DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label यूपीटेट. Show all posts
Showing posts with label यूपीटेट. Show all posts

Thursday, January 9, 2020

UPTET में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़, प्रदेशभर में पकड़े गए सॉल्वर

UPTET में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़, प्रदेशभर में पकड़े गए सॉल्वर।
























 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, May 21, 2019

बस अड्डे पर बिखरे पड़े शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रमाण पत्रों की फोटो वायरल, सचिव परीक्षा नियामक ने कहा जानकारी नही


बस अड्डे पर बिखरे पड़े शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रमाण पत्रों की फोटो वायरल, सचिव परीक्षा नियामक ने कहा जानकारी नही 




Monday, November 19, 2018

UPTET 2018 : गणित व बाल मनोविज्ञान के प्रश्नों ने उलझाया,  परीक्षा केंद्रों पर रही पुख्ता व्यवस्था

UPTET 2018 : गणित व बाल मनोविज्ञान के प्रश्नों ने उलझाया,  परीक्षा केंद्रों पर रही पुख्ता व्यवस्था। 


UPTET 2018 : पूरे सूबे में 30 से अधिक पकड़े गए मुन्ना भाई, कड़ी व्यवस्था में भी दूसरे की जगह परीक्षा देने और ओएमआर शीट लेकर जाने जैसी हुई कई घटनाएं

UPTET 2018 : पूरे सूबे में 30 से अधिक पकड़े गए मुन्ना भाई, कड़ी व्यवस्था में भी दूसरे की जगह परीक्षा देने और ओएमआर शीट लेकर जाने जैसी हुई कई घटनाएं।


Wednesday, November 14, 2018

UPTET परीक्षा की तैयारियों के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग आज,  ये हैं जरूरी दस्तावेज जो साथ लेकर जाना है आवश्यक

UPTET परीक्षा की तैयारियों के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग आज,  ये हैं जरूरी दस्तावेज जो साथ लेकर जाना है आवश्यक। 


अभ्यर्थी फ़ोन कर पूछ रहे स्कूल की लोकेशन, टीईटी परीक्षा केंद्रों के प्रधानाचार्यों का हुए हलाकान

अभ्यर्थी फ़ोन कर पूछ रहे स्कूल की लोकेशन, टीईटी परीक्षा केंद्रों के प्रधानाचार्यों का हुए हलाकान। 


Tuesday, November 13, 2018

UPTET : साइबर कैफे वालों का खेल, ठगे गए अभ्यर्थी, नही आए प्रवेशपत्र, जांच में पकड़ी गई गड़बड़ी

साइबर कैफे वालों का खेल, ठगे गए अभ्यर्थी, नही आए प्रवेशपत्र, जांच में पकड़ी गई गड़बड़ी


Saturday, November 3, 2018

आठ लाख ने डाउनलोड किये टीईटी के प्रवेश पत्र, 18 नवम्बर को परीक्षा की तैयारियों में जुटे अभ्यर्थी

आठ लाख ने डाउनलोड किये टीईटी के प्रवेश पत्र, 18 नवम्बर को परीक्षा की तैयारियों में जुटे अभ्यर्थी।


Wednesday, October 24, 2018

प्रयागराज सहित सात जिलों में अटका केंद्र निर्धारण, यूपी टीईटी 2018 के लिए परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी

प्रयागराज सहित सात जिलों में अटका केंद्र निर्धारण, यूपी टीईटी 2018 के लिए परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी


प्रयागराज : उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 यानी यूपी टीईटी की तारीख का एलान मुख्यमंत्री के निर्देश पर हुआ है इसके बाद भी परीक्षा केंद्र तय करने में लेटलतीफी जारी है। प्रदेश के अधिकांश जिलों ने जिलाधिकारी के अनुमोदन को भेजी गई परीक्षा केंद्रों की सूची परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय को भेजी है लेकिन, प्रयागराज सहित सात जिले कुल केंद्रों का अब तक नाम नहीं बता सके हैं। इससे प्रवेशपत्र जारी करने की प्रक्रिया में विलंब हो रहा है।


यूपी टीईटी आगामी 18 नवंबर को होना प्रस्तावित है। इसमें करीब 18 लाख से अधिक अभ्यर्थी हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने 17 अक्टूबर को ही सभी जिलों को अभ्यर्थियों की सूची भेजकर 22 अक्टूबर तक परीक्षा केंद्रों की सूची भेजने का निर्देश दिया था। इसके बाद भी कई जिले मंगलवार को भी अभ्यर्थियों की संख्या पूछते रहे। तमाम जिला विद्यालय निरीक्षकों ने कहा कि केंद्रों की लिस्ट जिलाधिकारी के अनुमोदन को भेजी गई है, अभी फाइनल संख्या कैसे बता सकते हैं।


वहीं, आगरा, प्रयागराज, गाजीपुर, कौशांबी, रायबरेली, शाहजहांपुर व सिद्धार्थनगर के जिला विद्यालय निरीक्षक केंद्रों की अनुमानित संख्या तक नहीं बता सके। सचिव ने कहा है कि अब वह बुधवार को केंद्र फाइनल करके सूची भेजेंगे, जो जिले बुधवार को भी केंद्रों की सूची नहीं भेजेंगे, उनकी लिस्ट शासन को भेजी जाएगी। ज्ञात हो कि 30 अक्टूबर तक वेबसाइट पर अभ्यर्थियों के प्रवेशपत्र अपलोड करने की समय सीमा तय है।

Friday, October 19, 2018

अभ्यर्थी अधिक होने और मानक कठोर होने से अभी तक टीईटी के केंद्र अभी तक तय नहीं हो पाए, कामकाज प्रभावित न हो इसलिए छावनी बना परीक्षा नियामक कार्यालय

अभ्यर्थी अधिक होने और मानक कठोर होने से अभी तक टीईटी के केंद्र अभी तक तय नहीं हो पाए, कामकाज प्रभावित न हो इसलिए छावनी बना परीक्षा नियामक कार्यालय। 


Friday, October 12, 2018

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में खूब हुआ हंगामा, यूपीटीईटी से पहले परीक्षा से इंकार से खफा प्रशिक्षुओं ने बनाया सचिव को बंधक

परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में खूब हुआ हंगामा, यूपीटीईटी से पहले परीक्षा से इंकार से खफा प्रशिक्षुओं ने बनाया सचिव को बंधक।


इलाहाबाद : बीटीसी 2015 चौथे सेमेस्टर की परीक्षा 20 अक्टूबर से पहले कराने की मांग कर रहे सैकड़ों प्रशिक्षुओं ने गुरुवार को खूब हंगामा काटा। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी समेत अन्य कर्मचारियों को दोपहर से देर रात तक बंधक बनाए रखा, कार्यालय के सभी गेट पर डेरा जमाकर नारेबाजी की।  सचिव ने यूपीटीईटी से पहले परीक्षा कराने से इन्कार किया तो दोनों पक्षों में तीखी नोकझोंक हुई। आंदोलनकारियों को तितर बितर करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा।

गौरतलब है कि आठ अक्टूबर को कौशांबी में प्रश्नपत्र लीक होने पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने बीटीसी 2015 चौथे सेमेस्टर की परीक्षा निरस्त कर दी थी। इससे बीटीसी प्रशिक्षु आगामी शिक्षक भर्ती में शामिल नहीं हो पाएंगे। दूसरे दिन नौ अक्टूबर से ही वे धरने पर बैठ गए जो गुरुवार तक जारी रहा।

सचिव चतुर्वेदी कार्यालय पहुंचे तो आंदोलन कर रहे प्रशिक्षुओं का प्रतिनिधिमंडल उनसे मिलने पहुंचा। दो घंटे तक हुई बातचीत में सचिव ने मांग के आधार पर परीक्षा कराने में असमर्थता जताई। सैकड़ों प्रशिक्षुओं ने कार्यालय के सभी गेट पर डेरा जमाकर कर्मचारियों व अधिकारियों का रास्ता रोक दिया। हंगामा बढ़ने पर पुलिस ने लाठी पटक कर शांत कराया। देर रात तक कार्यालय पर दोनों पक्षों में पुलिस की मौजूदगी में ही तकरार चलती रही। 

■ यूपीटीईटी पर निर्भर रहेगी परीक्षा : देर रात पुलिस क्षेत्रधिकारी आलोक मिश्र ने सचिव की प्रशिक्षुओं से दूसरे दौर में वार्ता कराई तो बात कुछ बनी। सचिव ने आश्वासन दिया कि यूपीटीईटी की तारीख चार नवंबर प्रस्तावित है। शासन अगर इस तारीख को आगे बढ़ाता है तो बीटीसी की परीक्षा उससे पहले कराई जा सकती है। बोले 15 अक्टूबर को वह इसकी जानकारी देंगे कि परीक्षा कब होगी। इस पर प्रशिक्षु मान गए। बीटीसी संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सर्वेश प्रताप सिंह, अभिषेक सिंह, शशांक पांडेय ‘सत्यम’, अभिषेक सिंह, निखिल यादव आदि ने कहा है कि सचिव के आश्वासन पर धरना स्थगित कर रहे हैं।



बीटीसी 2015 की परीक्षा के बाद होगी यूपीटीईटी, देर रात तक परीक्षा नियामक कार्यालय में बनी सहमति। 


Monday, October 1, 2018

यूपी टीईटी के लिए आवेदन न कर पाने से अभ्यर्थी नाराज,  आज करेंगे नियामक परीक्षा प्राधिकारी कार्यालय के सामने धरना और प्रदर्शन

यूपी टीईटी के लिए आवेदन न कर पाने से अभ्यर्थी नाराज,  आज करेंगे नियामक परीक्षा प्राधिकारी कार्यालय के सामने धरना और प्रदर्शन। 

Tuesday, September 25, 2018

सीतापुर : जिले के सैकड़ों शिक्षकों की नौकरी पर संकट, अंतिम सेमेस्टर से पूर्व टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने का मामला, सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए सक्रिय हुए शिक्षकों के कई गुट

सीतापुर : जिले के सैकड़ों शिक्षकों की नौकरी पर संकट, अंतिम सेमेस्टर से पूर्व टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने का मामला, सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए सक्रिय हुए शिक्षकों के कई गुट।


Friday, December 15, 2017

यूपीटेट 2017 का परिणाम घोषित, प्राथमिक स्तर पर 17.34 जबकि उच्च प्राथमिक स्तर पर सिर्फ 7.88 फीसदी अभ्यर्थी हुए पास

यूपीटेट 2017 का परिणाम घोषित, प्राथमिक स्तर पर 17.34 जबकि उच्च प्राथमिक स्तर पर सिर्फ 7.88 फीसदी अभ्यर्थी हुए पास।


उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2017 का परिणाम वेबसाइट www.upbasiceduboard.gov.in  पर जारी हो गया है।  रिजल्ट से जुड़ी औपचारिकता पूरी करने के बाद वेबसाइट पर जारी किया गया है। रिजल्ट से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए हेल्पलाइन नम्बर  0532-2466761,
0532-2466769 पर यूपी परीक्षा नियामक प्राधिकारी इलाहबाद से भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा uptethelpline@gmail.com पर भी इमेल कर सकते हैं।

*परीक्षा का परिणाम* वैसे तो 30 नवम्बर तक ही जारी होना था लेकिन हाईकोर्ट में आधा दर्जन से अधिक प्रश्नों के उत्तर पर याचिकाएं होने के कारण रिजल्ट समय से जारी नहीं हो सका। विशेष विशेषज्ञों की रिपोर्ट पर प्राथमिक स्तर के तीन प्रश्नों के चारों विकल्प गलत होने पर उन्हें हल करने वाले सभी अभ्यर्थियों को एक-एक नंबर देने का निर्णय लिया गया।

*जबकि* अंग्रेजी के एक प्रश्न के उत्तर में संशोधन किया गया है। अनिवार्य विषय हिन्दी में दो विकल्प को सही माना गया है। इस प्रश्न में दोनों विकल्पों का गोला भरने वाले अभ्यर्थियों को एक-एक नंबर दिए जाएंगे। इसके अलावा कई प्रश्नों के उत्तर पर याचिकाएं हाईकोर्ट में विचाराधीन हैं।

*15 अक्तूबर को* प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूल स्तर की परीक्षा क्रमश: दो पालियों सुबह 10 से 12.30 और 2.30 से 5 बजे तक हुई थी। पहली पाली में 349192 अभ्यर्थियों के लिए 570 व दूसरी पाली में 627568 अभ्यर्थियों के लिए 1064 केंद्र बनाये गए थे। इस प्रकार दोनों स्तर की परीक्षा के लिए पंजीकृत 976760 अभ्यर्थियों के लिए कुल 1634 केंद्र बनाए गए थे।

परीक्षा परिणाम देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Tuesday, December 5, 2017

संबद्ध जूनियर विद्यालयों में पढ़ा रहे हैं एलटी ग्रेड शिक्षक, सरकार ने भर्ती में टीईटी उत्तीर्ण होने की अनिवार्यता तो जोड़ी लेकिन भर्ती करने का आदेश नहीं दिया

इलाहाबाद : प्रदेश के संबद्ध जूनियर विद्यालयों में एलटी ग्रेड शिक्षक जैसे-तैसे पढ़ा रहे हैं। जूनियर विद्यालयों के रिक्त शिक्षकों के पदों पर भर्ती नहीं हो रही है। शासन ने इस भर्ती में टीईटी उत्तीर्ण होने की अनिवार्यता जोड़ी है, लेकिन भर्ती करने का आदेश नहीं दिया है, जबकि लाखों अर्ह बेरोजगार युवा भटक रहे हैं।


ऐसे में यह भर्ती शुरू करने की मांग मुख्यमंत्री से की गई है। शासन ने आठ अप्रैल 2013 को आदेशित किया गया है कि प्रदेश के माध्यमिक विद्यालयों से संबद्ध प्राइमरी अनुभाग में रिक्त पदों पर शिक्षकों की भर्ती में शिक्षक पात्रता परीक्षा को अनिवार्य किया जाता है उसी के अनुरूप भर्तियां की जाएं, जबकि प्रदेश के समस्त परिषदीय व राजकीय माध्यमिक व सहायता प्रात अशासकीय माध्यमिक विद्यालय व इंटर कॉलेजों से संबद्ध जूनियर हाईस्कूल अनुभाग (कक्षा 1 से 8) तक शिक्षकों की नियुक्तियों में राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद नई दिल्ली की ओर से समय समय पर न्यूनतम योग्यताएं निर्धारित की गई है।

Saturday, October 14, 2017

नकल करते पाए गए तो होंगे हमेशा के लिए ब्लैकलिस्टेड, कभी नहीं दे पाएंगे टीईटी, समय के बाद आने वाले परीक्षार्थी नहीं दे पाएंगे परीक्षा

फतेहपुर : नकल करते पाए गए तो होंगे हमेशा के लिए ब्लैकलिस्टेड, कभी नहीं दे पाएंगे टीईटी, समय के बाद आने वाले परीक्षार्थी नहीं दे पाएंगे परीक्षा।


टीईटी परीक्षा से पहले ही स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) ने साल्वर गैंग का भंडाफोड़ करते हुए दो ऑपरेटर को किया गिरफ्तार, कान में इयरप्लग के जरिये कराते थे नकल

■ एसटीएफ ने दो ऑपरेटर दबोचे, इलेक्ट्रानिक डिवाइस बरामद
■ व्यापमं घोटाले का अभियुक्त सरगना,
■ तलाश में जुटी एसटीएफएसटीएफ के हत्थे चढ़े टीईटी पेपर साल्व करने वाले आरोपी
■ ओएमआर में गलत सूचना अंकन पर मूल्यांकन नहीं

इलाहाबाद : अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) से पहले स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) ने साल्वर गैंग का भंडाफोड़ करते हुए दो ऑपरेटर को गिरफ्तार कर लिया है। एसटीएफ की लखनऊ टीम ने बहरिया डिहवा निवासी संदीप पटेल पुत्र ओमकार नाथ व मऊआइमा किराव के रहने वाले शिवजी पटेल पुत्र राम अभिलाष को जार्जटाउन थाना क्षेत्र के हासिमपुर चौराहे से पकड़ा। इनके कब्जे से तीन मोबाइल, 31 इलेक्ट्रानिक डिवाइस, 25 डिवाइस स्टीकर, 28 ब्लूटूथ डिवाइस, सात सिम और करीब 10 हजार रुपये बरामद हुए हैं।

एसटीएफ के एडिशनल एसपी लखनऊ त्रिवेणी सिंह ने बताया कि गिरोह का सरगना इलाहाबाद के ही सुरेंद्र पाल व केएल पटेल हैं, जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में धोखाधड़ी करके अवैध वसूली करते हैं। उन्होंने बताया कि केएल पटेल मध्य प्रदेश के चर्चित व्यापमं घोटाले में भी जेल जा चुका है। गिरफ्त में आए अभियुक्तों से पूछताछ में यह भी पता चला है कि डिवाइस की सप्लाई करने वाला गैंग दिल्ली का है, जिसके बारे में एसटीएफ जानकारी जुटा रही है। साथ ही गिरोह में शामिल अन्य युवकों की तलाश में छापेमारी कर रही है। टीईटी परीक्षा 15 अक्टूबर को होनी है और उससे पहले ही एसटीएफ ने परीक्षा को प्रभावित करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ कर दिया।

अभ्यर्थियों की रख लेते हैं मार्कशीट : एडिशनल एसपी ने बताया कि गिरोह के सदस्य काफी शातिर हैं। वह परीक्षार्थियों को उत्तीर्ण कराने का प्रलोभन देते हैं और उनसे पैसा लेने के बजाए ओरिजनल मार्कशीट अपने पास रख लेते हैं। फिर परीक्षा पास करने के बाद उनसे पैसा वसूलते हैं। उन्होंने बताया कि साल्वर परीक्षा के दौरान स्पाई डिवाइस का इस्तेमाल करते हैं। साथ ही कान में इयर प्लग यानी वायरलेस इयरफोन का इस्तेमाल करते हैं, जो आवाज नहीं करता है। परीक्षा शुरू होते ऑपरेटर व साल्वर के इलेक्ट्रानिक उपकरण कनेक्ट हो जाते हैं। इसके बाद दो घंटे का पेपर 15 से 20 मिनट में हल कर देते हैं।