DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label रिजल्ट. Show all posts
Showing posts with label रिजल्ट. Show all posts

Thursday, September 17, 2020

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा का परिणाम 28 सितम्बर को होगा जारी, 30 सितम्बर से होगी काउंसिलिंग

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा का परिणाम 28 सितम्बर को होगा जारी, 30 सितम्बर से होगी काउंसिलिंग।

ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों ही प्रदेश परीक्षाओं का परिणाम एक ही दिन आएगा।

उत्तर प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद (जेईईसीयूपी) की ओर से कराई गई पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा-2020 का परीक्षा परिणाम 28 सितंबर आएगा। परिषद के सचिव एसके वैश्य ने बताया 15 सितंबर को हुई ऑनलाइन परीक्षा की उत्तर कुंजी मंगलवार को परिषद की वेबसाइट पर जारी कर दी गई है। 19 सितंबर की शाम पांच बजे तक अभ्यर्थी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं।




22 सितंबर को संशोधित उत्तर कुंजी जारी की जाएगी। वहीं 12 सितंबर को हुई ऑनलाइन परीक्षा की उत्तर कुंजी 23 सितंबर को जारी करके 26 तक आपत्तियां मांगी जाएंगी। इसका भी परिणाम 28 को आ जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए पहली बार ऑनलाइन काउंसलिंग की व्यवस्था की गई है। 30 सितंबर से काउंसिलिंग शुरू होगी। काउंसिलिंग और संस्थानों में चलने वाले पाठ्यक्रम व सीटों की जानकारी अभ्यर्थी परिषद की वेबसाइट से ले सकते हैं।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Tuesday, August 11, 2020

केंद्रीय विद्यालय ने पहली कक्षा के लिए मेरिट लिस्ट की जारी, ऐसे करें चेक

KV Admission Result of Class 1 : केंद्रीय विद्यालय ने kvsonlineadmission.kvs.gov.in पर पहली कक्षा के लिए मेरिट लिस्ट की जारी, पैरेंट्स करें चेक।

KV Admission Result of Class 1 : केंद्रीय विद्यालय संगठन (Kendriya Vidyalaya Sangathan (KVS) द्वारा देश भर के केंद्रीय विद्यालयों में सत्र 2020-21 में पहली कक्षा कक्षा में दाखिले के लिए मेरिट लिस्ट की घोषणा आज यानी कि 11 अगस्त 2020 को कर दी है। नतीजों का ऐलान विद्यालय ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर किया है। इसके अलावा पैरेंट्स बच्चों का रिजल्ट चेक करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट का भी रुख कर सकते हैं। इसके लिए पैरेंट्स को kvsonlineadmission.kvs.gov.in पर जाकर लॉग इन करना होगा। इसके बाद पैरेंट्सअपना स्कोर चेक कर पाएंगे।





▪️👉🏻 यहाँ क्लिक करके देखें अपना चयन स्कोर





पैरेंट्स ध्यान दें कि यह एक प्रोविजनिल लिस्ट है। दाखिले के लिए फाइनल लिस्ट संबंधित स्कूलों द्वारा जारी की जाएगी और केवीएस पोर्टल द्वारा संकलित की जाएगी। इसके बाद केवीएस के पोर्टल पर पैरेंट्स रिजल्ट की जांच कर सकेंगे। वहीं माता-पिता केवीएस प्रवेश मेरिट सूची 2020 में अपने बच्चे के नाम की जांच करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते हैं:


KV Admission Result of Class 1: पैरेंट्स ऐसे चेक कर सकते हैं ऑनलाइन मेरिट

- केवीएस प्रवेश 2020-21 की आधिकारिक वेबसाइट kvsonlineadmission.kvs.gov.in पर जाएं

- होमपेज पर उपलब्ध "चेक एप्लिकेशन स्टेटस" लिंक पर क्लिक करें

- रजिस्टर्ड यूजर लॉगिन कोड, बच्चे के जन्म की तारीख, मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड का उपयोग कर साइन इन कर सकते है

- लॉगिन करने के बाद आपके बच्चे के मेरिट लिस्ट आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएगी।

- मेरिट लिस्ट की कॉपी को भविष्य के लिए रख लें।

 संगठन ने कक्षा 1 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 20 जुलाई से शुरू की थी और 7 अगस्त तक चलीथी। वहीं कक्षा 1 में दाखिले के लिए संगठन कुल तीन सूची जारी की जाएंगी। इसके तहत आज यानी कि 11 अगस्त को पहली सूची के बाद दूसरी सूची 24 अगस्त को जारी की जाएगी और तीसरी सूची 28 अगस्त, 2020 को जारी की जाएगी। पिछले साल कक्षा 1 में प्रवेश के लिए लगभग 7.95 लाख आवेदन आए थे।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, July 23, 2020

CBSE बोर्ड ने इंप्रूवमेंट कटेगरी में 12वीं के नतीजे किए घोषित, ऐसे देखें अपना स्कोर कार्ड

CBSE 12th Result 2020 : सीबीएसई बोर्ड ने इंप्रूवमेंट कटेगरी में 12वीं के नतीजे घोषित किये, ऐसे देखें अपना स्कोर कार्ड


नई दिल्ली :  CBSE 12th Result 2020 : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने इंप्रूवमेंट कटेगरी में 12वीं के नतीजे घोषित कर दिये हैं। बोर्ड ने इंप्रूवमेंट कटेगरी के लिए सीबीएसई 12वीं रिजल्ट 2020 की घोषणा से सम्बन्धित नोटिस कल 22 जुलाई 2020 को जारी किया, जिसके मुताबिक जिन कक्षा 12 ऐसे सभी छात्र जिन्होंने 12वीं इंप्रूवमेंट के लिए आवेदन किया था, वे अपना स्कोर कार्ड बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट, cbse.nic.in, cbseresults.nic.in और results.nic.in पर देख सकते हैं।



सीबीएसई बोर्ड ने इस वर्ष 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं के परिणामों एवं छात्रों को स्कोर कार्ड को ऑफिशियल वेबसाइट के साथ-साथ अन्य माध्यमों के जरिए छात्रों को उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। इन माध्यमों में भारत सरकार के डिजिलॉकर पर ‘परिणाम मंजूषा’ और एसएमएस शामिल हैं। इसी कड़ी में बोर्ड ने हाल में घोषित 10वीं एवं 12वीं नतीजे इन माध्यमों से छात्रों को उपलब्ध कराने के बाद अब सीबीएसई 12वीं इंप्रूवमेंट कटेगरी रिजल्ट 2020 को भी इन माध्यमों से छात्रों को सुलभ कराया है। छात्र अपना रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट के अतिरिक्त गूगल प्लेस्टोर या आईओएस ऐप्प स्टोर से डिजिलॉकर ऐप्प को डाउनलोड करने के बाद अपने मोबाइल नंबर, ओटीपी और रोल नंबर के अंतिम छह डिजिट को सिक्यूरिटी पिन के तौर पर भरकर सबमिट करके अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

इसके अतिरिक्त छात्र अपना सीबीएसई 12वीं इंप्रूवमेंट कटेगरी रिजल्ट 2020 एसएमस के माध्यम से भी देख सकते हैं। सीबीएसई बोर्ड ने छात्रों को उनके रिजल्ट रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजने की व्यवस्था की है।


 सीबीएसई बोर्ड ने कक्षा 12 के नतीजों की घोषणा हाल ही में 13 जुलाई को और कक्षा 10 के परिणाम 15 जुलाई को जारी किये थे।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Wednesday, July 15, 2020

CBSE 10th रिजल्ट : 91.46 फीसदी स्टूडेंट्स पास, टॉपर्स का नहीं किया एलान


CBSE 10th Result 2020 Live  : जारी हुआ सीबीएसई 10वीं रिजल्ट,  ऐसे जाने अपना रिजल्ट


CBSE 10th रिजल्ट : 91.46 फीसदी स्टूडेंट्स पास, टॉपर्स का नहीं किया एलान

इस वर्ष 10वीं कक्षा में 91.46 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए जबकि पिछले वर्ष 91.10 फीसदी बच्चे पास हुए थे। यानी पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष रिजल्ट में मामूली (0.36 फीसदी) बढ़ोतरी हुई। सीबीएसई ने कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए इस वर्ष 12वीं और 10वीं दोनों कक्षाओं के टॉपरों का ऐलान नहीं किया है।


CBSE 10th Result 2020: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने बुधवार को दसवीं कक्षा के नतीजे जारी किए। दसवीं कक्षा के विद्यार्थी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। सीबीएसई बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट-cbseresults.nic.in, cbse.nic.inresults.nic.in है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर दसवीं कक्षा के रिजल्ट की घोषणा की। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को बधाई भी दी। इस साल दसवीं कक्षा के लिए 18.8 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण किया था।


छात्र-छात्राएं अपना रिजल्ट सीबीएसई की वेबसाइट के अलावा उमंग ऐप ( UMANG ) और डिजरिजल्ट्स ( DigiResults ) ऐप से भी चेक कर सकेंगे। 


CBSE Results 2020: APP पर यूं चेक करें रिजल्ट
स्टूडेंट्स UMANG Mobile Platform और DigiResults से नतीजे चेक कर सकेंगे। आपको बता दें कि उमंग ऐप एंड्रायड, आईओएस, और विंडो बेस्ड स्मार्टफोन पर उपलब्ध है। वहीं डिजिरिजल्ट सिर्फ एंड्रायड मोबाइल ऐप है। इन एप्स को डाउनलोड कर आप रिजल्ट चेक कर सकते हैं।


 IVRS सिस्टम से यूं चेक करें रिजल्ट
- अगर सीबीएसई की वेबसाइट काम नहीं कर रही है या आपके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है तो आप सीबीएसई रिजल्ट IVRS से चेक कर सकते हैं। अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो 24300699 पर फोन करें। और अगर आप देश के अन्य हिस्से में रहते हैं तो 011-24300699 पर कॉल करें। 

- इसके अलावा स्टूडेंट्स अपने स्कूल से भी रिजल्ट के लिए संपर्क कर सकते हैं। हर स्कूल को उसके बच्चों के रिजल्ट की पूरी फाइल ईमेल की जाएगी। 


SMS से रिजल्ट चेक करने का तरीका
- 12वीं के रिजल्ट के समय जारी किया गया था ये नंबर
सीबीएसई ने 12वीं रिजल्ट के दौरान SMS से रिजल्ट जारी करने का नंबर जारी किया था। हो सकता है कि बोर्ड 10वीं के लिए नया नंबर जारी करे या फिर 12वीं वाला नंबर ही रहने दे। 

● 12वीं वाले छात्र ऐसे चेक कर रहे थे अपना रिजल्ट
अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में जाकर टाइप करें- cbse12
 और भेज दें 7738299899 पर। 
उदाहरण - जैसे आपका रोल नंबर 1234567891 है तो आपको मैसेज करना होगा - 
cbse12 1234567891

 सीबीएसई ने सोमवार को बिना सूचना दिए 12वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम जारी कर सबको चौंका दिया था। 12वीं में 88.78% बच्चे पास हुए हैं। लड़कियों का पास प्रतिशत लड़कों की तुलना में 5.96 प्रतिशत बेहतर रहा।

10वीं के करीब 18 लाख छात्र-छात्राएं परीक्षा परिणाम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। मंगलवार की सुबह से ही परिणाम जारी होने की अटकलें लगाई जा रही थीं। लेकिन मंगलवार को परीक्षा परिणाम जारी होने की खबर का सीबीएसई ने खंडन किया। इसके बाद मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर बुधवार (आज) को परीक्षा परिणाम जारी होने की बात कही। सीबीएसई ने कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए इस वर्ष 12वीं की मेरिट सूची नहीं जारी की। 10वीं की मेरिट सूची जारी होगी या नहीं, इसके बारे में सीबीएसई ने कुछ नहीं बताया है। 


इस वर्ष स्टूडेंट्स को मार्कशीट में RT, RW, RL जैसे एब्रीविएशन शब्द देखने को मिलेंगे। RT का मतलब रिपीट थ्योरी होता है। स्टूडेंट्स को प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनों में अलग पास होना होता है। RT वाले स्टूडेंट्स को थ्योरी का पेपर फिर से देना होगा। लेकिन 10वीं में ये एब्रीवेशन देखने को नहीं मिलेगी क्योंकि 10वीं में कम्युलेटिव स्कोर देखा जाता है। 

● RW का मतलब रिजल्ट विदहेल्ड Result Withheld । यानी कुछ कारणों से रिजल्ट रोका जाना। 
● RL मतलब रिजल्ट लेटर (Results Later)। यानी इनका रिजल्ट बाद में जारी किया जाएगा। 
● COMP मतलब कंपार्टमेंट। अगर कोई छात्र किसी एक विषय में फेल हो जाता है, पासिंग मार्क्स (33) हासिल नहीं कर पाता है, तो उसे कंपार्टमेंट की कैटेगरी में रखा जाएगा। 
● ER का मतलब एसेंशियल रिपीट। इस बार फेल की जगह यही शब्द लिखा होगा। एसेंशियल रिपीट मतलब जिन्हें अनिवार्य तौर पर अगले साल फिर से सभी विषयों की परीक्षा में बैठना होगा।
● XXXX का मतलब होगा इंम्प्रूवमेंट। 



◆   इस बार सीबीएसई बोर्ड ने फैसला लिया कि वो मार्कशीट में FAIL लिखने की बजाय Essential Repeat लिखा जाएगा

◆ सीबीएसई 10वीं रिजल्ट में दिल्ली के सरकारी स्कूलों पर नजर रहेगी। 12वीं में दिल्ली के सरकारी स्कूलों ने निजी स्कूलों को पीछे छोड़ दिया। यहां 98 फीसदी बच्चे पास हुए। अब देखना होगा कि 10वीं का रिजल्ट कैसा रहता है।


 दिल्ली के छात्रों के रद्द हुए थे पेपर-
आपको बता दें कि सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 15 फरवरी 2020 से शुरू हुई थीं। जिसमें 10वीं का अंतिम पेपर 18 मार्च को था। दिल्ली के कुछ इलाकों में कोरोना वायरस से पहले दंगा भड़का था जिस कारण से सीबीएसई पूर्वी दिल्ली के परीक्षा केंद्रों की परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं थी। दिल्ली के इन इलाकों की परीक्षाएं पहले कराई जानी थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीएसई ने कोरोना वायरस संकट को देखते हुए 10वीं और 12वीं परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया था। 


ऐसे में दिल्ली के सीबीएसई 10वीं के छात्रों का रिजल्ट इंटरलनल असेसमेंट, प्रोजेक्ट वर्क और असाइनमेंट वर्क के आधार पर जारी किया जाएगा। सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि सीबीएसई 12वीं के छात्र जो असेसमेंट मार्क्स से संतुष्ट नहीं होंगे उन्हें बाद में परीक्षा में बैठने का मौका दिया जाएगा जबकि 10वीं के छात्रों का यह असेसमेंट से जारी किया गया रिजल्ट ही अंतिम रिजल्ट होगा।




सीबीएसई 10वीं के नतीजे आज होंगे जारी, मानव संसाधन विकास मंत्री ने दी जानकारी

नई दिल्ली ::  सीबीएसई की 10वीं कक्षा की परीक्षा का परिणाम बुधवार को घोषित किया जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने यह जानकारी दी। निशंक ने ट्वीट किया, 'बच्चों, अभिभावक और शिक्षकगण, सीबीएसई 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा का परिणाम बुधवार को आएगा।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, July 2, 2020

मदरसा बोर्ड रिजल्ट : वार्षिक परीक्षाओं में बालिकाओं ने मारी बाजी, टॉपर छात्र-छात्राओं को मिलेंगे एक लाख रुपए, टैबलेट, मेडल और प्रशस्ति पत्र

मदरसा बोर्ड : वार्षिक परीक्षाओं में बालिकाओं ने मारी बाजी, टॉपर छात्र-छात्राओं को मिलेंगे एक लाख रुपए, टैबलेट, मेडल और प्रशस्ति पत्र।


रिजल्ट

लखनऊ  :: उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद की वर्ष 2020 की वार्षिक परीक्षाओं में बालिकाओं ने बाजी मारी है। इन परीक्षाओं में उत्तीर्ण परीक्षार्थियों में बालिका परीक्षार्थियों की संख्या 55,457 है और पास होने वाली बालिकाओं का प्रतिशत 84.42 है। कल पास होने वाले बालक परीक्षार्थियों की संख्या-60175 है और पास हुए बालकों का प्रतिशत 79.86 रहा है। टॉपर छात्र-छात्राओं को एक लाख रुपये की धनराशि, टैबलेट, मेडल व प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।





प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने लखनऊ में समाज कल्याण निदेशालय के सभागार में उ.प्र. मदरसा शिक्षा परिषद के शैक्षिक सत्र 2019 20 की वार्षिक परीक्षा के परिणाम घोषित किए। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार श्रेष्ठ शिक्षा और संसाधनों के साथ मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा उद्देश्य है की मदरसा छात्रों को रोजगारपरक और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त हो, जिससे वे राष्ट्र की प्रगति में अपना योगदान सुनिश्चित कर सकें।

उन्होंने कहा कि मदरसा शिक्षा परिषद लखनऊ की वर्ष 2020 की सेकंडरी (मुंशी-मौलवी), सीनियर सेकंडरी (आलिम), कामिल एवं फाजिल की परीक्षा में उत्तीर्ण होने प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त मेधावी छात्र-छात्राओं को एक लाख रुपये की राशि के चेक, टैबलेट, मेडल एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जाएगा। इस सम्मान राशि का व्यय अरबी-फारसी मदरसा विकास निधि से किया जाएगा। सेकंडरी और सीनियर सेकंडरी के गणित एवं विज्ञान विषय में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को 51,000 रुपये का चेक, एक टैबलेट, मॉडल एवं प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा। मदरसा शिक्षा परिषद लखनऊ की सेकंडरी (मुंशी-मौलवी) सीनियर सेकंडरी (आलिम), कामिल व फाजिल की वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षाएं इस वर्ष 25 फरवरी से शुरू होकर पांच मार्च तक प्रदेश के 552 परीक्षा केन्द्रों में हुई थीं।

प्रमुख बातें : परीक्षार्थियों में कुल 1,38,241 छात्र-छात्राएं संस्थागत तथा 44,017 छात्र-छात्राएं व्यक्तिगत परीक्षार्थी के रूप में सम्मिलित हुए। परीक्षा वर्ष में कुल सम्मिलित परीक्षार्थियों ( 1,82,259) में कुल 41,207 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। कुल 1,15,650 परीक्षार्थी उत्तीर्ण तथा कुल 25,402 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए।

उत्तीर्ण परीक्षार्थियों का कुल प्रतिशत 81.99

टॉपर छात्र-छात्राओं को एक लाख रुपये मिलेंगे, प्रोत्साहन के लिए टैबलेट, मेडल और प्रशस्ति पत्र मिलेगा।


01 लाख 82 हजार 259 परीक्षार्थी मदरसा वार्षिक परीक्षा में सम्मिलित हुए

97 हजार 348 छात्र तथा 84 हजार 911 छात्राएं शामिल हुए





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Sunday, June 28, 2020

यूपी बोर्ड : प्रदेशभर के 134 स्कूलों का परिणाम रहा जीरो

यूपी बोर्ड : प्रदेशभर के 134 स्कूलों का परिणाम रहा जीरो।


प्रयागराज : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में 134 स्कूलों का परिणाम शून्य है। इनमें हाईस्कूल के 87 और इंटर के 47 स्कूल शामिल हैं। पिछले तीन सालों की तुलना में इस बार शून्य रिजल्ट देने वाले स्कूलों की संख्या में कमी हुई है। 2019 में 165, 2018 में 150 और 2017 में 183 स्कूलों काएक भी छात्र परीक्षा पास नहीं कर सका था। इन आंकड़ों से सरकारी और सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों की बदहाली भी सामने आई है। शून्य रिजल्ट देने वाले 134 स्कूलों में से कई राजकीय और एडेड स्कूल हैं। दुःखद पक्ष यह है कि कई स्कूलों में बच्चों की संख्या 10 से भी कम है।




 बोर्ड मुख्यालय में ही कई स्कूलों का परिणाम शून्य :  जिस जिले में यूपी बोर्ड का मुख्यालय है उसके स्कूलों का परिणाम ही बहुत उत्साहजनक नहीं रहा है। हाईस्कूल में तीन स्कूल ऐसे हैं जिनका एक भी छात्र पास नहीं हुआ। रामसेवक इंटर कॉलेज मेजा, राजनीति यादव हायर सेकेंडरी स्कूल और एलपी सिंह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय करछना का परिणाम शून्य है। इंटर में चार स्कूलों का रिजल्ट जीरो है। एएम गर्ल्स इंटर कॉलेज निहालपुर करेली, टीएसएस गर्ल्स इंटर कॉलेज अल्लापुर, कस्तूरबा ब्यॉयज हायर सेकेंडरी इंटर कॉलेज भगवानपुर और श्री आरएपी इंटर कॉलेज जगदीशपुर का रिजल्ट जीरो है।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।