DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, August 9, 2018

स्कूल की स्लैब गिरी, छात्र की मौत, फर्रुखाबाद के कायमगंज का मामला, स्कूल के प्रधानाध्यापक और शिक्षामित्र को किया गया निलम्बित

एनबीटी ब्यूरो, लखनऊ : स्कूल का छज्जा गिरने से बच्चे की मौत होने के बाद शासन ने सभी जिलों को निर्देश जारी कर जर्जर विद्यालयों में दाखिला न लेने को कहा है। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा प्रभात कुमार ने इस संदर्भ में बुधवार को सभी जिलों को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि शासन के संज्ञान में आया है कि कुछ प्राथमिक विद्यालय जर्जर भवनों में चल रहे हैं। इसके कारण विद्यार्थियों के जान माल का खतरा बना रहता है। इसलिए जिले में उच्च प्राथमिक एवं प्राथमिक विद्यालयों का सेफ्टी ऑडिट करा लिया जाए। इसके लिए संबंधित स्कूल के प्रधानाचार्य और खंड शिक्षा अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी।
'जर्जर प्राथमिक स्कूलों

में न लें दाखिले'• एनबीटी ब्यूरो, कानपुर : फर्रुखाबाद जिले के कायमगंज क्षेत्र में बुधवार सुबह एक प्राइमरी स्कूल की स्लैब का हिस्सा गिरने से छात्र की मौत हो गई। मुआवजे की मांग को लेकर लोगों ने हंगामा भी किया। बताते हैं कि घटना के तुरंत बाद हेडमास्टर रजिस्टर लेकर स्कूल से भाग गए। बीएसए की तहरीर पर स्कूल के भवन प्रभारी, तत्कालीन अवर अभियंता और एक अन्य के खिलाफ कायमगंज थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं शासन ने मामले का संज्ञान लेते हुए स्कूल के प्रधानाध्यापक और शिक्षामित्र को निलंबित कर दिया है।

कायमगंज के पंछी नगला गांव में सरकारी प्राथमिक विद्यालय है। बुधवार को बच्चे रोजाना की तरह पढ़ाई कर रहे थे, तभी अचानक स्लैब का एक हिस्सा ढह गया। किसी काम से वहां संतरात राजपूत का बेटा मदनपाल (8) मलबे की चपेट में आ गया। गंभीर हालत में उसे तुरंत नजदीकी सीएचसी ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस स्कूल का निर्माण 2006 में कराया गया था। घटना की सूचना से ग्रामीण नाराज हो गए और सीएचसी में हंगामा किया। मौके पर पहुंचे तहसील के अधिकारियों ने मुआवजे का आश्वासन देकर लोगों को शांत किया। बीएसए राजकुमार पंडित ने कायमगंज कोतवाली में भवन प्रभारी प्रमोद यादव, तत्कालीन इंजिनियर और एक अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट लिखी है।

No comments:
Write comments