफ ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था। सूत्रों की मानें तो गिरोह के संपर्क में रहने वाले कई अन्य अभ्यर्थी भी एसटीएफ के रडार पर हैं।

Tuesday, February 11, 2020

UPTET रिजल्ट में गड़बड़ी पर परीक्षा नियामक का अभ्यर्थियों ने किया घेराव

UPTET रिजल्ट में गड़बड़ी पर परीक्षा नियामक का अभ्यर्थियों ने किया घेराव।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, January 9, 2020

UPTET में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़, प्रदेशभर में पकड़े गए सॉल्वर

UPTET में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़, प्रदेशभर में पकड़े गए सॉल्वर।
























 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, May 21, 2019

बस अड्डे पर बिखरे पड़े शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रमाण पत्रों की फोटो वायरल, सचिव परीक्षा नियामक ने कहा जानकारी नही


बस अड्डे पर बिखरे पड़े शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रमाण पत्रों की फोटो वायरल, सचिव परीक्षा नियामक ने कहा जानकारी नही 




Monday, November 19, 2018

UPTET 2018 : गणित व बाल मनोविज्ञान के प्रश्नों ने उलझाया,  परीक्षा केंद्रों पर रही पुख्ता व्यवस्था

UPTET 2018 : गणित व बाल मनोविज्ञान के प्रश्नों ने उलझाया,  परीक्षा केंद्रों पर रही पुख्ता व्यवस्था। 


UPTET 2018 : पूरे सूबे में 30 से अधिक पकड़े गए मुन्ना भाई, कड़ी व्यवस्था में भी दूसरे की जगह परीक्षा देने और ओएमआर शीट लेकर जाने जैसी हुई कई घटनाएं

UPTET 2018 : पूरे सूबे में 30 से अधिक पकड़े गए मुन्ना भाई, कड़ी व्यवस्था में भी दूसरे की जगह परीक्षा देने और ओएमआर शीट लेकर जाने जैसी हुई कई घटनाएं।


Wednesday, November 14, 2018

UPTET परीक्षा की तैयारियों के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग आज,  ये हैं जरूरी दस्तावेज जो साथ लेकर जाना है आवश्यक

UPTET परीक्षा की तैयारियों के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग आज,  ये हैं जरूरी दस्तावेज जो साथ लेकर जाना है आवश्यक। 


अभ्यर्थी फ़ोन कर पूछ रहे स्कूल की लोकेशन, टीईटी परीक्षा केंद्रों के प्रधानाचार्यों का हुए हलाकान

अभ्यर्थी फ़ोन कर पूछ रहे स्कूल की लोकेशन, टीईटी परीक्षा केंद्रों के प्रधानाचार्यों का हुए हलाकान। 


Tuesday, November 13, 2018

UPTET : साइबर कैफे वालों का खेल, ठगे गए अभ्यर्थी, नही आए प्रवेशपत्र, जांच में पकड़ी गई गड़बड़ी

साइबर कैफे वालों का खेल, ठगे गए अभ्यर्थी, नही आए प्रवेशपत्र, जांच में पकड़ी गई गड़बड़ी


Saturday, November 3, 2018

आठ लाख ने डाउनलोड किये टीईटी के प्रवेश पत्र, 18 नवम्बर को परीक्षा की तैयारियों में जुटे अभ्यर्थी

आठ लाख ने डाउनलोड किये टीईटी के प्रवेश पत्र, 18 नवम्बर को परीक्षा की तैयारियों में जुटे अभ्यर्थी।


Wednesday, October 24, 2018

प्रयागराज सहित सात जिलों में अटका केंद्र निर्धारण, यूपी टीईटी 2018 के लिए परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी

प्रयागराज सहित सात जिलों में अटका केंद्र निर्धारण, यूपी टीईटी 2018 के लिए परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी


प्रयागराज : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 यानी यूपी टीईटी की तारीख का एलान मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुआ है इसके बाद भी परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी है। प्रदेश के अधिकांश जिलों ने जिलाधिकारी के अनुमोदन को भेजी गई परीक्षा केंद्रों की सूची परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय को भेजी है लेकिन, प्रयागराज सहित सात जिले कुल केंद्रों का अब तक नाम नहीं बता सके हैं। इससे प्रवेशपत्र जारी करने की प्रक्रिया में विलंब हो रहा है।


यूपी टीईटी आगामी 18 नवंबर को होना प्रस्तावित है। इसमें करीब 18 लाख से अधिक अभ्यर्थी हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने 17 अक्टूबर को ही सभी जिलों को अभ्यर्थियों की सूची भेजकर 22 अक्टूबर तक परीक्षा केंद्रों की सूची भेजने का निर्देश दिया था। इसके बाद भी कई जिले मंगलवार को भी अभ्यर्थियों की संख्या पूछते रहे। तमाम जिला विद्यालय निरीक्षकों ने कहा कि केंद्रों की लिस्ट जिलाधिकारी के अनुमोदन को भेजी गई है, अभी फाइनल संख्या कैसे बता सकते हैं।


वहीं, आगरा, प्रयागराज, गाजीपुर, कौशांबी, रायबरेली, शाहजहांपुर व सिद्धार्थनगर के जिला विद्यालय निरीक्षक केंद्रों की अनुमानित संख्या तक नहीं बता सके। सचिव ने कहा है कि अब वह बुधवार को केंद्र फाइनल करके सूची भेजेंगे, जो जिले बुधवार को भी केंद्रों की सूची नहीं भेजेंगे, उनकी लिस्ट शासन को भेजी जाएगी। ज्ञात हो कि 30 अक्टूबर तक वेबसाइट पर अभ्यर्थियों के प्रवेशपत्र अपलोड करने की समय सीमा तय है।

Friday, October 19, 2018

अभ्यर्थी अधिक होने और मानक कठोर होने से अभी तक टीईटी के केंद्र अभी तक तय नहीं हो पाए, कामकाज प्रभावित न हो इसलिए छावनी बना परीक्षा नियामक कार्यालय

अभ्यर्थी अधिक होने और मानक कठोर होने से अभी तक टीईटी के केंद्र अभी तक तय नहीं हो पाए, कामकाज प्रभावित न हो इसलिए छावनी बना परीक्षा नियामक कार्यालय। 


Friday, October 12, 2018

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में खूब हुआ हंगामा, यूपीटीईटी से पहले परीक्षा से इंकार से खफा प्रशिक्षुओं ने बनाया सचिव को बंधक

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में खूब हुआ हंगामा, यूपीटीईटी से पहले परीक्षा से इंकार से खफा प्रशिक्षुओं ने बनाया सचिव को बंधक।


इलाहाबाद : बीटीसी 2015 चौथे सेमेस्टर की परीक्षा 20 अक्टूबर से पहले कराने की मांग कर रहे सैकड़ों प्रशिक्षुओं ने गुरुवार को खूब हंगामा काटा। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी समेत अन्य कर्मचारियों को दोपहर से देर रात तक बंधक बनाए रखा, कार्यालय के सभी गेट पर डेरा जमाकर नारेबाजी की।  सचिव ने यूपीटीईटी से पहले परीक्षा कराने से इन्कार किया तो दोनों पक्षों में तीखी नोकझोंक हुई। आंदोलनकारियों को तितर बितर करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा।

गौरतलब है कि आठ अक्टूबर को कौशांबी में प्रश्नपत्र लीक होने पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने बीटीसी 2015 चौथे सेमेस्टर की परीक्षा निरस्त कर दी थी। इससे बीटीसी प्रशिक्षु आगामी शिक्षक भर्ती में शामिल नहीं हो पाएंगे। दूसरे दिन नौ अक्टूबर से ही वे धरने पर बैठ गए जो गुरुवार तक जारी रहा।

सचिव चतुर्वेदी कार्यालय पहुंचे तो आंदोलन कर रहे प्रशिक्षुओं का प्रतिनिधिमंडल उनसे मिलने पहुंचा। दो घंटे तक हुई बातचीत में सचिव ने मांग के आधार पर परीक्षा कराने में असमर्थता जताई। सैकड़ों प्रशिक्षुओं ने कार्यालय के सभी गेट पर डेरा जमाकर कर्मचारियों व अधिकारियों का रास्ता रोक दिया। हंगामा बढ़ने पर पुलिस ने लाठी पटक कर शांत कराया। देर रात तक कार्यालय पर दोनों पक्षों में पुलिस की मौजूदगी में ही तकरार चलती रही। 

■ यूपीटीईटी पर निर्भर रहेगी परीक्षा : देर रात पुलिस क्षेत्रधिकारी आलोक मिश्र ने सचिव की प्रशिक्षुओं से दूसरे दौर में वार्ता कराई तो बात कुछ बनी। सचिव ने आश्वासन दिया कि यूपीटीईटी की तारीख चार नवंबर प्रस्तावित है। शासन अगर इस तारीख को आगे बढ़ाता है तो बीटीसी की परीक्षा उससे पहले कराई जा सकती है। बोले 15 अक्टूबर को वह इसकी जानकारी देंगे कि परीक्षा कब होगी। इस पर प्रशिक्षु मान गए। बीटीसी संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सर्वेश प्रताप सिंह, अभिषेक सिंह, शशांक पांडेय ‘सत्यम’, अभिषेक सिंह, निखिल यादव आदि ने कहा है कि सचिव के आश्वासन पर धरना स्थगित कर रहे हैं।



बीटीसी 2015 की परीक्षा के बाद होगी यूपीटीईटी, देर रात तक परीक्षा नियामक कार्यालय में बनी सहमति। 


Monday, October 1, 2018

यूपी टीईटी के लिए आवेदन न कर पाने से अभ्यर्थी नाराज,  आज करेंगे नियामक परीक्षा प्राधिकारी कार्यालय के सामने धरना और प्रदर्शन

यूपी टीईटी के लिए आवेदन न कर पाने से अभ्यर्थी नाराज,  आज करेंगे नियामक परीक्षा प्राधिकारी कार्यालय के सामने धरना और प्रदर्शन। 

Tuesday, September 25, 2018

सीतापुर : जिले के सैकड़ों शिक्षकों की नौकरी पर संकट, अंतिम सेमेस्टर से पूर्व टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने का मामला, सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए सक्रिय हुए शिक्षकों के कई गुट

सीतापुर : जिले के सैकड़ों शिक्षकों की नौकरी पर संकट, अंतिम सेमेस्टर से पूर्व टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने का मामला, सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए सक्रिय हुए शिक्षकों के कई गुट।


Friday, December 15, 2017

यूपीटेट 2017 का परिणाम घोषित, प्राथमिक स्तर पर 17.34 जबकि उच्च प्राथमिक स्तर पर सिर्फ 7.88 फीसदी अभ्यर्थी हुए पास

यूपीटेट 2017 का परिणाम घोषित, प्राथमिक स्तर पर 17.34 जबकि उच्च प्राथमिक स्तर पर सिर्फ 7.88 फीसदी अभ्यर्थी हुए पास।


उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2017 का परिणाम वेबसाइट www.upbasiceduboard.gov.in  पर जारी हो गया है।  रिजल्ट से जुड़ी औपचारिकता पूरी करने के बाद वेबसाइट पर जारी किया गया है। रिजल्ट से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए हेल्पलाइन नम्बर  0532-2466761,
0532-2466769 पर यूपी परीक्षा नियामक प्राधिकारी इलाहबाद से भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा uptethelpline@gmail.com पर भी इमेल कर सकते हैं।

*परीक्षा का परिणाम* वैसे तो 30 नवम्बर तक ही जारी होना था लेकिन हाईकोर्ट में आधा दर्जन से अधिक प्रश्नों के उत्तर पर याचिकाएं होने के कारण रिजल्ट समय से जारी नहीं हो सका। विशेष विशेषज्ञों की रिपोर्ट पर प्राथमिक स्तर के तीन प्रश्नों के चारों विकल्प गलत होने पर उन्हें हल करने वाले सभी अभ्यर्थियों को एक-एक नंबर देने का निर्णय लिया गया।

*जबकि* अंग्रेजी के एक प्रश्न के उत्तर में संशोधन किया गया है। अनिवार्य विषय हिन्दी में दो विकल्प को सही माना गया है। इस प्रश्न में दोनों विकल्पों का गोला भरने वाले अभ्यर्थियों को एक-एक नंबर दिए जाएंगे। इसके अलावा कई प्रश्नों के उत्तर पर याचिकाएं हाईकोर्ट में विचाराधीन हैं।

*15 अक्तूबर को* प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूल स्तर की परीक्षा क्रमश: दो पालियों सुबह 10 से 12.30 और 2.30 से 5 बजे तक हुई थी। पहली पाली में 349192 अभ्यर्थियों के लिए 570 व दूसरी पाली में 627568 अभ्यर्थियों के लिए 1064 केंद्र बनाये गए थे। इस प्रकार दोनों स्तर की परीक्षा के लिए पंजीकृत 976760 अभ्यर्थियों के लिए कुल 1634 केंद्र बनाए गए थे।

परीक्षा परिणाम देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Tuesday, December 5, 2017

संबद्ध जूनियर विद्यालयों में पढ़ा रहे हैं एलटी ग्रेड शिक्षक, सरकार ने भर्ती में टीईटी उत्तीर्ण होने की अनिवार्यता तो जोड़ी लेकिन भर्ती करने का आदेश नहीं दिया

इलाहाबाद : प्रदेश के संबद्ध जूनियर विद्यालयों में एलटी ग्रेड शिक्षक जैसे-तैसे पढ़ा रहे हैं। जूनियर विद्यालयों के रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती नहीं हो रही है। शासन ने इस भर्ती में टीईटी उत्तीर्ण होने की अनिवार्यता जोड़ी है, लेकिन भर्ती करने का आदेश नहीं दिया है, जबकि लाखों अर्ह बेरोजगार युवा भटक रहे हैं।


ऐसे में यह भर्ती शुरू करने की मांग मुख्यमंत्री से की गई है। शासन ने आठ अप्रैल 2013 को आदेशित किया गया है कि प्रदेश के माध्यमिक विद्यालयों से संबद्ध प्राइमरी अनुभाग में रिक्त पदों पर शिक्षकों की भर्ती में शिक्षक पात्रता परीक्षा को अनिवार्य किया जाता है उसी के अनुरूप भर्तियां की जाएं, जबकि प्रदेश के समस्त परिषदीय व राजकीय माध्यमिक व सहायता प्रात अशासकीय माध्यमिक विद्यालय व इंटर कॉलेजों से संबद्ध जूनियर हाईस्कूल अनुभाग (कक्षा 1 से 8) तक शिक्षकों की नियुक्तियों में राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद नई दिल्ली की ओर से समय समय पर न्यूनतम योग्यताएं निर्धारित की गई है।