DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label सीबीएसई. Show all posts
Showing posts with label सीबीएसई. Show all posts

Friday, February 12, 2021

एक अप्रैल से शैक्षणिक सत्र की शुरुआत कर सकते हैं : सीबीएसई

एक अप्रैल से शैक्षणिक सत्र की शुरुआत कर सकते हैं : सीबीएसई

नई दिल्ली :  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) का कहना है कि देशभर में स्कूल राज्य सरकार के निर्देशानुसार पहली अप्रैल से शैक्षणिक सत्र की शुरुआत कर सकते हैं। 


स्कूल नौवीं व ग्यारहवीं के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए परीक्षा आयोजित कर सकते हैं सीबीएसई की ओर से मई-जून में दसवीं-बारहवीं की परीक्षा तिथियां जारी करने के बाद स्कूलों ने नौवीं-ग्यारहवीं की परीक्षाएं आयोजित करने व सत्र की शुरुआत करने संबंधी जानकारी बोर्ड से मांगी थी। 


इसके बाद बोर्ड ने स्कूलों को इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। सीबीएसई का कहना है कि स्कूलों को आमने-सामने की कक्षाओं में छात्रों का स्वागत करने के लिए तैयार किया जाना चाहिए। इस तरह स्कूल आने से छात्रों को प्रैक्टिकल व परीक्षा की तैयारी करने में मदद मिलेगी। वह ना केवल अपने लेखन कौशल में सुधार कर सकेंगे बल्कि अपनी शंकाओं का समाधान कर सकेंगे। शिक्षक को प्रत्येक बच्चे पर ध्यान देना चाहिए जिससे बच्चे के लनिंग गैप का मूल्यांकन हो सके।

सीबीएसई : प्रैक्टिकल परीक्षा और आंतरिक मूल्यांकन के दिशानिर्देश जारी, 1 मार्च से शुरू होंगी 10वीं व 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं

सीबीएसई : प्रैक्टिकल परीक्षा और आंतरिक मूल्यांकन के दिशानिर्देश जारी, 1 मार्च से शुरू होंगी 10वीं व 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं


● बोर्ड की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक करेगा निगरानी

▪️हर बैच के प्रैक्टिकल के बाद लैब होगा सैनिटाइज

▪️सैनिटाइजर और ग्लव्स ला सकेंगे परीक्षार्थी





नई दिल्ली : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा 12वीं की प्रायोगिक परीक्षाएं 1 मार्च से 11 जून के बीच आयोजित होगी। स्कूलों को 11 जून तक प्रोजेक्ट मूल्यांकन और आंतरिक मूल्यांकन भी करना होगा। सीबीएसई ने स्कूलों को प्रायोगिक परीक्षा और आंतरिक मूल्यांकन के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं। परीक्षा में बच्चों के हर बैच का अलग-अलग फोटो बोर्ड द्वारा उपलब्ध कराए गए लिंक पर अपलोड करना होगा। इसी तरह स्कूलों को लैब में एग्जामिनर के सामने छात्रों के प्रैक्टिकल करने की तस्वीरें भी भेजनी होगी। दिशानिर्देश का पालन नहीं करने वाले स्कूलों पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है।

सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज की ओर से प्रैक्टिकल परीक्षाएं, प्रोजेक्ट व आंतरिक मूल्यांकन 2021 को लेकर निर्देश जारी किए गए हैं जारी निर्देश में कहा गया है कि आंतरिक मूल्यांकन व प्रोजेक्ट का मूल्यांकन भी इस समय अवधि के दौरान ही अपलोड करने होंगे प्रैक्टिकल परीक्षाएं सीबीएसई द्वारा नियुक्ति बाहरी परीक्षकों की उपस्थिति में आयोजित होंगी स्कूलों को आंतरिक मूल्यांकन पूरा करने के बाद मूल्यांकन के अंक उपलब्ध कराए गए लिंक पर तुरंत अपलोड करने को कहा गया है। अंक अपलोड करते समय स्कूलों को इस बात को सुनिश्चित करना होगा कि सही अंक ही अपलोड किए जाएं। एक बार अंक अपलोड हो जाने के बाद उसमें सुधार करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Tuesday, February 2, 2021

सीबीएसई कक्षा 10, 12 परीक्षा की डेटशीट शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने की जारी, देखें पूरा परीक्षा कार्यक्रम

सीबीएसई कक्षा 10, 12 परीक्षा की डेटशीट शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने की जारी, देखें पूरा परीक्षा कार्यक्रम


नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा मंत्री डा. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने मंगलवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की तरफ से आयोजित की जाने वाली 10वीं और 12वीं की वार्षिक परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी कर दिया है। कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं चार मई से शुरू होंगी। 10वीं कक्षा की परीक्षाएं सात जून को खत्म हो जाएंगी, जबकि 12वीं की परीक्षाओं का समापन 11 जून को होगा।


CBSE  Class 10, 12 Exam 2021 Date Sheet : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं, 12वीं परीक्षा की डेटशीट आज जारी कर दी गई। सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2021 की डेटशीट केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक की ओर से पहले से घोषित कार्यक्रम के अनुसार जारी की गई। इस मौके पर शिक्षा मंत्री ने देशभर के सीबीएसई छात्रों को शुभकामनाएं दी।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने 28 जनवरी 2021 को सीबीएसई स्कूल प्रिंसिपल्स के साथ संवाद में बताया था कि बोर्ड 2 फरवरी 2021 को कक्षा 10वीं और 12वीं का पूरा शेड्यूल जारी करेगा। आपको बता कि सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं 4 मई 2021 से शुरू हो रही हैं।

CBSE Class  X Final Date Sheet 2021


CBSE Class  Xll Final Date Sheet 2021

Thursday, January 28, 2021

CBSE Date Sheet 2021: 2 फरवरी को जारी होगी 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट – शिक्षा मंत्री

CBSE Date Sheet 2021: 2 फरवरी को जारी होगी 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट – शिक्षा मंत्री

वर्ष 2021 की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है।

CBSE Date Sheet 2021 सीबीएसई द्वारा 10वीं और 12वीं का बोर्ड परीक्षाओं के लिए डेटशीट का घोषणा 2 फरवरी को की जाएगी। यह जानकारी केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने अब से कुछ ही देर पहले दी।


नई दिल्ली : CBSE Date Sheet 2021: वर्ष 2021 की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है। सीबीएसई द्वारा 10वीं और 12वीं का बोर्ड परीक्षाओं के लिए डेटशीट का घोषणा 2 फरवरी को की जाएगी। यह जानकारी केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने अब से कुछ ही देर पहले दी। समाचार एजेंसी एएनआई के अपडेट के मुताबिक शिक्षा मंत्री ने आज, 28 जनवरी 2021 को बताया, “कक्षा 10 और कक्षा 12 के लिए परीक्षाओं का शेड्यूल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा जल्द ही, 2 फरवरी 2021 को घोषित किया जाएगा।" बता दें कि इससे पहले शिक्षा मंत्री द्वारा सीबीएसई की सेकेंड्री और सीनियर सेकेंड्री कक्षाओं के लिए बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन 4 मई से 10 जून तक किये जाने की घोषणा की गयी थी।

सीबीएसई की वेबसाइट से कर पाएंगे डाउनलोड

बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी में जुटे स्टूडेंट्स को ध्यान देना चाहिए कि बोर्ड द्वारा डेटशीट या टाइम-टेबल ऑफिशियल वेबसाइट, cbse.gov.in पर जारी किया जाएगा। सेकेंड्री के स्टूडेंट्स को सीबीएसई बोर्ड 10वीं डेटशीट 2021 या सीनियर सेकेंड्री के स्टूडेंट्स को सीबीएसई बोर्ड 12वीं डेटशीट 2021 डाउनलोड करने के लिए बोर्ड की ऑफिशयिल पर लेटेस्ट अपडेट सेक्शन में विजिट करना होगा।


सीबीएसई बोर्ड परीक्षा परिणाम 15 जुलाई तक

शिक्षा मंत्री ने इसके साथ ही, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जानकारी दी की 10 जून तक सीबीएसई बोर्ड द्वारा दोनो ही कक्षाओं के लिए परीक्षाओं के आयोजन के बाद परिणामों की घोषणा 15 जुलाई 2021 तक कर दी जाएगी। वहीं सीबीएसई बोर्ड के प्रैक्टिकल एग्जाम को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन स्कूलों द्वारा 1 मार्च 2021 से किया जाएगा।

बता दें कि आमतौर पर सीबीएसई बोर्ड से सम्बद्ध देश भर के स्कूलों में कक्षा 10 और कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन फरवरी और मार्च के माह के दौरान और प्रैक्टिकल एग्जाम जनवरी माह में आयोजित किये जाते थे। हालांकि, इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण बाधित हुई फिजिकल क्लासेस जैसी शैक्षणिक गतिविधियों के चलते स्टूडेंट्स को तैयारी के लिए अधिक समय देने के उद्देश्य से परीक्षाओं के आयोजन में देरी हुई है।

Friday, January 22, 2021

सीबीएसई की बोर्ड परीक्षा में अबकी बायोमेट्रिक होगी हाजिरी

सीबीएसई की बोर्ड परीक्षा में अबकी बायोमेट्रिक होगी हाजिरी

सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए छात्रों की बायोमेट्रिक हाजिरी लेगा। यह प्रयोग पहली बार किया जा रहा है। नया सिस्टम लागू होने के बाद परीक्षा के दौरान मूल परीक्षार्थी की जगह दूसरे को परीक्षा में बैठाने से रोका जा सकेगा। बताया जा रहा है कि आने वाले समय में स्कूलों में भी अटेंडेंस के लिए बायोमेट्रिक सिस्टम लागू किया जा सकता है। 



परीक्षा कक्ष में बैठने के बाद शुरू होगी अटेंडेंस
बायोमेट्रिक सिस्टम से अटेंडेंस परीक्षा कक्ष में ली जाएगी। बोर्ड पहले इस व्यवस्था को प्रायोगिक तौर पर 12 वीं की बोर्ड परीक्षा में लागू करेगा। परीक्षार्थियों को कक्ष में बैठने के बाद हाजिरी लेने की प्रक्रिया शुरू होगी। अब तक परीक्षार्थी की पहचान प्रवेश पत्र पर लगे फोटो को देखकर की जाती थी। अब परीक्षार्थियों की पहचान डिजिटल तरीके से होगी। नई व्यवस्था लागू होने से परीक्षार्थियों को पहचानने में आसानी होगी। कोई परीक्षार्थी फर्जी निकला तो उसे परीक्षा दौरान ही पकड़ा जा सकेगा।

चार मई से शुरू होंगी सीबीएसई की परीक्षाएं
सीबीएसई 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा चार मई से शुरू होकर 10 जून तक चलेगी। 10 जुलाई तक नतीजे घोषित करने तैयारी है। सीबीएसई ने कोरोना गाइड लाइन का ध्यान रखते हुए परीक्षा कराने का निर्देश दिया है। बोर्ड की ओर से प्रयोगात्मक परीक्षाएं एक मार्च से शुरू हो रही हैं। सीबीएसई ने जहां एक तरफ टाइम टेबल के साथ प्रयोगात्मक परीक्षाओं की तिथि जारी कर दी है वहीं यूपी बोर्ड की ओर से अभी तक केंद्र का निर्धारण तक नहीं हो सका है। परीक्षा केंद्र तय किए जाने के बाद प्रयोगात्मक परीक्षा और परीक्षा कार्यक्रम जारी होगा।


Wednesday, January 20, 2021

सोशल मीडिया पर 10 वीं व 12 वीं की परीक्षाओं का पास होने का प्रतिशत घटाने का दावा निकला फर्जी, देखें अधिकृत जानकारी।

सोशल मीडिया पर 10 वीं व 12 वीं की परीक्षाओं का पास होने का प्रतिशत घटाने का दावा निकला फर्जी, देखें अधिकृत जानकारी।



दावा:- सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि 10वीं और 12वीं की 2021, बोर्ड परीक्षा में अब पास होने के लिए 33 प्रतिशत अंक को घटाकर 23 प्रतिशत कर दिया गया है।


#PIBFactCheck:- यह दावा फर्जी है। @EduMinOfIndia ने ऐसी कोई घोषणा नहीं की है। https://t.co/Tp5bnqTBdi

Tuesday, January 19, 2021

सीबीएसई ने स्कूलों को मान्यता देने की प्रणाली में किया बदलाव

CBSE Affiliation Rules Under NEP
सीबीएसई ने मान्यता नियमों में किया बदलाव, अब साल में तीन बार ही मिलेगा ये खास मौका

सीबीएसई ने स्कूलों को मान्यता देने की प्रणाली में किया बदलाव

सीबीएसई की स्कूल संबद्धता प्रणाली की प्रक्रिया होगी पूरी तरह डिजिटल

नई दिल्ली। सीबीएसई ने स्कूलों को मान्यता देने की प्रणाली में बदलाव करते हुए इस प्रक्रिया को पूरी तरह डिजिटल कर दिया है। डाटा विश्लेषण के आधार पर इसमें मानवीय हस्तक्षेप की कम से कम गुंजाइश छोड़ी गई है। बोर्ड ने कहा है कि वह जल्द ही इस बदलाव के विस्तृत दिशानिर्देश के साथ सामने आएगा।

नई प्रणाली 1 मार्च से प्रभावी होगा। दरअसल नई शिक्षा नीति के तहत कई सिफारिशों के आधार पर इस प्रणाली में बदलाव किया गया है। सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने बताया | कि मान्यता प्रणाली हालांकि 2006 से ही ऑनलाइन है, लेकिन अब यह पूरी तरह डिजिटल होगी। 


न्यू एजुकेशन पॉलिसी की सिफारिशों को लागू करने के नजरिए से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने स्कूलों की संबद्धता से जुड़े नियमों में बड़ा बदलाव किया है। अब संबद्धता के लिए साल में तीन बार ही ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। बोर्ड का आदेश गोरखपुर में संचालित स्कूलों में पहुंच गया है।


पुराने नियम के मुताबिक पूरे वर्ष संबद्धता के लिए आवेदन किए जाने की स्कूलों को छूट दी गई थी। मगर सत्र 2021-22 में संबद्धता के नियमों को और पारदर्शी बनाने और आंकड़ों में स्पष्टता लाने के नजरिए से बोर्ड ने नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है।


व्यवस्था में बदलाव से चरण वार तरीके से स्कूलों के संबद्धता से जुड़े मामलों को जल्द निपटाने में आसानी होगी। वहीं संबद्धता से जुड़े काम को पूरा करने का दबाव भी बनेगा। हालांकि बोर्ड ने अतिरिक्त विषय, वर्गवार वृद्धि, स्कूल में नाम में परिवर्तन के लिए ऑनलाइन आवेदन एक मार्च से शुरू होकर वर्ष पर्यंत जारी रखने की छूट स्कूल प्रबंधन को दी है।
विज्ञापन


इन तीन चरणों में होगा आवेदन
नए स्कूल की मान्यता के लिए नियमों में बदलाव के साथ बोर्ड ने कार्यक्रम भी जारी कर दिया है। तीन चरणों में आवेदन की प्रक्रिया मार्च एक से 31, जून 1-30 और सितंबर 1-30 तक चलेगी। ऑनलाइन आवेदन जमा कराने के बाद से स्कूलों का भौतिक निरीक्षण सीबीएसई के अधिकारियों की ओर से किया जाएगा। उनकी रिपोर्ट के आधार पर स्कूल को मान्यता प्रदान की जाएगी।


संबद्धता के नवीनीकरण के लिए भी एक महीने का मौका
बोर्ड ने संबद्धता के नवीनीकरण की प्रक्रिया में भी बदलाव किया है। पुराने नियम के मुताबिक स्कूल प्रबंधन को एक जनवरी से 31 मार्च तक आवेदन का मौका दिया जाता था। मगर नए सत्र से एक मार्च से 31 मार्च तक ही आवेदन का मौका स्कूल प्रबंधन को मिलेगा।


गोरखपुर स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय शाही ने बताया कि नए स्कूलों की मान्यता के संदर्भ में बोर्ड ने नई एजुकेशन पॉलिसी के तहत बदलाव किया है। अब साल में तीन बार ही आवेदन किया जा सकेगा। बोर्ड की पहल से संबद्धता के लिए आवेदन करने वाले स्कूलों को आसानी होगी।

Friday, January 15, 2021

नई शिक्षा नीति के तहत अब सीबीएसई देगा स्कूलों को सम्बद्धता, आवेदन 31 मार्च 2021 तक

नई शिक्षा नीति के तहत अब सीबीएसई देगा स्कूलों को सम्बद्धता, आवेदन 31 मार्च तक

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण तिथियां
नई मान्यता के लिए आवेदन-      एक से 31 मार्च 2021, एक से 30 जून 2021, एक से 30 सितंबर 2021
मान्यता अपग्रेड करने के लिए आवेदन-  एक स 31 मार्च तक 2021, एक से 31 मार्च 2021, एक से 30 सितंबर 2021
मान्यता आगे बढ़ाने लिए आवेदन-    एक मार्च से 31 मई 2021 तक
स्कूल में अतिरिक्त विषय, सेक्शन बढ़ाने के लिए आवेदन-    एक मार्च 2021 से पूरे साल
स्कूल का नाम बदले जाने के लिए आवेदन- एक मार्च 2021 से


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) स्कूलों को अब नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के तहत मान्यता देगा। बोर्ड ने इस बारे में नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।बोर्ड की ओर से आवेदन के लिए एक मार्च की तिथि तय की गई है। जिस स्कूल को पहली बार मान्यता लेनी हो, वह भी एक से 31 मार्च तक आवेदन करें। बोर्ड ने स्कूलों को मान्यता अपग्रेड करने के लिए साल में तीन बार आवेदन का मौका दिया है।

आवेदन के लिए 31 मार्च को खुलेगा सीबीएसई का विंडो
सीबीएसई सम्बद्धता के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करने के लिए एक मार्च 2021 से विंडो खोलेगा। नई मान्यता के साथ पहले चल रहे स्कूल 12 वीं तक स्कूल अपग्रेड करना चाहते हैं तो पुराने स्कूल भी आवेदन कर सकते हैं। सीबीएसई की ओर से नई शिक्षा नीति के तहत स्कूलों को अपग्रेड करने के लिए पहली बार साल में तीन बार आवेदन का मौका देगा। पहली बार आवेदन एक से 31 मार्च के बीच लिए जाएंगे। दूसरी बार एक से 30 जून के बीच सीबीएसई आवेदन का मौका देगा जबकि मान्यता के लिए तीसरी बार आवेदन प्रक्रिया एक से 30 सितंबर लिए जाएंगे।

नई शिक्षा नीति के तहत साल भर में सभी स्कूल अपग्रेड होंगे
सीबीएसई की ओर से नई शिक्षा नीति के तहत सभी स्कूलों को 12 वीं तक अपग्रेड कर दिया जाएगा। स्कूल तीन बार आवेदन कर अपने को अपग्रेड कर सकते हैं। अपग्रेड के अलावा स्कूल संबद्धता की समय सीमा को बढ़ाने के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। संबद्धता की समय सीमा बढ़ाने के लिए एक मार्च से 31 मई तक आवेदन लिया जाएगा।


Thursday, January 14, 2021

बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए सीबीएसई शुरू करेगा कॉउंसलिंग सेवा

बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए सीबीएसई शुरू करेगा कॉउंसलिंग सेवा, दसवीं-बारहवीं के छात्रों के लिए पढ़ाई के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव, खानपान की दी जाएगी जानकारी

प्रयागराज :  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से दसवीं और बारहवीं के बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए फरवरी-मार्च में काउंसलिंग सेवा शुरू होगी। इस दौरान विशेषज्ञ छात्र छात्राओं को बोर्ड परीक्षा की तैयारी के साथ कैरियर, कोरोना संक्रमण से बचाव, खान-पान, सोशल डिस्टेंसिंग, योग-व्यायाम और परीक्षा जुड़ी अन्य सलाह दी जाएंगी। बोर्ड की ओर से यह प्रक्रिया परीक्षा और परिणाम आने के बाद भी जारी रहेगी।


सीबीएसई की ओर से जारी सूचना में कहा दसवीं , बारहवीं की परीक्षा से पहले छात्र-छात्राएं मानसिक दवाब और तनाव की स्थिति में रहते हैं इसके चलते उन्हें परीक्षा के समय घबराहट, भूख कम लगना, विभिन्न विषयों को लेकर आने वाली परेशानी, अंकों का दबाव सहित ढेर सारी समस्याएं सामने होती हैं। सीबीएसई की ओर से हर साल छात्रों की सुविधा के लिए परीक्षा से पहले काउंसलिंग सेवा की जाती रही है। इस बार कोरोना के चलते बोर्ड परीक्षाएं मई में हो रही हैं, ऐसे में बोर्ड काउंसलिंग फरवरी मार्च में शुरू करेगा।

सीबीएसई के विशेषज्ञों से छात्र कर सकेंगे समस्या का समाधान : सीबीएसई की ओर से कहा गया है कि परीक्षार्थियों को बोर्ड परीक्षा के बारे में योजनाबद्ध तरीके से जानकारी देने के लिए विशेषज्ञ ऑनलाइन, मोबाइल, लैंडलाइन के साथ टोल फ्री नंबर पर उपलब्ध होंगे। परीक्षार्थी इस दौरान तनाव, दबाव कम करने के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव के बारे में सलाह ले सकेंगे विशेषज्ञ कोरोना संक्रमण के चलते इस बार छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने सहित स्वास्थ्य से जुड़ी दूसरी जानकारी भी देंगे यूपी बोर्ड की ओर से हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के छात्रों के लिए जुलाई अगस्त से ही लगातार काउंसलिंग कार्यक्रम चला रहा है।

Saturday, January 2, 2021

सीबीएसई बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए www.edudel.nic.in पर तैयार प्रैक्टिस पेपर करें डाउनलोड

 सीबीएसई बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए  www.edudel.nic.in  पर तैयार प्रैक्टिस पेपर करें डाउनलोड 


दिल्ली;  सीबीएसई परीक्षाओं की घोषणा के बाद शिक्षा निदेशालय ने भी कमर कस ली है। निदेशालय ने दसवीं व बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं के अभ्यास के लिए प्रैक्टिस पेपर तैयार किए हैं। इनमें प्रश्नों के साथ-साथ उनके हल भी बताए गए हैं। शिक्षा निदेशालय ने इन प्रैक्टिस पेपर को ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया है।


शिक्षा निदेशालय का मानना है कि यह प्रैक्टिस पेपर बच्चों की बोर्ड परीक्षा की तैयारी में मददगार होंगे। छात्र, शिक्षक व अभिभावक www.edudel.nic.in लिंक के माध्यम से डाउनलोड कर सकते हैं। जिन छात्रों के पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है, उन्हें शिक्षक डाउनलोड कर ये पेपर उपलब्ध कराऐंगे।


जिन विषयों के पेपर तैयार किए गए हैं उनमेें दसवीं के अंग्रेजी, हिंदी, मैथमेटिक्स, नेचुरल साइंस, सोशल साइंस, संस्कृत, उर्दू, विषय शामिल हैं। वहीं बारहवीं के अंग्रेजी, हिंदी, मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, अकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडी, इकोनॉमिक्स, जियोग्राफी, पॉलिटिक्ल साइंस, हिस्ट्री, सोशियोलॉजी, फिजिकल एजुकेशन, होम साइंस व संस्कृत विषय शामिल हैं।


कोरोना महामारी के कारण पढ़ाई पूरी तरह ऑनलाइन हो रही है ऐसे में निदेशालय बोर्ड की तैयारी में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। स्कूल प्रमुखों को निर्देशित किया गया है कि इन प्रैक्टिस पेपर या सैंपल पेपर के विषय में बच्चों को बताया जाए।


निदेशालय का मानना है कि इन प्रैक्टिस पेपर के इस्तेमाल से बच्चों का अभ्यास बेहतर होगा। इनसे अभ्यास करेंगे तो उनको पता चलेगा कि परीक्षा में किस तरह के कितने प्रश्न पूछे जाएंगे। प्री-बोर्ड परीक्षा की तैयारी में भी इनसे मदद मिलेगी और छात्र समय प्रबंधन भी सीख सकेंगे। चूंकि अभी बोर्ड परीक्षाओं मेें चार महीने शेष हैं, ऐसे में काफी समय पहले उपलब्ध कराए गए यह पेपर उनकी काफी मदद करेंगे।

Thursday, December 31, 2020

CBSE Board Exam: चार मई से शुरू होंगी सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं

CBSE Board Exams 2021 Dates Released
CBSE Board Exam: चार मई से शुरू होंगी सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं

🔔 परीक्षाओं के परिणाम 15 जुलाई को घोषित कर दिए जाएंगे




केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने साल 2021 में होने वाली बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों का एलान कर दिया है। इसके अनुसार 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं चार मई से शुरू होंगी और 10 जून को समाप्त होंगी। एक मार्च से प्रैक्टिकल (प्रयोगात्मक) परीक्षाएं होंगी। सीबीएसई ने बताया कि इन परीक्षाओं के परिणाम 15 जुलाई कर घोषित कर दिए जाएंगे।


CBSE Exam Date 2021: सीबीएसई 10वीं 12वीं परीक्षा 2021 की तारीखों ( cbse date sheet 2021 ) का ऐलान हो गया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरुवार को कहा कि 4 मई से 10 जून तक सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा होगी. उन्होंने आगे कहा कि एक मार्च से स्कूलों में प्रैक्टिकल शुरू होंगे. 15 जुलाई को 10वीं-12वीं की परीक्षा के नतीजे आएंगे.

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि 1.1 करोड़ अध्यापक 1,000 से अधिक विश्वविद्यालय और लाखों स्कूल में पढ़ाने वाले शिक्षक अमेरिका की कुल जनसंख्या से अधिक छात्र-छात्राओं को पढ़ाने वाले हैं. मैं उनका धन्यवाद करता हूं कि जब विश्व के कई देश पाठ्यक्रम में 1 साल पीछे चले गए. हमने विपरीत परिस्थितियों में भी ऑनलाइन एजुकेशन के जरिए बच्चों को पढ़ाया.



केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ के CBSE बोर्ड के कक्षा 10वीं और 12वीं की एग्जाम डेट शीट की घोषणा करते ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने डेटसीट को लेकर नोटिफिकेशन जारी की है। 


नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ के CBSE बोर्ड के कक्षा 10वीं और 12वीं की एग्जाम डेट शीट की घोषणा करते ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने डेटसीट को लेकर जारी दी है। CBSE बोर्ड की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा को लेकर परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय भारद्वाज ने अधिसूचना जारी की है। 


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अपनी अधिसूचना में कहा है कि कक्षा दस और बारह की बोर्ड परीक्षाएं 4 मई 2021 (मंगलवार) से शुरू होंगी। स्कूलों को कक्षा बारह की प्रैक्टिकल/प्रोजेक्ट/आंतरिक मूल्यांकन की अनुमति 1 मार्च, 2021 (सोमवार) से इसी कक्षा की लिखित परीक्षा की अंतिम तिथि तक दी जाएगी। इसी प्रकार स्कूलों को कक्षा दस की प्रैक्टिकल/प्रोजेक्ट/आंतरिक मूल्यांकन की अनुमति 1 मार्च, 2021 (सोमवार) से इसी कक्षा की लिखित परीक्षा की अंतिम तिथि तक दी जाएगी। 


सीबीएसई ने अपनी अधिसूचना में आगे कहा है कि जल्द ही दोनों कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा समय सारिणी जारी की जाएगी। सीबीएसई समय-समय पर परीक्षा से संबंधित जानकारी के बारे में सभी हितधारकों को सूचित करेगी। जानकारी सीबीएसई की वेबसाइट (https://cbse.nic.in/) पर उपलब्ध कराई जाएगी। सोशल मीडिया सहित किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध जानकारी को तब तक सही नहीं माना जाना चाहिए जब तक कि यह जानकारी बोर्ड की वेबसाइट पर उपल्बध न हो। 


अधिसूचना में ये भी कहा गया है कि छात्रों/शिक्षकों और स्कूलों द्वारा कोविड-19 महामारी के कारण अभूतपूर्व स्थिति का सामना किया जा रहा है इसलिए सीबीएसई ने छात्रों के लिए परीक्षा के दौरान अनुकूल वातावरण सुनिश्चित करने और विभिन्न हितधारकों के साथ परामर्श व उनके विचार जानने के बाद लिए गए निर्णय आपको सूचित किए जा रहे हैं।


4 मई से 10 जून के बीच होगी सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं

बता दें कि, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने गुरूवार को अपने ऑफिशियल ट्विटर और फेसबुक हैंडल पर सीबीएसई बोर्ड एग्जाम की डेटशीट की घोषणा की। CBSE क्लास 10th और 12th के बोर्ड एग्जाम 4 मई 2021 से शुरू होंगे जो कि 10 जून तक चलेंगे। 1 मार्च से सीबीएसई के प्रैक्टिकल एग्जाम शुरू होंगे। रिजल्ट 15 जुलाई को घोषित किए जा सकते हैं। 

ऑफलाइन ही कराई जाएंगी परीक्षाएं

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और सीबीएसई दोनों ही यह स्पष्ट कर चुके हैं की बोर्ड परीक्षाएं, परीक्षा केंद्रों में जाकर देनी होंगी। बोर्ड परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन परीक्षा का कोई विकल्प नहीं दिया गया है। यह परीक्षाएं प्रत्येक वर्ष की भांति इस बार भी पेन पेपर के माध्यम से ली जाएंगी। CBSE की ओर से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार बोर्ड की परीक्षाएं पैन पेपर की मदद से ऑफलाइन ही कराई जाएंगी। कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए एग्जाम हॉल में भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करना होगा। एग्जाम सेंटर पर भीड़ ना हो इसके लिए केंद्र सरकार ने CBSE को सख्त निर्देश दिए हैं। CBSE ने पहले ही बताया था कि कोरोना के चलते एग्जाम सेंटर्स बढ़ा दिए गए हैं। 

CBSE : 10वीं-12वीं की परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं, तिथि का एलान आज

CBSE : 10वीं-12वीं की परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं, तिथि का एलान आज, मार्च-अप्रैल में हो सकती हैं लिखित परीक्षाएं



नई दिल्ली : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं और बारहवीं परीक्षा की तारीखों को लेकर फिलहाल इंतजार अब खत्म होने वाला है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक गुरुवार को शाम छह बजे परीक्षा कार्यक्रमों का एलान करेंगे। फिलहाल ऐसी जानकारी मिल रही है कि परीक्षाएं 15 से 20 मार्च के बाद शुरू हो सकती हैं। इस बीच केंद्रीय मंत्री निशंक ने एक बार फिर साफ किया है कि सीबीएसई की बोर्ड की परीक्षाएं ऑनलाइन बिल्कुल नहीं होंगी। इन्हें पहले की तरह ही कराया जाएगा।


सूत्रों के मुताबिक सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाओं के मार्च-अप्रैल में होने की संभावना है। जो 15 से 20 मार्च के बाद शुरू हो सकती है। इससे पहले सीबीएसई के सामने दसवीं और बारहवीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं की भी एक बड़ी चुनौती है। जो अमूमन हर साल एक से पंद्रह जनवरी के बीच हो जाती थी, लेकिन इस बार स्कूलों के बंद होने से अभी तक प्रैक्टिकल कराए ही नहीं गए हैं। फिलहाल, ऐसी जानकारी मिल रही है कि 15 जनवरी के बाद छात्रों को छोटे-छोटे ग्रुपों में प्रैक्टिकल के लिए स्कूल बुलाया जा सकता है। माना जा रहा है कि प्रैक्टिकल के बाद तुरंत परीक्षाएं भी ले ली जाएंगी। जो एक से पंद्रह मार्च के बीच हो सकती है।


निशंक ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षा की तारीखों के एलान से जुड़ी यह जानकारी पिछले दिनों ट्विटर के जरिए दी थी। साथ ही बताया था कि तारीखों के एलान से परीक्षाओं को लेकर आशंकाएं खत्म होंगी। साथ ही छात्र भी अपनी परीक्षा तैयारियों को अंतिम रूप दे सकेंगे। इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बोर्ड परीक्षाओं सहित आने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ चर्चा की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि अभी जो परिस्थितियां हैं, परीक्षाएं फरवरी तक संभव नहीं हैं। इस बाबत वह जल्द ही एलान करेंगे।

Sunday, December 27, 2020

सीबीएसई : दसवीं और 12वीं की परीक्षाओं की घोषणा 31 को, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर दी जानकारी



नई दिल्ली, प्रेट्र: दसवीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की घोषणा 31 दिसंबर को होगी। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को यह जानकारी दी।


एक ट्वीट में रमेश पोखरियाल निशंक ने बताया कि वे 31 दिसंबर की शाम बोर्ड परीक्षाओं की तारीखों का एलान करेंगे। हालांकि शिक्षा मंत्री ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि कोरोना के चलते फरवरी के अंत तक बोर्ड परीक्षाएं नहीं होंगी। तब उम्मीद की जा रही थी कि परीक्षाएं मार्च से शुरू होकर अप्रैल में समाप्त होंगी। उल्लेखनीय है सामान्य तौर पर प्रैक्टिकल परीक्षाएं जनवरी में और लिखित परीक्षाएं फखरी में शुरू होकर मार्च में संपन्न हो जाती हैं । सेंट्रल बोर्ड आफ सेकेंड्री एजूकेशन (सीबीएसई) ने इस माह ते शुरू में स्पष्ट किया था कि 2021 की बोर्ड परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं, लिखित रूप से आयोजित की जाएंगी।

Thursday, December 24, 2020

आठवीं से दसवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए सीबीएसई ने ऑनलाइन शुरू किया ये चैलेंज

आठवीं से दसवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए सीबीएसई ने ऑनलाइन शुरू किया ये चैलेंज


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने ऑनलाइन माध्यम से ‘साइंस चैलेंज' की शुरूआत की है। इस ऑनलाइन चैलेंज की शुरुआत छात्रों के जिज्ञासा व चिंतन क्षमता को विकसित करने के लिए की गई है। सीबीएसई का कहना है कि सीबीएसई साइंस चैलेंज दीक्षा पोर्टल और एप पर 11 जनवरी 2021 तक उपलब्ध रहेगा।


आठवीं और दसवीं के छात्र ले सकेंगे हिस्सा
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के इस साइंस चैलेंज में आठवीं और दसवीं के छात्र हिस्सा ले सकेंगे।छात्र अपने कम्प्यूटर या एंड्रायड मोबाइल फोन के जरिये दीक्षा एप के माध्यम से कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और पहुंच स्थापित कर सकते हैं।


दीक्षा एप के जरिए चैलेंज में ले सकेंगे हिस्सा
क्विज में हिस्सा लेने के लिए छात्रों के पास दीक्षा एप होना चाहिए। छात्रों को चैलेंज में हिस्सा लेने से पहले दीक्षा एप पर अपना पंजीकरण करना होगा। छात्र अपने पंजीकृत ईमेल और पासवर्ड के जरिए ही इस चैलेंज जुड़ सकते हैं।  एक बार चैलेंज में शामिल होने के बाद छात्रों को सभी कार्यक्रमों में शामिल होने का मौका मिलेगा। इस चैलेंज में हिस्सा लेने वाले छात्रों को ऑनलाइन प्रमाणपत्र मिलेगा।

Wednesday, December 23, 2020

सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं फरवरी के बाद ही होंगी

सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं फरवरी के बाद ही होंगी: केंद्रीय शिक्षा मंत्री


नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को साफ किया है कि सीबीएसई की आगामी बोर्ड परीक्षाएं फरवरी के बाद ही होगी। इनमें प्रैक्टिकल शामिल हैं। फरवरी के बाद इन परीक्षाओं को कब कराया जाएगा, इसका फैसला विचार-विमर्श के बाद लिया जाएगा। जरूरत पड़ी तो इसे लेकर शिक्षकों और छात्रों से भी फिर से चर्चा की जाएगी।





केंद्रीय मंत्री निशंक आगामी बोर्ड परीक्षाओं को लेकर शिक्षकों के साथ फेसबुक और ट्विटर के जरिये चर्चा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने बोर्ड परीक्षाओं को आगे बढ़ाने से जुड़े सवाल पर कहा कि सीबीएसई की दसवीं और बारहवीं बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाएं वैसे तो एक से पंद्रह जनवरी के बीच होती थी, वहीं लिखित परीक्षाएं भी पंद्रह फरवरी से शुरू हो जाती थीं।


इस बार कोरोना महामारी के चलते स्कूलों की पढ़ाई जिस तरह से प्रभावित हुई है, उसमें आगामी बोर्ड परीक्षाएं फरवरी तक संभव नहीं है। इससे छात्रों को तैयारी के लिए और समय मिलेगा।

Monday, December 21, 2020

कल हो सकती है CBSE बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा, केंद्रीय शिक्षा मंत्री मंगलवार को देशभर के शिक्षकों के साथ करेंगे बातचीत

कल हो सकती है CBSE बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा, केंद्रीय शिक्षा मंत्री मंगलवार को देशभर के शिक्षकों के साथ करेंगे बातचीत


नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक मंगलवार को देशभर के शिक्षकों के साथ बातचीत करेंगे। इस दौरान केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की कक्षा 10वीं और 12वीं की 2021 की बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा भी की जा सकती है।


दरअसल, कोरोना महामारी के बीच केंद्र सरकार ने समय पर परीक्षा कराने को लेकर पहल की है। इसके तहत केंद्रीय मंत्री निशंक वेबिनार के माध्यम से देशभर के छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ अलग-अलग तारीखों पर संवाद करेंगे। वह विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में होने वाली परीक्षाओं की समीक्षा भी करेंगे।


CBSE के Class 10th और 12th बोर्ड Exam के पेपर की तारीखों के ऐलान से पहले एजुकेशन मिनिस्‍ट्री टीचरों से राय-बात करना चाहती है. CBSE Class 10 and 12 Board Exams 2021 Dates पर 22 दिसंबर को बड़ी घोषणा होने की उम्मीद है. केंद्र सरकार द्वारा जेईई-मेन 2021 (JEE-Main 2021) परीक्षा आयोजित करने पर बड़ा फैसला लेने के बाद ये अनुमान है.

CBSE बोर्ड परीक्षा 2021 (CBSE Board Exams 2021) पर चर्चा करने के लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' (Ramesh Pokhariyal Nishank) गुरुवार शाम को 4 बजे लाइव सेशन में आने वाले थे. लेकिन उस कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा और इस लाइव सेशन को आगे 22 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया. 22 दिसंबर को शाम 4 बजे केंद्रीय शिक्षा मंत्री Twitter या Facebook पर लाइव सेशन में CBSE बोर्ड पेपर 2021 को लेकर चर्चा करेंगे.

22 दिसंबर को Live आएंगे निशंक

शिक्षा मंत्रालय की तरफ से Tweet किया गया, Feedback को देखते हुए, तारीख को रिवाइज किया गया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. आरपी 'निशंक' बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में आपकी चिंताओं पर चर्चा करने के लिए 22 दिसंबर को शाम 4 बजे ट्विटर या फेसबुक पर लाइव होंगे.'

Paper की डेट को लेकर भ्रम

गौरतलब है कि कई वायरल सोशल मीडिया पोस्ट में ये दावा किया गया कि CBSE की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं (CBSE Class 10 and 12 Board Exams 2021) मार्च, 2021 में आयोजित होंगी. इसके बाद सीबीएसई (CBSE) ने सफाई जारी की, जिसमें कहा गया कि ये अभी तय नहीं है कि सीबीएसई की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं कब होंगी.

Social Media पर अफवाहों से बचें

सीबीएसई ने लोगों से अपील की कि बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावों पर विश्वास ना करें. निशंक ने 10 दिसंबर को छात्र-छात्राओं और दूसरे जिम्मेदार लोगों के साथ एक वेबिनार से बोर्ड परीक्षाओं को लेकर चर्चा की थी. इस दौरान उन्होंने बोर्ड परीक्षाओं में कई बड़े बदलाव होने के संकेत दिए थे.

मार्च में पेपर मुश्किल

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बातचीत के दौरान यह साफ किया था कि CBSE 10, 12th की बोर्ड परीक्षा 2021 (CBSE Class 10 and 12 Board Exams 2021) देरी से आयोजित हो सकती है और अगर कोरोना वायरस पर नियंत्रण नहीं हुआ तो यह भी संभव है कि परीक्षाएं मार्च में ना हों.

Practical Exam Option

शिक्षा मंत्री ने संकेत दिया कि यह संभव है कि CBSE 2021 में प्रैक्टिकल एग्जाम का विकल्प चुने क्योंकि देशभर में अधिकांश स्कूल COVID-19 के प्रकोप के कारण लगभग पूरे शैक्षणिक सत्र के दौरान बंद रहे.

Friday, December 18, 2020

ऑफलाइन होगी सीबीएसई की प्रयोगात्मक व बोर्ड परीक्षा, कोरोना गाइडलाइन के तहत केवल व्यवस्था में होगा बदलाव

CBSE 10th 12th Exam 2021 : एक कमरे में 12 छात्र देंगे सीबीएसई परीक्षा

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं और 12वीं की परीक्षा के लिए इस बार केन्द्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है। पिछले वर्ष लखनऊ में 28 केन्द्रों पर परीक्षा हुई थी। लेकिन, इस बार करीब 40 केन्द्रों की सूची बोर्ड को भेजी गई है। इस पर अन्तिम फैसला बोर्ड के स्तर पर लिया जाएगा।


सीबीएसई के शहर समन्वयक जावेद आलम खान ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते बोर्ड ने परीक्षा में सावधानी बरतने के लिए कई बदलाव किए हैं। इस बार एक कमरे में 12 या कमरा बड़ा होने पर 12-12 के अनुपात में बच्चों को बैठाया जाएगा।  

शेटशीट का इंतजार
कुछ दिनों पहले (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर स्थितियां स्पष्ट की है। बोर्ड परीक्षाओं के ऑनलाइन आयोजन संबंधी अटकलों को खारिज करते हुए सीबीएसई ने स्पष्ट किया था कि बोर्ड परीक्षाएं लिखित (परीक्षा केंद्रों) ही आयोजित की जाएंगी। बोर्ड परीक्षा के आयोजन की तारीखों को लेकर अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। इस संबंध में सभी हितधारकों के साथ परामर्श की प्रक्रिया अभी जारी है। परीक्षा जब और जैसे ही आयोजित की जाएगी, वह कोरोना प्रोटोकाल के साथ लिखित मोड में आयोजित होंगी। ऑनलाइन मोड में परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया जाएगा।


प्रैक्टिकल परीक्षाओं का विकल्प तलाशा जाएगा
सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन के साथ ही प्रैक्टिकल परीक्षाओं को लेकर भी स्थितियां स्पष्ट की हैं। सीबीएसई ने कहा है कि यदि छात्र बोर्ड परीक्षा से पहले कक्षाओं में प्रैक्टिकल परीक्षाएं नहीं दे पा रहे हैं, तो प्रैक्टिकल परीक्षाओं के विकल्पों को तलाशा जाएगा। हालांकि सीबीएसई ने अभी यह स्पष्ट नहीं किया है कि प्रैक्टिकल परीक्षाओं का विकल्प क्या हो सकता है।


ऑफलाइन होगी सीबीएसई की प्रयोगात्मक व बोर्ड परीक्षा, कोरोना गाइडलाइन के तहत केवल व्यवस्था में होगा बदलाव

लखनऊ :  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की प्रयोगात्मक और बोर्ड परीक्षाओं के पैटर्न में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा, लेकिन व्यवस्थाएं बदली रहेंगी। कोरोना संक्रमण के चलते स्कूलों में पढ़ाई दीपावली के बाद से शुरू हो पाई। उसमें भी सभी कक्षाएं नहीं चल रहीं। ऐसे में अभिभावक और छात्र मानकर चल रहे थे कि इस बार परीक्षा के पैटर्न में बदलाव हो सकता है। ऑफलाइन के बजाय ऑनलाइन परीक्षाएं हो सकती है। छात्र यह भी मानकर चल रहे थे कि हो सकता है कि प्रयोगात्मक परीक्षाएं ही ना हो, लेकिन बोर्ड ने ऐसी सभी आशंकाओं पर विराम लगा दिया है।

बोर्ड से प्राप्त जानकारी के अनुसार व्यवस्था बदली रहेगी, लेकिन परीक्षा पैटर्न वही रहेगा। सीबीएसई के क्षेत्रीय समन्वयक डॉ. जावेद आलम खान ने बताया कि पहले प्रयोगात्मक परीक्षा होगी, जिसके बाद परीक्षाएं होंगी। प्रयोगात्मक परीक्षा पूर्व की भक्ति लैब में ही ली जाएंगी। छात्र व  अभिभावकों के मन में शंका थी कि इस बार प्रयोगात्मक नहीं होगी, लेकिन पहले की तरह परीक्षक आएंगे और प्रैक्टिकल लेंगे। इस दौरान उन्हें उसकी फोटो खींचकर तत्काल सीबीएसई की वेबसाइट पर अपडेट करना होगा इसके लिए एक हफ्ते के अंदर बोर्ड प्रैक्टिकल और बोर्ड परीक्षा के संबंध में कार्यक्रम व जानकारी उपलब्ध करा देगा। प्रैक्टिकल और बोर्ड परीक्षा दोनों को संचालित करने को लेकर एसपी भी जारी होगी।

व्यवस्था में होगा बदलाव

इस बार बोर्ड परीक्षा की व्यवस्था में बदलाव देखने को मिलेगा। बोर्ड द्वारा एसओपी जारी की जाएगी। इस बार परीक्षा कक्ष में छात्रों की संख्या आधी हो जाएगी। कंपार्टमेंट परीक्षा में इसका एक्सपेरिमेंट हो चुका है। कक्षा में सोशल डिस्टेंसिंग के तहत ज्यादा से ज्यादा 12 छात्र ही बैठाए जाएंगे। परीक्षा केंद्र पर आइसोलेशन रूम भी रहेगा ताकि यदि किसी की तबीयत खराब हो तो उसको अलग किया जा सके। ऐसे में इस बार परीक्षा केंद्रों की संख्या दोगुनी होगी।

Tuesday, December 15, 2020

शीघ्र घोषित हो सकती हैं सीबीएसई बोर्ड, जेईई-नीट परीक्षाओं की तारीखें

शीघ्र घोषित हो सकती हैं सीबीएसई बोर्ड, जेईई-नीट परीक्षाओं की तारीखें


नई दिल्ली: सीबीएसई के 10वीं और 12वीं बोर्ड सहित जेईई, नीट की तारीखों को लेकर अब ज्यादा इंतजार नहीं करना होगा। परीक्षा की तारीखें इस महीने के अंत तक घोषित हो जाएंगी। हालांकि, छात्र इन परीक्षाओं को आगे बढ़ाने की भी मांग कर रहे हैं, मंत्रलय गंभीरता से मंथन करने में जुटा है। वैसे सीबीएसई की 2020 की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं की तारीखें भी 17 दिसंबर, 2019 को घोषित की गई थी।


शिक्षा मंत्रलय से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक इस बार भी सीबीएसई की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं 17 दिसंबर के आसपास ही घोषित हो सकती हैं। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बोर्ड सहित जेईई, नीट जैसी परीक्षाओं की तारीखों पर 17 दिसंबर को देशभर के शिक्षकों के साथ फेसबुक और ट्विटर के जरिये चर्चा का कार्यक्रम रखा है। इससे पहले वह 10 दिसंबर को छात्रों और अभिभावकों के साथ इसे लेकर चर्चा कर चुके हंै। इस दौरान छात्रों की ओर से परीक्षाओं को लेकर अलग सुझाव आए थे। 


हालांकि शिक्षा मंत्री ने साफ किया था कि परीक्षाएं तो होंगी और छात्रों को परीक्षा केंद्रों पर आना होगा। उन्होंने परीक्षा की तारीखों को कुछ आगे बढ़ाने के संकेत दिए। वैसे भी ज्यादातर छात्र और अभिभावक परीक्षाओं के पक्ष में हैं, लेकिन उनका कहना है कि इन्हें फरवरी, मार्च में कराने की जगह थोड़ा आगे बढ़ा दिया जाए।


जेईई मेंस और नीट की तारीखों को लेकर भी मंत्रलय मंथन में जुटा है। आम तौर पर जेईई मेंस का आयोजन फरवरी और अप्रैल में जबकि नीट का आयोजन मई के पहले हफ्ते में होता है। बावजूद इसके बोर्ड की परीक्षाओं के कार्यक्रम को देखते हुए इनकी तारीखें भी तय होंगी। सूत्रों के अनुसार, बोर्ड परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी होने के बाद इनकी भी तारीखों का तुरंत एलान कर दिया जाएगा।

Monday, December 14, 2020

CBSE Single Girl Child Scholarship: आगे बढ़ी आवेदन की तारीख, जानें- कैसे भरना है फॉर्म

CBSE Single Girl Child Scholarship: सीबीएसई सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप के लिए आवेदन शुरू, विज्ञप्ति जारी। 

 सीबीएसई सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप के लिए आवेदन शुरू, हर माह मिलेंगे 500 रूपये 


CBSE Single Girl Child Scholarship: आगे बढ़ी आवेदन की तारीख, जानें- कैसे भरना है फॉर्म


फ्रेश उम्मीदवार 21 दिसंबर, 2020 तक आवेदन कर सकेंगे. नए उम्मीदवारों के आवेदन की आखिरी तारीख 21 दिसंबर है और आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी जमा करने की अंतिम तिथि 8 जनवरी, 2020 है. इससे पहले, सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कोलरशिप स्कीम के लिए आवेदन करने की तारीख 10 दिसंबर 2020 थी. वे सभी उम्मीदवार जो इस स्कॉलरशिप के लिए योग्य हैं, वे बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर आवेदन कर सकते हैं.


नई दिल्ली: CBSE Scholarship Scheme: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE), सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप स्कीम के लिए आवेदन प्रक्रिया आगे बढ़ा दी गई है. कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षा 2020 पास करने वाली छात्राएं स्कॉलरशिप स्कीम का लाभ उठाने के योग्य हैं. आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार, "जिन छात्राओं ने सीबीएसई संबद्ध स्कूलों से कक्षा 10वीं की परीक्षा 2020 पास की है, वे स्कोलरशिप स्कीम के लिए आवेदन कर सकती हैं."            
             
फ्रेश उम्मीदवार 21 दिसंबर, 2020 तक आवेदन कर सकेंगे. नए उम्मीदवारों के आवेदन की आखिरी तारीख 21 दिसंबर है और आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी जमा करने की अंतिम तिथि 8 जनवरी, 2020 है।

इससे पहले,  सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कोलरशिप स्कीम के लिए आवेदन करने की तारीख 10 दिसंबर 2020 थी. वे सभी उम्मीदवार जो इस स्कॉलरशिप के लिए योग्य हैं, वे बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर आवेदन कर सकते हैं.


CBSE Single Girl Child Scholarship: ऐसे करें आवेदन

● - सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट  cbse.nic.in पर जाएं.
● - फिर  ‘SINGLE GIRL CHILD SCHOLARSHIP X-2020 REG' पर क्लिक करें.
● - अब "fresh या  renewal" पर क्लिक करें.
● - इसके बाद  SGC-X fresh application or renewal पर क्लिक करें.
● - अब एप्लीकेशन फॉर्म भरें और डॉक्यूमेंट्स अपलोड करें.ॉ
● - सभी जानकारी भरने के बाद सबमिट करें.
● - भविष्य के लिए प्रिंटआउट लेना न भूलें.


नोट

Advertisement
👉 Apply here for renewal


CBSE Scholarship for Single Girl Child 2020: सीबीएसई सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है कैंडिडेट्स इसके लिए अब अप्लाई कर सकते हैं.


CBSE Scholarship for Single Girl Child 2020: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड {CBSE-सीबीएसई} ने सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप 2020 के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. पात्र और इच्छुक कैंडिडेट्स इसके लिए अब आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए पात्र कैंडिडेट्स सबसे पहले सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाएं. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने की अंतिम तारीख 10 दिसंबर, 2020 थी, जिसे बढ़ाकर अब 21  दिसम्बर कर दिया गया है।


कैंडिडेट्स को एप्लीकेशन फॉर्म की हार्ड कॉपी (केवल नवीनीकरण) 28 दिसंबर 2020 को या उससे पहले जमा करनी है. सीबीएसई सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप 2020 के लिए केवल वे छात्राएं अप्लाई कर सकती है जो साल 2020 में सीबीएसई से एफिलिएटेड स्कूलों से कक्षा 10वीं की परीक्षा पास की है. उन छात्राओं को जिन्होनें सभी प्रकार की पात्रताओं को पूरा करते हैं उन्हें दो साल तक – कक्षा 11वीं और कक्षा 12वीं के दौरान, हर महीने 500 रूपये प्रदान किये जायेंगें.



सीबीएसई सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप 2020: स्कीम के प्रकार

कैंडिडेट्स छात्रवृति के लिए दो प्रकार की कैटेगरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं.  ये कैटेगरी निम्नलिखित दो प्रकार की है.


■ सिंगल गर्ल चाइल्ड के लिए: 12वीं कक्षा की स्टडी के लिए सीबीएसई मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम.

■ 2019 में सिंगल गर्ल चाइल्ड 10वीं पास के लिए सीबीएसई मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम के तहत ऑनलाइन आवेदन का नवीनीकरण.


योग्यता: सभी सिंगल गर्ल चाइल्ड स्टूडेंट्स, जिन्होंने साल 2020 में कक्षा 10वीं की CBSE बोर्ड की परीक्षा में कम से कम 60 फीसदी या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हों और जो अब CBSE बोर्ड से एफिलिएटेड स्कूलों में कक्षा 11वीं और 12वीं की पढ़ाई कर रही हो.  इसके साथ ही जिन छात्राओं की ट्यूशन फीस प्रति माह 1,500 से अधिक नहीं है, वे इस स्कॉलरशिप स्कीम के लिए योग्य हैं.


CBSE Scholarship का उद्देश्य: इस योजना का उद्देश्य उन माता-पिता के प्रयासों को पहचानना है जो लड़कियों के बीच शिक्षा को बढ़ावा देने और मेधावी स्टूडेंट्स को प्रोत्साहन करने केलिए सदैव प्रयास रत रहते हैं.


Wednesday, December 9, 2020

CBSE 10th 12th Board Exams 2021: सीबीएसई की परीक्षा की तारीखों को लेकर शिक्षा मंत्री 10 दिसंबर को कर सकते हैं बड़ी घोषणा

 CBSE 10th 12th Board Exams 2021: सीबीएसई की परीक्षा की तारीखों को लेकर शिक्षा मंत्री 10 दिसंबर को कर सकते हैं बड़ी घोषणा


 केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर स्थितियां स्पष्ट कर चुका है। बोर्ड परीक्षाओं के ऑनलाइन आयोजन संबंधी अटकलों को खारिज करते हुए सीबीएसई ने साफ कर दिया है कि बोर्ड परीक्षाएं लिखित (परीक्षा केंद्रों) ही आयोजित की जाएंगी। अब 2021 की परीक्षाओं को लेकर सीबीएसई बोर्ड ने भी कमर कस ली है। अभी भी परीक्षा की तारीखों के जारी न होने के कारण स्टूडेंट्स कंफ्यूज हैं। इनमें सबसे बड़ा सवाल इन परीक्षाओं की तारीख को लेकर है। 

अधिकतर स्टूडेंट्स सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं की तारीख को लेकर कंफ्यूजन में हैं। स्टूडेंट्स जानना चाहते हैं कि परीक्षाएं अप्रैल में होंगी या फिर फरवरी में।वहीं केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक10 दिसंबर को  वेबिनार के जरिए स्टूडेंट्स के सवालों को जवाब देंगे। इसलिए उम्मीद जताई जा रही है कि सीबीएसई की परीक्षा की तारीखों का ऐलान शिक्षा मंत्री कर सकते हैं।


इसके साथ ही जेईई, नीट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तारीख को लेकर भी स्टूडेंट्स के मन में कई तरह के सवाल हैं। स्टूडेंट्स के इन्हीं तरह के सवालों का जवाब देने के लिए शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक 10 दिसंबर को एक वेबिनार के जरिए कई सवालों के जवाब देंगे। आप ही केंद्रीय शिक्षा मंत्री से अपने सवालों के जवाब पा सकते हैं।


आपको बता दें कि सीबीएसई द्वारा अभी तक बोर्ड परीक्षा का शेड्यूल जारी नहीं किया गया है। बोर्ड सचिव अनुराग त्रिपाठी की मानें तो परीक्षा समय पर ली जायेगी, लेकिन शेड्यूल जारी नहीं किया गया है। 2019 में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में शेड्यूल जारी हुआ था।