DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label सीटेट. Show all posts
Showing posts with label सीटेट. Show all posts

Thursday, February 18, 2021

अब क्लास 1 से 12 तक के स्कूल टीचर बनने के लिए TET होगा अनिवार्य, ये है NCTE की तैयारी

अब क्लास 1 से 12 तक के स्कूल टीचर बनने के लिए TET होगा अनिवार्य, ये है NCTE की तैयारी


Education news in hindi: अब स्कूल टीचर बनने के लिए टीईटी पास करना अनिवार्य होगा। क्वालिटी एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए एनसीटीई यह फैसला ले रहा है। पढ़ें डीटेल...
    

■ क्लास 1 से 12 तक सभी के लिए अनिवार्य होगा टीईटी
एनईपी के तहत एनसीटीई ने लिया है फैसला

■ गाइडलाइंस और टेस्ट स्ट्रक्चर तैयार करने के लिए कमिटी गठित


TET compulsory to become school teacher: अब किसी भी क्लास में पढ़ाने के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा (Teachers Eligibility Test) पास करना अनिवार्य किया जाएगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) के तहत नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (NCTE) ने यह फैसला किया है।


एनसीटीई ने इसके लिए दिशानिर्देश व टेस्ट पैटर्न तैयार करने के लिए कमिटी गठित कर दी है। स्कूलों में क्वालिटी एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए और शिक्षकों को अपग्रेड करने के लिए एनसीटीई यह तैयारी कर रहा है।


क्लास 1 से लेकर 12वीं तक, सभी स्कूल टीचर्स के लिए अब टीईटी (TET) या सीटीईटी (CTET) पास होना जरूरी होगा। अब तक टीईटी की अनिवार्यता सिर्फ क्लास 1 से 8वीं तक के लिए थी। 9वीं से 12वीं यानी पोस्ट ग्रेजुएट टीचर्स (PGT) के लिए इसकी जरूरत नहीं होती थी।


केंद्रीय विद्यालय संगठन (KVS) के रिटायर्ड एडिशनल कमिश्नर और नवोदय विद्यालय समिति (NVS) के सलाहकार यूएन खावरे (UN Khaware) ने कहा कि 'इस फैसले से टीचर एजुकेशन के क्षेत्र में हो रहे फर्जीवाड़ों पर लगाम लगाया जा सकेगा। देश में हजारों बीएड (B.Ed) कॉलेज हैं। गलत तरीके से इनसे बीएड की डिग्री ले लेना आम बात हो गई है। टीईटी अनिवार्य होने से अच्छे शिक्षक चुनकर आएंगे।

Monday, February 8, 2021

CTET : पेपर लीक मामले में प्राथमिक शिक्षक समेत तीन और गिरफ्तार

CTET : पेपर लीक मामले में प्राथमिक शिक्षक समेत तीन और गिरफ्तार


आगरा। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) का पेपर वाट्सएप पर लीक करने के मामले में पुलिस ने रविवार को तीन और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें एक आरोपी  मैनपुरी के नगला पजावा के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक है। उसके  पास पेपर व्हाटसएप पर एक मित्र ने भेजा था। शिक्षक  ने अपने परिचितों को व्हाट्सएप पर भेज दिया था। इसके बाद यह वायरल हो गया था।

सीटीईटी का हल प्रश्न पत्र लीक करने के मामले में पुलिस ने मंगलवार को एपेक्स कोचिंग के संचालक विकास शर्मा, शिक्षक प्रभात, छात्र कुलदीप फौजदार, थान सिंह और मोहित यादव को गिरफ्तार किया था बाद में प्रतापगढ़ से विकास को गिरफ्तार किया था उसके साथ भदोही निवासी अमर साहनी पकड़ा था।


शनिवार को एटा के अलीगंज स्थित लुहारी दरवाजा निवासी अमनराज उर्फ विवेक यादव और अलीगंज स्थित दाऊदगंज निवासी सुमित यादव उर्फ डिंपल यादव पकड़े गए। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की। इसमें पता चला कि तीन और लोगों के पास व्हाट्सएप पर पेपर पहुंचा था।

Thursday, February 4, 2021

CTET : जानें कब जारी हो सकती है ANSWER KEY?

CTET  : जानें कब जारी हो सकती है ANSWER KEY?


135 शहरों में सीबीएसई सीटीईटी परीक्षा आयोजित हुई। अब परीक्षा के बाद अभ्यार्थियों को आंसर की का इंतजार है। सीबीएसई की मानें तो फरवरी के दूसरे सप्ताह में सीटीईटी परीक्षा की आंसर की जारी हो सकती है। 


आंसर की के माध्यम से परीक्षार्थी अपनी आपत्ति बोर्ड के पास दर्ज करा सकते हैं। आंसर की तीन दिनों के लिए ही जारी की जाएगी। सीटीईटी रिजल्ट मार्च में जारी किया जा सकता है। 

आपको बता दें कि जुलाई 2020 में सीटीईटी परीक्षा आयोजित होनी थी लेकिन कोविड के कारण स्धगित होते-होते अब 31 जनवरी 2021 को परीक्षा आयोजित की गई है।


■ कुल पंजीकृत अभ्यर्थी: 1844170
● प्रश्नपत्र-1 के लिए अभ्यर्थी
( कक्षा 1 से 5 तक)- 1611423
● प्रश्नपत्र-2 के लिए अभ्यर्थी 
(कक्षा 6  से 8 तक) - 1447551
● दोनों प्रश्नपत्रों के लिए अभ्यर्थी (प्रश्नपत्र- 1 और प्रश्नपत्र -2) - 3058974


■ उपस्थित अभ्यर्थी: करीब 23 लाख
● प्रश्नपत्र-1 के लिए अभ्यर्थी - 1219220
● प्रश्नपत्र-2 के लिए अभ्यर्थी - 1077842
● दोनों प्रश्नपत्रों के लिए अभ्यर्थी - 2297062

Wednesday, February 3, 2021

आगरा: सीटीईटी पेपर लीक मामले में दो और गए पकड़े

CTET पेपर लीक को बनाए थे वाट्सएप पर ग्रुप, आरोपितों को जेल

CTET : पेपर गाजीपुर से लीक होने की आशंका

आगरा: सीटीईटी पेपर लीक मामले में दो और गए पकड़े


आगरा। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) का पेपर वाट्सएप पर लीक करने के मामले में पुलिस ने शनिवार को दो और आरोपियों को पकड़ लिया। दोनों ने व्हाट्सएप के कई ग्रुपों पर पेपर भेजा था। इससे यह वायरल हो गया था। दोनों ने परीक्षा भी दी थी। हालांकि पेपर कहां से और किसने भेजा? यह पांच दिन बाद भी पता नहीं चल सका है। इसके लिए एक टीम पड़ताल में लगी है। सीटीईटी का हल प्रश्न पत्र लीक करने के मामले में पुलिस ने मंगलवार को एपेक्स कोचिंग के संचालक विकास शर्मा, शिक्षक प्रभात, छात्र कुलदीप 
फौजदार, थान सिंह और मोहित यादव को गिरफ्तार किया था।


 प्रयागराज : केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) का पेपर वाट्सएप पर लीक करने के मामले में सरगना विकास यादव के साथी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) और आगरा पुलिस ने गुरुवार को भदोही में दबिश देकर अभियुक्त को दबोच लिया।

पता चला है कि उसने ही विकास को सीटीईटी का पर्चा वाट्सएप पर उपलब्ध कराया था। आगरा पुलिस उसे साथ लेकर चली गई है। मामले में कुछ और संदिग्धों के नाम प्रकाश में आए हैं, उनके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

पेपर गाजीपुर के सेंटर से लीक होने की आशंका

आगरा : सीटीईटी का पेपर वाट्सएप पर लीक करने के मामले में प्रतापगढ़ और भदोही के दो छात्रों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस को अहम जानकारी मिली है। आशंका है कि पेपर गाजीपुर जनपद के किसी सेंटर से मोबाइल से फोटो खींचकर वाट्सएप पर भेजा गया है। पुलिस की एक टीम गाजीपुर रवाना हो गई है।




आगरा के एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि विकास यादव द्वारा क्रिएट किए गए दो ग्रुपों में से एक से आगरा का मोहित भी जुड़ा था। मोहित ने ये पेपर कुलदीप को वाट्सएप पर फारवर्ड किया था। फिर कुलदीप ने कोचिंग संचालक विकास शर्मा को इसी तरीके से पेपर उपलब्ध कराया था। आरोपितों से मिली जानकारी के मुताबिक, सीटीईटी का लीक हुआ पेपर आगरा में वाट्सएप के छह ग्रुपों पर प्रसारित किया गया था। पुलिस यह जानने का प्रयास कर रही है कि इन ग्रुपों से कितने लोग जुड़े थे। आरोपितों के मोबाइल फोन से डिलीट किए गए डाटा को रिकवर करने का प्रयास किया जा रहा है।

कोचिंग संचालक समेत पांचों आरोपितों को जेल भेजा : सीटीईटी पेपर लीक मामले में पुलिस ने लोहामंडी थाने में कोचिंग संचालक विकास शर्मा निवासी लता कुंज थाना हरीपर्वत, मोहित यादव निवासी वीर नगर दयालबाग, कुलदीप फौजदार निवासी सिकरौता फतेहपुर सीकरी, प्रभात शर्मा निवासी ककुआ मलपुरा और थान सिंह निवासी गांव सहारा मलपुरा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

परीक्षा से दो घंटे पहले ही  CTET पेपर हुआ था लीक, पांच गिरफ्तार


आगरा : केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) का पेपर रविवार को यहां परीक्षा से दो घंटे पहले ही लीक हो गया था। प्रयागराज के रहने वाले सरगना ने साल्व पेपर आगरा के एक परीक्षार्थी को वाट्सएप पर उपलब्ध कराया था। कई कड़ी से गुजरता हुआ यह कोचिंग संचालक तक पहुंचा, जिसने इसे कोचिंग के वाट्सएप ग्रुपों में भेजा। पुलिस ने कोचिंग संचालक, शिक्षक और तीन परीक्षार्थियों को गिरफ्तार कर गैंग का पर्दाफाश कर दिया। सरगना की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की एक टीम प्रयागराज गई है।


एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि आगरा में 96 केंद्रों पर दो पाली में 50 हजार परीक्षार्थियों ने हिस्सा लिया था। पुलिस को परीक्षा से पहले ही पेपर लीक होने के सुराग मिले थे। मंगलवार को राजामंडी से एपेक्स करियर क्लासेज के संचालक विकास शर्मा, शिक्षक प्रभात और परीक्षार्थी थान सिंह, कुलदीप फौजदार और मोहित यादव को गिरफ्तार कर लिया। प्रशांत यादव और मनोज यादव फरार हो गए। 


आरोपितों से पूछताछ में पता चला कि सुबह की पाली की परीक्षा शुरू होने से दो घंटे पहले प्रयागराज से सरगना विकास यादव ने परीक्षार्थी मोहित यादव के वाट्सएप पर पेपर भेजा था। मोहित ने अपने साथी कुलदीप फौजदार को फारवर्ड कर दिया। कुलदीप ने शिक्षक प्रभात को और उसने कोचिंग संचालक विकास शर्मा को वाट्सएप कर दिया। विकास ने इसे अपनी कोचिंग के पांच-छह ग्रुप पर शेयर कर दिया। 


एसएसपी ने बताया कि कोचिंग संचालक ने इसके एवज में प्रत्येक परीक्षार्थी से 50 हजार रुपये तय किए थे। गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी, कूट रचित दस्तावेज तैयार करना और अपराधिक साजिश के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपितों के मोबाइल फोन जब्त किए गए हैं। इनकी जांच कर नेटवर्क का पता किया जाएगा।

Monday, February 1, 2021

CTET 2021 : बाल विकास और गणित के सवालों ने उलझाया

CTET 2021 : बाल विकास और गणित के सवालों ने उलझाया


केंद्रीय शिक्षा माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की राष्ट्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) में प्रथमिक स्तर पर बालक विकास और गणित के सवालों ने अभ्यर्थियों को थोड़ा बहुत उलझाया। वहीं, उच्च प्राथमिक स्तर पर हुई परीक्षा में साइंस वर्ग का पेपर संतुलित रहा। पहली पाली में हुई प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 92 और दूसरी पाली में हुई उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 95 फीसदी अभ्यर्थियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।



सुबह 9.30 से दोपहर 12.30 बजे की पहली पाली की परीक्षा के लिए 63 हजार अभ्यर्थी पंजीकृत थे, जिनमें तकरीबन 58 हजार अभ्यर्थी उपस्थित रहे। वहीं, अपराह्न 2.30 से 4.30 बजे की पाली की परीक्षा के लिए पंजीकृत 57 हजार अभ्यर्थियों में से 54 हजार अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए। वाईएमसीए केंद्र से दूसरी  परीक्षा देकर निकले अभ्यर्थी मुकेश कुमार प्रसाद ने बताया कि प्राथमिक स्तर पर बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र से जुड़े कुछ सवाल उलझाऊ थे, लेकिन कुल मिलाकर पेपर संतुलित रहा। हिंदी, संस्कृत, पर्यावरण एवं गणित के सवाल सामान्य थे। 


वहीं, अभ्यर्थी आकाश कुमार मिश्र को दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर पर हुई परीक्षा में साइंस वर्ग का पेपर आसान एवं संतुलित लगा। आकाश ने प्राथमिक पहली पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा भी दी और उन्हें सभी विषयों से पूछे गए सवाल स्तरीय लगे। अभ्यर्थी रेखा सरोज को प्रथमिक स्तर की परीक्षा में गणित और संस्कृत के कुछ सवाल कठिन लगे। वाईएमसीए केंद्र में परीक्षा देने पहुंचीं प्रियंका यादव को भी गणित के कुछ सवालों ने उलझया, लेकिन अन्य विषयों से पूछे गए सवाल संतुलित और आसान लगे। 


कोरोना के कारण छह माह विलंब से हुई परीक्षा
सीटीईटी का आयोजन इस बार छह माह विलंब से हुआ। यह परीक्षा जुलाई में प्रस्तावित थी, लेकिन इस बार कोरोना के कारण परीक्षा का आयोजन समय से नहीं कराया जा सका। जिले के 114 केंद्रों में हुई परीक्षा कोविड प्रोटोकॉल के तहत कराई गई। सभी परीक्षा केंद्रों में अभ्यर्थियों की थर्मन स्क्रीनिंग हुई। साथ ही केंद्रों की वीडियोग्राफी कराई गई। एक कमरे में अधिकतम 12 परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था की गई थी।

CTET : सॉल्वर गिरोह के सदस्यों की बैंक खातों व संपत्ति की जांच शुरू, कई और सदस्य रडार पर

CTET : सॉल्वर गिरोह के सदस्यों की बैंक खातों व संपत्ति की जांच शुरू, कई और सदस्य रडार पर

CTET -2021 :  परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के सरगना व साल्वर सहित 07 सदस्य गिरफ्तार।

CTET परीक्षा में सेंध : कौशांबी का शिक्षक मुहैया कराता था अभ्यर्थी, होगी विभागीय कार्रवाई

CTET परीक्षा में साल्वर गैंग का भंडाफोड़, दस गिरफ्तार


एसटीएफ की गिरफ्त में आए सॉल्वर गिरोह के सभी सदस्यों की संपत्ति की जांच शुरू हो गई है। उनके बैंक खातों की डीटेल्स निकाली जा रही है। इसके अलावा उनके करीबियों की संपत्ति को भी खंगाला जा रहा है। उनकी कॉल डीटेल्स में कई संदिग्ध लोगों के नंबर मिले हैं। उन्हें भी खंगाला जा रहा है। पुलिस को इस गोरखधंधे में कई लोगों के शामिल होने की आशंका है। जांच में जिनके नाम सामने आएंगे, उन्हें भी वांछित किया जाएगा।




एसटीएफ ने रविवार कोसीटेट की परीक्षा में साल्वर गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए प्रयागराज से सरगना प्रशांत सिंह, धर्मेंद्र सिंह, शिवपूजन पटेल, मुनेश कुमार, आदित्य शाही, पूजा देवी और गोरखपुर से यतेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार किया था। गिरोह ने केपी उच्च शिक्षा संस्थान झलवा और गोरखपुर के इंदिरा गांधी गर्ल्स डिग्री कालेज रामपुर में तीन मूल अभ्यर्थियों की जगह सॉल्वर को बिठाया था। आरोपियों से पूछताछ में एसटीएफ को तमाम अहम जानकारी मिली है। इसके आधार पर पुलिस ने उनके खातों की जांच शुरू कर दी है।

सभी की बैंक डीटेल्स निकाली गई हैं। पुलिस बैंक अधिकारियों से पता करेगी कि उनके या उनके करीबी लोगों के खाते में हाल में कितना ट्रांजैक्शन हुआ है। अन्य संपत्तियों पर भी पुलिस की नजर है। करीबी रिश्तेदार के नाम से खरीदी गई संपत्तियों को भी खंगाला जाएगा। पुलिस सूत्रों के मुताबिक उनके कॉल डीटेल्स में कई नंबर मिले हैं, जिनसे सीटेट की परीक्षा से पहले कुछ दिनों में बहुत बातें हुई हैं।

उन नंबरों की भी छानबीन चल रही है। पूछताछ में यह भी पता चला है कि गिरोह ने न सिर्फ सीटेट परीक्षा बल्कि कई और परीक्षाओं में भी सेंध लगाई है। उसकी भी जांच की जा रही है। एएसपी एसटीएफ नीरज पांडेय ने बताया कि सभी की संपत्तियों की जांच होगी। कार्रवाई शुरू कर दी गई है। गिरोह के अन्य लोगों की जांच हो रही है। सुबूत पाए जाने के बाद उन्हें भी वांछित किया जाएगा।

तीन छात्रों समेत पांच वांटेड, तलाश में दबिश
एसटीएफ ने रविवार को सॉल्वर गिरोह के सरगना प्रशांत सिंह समेत सात आरोपियों को पकड़ा था। इसमें तीन सॉल्वर भी शामिल थे। पुलिस ने उन तीन छात्रों को भी वांटेड कर दिया है, जिनकी जगह पर साल्वर बैठकर परीक्षा दे रहे थे। तीन छात्रों के अलावा कौशांबी के शिक्षक कमलेश कुमार और जाली आधार व अन्य दस्तावेज बनाने वाले रोहित को भी वांटेड किया गया है। सभी वांछितों की तलाश में दबिश दी जा रही है। पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ के बाद सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया गया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।


प्रयागराज : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की तरफ से रविवार को कराई गई केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटेट) में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ हुआ है। स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) ने शिक्षक, इंजीनियर समेत दस आरोपितों की गिरफ्तारी की है। उनके पास से दो कार, बाइक, फर्जी आधार कार्ड, प्रवेश पत्र, चार लाख रुपये का चेक, चेक बुक व 13.50 हजार रुपये नगद मिले हैं। एक अध्यापक व छात्र की तलाश चल रही है।

एसटीएफ प्रयागराज को प्रयागराज और गोरखपुर में साल्वर बैठने की सूचना मिली थी। एएसपी एसटीएफ नीरज पांडेय ने गोरखपुर इकाई को इसकी जानकारी दी। केपी उच्च शिक्षा संस्थान में अभिषेक सिंह निवासी मऊ की जगह आदित्य शाही और बैरहना कीडगंज की इंद्रावती देवी के स्थान पर पूजा देवी परीक्षा दे रही थी। दोनों से पूछताछ के बाद गैंग के सरगना प्रशांत सिंह, धर्मेद्र सिंह व शिवपूजन पटेल व मुनेश को इलाहाबाद विवि की साइंस फैकल्टी कर्नलगंज से गिरफ्तार किया गया। गोरखपुर से यतेंद्र को पकड़ा गया। सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। एएसपी का कहना है कि मूल अभ्यर्थी व साल्वर के फोटो कंप्यूटर से मि¨क्सग करके नकल कराते थे। लिखित परीक्षा पास कराने के लिए प्रति अभ्यर्थी दो लाख रुपये में सौदा हुआ था। साल्वर को 50 हजार रुपये दिए गए थे।

मुरादाबाद में खिलेंद्र सिंह निवासी नजरपुर बैकना जिला बिजनौर के स्थान पर परीक्षा देने आया साल्वर पंकज कुमार निवासी हमीरपुर फरमोर, थाना शेखपुर पटना बिहार तथा मझोला क्षेत्र में राकेश कुमार यादव निवासी गांव सिघराही थाना लदनिया, जिला मधुबनी बिहार को पकड़ा। वह अमरोहा के मोहनपुर सुमराली गांव निवासी इरशाद के स्थान पर परीक्षा देने आया था। मैनपुरी में महेंद्र सिंह (आंबेडकर पार्क, फीरोजाबाद) नामक युवक राहुल वर्मा (इटावा रोड, बेवर) के स्थान पर परीक्षा देते पकड़ा गया।


■ इनकी हुई गिरफ्तारी

● प्रशांत सिंह (सरगना) निवासी चिरैया कोट, मऊ। वर्तमान पता-जनहित कुंज अपार्टमेंट जार्जटाउन-प्रयागराज। राजकीय इंटर कॉलेज अमरोहा में शिक्षक।

● धर्मेंद्र सिंह (सरगना) निवासी कुसुवा मनौरी, कौशांबी। वर्तमान पता- कैलाश अपार्टमेंट जार्जटाउन-प्रयागराज। प्राथमिक विद्यालय उसरी रायबरेली में शिक्षक।

● शिवपूजन पटेल (सॉल्वर) निवासी सुरुवा फतनपुर प्रतापगढ़। वर्तमान पता- ग्रींस अपार्टमेंट हरिद्वार। आरएसपीएल हरिद्वार में इंजीनियर।

● मुनेश कुमार चौहान (अभ्यर्थी) निवासी जबदा, अमरोहा। प्राइवेट स्कूल में अध्यापक।

● आदित्य शाही (सॉल्वर) निवासी खामपार, देवरिया।

● कुमारी पूजा देवी (सॉल्वर) निवासी सलेमपुर, चांदपुर फतेहपुर। प्राथमिक विद्यालय अमौली ¨बदकी फतेहपुर में अध्यापक।

● यतेंद्र कुमार सिंह (सॉल्वर) निवासी भुजौलीकला, विजयीपुर गोपालगंज बिहार। वर्तमान पता- आवास विकास कॉलोनी, झारखंडी गोरखपुर।

■ यह हैं फरार आरोपित

● कमलेश तिवारी निवासी सैयद सरावा, पूरामुफ्ती, कौशांबी। प्राथमिक स्कूल में अध्यापक।

● रोहित निवासी हालैंड हॉल हॉस्टल, कर्नलगंज-प्रयागराज। छात्र।

प्रयागराज : केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) की लिखित परीक्षा में सेंध लगाने वाला एक संगठित गिरोह है। गैंग के हर सदस्य की अलग-अलग भूमिका होती थी। स्पेशल टॉस्क फोर्स एसटीएफ को पूछताछ में पता चला है कि कौशांबी के पूरामुफ्ती, सैयद सरांवा गांव में रहने वाला कमलेश गैंग को कंडीडेट मुहैय्या कराता था।


वह एक अभ्यर्थी को पास कराने के लिए सरगना धर्मेद्र और प्रशांत को डेढ़ से दो लाख रुपये देता था। खुद अभ्यर्थी से कितना पैसा लेता था, यह उसकी गिरफ्तारी पर पता चल सकेगा। एसटीएफ के अधिकारियों का कहना है कि कमलेश भी एक प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक है। इस कारण वह दूसरे शिक्षकों की मदद से अभ्यर्थियों तक पहुंचता रहा होगा। उसके पकड़े जाने के बाद कुछ और लोगों का नाम प्रकाश में आ सकता है। वहीं, हॉलैंड हॉल हॉस्टल में रहने वाला रोहित कंप्यूटर की मदद से मूल अभ्यर्थी और सॉल्वर की फोटो मि¨क्सग करके फर्जी एडमिट कार्ड और आधार कार्ड बनाने का काम करता था। एक अभ्यर्थी के लिए वह 20 हजार रुपये लेता था। रोहित के पकड़े जाने पर उसकी कारस्तानी और दूसरी जानकारी सामने आएगी। एसटीएफ का यह भी दावा है कि अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि वह पहले भी कई प्रतियोगी परीक्षाओं में इस तरह का फर्जीवाड़ा कर चुके हैं। फर्जीवाड़ा करके फ्लैट और प्लॉट खरीदने की तैयारी भी कर रहे थे।

सॉल्वरों को पहले मिल गया था पैसा :

गिरफ्तार सॉल्वर शिवपूजन ने पूछताछ में बताया कि उसे दूसरी पाली में दूसरे अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा देनी थी। उसे 50 हजार रुपये पहले ही मिल गए थे।  वहीं, अभ्यर्थी मुनेश ने बताया कि उसकी परीक्षा दूसरी पाली में थी। सॉल्वर उपलब्ध कराने के लिए उसने गिरोह के सरगना प्रशांत सिंह व धर्मेंद्र को पहले ही दो लाख रुपये दे चुका था। अभिषेक की जगह परीक्षा देते समय पकड़ा गया आदित्य शाही ही उसका पेपर हल करता, मगर पकड़ा गया। एसटीएफ अभ्यर्थी अभिषेक व इंद्रावती की भी तलाश कर रही है।


परीक्षा केंद्र पर छापेमारी, विवाहिता बनकर बैठी थी पेपर साल्व करने

परीक्षा केंद्र में छापेमारी के दौरान कुमारी पूजा को देख एसटीएफ की टीम हैरत में पड़ गई। पूजा की शादी नहीं हुई है, लेकिन वह पेपर सॉल्व करने के लिए विवाहिता बन गई थी। चूंकि मूल अभ्यर्थी इंद्रावती विवाहित महिला है, इसके चलते पूजा ने अपने मांग में सिंदूर भर रखा था। पूछताछ में अभियुक्ता ने इस तथ्य को उजागर किया।

शिक्षकों पर होगी विभागीय कार्रवाई

गैंग का सरगना प्रशांत सिंह इंटर कॉलेज और धर्मेंद्र प्राथमिक स्कूल में शिक्षक है। जबकि सॉल्वर पूजा देवी भी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका है। फरार कमलेश भी अध्यापक है। एएसपी एसटीएफ नीरज पांडेय ने बताया कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए सक्षम अधिकारियों को पत्र भेजा जाएगा। साथ ही यह भी पता लगाया जाएगा कि उन्हें नौकरी कैसे मिली थी। फिलहाल सभी पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है। इंजीनियर के संस्थान में भी एसटीएफ उसके पत्र भेजेगी।

Wednesday, January 27, 2021

CTET 2020 के परीक्षार्थियों के लिए कोविद-19 से बचाव हेतु गाइड लाइन्स आधिकारिक रूप से हुई जारी, देखें। Covid Guide Lines for Candidates

 
CTET 2020 के परीक्षार्थियों के लिए कोविद-19 से बचाव हेतु गाइड लाइन्स आधिकारिक रूप से हुई जारी, देखें।  Covid Guide Lines for Candidates

Dear Candidate

You are aware that CBSE is conducting CTET Exam on 31.01.2021 (Sunday). This examination will be conducted during Covid-19 and would be conducted only for 01 day.

Board has made elaborate arrangements for the safe conduct of examination at all the examination centres by implementing health guidelines prepared based on the instructions issued by the Government of India

1. To ensure that this examination will be conducted safely ensuring the health and well being of yourself and other candidates, you are permitted to carry following items:

● You will carry pocket hand sanitizer (50ML) in transparent bottle.
● You will carry face mask.
● Hand gloves only on hands
● Transparent water bottle for personal use. Lenience.
● Admit Card & Identity Card i.e. Aadhar Card, Driver

2. You will cover your nose and mouth with mask.

3. You will follow social distancing norms strictly.

4. You will carry you own drinking water.

5. You will not exchange or loan articles inside examination room. 

6. You will use safe mode of transportation for coming to the examination centre and returning back to home.

7. You will follow all instructions displayed in examination centre and communicated to you.

 8. You should try to avoid contact with unknown persons.

9. You will throw used tissue/ face mask, if any, into closed bins immediately after use. 10. You will maintain good hygiene in toilets during and after use

11. You should not touch eyes, nose or mouth with unwashed hands

12. You will not shake hands or hug at any cost while greeting. 13. You refrain yourselves from spitting in public places.

14. You should be confident that you are not infected or having symptoms of Covid 15. You will seek advice on Covid-19 from your parents while coming/leaving for examination.

CBSE is fully confident that you will abide by the instructions issued by CBSE and help in holding safe examination

I wish you a Good Luck for your CTET examination and Good Health

Faithfully yours
Anurag Tripathi
Director (CTET) &
Secretary, CBSE



✍️    हिंदी में 

प्रिय उम्मीदवार

 आप जानते हैं कि सीबीएसई 31.01.2021 (रविवार) को CTET परीक्षा आयोजित कर रहा है।  यह परीक्षा कोविद -19 के दौरान आयोजित की जाएगी और केवल 01 दिन के लिए आयोजित की जाएगी।

 बोर्ड ने भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों के आधार पर तैयार किए गए स्वास्थ्य दिशानिर्देशों को लागू करके सभी परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा के सुरक्षित संचालन के लिए विस्तृत व्यवस्था की है

 1. यह सुनिश्चित करने के लिए कि यह परीक्षा आपके और अन्य उम्मीदवारों के स्वास्थ्य और भलाई को सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षित रूप से आयोजित की जाएगी, आपको निम्नलिखित वस्तुओं को ले जाने की अनुमति है:

● आप पारदर्शी बोतल में पॉकेट हैंड सैनिटाइजर (50ML) कैरी करेंगे।
● आप फेस मास्क कैरी करेंगी।
● हाथों पर केवल दस्ताने पहनें
● व्यक्तिगत उपयोग के लिए पारदर्शी पानी की बोतल।  
● एडमिट कार्ड और पहचान पत्र यानि आधार कार्ड, ड्राइवर

 2. आप अपनी नाक और मुंह को मास्क से ढक लेंगे।

 3. आप सोशल डिस्टेंसिंग नॉर्म्स का सख्ती से पालन करेंगे।

 4. आप खुद पीने का पानी लेकर जाएंगे।

 5. आप परीक्षा कक्ष के अंदर लेखों का आदान-प्रदान या ऋण नहीं लेंगे।  

6. परीक्षा केंद्र में आने और घर लौटने के लिए आप परिवहन के सुरक्षित साधन का उपयोग करेंगे .

 7. आप परीक्षा केंद्र में प्रदर्शित सभी निर्देशों का पालन करेंगे और आपसे संवाद करेंगे।  8. आपको अज्ञात व्यक्तियों के संपर्क से बचने की कोशिश करनी चाहिए।

 9. आप उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में, उपयोग किए गए ऊतक / फेस मास्क को फेंक देंगे।  10. आप उपयोग के दौरान और बाद में शौचालय में अच्छी स्वच्छता बनाए रखेंगे

 11. आपको अनजाने हाथों से आंख, नाक या मुंह नहीं छूना चाहिए

 12. नमस्कार करते समय आप किसी भी कीमत पर हाथ नहीं हिलाएंगे या गले नहीं लगाएंगे।  

13. आप सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से खुद को रोकते हैं।

 14. आपको विश्वास होना चाहिए कि आप संक्रमित नहीं हैं या कोविद के लक्षण नहीं हैं। आप परीक्षा के लिए आते / जाते समय अपने माता-पिता से कोविद -19 की सलाह लेंगे।

 सीबीएसई को पूरा विश्वास है कि आप सीबीएसई द्वारा जारी निर्देशों का पालन करेंगे और सुरक्षित परीक्षा कराने में सहयोग करेंगे 

मैं आपको सीटीईटी परीक्षा और अच्छे स्वास्थ्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

 आपका विश्वसनीय
 अनुराग त्रिपाठी
 निदेशक (CTET) और
 सचिव, सी.बी.एस.ई.



Monday, January 11, 2021

CTET 2020 : जानें कब तक जारी हो सकते हैं सीबीएसई सीटीईटी परीक्षा के एडमिट कार्ड

CTET 2020 : जानें कब तक जारी हो सकते हैं सीबीएसई सीटीईटी परीक्षा के एडमिट कार्ड


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा 2020 31 जनवरी 2021 को आयोजित की जाएगी। अब उम्मीदवारों को परीक्षा के एडमिट कार्ड का इंतजार है। सीटीईटी परीक्षा के एडमिट कार्ड जनवरी के दूसरे सप्ताह में जारी हो सकते हैं। एडमिट कार्ड सीटीईटी की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर जारी किए जाएंगे। हालांकि एडमिट कार्ड जारी होने को लेकर अभी कोई आधिकारिक तिथि तय नहीं हुई, उम्मीदवार किसी भी जानकारी के लिए सीटीईटी की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर लेटेस्ट अपडेट देखते रहें। अभी तक सीटीईटी के एडमिट कार्ड परीक्षा से तीन सप्ताह पहले ही जारी होते आए हैं।  जब 2019 में 8 दिसंबर को परीक्षा आयोजित होनी थी तो 18 नवंबर को एडमिटकार्ड जारी हो गए थे। इसी प्रकार 7 जुलाई 2019 को परीक्षा थी , तो 22 जून को एडमिट कार्ड जारी हो गए थे। इसलिए उम्मीद जताई जा रही है कि एडमिट कार्ड जनवरी के दूसरे सप्ताह में जारी हो सकते हैं। 


आपको बता दें कि सीटीईटी परीक्षा 135 शहरों में आयोजित की जाएगी। नए परीक्षा शहर लखीमपुर, नागों, बेगुसराय, गोपालगंज, पूर्णिया, रोहतास, सहरसा, सारन, भिलाई/दुर्ग, बिलासपुर, हजारीबाग, जमशेदपुर, लुधियाना, अंबेडकर नगर, बिजनौर, बुलंदशहर, देवरिया, गोंडा, मैनपुरी, प्रतापगढ़, शाहजहांपुर, सीतापुर और उधमसिंह नगर हैं। आपको बता दें कि यह परीक्षा पिछले साल 5 जुलाई को आयोजित की जानी थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण परीक्षा को स्थगित कर दिया गया था।  लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण परीक्षा को स्थगित कर दिया गया था। 

Friday, November 13, 2020

एक तैयारी में दे सकेंगे शिक्षक पात्रता की दो परीक्षाएं, UPTET फरवरी माह में संभावित तो CTET 31 जनवरी को

एक तैयारी में दे सकेंगे शिक्षक पात्रता की दो परीक्षाएं,  UPTET फरवरी माह में संभावित तो CTET 31 जनवरी को


प्रतियोगी परीक्षाएं वर्ष भर होती हैं और हजारों प्रतियोगी उनमें शामिल होते आ रहे हैं। नए साल में शिक्षक पात्रता की ऐसी दो परीक्षाएं एक माह के अंतराल में होने की उम्मीद है। खास बात यह है कि प्रतियोगियों को एक ही तैयारी में दोनों परीक्षाएं देने का अवसर मिलेगा। संयोग से दोनों परीक्षाओं में अभ्यर्थियों की तादाद लाखों में होती है। उनमें से एक का कार्यक्रम घोषित है और दूसरे का शासनादेश जारी हो गया है। परीक्षा तारीख इसी माह घोषित होगी।


राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद यानी एनसीटीई का निर्देश है कि वर्ष में दो बार शिक्षक पात्रता परीक्षा कराई जाए। केंद्र सरकार पिछले वर्ष तक छह-छह माह के अंतराल पर दो परीक्षाएं कराती आ रही है, वहीं उत्तर प्रदेश में यह परीक्षा एक बार ही आयोजित हो रही है। सीटीईटी यानी केंद्र की परीक्षा पांच जुलाई को होना प्रस्तावित था लेकिन, कोरोना संक्रमण की वजह से नहीं हो सकी थी। अब यह परीक्षा 31 जनवरी 2021 को कराने की तारीख तय है। देशभर में परीक्षा केंद्र के शहरों की संख्या 112 से बढ़ाकर 135 की गई है। अभ्यर्थियों से केंद्र बदलने के आवेदन इन दिनों लिए जा रहे हैं।


उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) 2020 का गुरुवार को शासनादेश जारी हो गया है। यह परीक्षा अब फरवरी माह के अंत में संभावित है। शासन ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव से विस्तृत प्रस्ताव मांगा है। परीक्षा प्रदेश के सभी जिलों में कराई जानी है कड़े निर्देश हैं कि उन्हीं राजकीय व एडेड कालेजों को केंद्र बनाया जाए, जिनकी छवि साफ हो। इस बार भी आवेदकों की संख्या करीब 15 लाख के आसपास हो सकती है। सचिव जल्द ही परीक्षा तारीख और आनलाइन आवेदन लेने का कार्यक्रम जारी करेंगे।


यह परीक्षा अहम क्यों : सभी अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण करना अनिवार्य है, तभी वे प्राथमिक स्तर की शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में प्रतिभाग कर सकते हैं। इसमें सामान्य व आरक्षित वर्ग के लिए अलग-अलग कटऑफ अंक तय हैं। हालांकि हर बार परीक्षा में उत्तीर्ण होने वालों की तादाद काफी कम रहती है।


दो स्तर की होती है परीक्षा
टीईटी प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्तर की होती है। दोनों परीक्षाओं का आयोजन एक ही दिन दो पालियों में होता रहा है। अभ्यर्थी दोनों के लिए आवेदन कर सकते हैं। पहले में पाठ्यक्रम इंटर स्तर का ही है।

Monday, December 9, 2019

CTET का पेपर परीक्षा से डेढ़ घण्टे पहले हुआ था वायरल, दो गिरफ्तार

CTET का पेपर परीक्षा से डेढ़ घण्टे पहले हुआ था वायरल, दो गिरफ्तार।




सीटेट प्रश्नपत्र आउट कराने वाले कॉलेज प्रबंधक समेत दो गिरफ्तार

  • December 10, 2019

जागरण संवाददाता, कानपुर : यूपी एसटीएफ ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटेट) का प्रश्नपत्र आउट कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर जालौन के बीटीसी कॉलेज के प्रबंधक धीरज द्विवेदी उर्फ कृष्ण गोपाल और छात्र चंद्रपाल उर्फ जीतू को गिरफ्तार किया है। गिरोह के मुख्य सरगना प्रयागराज के बीटीसी संघ के नेता व उसके साथी की तलाश की जा रही है। सोमवार को एसटीएफ की तहरीर पर चकेरी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपितों को जेल भेज दिया।
रविवार को शहर में करीब 88 केंद्रों पर परीक्षा हुई थी। शनिवार को एसटीएफ लखनऊ को सूचना मिली थी कि जालौन का एक गैंग प्रश्नपत्र आउट कराने में लगा है। परीक्षा होने से पूर्व लखनऊ यूनिट ने कानपुर टीम से संपर्क कर बताया कि गिरोह वाट्सएप के जरिए प्रश्नपत्र बेच रहा है। गिरोह के सदस्य प्रश्नपत्र आउट कराने के बाद छात्रों से वसूली करने के लिए रुके हैं। तब टीम ने चकेरी पुलिस के साथ रामादेवी सब्जी मंडी के पास से जालौन के गणोशनगर गांव निवासी धीरज द्विवेदी उर्फ कृष्ण गोपाल और जालौन के ही गालमपुरा गांव निवासी चंद्रपाल उर्फ जीतू को गिरफ्तार कर लिया।
एसटीएफ के प्रभारी निरीक्षक घनश्याम यादव ने बताया कि आरोपित धीरज के चाचा का जालौन में पंडित परशुराम द्विवेदी महाविद्यालय का प्रबंधक है। कुछ माह पूर्व प्रयागराज के बीटीसी संघ के नेता आलोक सेंगर व साथी प्रिंस से उसकी मुलाकात हुई थी। आलोक ने ही प्रश्नपत्र आउट कराकर देने के बदले पांच लाख रुपये की मांग की। सौदा तय होने पर धीरज ने कॉलेज के छात्र जीतू की मदद से कई छात्रों से 25-25 हजार रुपये में सौदा तय किया था। पुलिस ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर धीरज व चंद्रपाल को जेल भेजा गया है। गिरोह के सरगना आलोक और ¨प्रस की तलाश जारी है।

’>>एसटीएफ लखनऊ की लीड पर कानपुर टीम ने पकड़े दोनों आरोपित
’>>नकदी, प्रवेशपत्र और वाट्सएप पर आया संभावित प्रश्नपत्र बरामद।












CTET : दबोचे गए सॉल्वर, सरगना समेत कई आरोपी फरार।














 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, July 8, 2019

CTET : दो पालियों में 14 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने लिया हिस्सा, गणित, संस्कृत और पर्यावरण में उलझे परीक्षार्थी


CTET : दो पालियों में 14 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने लिया हिस्सा,  गणित, संस्कृत और पर्यावरण में उलझे परीक्षार्थी। 















सीटेट में सॉल्वर गिरोह का भंडाफोड़, एसटीएफ ने दो को किया गिरफ्तार, सरगना की तलाश

सीटेट में सॉल्वर गिरोह का भंडाफोड़, एसटीएफ ने दो को किया गिरफ्तार, सरगना की तलाश।













 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Sunday, December 9, 2018

CTET : परीक्षा आज, लेकर जाएं कोई पहचान का प्रमाण पत्र, देश भर में 22 लाख अभ्यर्थी आजमा रहे भाग्य


CTET : परीक्षा आज, लेकर जाएं कोई पहचान का प्रमाण पत्र, देश भर में 22 लाख अभ्यर्थी आजमा रहे भाग्य। 


Saturday, November 10, 2018

नई दिल्ली : हाईकोर्ट ने किया सवाल - मौजूदा शिक्षकों के लिए पात्रता परीक्षा क्यों नहीं? कोर्ट ने केंद्र और एनसीटीई से चार सप्ताह में मांगा जवाब

नई दिल्ली : हाईकोर्ट ने किया सवाल - मौजूदा शिक्षकों के लिए पात्रता परीक्षा क्यों नहीं? कोर्ट ने केंद्र और एनसीटीई से चार सप्ताह में मांगा जवाब

Friday, July 13, 2018

CTET की आवेदन प्रक्रिया टली, तकनीकी दिक्कतों के चलते आवेदन अब तक न हो पाए शुरू

CTET की आवेदन प्रक्रिया टली, तकनीकी दिक्कतों के चलते आवेदन अब तक न हो पाए शुरू।


Saturday, April 14, 2018

हाईकोर्ट ने दिया आदेश : चार माह के अंदर पूरा कराएं सीटेट, पाठ्यक्रम में बदलाव न करने का भी निर्देश जारी

हाईकोर्ट ने दिया आदेश : चार माह के अंदर पूरा कराएं सीटेट, पाठ्यक्रम में बदलाव न करने का भी निर्देश जारी


Friday, January 19, 2018

सितंबर 2106 के बाद से सीटीईटी का आयोजन नही, सीटीईटी के बगैर शिक्षक भर्ती में कर सकेंगे आवेदन


सितंबर 2106 के बाद से सीटीईटी का आयोजन नही, सीटीईटी के बगैर शिक्षक भर्ती में कर सकेंगे आवेदन


Tuesday, May 2, 2017

सीटेट और नेट परीक्षा में बदलाव पर भड़के छात्र, दोनो परीक्षा साल में एक बार कराने का कर रहें है विरोध


सीटेट और नेट परीक्षा में बदलाव पर भड़के छात्र, दोनो परीक्षा साल में एक बार कराने का कर रहें है विरोध

Monday, September 19, 2016

CTET : सेंट्रल टीचिंग एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) हुआ संपन्न, जूनियर की परीक्षा देने वालों को सोशल साइंस में दिक्कत तो प्राइमरी में मैथ्स के सवालों से अभ्यर्थी हुए परेशान


सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (सीबीएसई) की ओर से रविवार को शहर के 34 केंद्रों पर सेंट्रल टीचिंग एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) हुआ। पहले पाली में जूनियर की परीक्षा देने वालों को जहां सोशल साइंस के सेक्शन में दिक्कत हुई तो वहीं दूसरी पाली में प्राइमरी की परीक्षा में मैथ्स के सवालों से अभ्यर्थी काफी परेशान हुए।

साइंस बैकग्राउंड के योगेंद्र सिंह ने बताया कि साइंस का सेक्शन पहले के मुकाबले आसान आया। जबकि मैथ्स के सवाल घुमाकर पूछे गए, जिन्हें करने में काफी दिक्कत हुई। वहीं आर्ट्स बैकग्राउंड की नेहा मिश्रा ने बताया कि दूसरे पेपर में हिंदी का सेक्शन सबसे आसान था, जबकि सोशल स्टडीज में हिस्ट्री और जियॉग्रफी के सवाल मुश्किल थे। मोनिका ने बताया कि इंग्लिश के पैसेज काफी लंबे आए थे।

92% अभ्यर्थी शामिल
परीक्षा दो पालियों में हुई। सुबह 9:30 बजे से 12:00 बजे के बीच पहली पाली में जूनियर कक्षाओं के लिए होने वाले दूसरे पेपर की परीक्षा हुई। 2:00 से 4:30 बजे के बीच दूसरी पाली में प्राइमरी के लिए होने वाले पहले पेपर की परीक्षा हुई। इसमें कुल 26 हजार अभ्यर्थी रजिस्टर्ड थे, जिसमें लगभग 2000 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। कुल 92 प्रतिशत अभ्यर्थी उपस्थित रहे।

Tuesday, June 28, 2016

15 हजार शिक्षक भर्ती में एनसीटीई नियमों के विपरीत अनियमितता का आरोप,  बीटीसी के  प्रथम या द्वितीय सेमेस्टर में ही यूपीटीईटी और सीटेट पास करने का आरोप, बेसिक शिक्षा निदेशक को जांच के लिए सौंपा ज्ञापन

15 हजार शिक्षक भर्ती में एनसीटीई नियमों के विपरीत अनियमितता का आरोप,  बीटीसी के  प्रथम या द्वितीय सेमेस्टर में ही यूपीटीईटी और सीटेट पास करने का आरोप, बेसिक शिक्षा निदेशक को जांच के लिए सौंपा ज्ञापन।