DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts

Tuesday, May 11, 2021

ललितपुर : शिक्षकों को नहीं मिल रहा समय पर वेतन, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमन्त्री को ज्ञापन भेज कर समस्या से कराया अवगत

  

ललितपुर ब्यूरो : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमन्त्री को एक ज्ञापन भेजा, जिसमें शिक्षकों को समय पर वेतन नहीं मिलने की समस्या से अवगत कराया। ज्ञापन में कहा गया कि कोरोना काल में शिक्षकों ने पूर्ण निष्ठा के साथ कार्य किया और कई शिक्षक-शिक्षणेत्तर कर्मचारी के मौत के आगोश में समा गये। शिक्षकों को शासनादेश के तहत माह के एक तारीख को वेतन दिया जाना चाहिये लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। अफसरों की लापरवाही का खामियाजा शिक्षकों को भुगतना पड़ रहा है। ज्ञापन में शिक्षकों को हर माह की एक तारीख को वेतन दिलाये जाने की माँग की है। 

ज्ञापन में कहा गया कि विभिन्न शासनादेशों व विभागीय निर्देशों के क्रम में शिक्षकों का वेतन प्रत्येक माह की 1 तारीख तक किये जाने के निर्देश हैं। वर्तमान में ई-पेमेंट व्यवस्था लागू होने अर्थात मानव सम्पदा पोर्टल पर पैरोल माड्यूल के माध्यम से ऑनलाईन भुगतान हर स्थिति में प्रतिमाह की एक तक किये जाने के निर्देश किये गये हैं, किन्तु शासनादेशों व वर्तमान में ऑनलाईन पैरोल माड्यूल व्यवस्था लागू होने के बाद भी अधिकारियो की लचर कार्यप्रणाली के चलते प्रत्येक माह की एक तारीख को वेतन भुगतान नहीं कर हमेशा 15 या 20 तारीख के पूर्व वेतन भुगतान नहीं किया जाता है जो निन्दनीय है। इस सम्बन्ध में संगठन द्वारा कई बार प्रशासनिक व विभागीय अधिकारियो को ज्ञापन दिये गये हैं। ज्ञापन में कहा गया कि वर्तमान में अति विषम कठिन परिस्थिति के दौर में जब कोरोना महामारी विकराल रूप धारण कर चुकी है व दर्जनों शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारी मौत के आगोश में समा चुके है तथा घर घर में लोग बीमार है और उन्हें पैसों की नितांत आवश्यकता है। ऐसी स्थिति में भी अधिकारियो की मनमानी के चलते शासनादेशों को ताक पर शिक्षको को वेतन माह की एक तारीख को उपलब्ध नही कराई जा रही है। शासनादेशों व विभागीय निर्देशों की खुलेआम धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं। ज्ञापन में शिक्षकों का माह अप्रैल के वेतन का अविलम्ब भुगतान कराकर शासनादेशों के तहत प्रतिमाह की 1 तारीख तक वेतन का भुगतान कराने व देरी से वेतन भुगतान के जिम्मेदार दोषी अधिकारियो के विरूद्ध अविलम्ब ठोस दंडात्मक अनुशासनात्मक कार्यवाही करने की माँग की गई। साथ ही चेतावनी दी कि यदि ऐसा नहीं किया गया तो आन्दोलन किया जायेगा ।

 ज्ञापन पर मण्डल अध्यक्ष अरविंद तिवारी, जिलाध्यक्ष रविकान्त ताम्रकार, जिला महामंत्री हरभजन सिंह, जिला मंत्री अनिल शर्मा, जिला संगठन मंत्री तृप्ति सिंह, जिला कोषाध्यक्ष कैलाशचन्द्र राणा ने हस्ताक्षर किये।


Saturday, May 1, 2021

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने किया मतगणना कार्य के बहिष्कार का ऐलान, स्थानीय प्रशासन/राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करने सबंधी संगठन के पत्र का संज्ञान न लिए जाने पर लिया निर्णय

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने किया मतगणना कार्य के बहिष्कार का ऐलान, स्थानीय प्रशासन/राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करने सबंधी संगठन के पत्र का संज्ञान न लिए जाने पर लिया निर्णय







Thursday, April 29, 2021

त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2021 की मतगणना में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन न किये जाने की स्थिति में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने दी सामूहिक बहिष्कार की चेतावनी, ज्ञापन देखें


त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2021 की मतगणना में कोरोना गाइडलाइन का पालन न किये जाने की स्थिति में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने दी सामूहिक बहिष्कार की चेतावनी, ज्ञापन देखें

Tuesday, April 27, 2021

पंचायत चुनाव की ड्यूटी करने वाले 135 शिक्षक, शिक्षा मित्र व अनुदेशकों की मृत्यु, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमंत्री से पंचायत चुनाव स्थगित करने व परिजनों को सहायता की मांग की

  

लखनऊ। प्रदेश में पंचायत चुनाव से संबंधित ड्यूटी करने वाले 135 शिक्षकों, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों की मृत्यु हो गई है। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमंत्री से पंचायत चुनाव तत्काल स्थगित कर संक्रमितों का निशुल्क इलाज व मृतकों के परिजनों को 50 लाख की सहायता व अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग की है।

महासभा के प्रवक्ता वीरेंद्र मिश्र ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा है कि कोविड 19 की भयंकर महामारी के बीच प्रदेश में पंचायत चुनाव कराए जा रहे हैं, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं। पंचायत चुनाव से जुड़े अधिकारी, कर्मचारी, शिक्षक व सुरक्षाकर्मी प्रतिदिन संक्रमित हो रहे हैं और अनगिनत मौतों के साथ जनमानस सहमा हुआ है। उन्होंने कहा है कि जिन शिक्षकों व कर्मचारियों की चुनाव में ड्यूटी लगी है उनके परिवारों में बेचैनी है। वर्तमान हालात को देखते हुए कोई भी चुनाव ड्यूटी नहीं करना चाहता है। चुनाव में प्रथम चरण के प्रशिक्षण से लेकर तीसरे चरण के मतदान तक हजारों शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशक कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जहां-जहां चुनाव हो चुके हैं चुके चुके वहां कोविड संक्रमण कई गुना बढ़ गया है।

मिश्र ने मुख्यमंत्री को बताया है कि चुनाव प्रशिक्षण व ड्यूटी के बाद अब तक हरदोई व लखीमपुर में 10-10, बुलंदशहर, हाथरस, सीतापुर, शाहजहांपुर में 8-8,भदोही, लखनऊ व प्रतापगढ़ में 7-7, सोनभद्र, गाजियाबाद व गोंडा में 6-6, कुशीनगर, जौनपुर, देवरिया, महाराजगंज व मथुरा में 5-5, गोरखपुर, ब बहराइच, उन्नाव व बलरामपुर में 4-4 तथा श्रावस्ती में तीन शिक्षक, शिक्षा मित्र या अनुदेशक की आकस्मिक मृत्यु हो चुकी है। उन्होंने कहा है कि महासंघ ने चुनाव से पूर्व शिक्षकों के टीकाकरण की मांग की थी। गृह मंत्रालय ने पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव में पोलिंग पार्टियों का टीकाकरण करने की अनुमति दे दी थी। इस आदेश के आधार पर प्रदेश में भी पंचायत चुनाव की पोलिंग पार्टियों का टीकाकरण किया जा सकता था। लेकिन महासंघ की मांग पर सरकार ने कोई ध्यान नहीं दिया।

महासंघ ने पत्र पर कार्यवाही के लिए बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी व प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार को भी भेजा है।



Wednesday, March 17, 2021

अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण/पारस्परिक अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण के अन्तर्गत शिक्षकों के कार्यमुक्त/ कार्यभार ग्रहण में आ रही समस्याओं के संबंध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का ज्ञापन

अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण/पारस्परिक अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण के अन्तर्गत शिक्षकों के कार्यमुक्त/ कार्यभार ग्रहण में आ रही समस्याओं के संबंध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का ज्ञापन।




Tuesday, March 16, 2021

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने की 30 मार्च को होली भाई दूज पर अवकाश घोषित करने की माँग, ज्ञापन देखें

  राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने की होली भाई दूज पर अवकाश घोषित करने की माँग, ज्ञापन देखें