DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label दूध वितरण. Show all posts
Showing posts with label दूध वितरण. Show all posts

Wednesday, September 26, 2018

फतेहपुर : दूध के बदले मिल रहा सफेद पानी, रिपोर्ट में दूध के सात नमूने पाए गए फेल

रिपोर्ट में दूध के सात नमूने पाए गए फेल

जासं, फतेहपुर : प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बांटे जाने वाले 8 जांच के नमूने फेल हो गए हैं। जांच के नमूने फेल हो जाने से विभाग में हड़कंप मच गया है। अपर जिलाधिकारी कार्यालय से भेजी गई रिपोर्ट की पड़ताल और कार्यवाही में बेसिक शिक्षा विभाग जुट गया है।

विद्यालयों में बांटे जाने वाले एमडीएम की जांच के लिए खाद्य विभाग को जिम्मेदारी दी गई है। विभाग ने मई 2018 से अगस्त 18 तक नमूने भरे हैं। इन जांच नमूनों को प्रयोगशाला भेजा था। जिसकी रिपोर्ट खाद्य विभाग को मिल गई है। 8 जांच रिपोर्ट में 7 दूध के नमूने फेल पाए गए हैं। इनमें अन्य घातक रसायन तो नहीं मिला है लेकिन दूध में फैट की मात्र कम पाई गई है। जिससे सिद्ध हो रहा है कि दूध की गुणवत्ता ठीक नहीं है। दूध में पानी पिलाकर बच्चों को परोसा जा रहा है। वहीं एक अन्य जांच रिपोर्ट में कीट पाए जाने की पुष्टि हुई है। अपर जिलाधिकारी जेपी गुप्ता ने बताया कि जांच रिपोर्ट आई है। बीएसए को जांच रिपोर्ट भेजकर उचित कार्यवाही करवाई जाएगी।

Friday, July 20, 2018

देवरिया : 23 जुलाई को समस्त विद्यालयों के एमडीएम का होगा औचक निरीक्षण , फल तथा दूध वितरण समेत अनेक बिन्दुओं पर होगी जांच , देखें डीएम का आदेश व निरीक्षण प्रपत्र

देवरिया : 23 जुलाई को समस्त विद्यालयों के एमडीएम का होगा औचक निरीक्षण , फल तथा दूध वितरण समेत अनेक बिन्दुओं पर होगी जांच , देखें डीएम का आदेश व निरीक्षण प्रपत्र

Sunday, July 15, 2018

फतेहपुर : 23 जुलाई को राजस्व एवं पंचायती राज विभाग द्वारा होगी स्कूलों में दूध और फल वितरण की जांच, निरीक्षण के दौरान आईवीआरएस एवं एमडीएम पंजिका के आंकड़ों का मिलान करने का डीएम ने दिया निर्देश

फतेहपुर : 23 जुलाई को राजस्व एवं पंचायती राज विभाग द्वारा होगी स्कूलों में दूध और फल वितरण की जांच, निरीक्षण के दौरान आईवीआरएस एवं एमडीएम पंजिका के आंकड़ों का मिलान करने का डीएम ने दिया निर्देश।

Saturday, March 10, 2018

महराजगंज : जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने चार विद्यालयों का किया निरीक्षण, विद्यालयों में दूध वितरण न होने पर जताई नाराजगी

महराजगंज : जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव शीलवंत ने शुक्रवार को चार जूनियर व प्राथमिक विद्यालयों का निरीक्षण किया। विद्यार्थियों को शासन द्वारा संचालित लाभकारी योजनाओं की जानकारी दी और समय से स्कूल आने के लिए प्रेरित किया। सचिव ने प्राथमिक विद्यालय सिसवा अमहवा, जूनियर हाई स्कूल अमहवा, जूनियर हाई स्कूल व प्राइमरी विद्यालय सिसवा रसूलपुर के निरीक्षण के बाद विद्यार्थियों को शिक्षा के अधिकार के साथ, बालकों के शोषण व उत्पीड़न पर प्रभावी रोक के लिए बनाए गए कानूनों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कहा कि अनुशासन में रहते हुए नियमित पढ़ाई करें और लक्ष्य निर्धारित कर सतत प्रयास करें। चारों विद्यालयों के बच्चों ने बताया कि दोपहर के भोजन में आज तहरी मिली। सप्ताह में एक दिन फल मिलता है पर दूध नहीं मिल रहा है। इस पर सचिव ने नाराजगी जताई और सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी सदर को निर्देश दिया कि मीनू के अनुसार दोपहर के भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। मीनू के अनुसार भोजन न दिए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। सचिव ने सभी विद्यार्थियों को किशोर अधिनियम के बारे में बताया और बच्चों से पठन-पाठन के बारे में पूछा।  निरीक्षण के दौरान हेड मास्टर शशिबाला, अनीता पांडेय, सहायक अध्यापक रूप कुमारी पटेल, पारुल शम्रा, सविता मालवीय, ललित मोहन, सर्वेश श्रीवास्तव अनुदेशक शीला गुप्ता, रवि कुमार कन्नौजिया, अवनीश कुमार पटेल उपस्थित रहे।


Sunday, December 17, 2017

कानपुर : मिडडे मील के दूध में मिलावट, दूध-दही में मिलावट के आरोपी पांच कारोबारियों पर मुकदमा दर्ज

दूध में मिलावट के आरोपियों पर भी अब शिकंजा कसने लगा है। घाटमपुर निवासी महिला और उसके नौकर के विरुद्ध प्राथमिक स्कूल में मिडडे मील के लिए मिलावटी दूध की आपूर्ति करने पर मुकदमा दर्ज किया गया है। दूध में मिलावट पर पांच और दही में मिलावट पर एक कारोबारी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग ने सभी मुकदमें एडीएम सिटी के न्यायालय में दर्ज किए हैं।

घाटमपुर के स्कूल में तिवारीपुर निवासी अनीता मिडडे मील के लिए दूध की आपूर्ति करतीं हैं। दूध उनका नौकर मन्ना लाल ले जाता है। पिछले माह दूध का नमूना लिया गया था। जांच के दौरान दूध में फैट मानक से काफी कम मिला। इससे यह माना गया कि दूध मिलावटी है। इसी लिए मन्ना लाल और अनीता पर मुकदमा दर्ज किया गया। न्यू गुलशन डेयरी कौशलपुरी से लिया गया दूध के नमूने में फैट कम मिला। डेयरी मालिक हरवंश लाल थापर पर मुकदमा दर्ज किया गया। रामू टी स्टोल अशोक नगर से लिया गया दूध भी घटिया पाया गया। दुकान मालिक रामप्रकाश केशरवानी पर मुकदमा दर्ज किया गया। घाटमपुर गांव की प्रधान के पति रामनरेश के विरुद्ध भी मिलावटी दूध बेचने के आरोप में मुकदमा हुआ। इसी तरह जूही लाल कालोनी निवासी जितेंद्र गुप्ता पर घटिया दही बेचने का आरोप है। मामले में एडीएम सिटी न्यायालय में मुकदमा दर्ज किया गया।’

Friday, December 1, 2017

वितरण किए थे 45 हजार दूध पाउच, दूध का नमूना फेल होने पर अक्षय पात्र संस्था पर 3 लाख का जुर्माना


वितरण किए थे 45 हजार दूध पाउच, दूध का नमूना फेल होने पर अक्षय पात्र संस्था पर 3 लाख का जुर्माना

Monday, September 25, 2017

चंदौली : IVRS पर आधारित सूचनाओं के अनुसार दुग्ध वितरण न करने वाले विद्यालयों की सूचना उपलब्ध कराने हेतु सभी बीईओ को निर्देश जारी

चंदौली : IVRS पर आधारित सूचनाओं के अनुसार दुग्ध वितरण न करने वाले विद्यालयों की सूचना उपलब्ध कराने हेतु सभी बीईओ को निर्देश जारी।

Thursday, September 7, 2017

दो साल से मिड डे मील सप्लाई कर रहा था एनजीओ, स्कूलों में बांट रहे थे सिंथेटिक दूध, अमरोहा भाजपा नगर अध्यक्ष की शिकायत पर एसडीएम ने छापा मारा


सिंथेटिक दूध के नमूने लिए : सीएफओ
एनजीओ पर मुकदमे के आदेश : एसडीएम

अमरोहा-हसनपुर हिन्दुस्तान संवादमिड डे मील के नाम पर बच्चों के सेहत से खिलवाड़ हसनपुर में किया जा रहा था। इसका खुलासा बुधवार को हसनपुर एसडीएम गंभीर सिंह की छापेमारी में हुआ। छापेमारी से शिक्षा विभाग के अफसरों की भी पोल खुल गई। एसडीएम ने यह कार्रवाई भाजपा नगर अध्यक्ष की शिकायत पर की। यह गड़बड़ी एनजीओ द्वारा की जा रही थी। इससे बड़ी संख्या में बच्चे प्रभावित हो रहे थे।1200 बच्चों की सेहत से हो रहा था खिलवाड़: एसडीएम ने मिड डे मील तैयार करने व सप्लाई करने वाले एनजीओ की रसोई पर छापा मारा तो रसोई में सिंथेटिक दूध तैयार होता मिला। तहरी के नाम पर मोटे चावल देकर खानापूर्ति की जा रही थी। एनजीओ हसनपुर व उझारी नगर के 28 स्कूलों के करीब 1200 बच्चों को दो वर्ष से मिड डे मील सप्लाई कर रहा था। एसडीएम ने दूध व तहरी के सैंपल उठवाते हुए खंड शिक्षा अधिकारी को मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। भाजपा नेता से मिले थे अभिभावक: मिड डे मील के इस खेल का खुलासा तब हुआ जब बुधवार दोपहर मोहल्ला कायस्थान व खेवान के अभिभावक भाजपा नगर अध्यक्ष अतुल गर्ग के पास पहुंचे। बताया कि मोहल्ला कायस्थान में चल रहे उच्च प्राथमिक विद्यालय व प्राथमिक विद्यालय शिव मंदिर कोट के बच्चों को बेहद घटिया मिड डे मील दिया जा रहा है। अतुल गर्ग स्कूल में पहुंचे तो दूध व तहरी बच्चों को बांटी जा रही थी। दूध व खाने की हालत देखकर नगर अध्यक्ष ने एसडीएम गंभीर सिंह को हकीकत से वाफिक कराया। तहरी की हाल और भी खराब मिली: एसडीएम अपने संग सीओ अजय कुमार को लेकर मिड डे मील तैयार करने वाले एनजीओ की अस्पताल रोड स्थित रसोई पहुंच गए। यहां का मंजर देखकर अफसरों की आंख फटी की फटी रह गईं। पानी में थोड़ा पाउडर डालकर तैयार किया गया दूध बड़े भगोने में भरा रखा था। मोटे पीले चावलों की तहरी की हालत तो और भी खराब थी। खाना व दूध स्कूलों को रिक्शे से सप्लाई करने वाला कारिंदा अफसरों ने मौके पर पकड़ लिया। सामने आया कि मिड डे मील तैयार व सप्लाई करने का ठेका जोया के मोहल्ला इकबाल नगर निवासी बहार हुसैन एजुकेशनल सोशल वेलफेयर सोसाइटी पर है।
’छापेमारी से शिक्षा विभाग की पोल खुली
मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी पंकज कुमार गुप्ता के नेतृत्व में विभागीय टीम ने ताहरी व दूध के सैंपल उठाए। उन्होंने बताया कि मौके से सिंथेटिक दूध के पाउच मिले हैं। सैंपल प्रयोगशाला भेजे जा रहे हैं।
खंड शिक्षा अधिकारी अमरेश कुमारी मौके पर पहुंच गईं। बताया कि उक्त एनजीओ वर्ष 2015 से हसनपुर नगर पालिका क्षेत्र के 19 व उझारी नगर पंचायत के 9 प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों के करीब 1200 बच्चों को मिड डे मील सप्लाई कर रहा है।
एसडीएम हसनपुर गंभीर सिंह ने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि एनजीओ के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराएं। उन्होंने कहा कि इससे न सिर्फ सरकारी योजना को पलीता लग रहा है, बल्कि बच्चों के स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ हो रहा था।
’रसोई में सिंथेटिक दूध तैयार होता मिला

Friday, August 4, 2017

महराजगंज : विद्यालय में बच्चों को फल एवं दूध वितरण में लापरवाही पर 114 जिम्मेदारों के विरुद्ध नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण तलब

महराजगंज : बेसिक शिक्षा विभाग ने फल एवं दूध वितरण में लापरवाही बरतने वाले 114 जिम्मेदारों को नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने को कहा है। स्पष्टीकरण न देने पर मध्यान्ह भोजन निधि खाता संचालन की जिम्मेदारी विद्यालय प्रबंध समिति को सौंपी जाएगी।1जिले के परिषदीय विद्यालयों में प्रत्येक सोमवार को बच्चों में फल व बुधवार को दूध उपलब्ध कराए जाने का निर्देश है। शासन के निर्देश के क्रम में अधिकांश विद्यालयों द्वारा फल व दूध उपलब्ध भी कराया जाता है। विभागीय निर्देश पर 24 जुलाई को फल वितरण व 26 जुलाई को दूध वितरण की जांच कराई गई। जांच करने वाले कर्मियों ने पाया कि फल व दूध वितरण में लापरवाही बरती गई है। खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय से प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर जिले के कुल 65 विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों, 48 ग्राम प्रधानों तथा एक सभासद को नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने को कहा गया है।निचलौल ब्लाक: रौतार, पिपरा काजी, अगया, बाली, शीतलापुर खेसरहा, कुंवारी सती, मैरी, कटखोर, विशुनपुरा, रामनगर, माधोनगर उर्फ तुर्कहिया, नौनिया,कनभिसवा, चटिया,झुलनीपुर, कैमा, भोतियाही, शिकारपुर व इटहिया। धानी: बरडाड़, बरगाहपुर, हथिगढ़वा, करमहा, धानीगांव, बेलसड़, रिठिया करखी, रामपुर, चौका। सदर: महुअवां, बांसपार बेजौली, सरडीहा, चिउरहां, चेहरी, महलगंज, पिपराबाबू, सतभरिया, इमिलिया, सेमरा राजा, भिसवा, सिसवा राजा, पकड़ी खुर्द व दुबौली। 1परतावल: जद्दू पिपरा, कम्हरिया बुजुर्ग, परतावल कुर्मी टोला व उंटी खास 1सिसवा: हरपुर पकड़ी व फटकदौना1प

'योजनाओं में लापरवाही क्षम्य नहीं' -बीएसए 

बीएसए जगदीश प्रसाद शुक्ल ने कहा कि फल व दूध वितरण शासन की महात्वाकांक्षी योजना है। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। जिम्मेदार मिले दायित्वों का ठीक ढंग से निर्वहन करें।


Thursday, July 20, 2017

महराजगंज : एमडीएम के जिला समन्वयक ने किया विद्यालयों में मध्याह्न भोजन तथा दूध वितरण की जांच

महराजगंज : एमडीएम के जिला समन्वयक शैलेंद्र वर्मा ने बुद्धवार को सिसवां ब्लाक के पांच विद्यालयों की जांच कर मध्यान्ह भोजन व दूध वितरण का हाल जाना। हर विद्यालय पर तहरी बनती पाई गई । डीसी ने बताया कि हनुमत पूर्व माध्यमिक विद्यालय सेमरी में नामांकित 292 में से 99 बच्चे उपस्थित रहे। शिक्षक व कर्मी मौजूद मिले। दूध वितरण हो चुका था। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले जगह पर साफ-सफाई का अभाव दिखा। पूर्व माध्यमिक विद्यालय ककरहीं में शिक्षक व कर्मी मौजूद मिले। तहरी व दूध वितरित हो चुका था। प्राथमिक विद्यालय ककरहीं में बच्चों ने तहरी खा लिया था उसकी गुणवत्ता बेहतर पाई गई, दूध नहीं बंटा था, शिक्षकों ने दूध को दोपहर तक आने की बात कही। शौचालय व हैंडपंप बदहाल स्थिति में पाया गया। प्राथमिक विद्यालय चिउटहां में तहरी व दूध बच्चों को वितरित कर दिया गया है। हैंडपंप व शौचालय क्रियाशील नहीं है। पूर्व माध्यमिक विद्यालय चिउटहां में भी बच्चों को मध्यान्ह भोजन के रूप में तहरी दे दिया गया था, हैडपंप की स्थिति खराब पाई गई।


Wednesday, July 19, 2017

महराजगंज : 12 जुलाई को डीएम की स्वीकृति से घोषित अवकाश के दृष्टिगत 581 विद्यालयों मेंं दुग्ध वितरण न होने के आधार पर दोषी के विरुद्ध कार्रवाई करने सम्बन्धी पूर्व में जारी अपने पत्र को बीएसए ने किया निरस्त

महराजगंज : 12 जुलाई को डीएम की स्वीकृति से घोषित अवकाश के दृष्टिगत 581 विद्यालयों मेंं दुग्ध वितरण न होने के आधार पर दोषी के विरुद्ध कार्रवाई करने सम्बन्धी पूर्व में जारी अपने पत्र को बीएसए ने किया निरस्त।

Thursday, May 25, 2017

बांदा : शिक्षक अब पढ़ाने के साथ भैंस भी दुहेंगे , पशुपालन विभाग शिक्षकों को भैंस दुहने का देगा प्रशिक्षण , 50 बच्चों पर एक भैंस पालने की तैयारी

बांदा : शिक्षक अब पढ़ाने के साथ भैंस भी दुहेंगे , पशुपालन विभाग शिक्षकों को भैंस दुहने का देगा प्रशिक्षण , 50 बच्चों पर एक भैंस पालने की तैयारी

Monday, May 22, 2017

......और अब स्कूलों में गुरुजी दुहेंगे दूध , स्कूलों में पाली जाएगी भैंस , ग्रामसभा करेगी चारा पानी का इंतजाम

......और अब स्कूलों में गुरुजी दुहेंगे दूध , स्कूलों में पाली जाएगी भैंस , ग्रामसभा करेगी चारा पानी का इंतजाम

Thursday, March 9, 2017

रामपुर : दूध वितरण में धांधली, फिर तो चेकिंग के नाम पर भी होता रहा खेल, डीएम ने बीएसए से तलब की रिपोर्ट, हरकत में आया प्रशासन

शाहबाद में एमडीएम वितरण में हो रहा था खेल पकड़ा, एक बार के बाद दोबारा बच्चों को नहीं दिया गया था दूध

मिड-डे मील वितरण में इतना बड़ा घपला कोई सिर्फ एनजीओ ही नहीं, बल्कि अफसरों को भी सवालों के घेरे में खड़ा करता है। सालभर का लम्बा समय और घपला छुपा रहा। ऐसे में यह बड़ा सवाल खड़ा होता है. फिर तो चेकिंग के नाम भी खेल होता रहा। अफसरों के अपने मन को छोड़िये, ऐसा भी नहीं कि सालभर में कभी मिड-डे मील की चेकिंग का आदेश जारी नहीं हुआ। फिर भी घपला लगातार चलता रहा। अब ऐसे में यह कहना बेमानी होगी कि अफसरों को दूध वितरण न होने की जानकारी नहीं थी। दूसरा पहलू यह हो सकता है कि स्कूलों का निरीक्षण नहीं किया गया, उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया गया या फिर चेकिंग के नाम पर खेल किया गया और मामले को दबाए रखा गया। इन सभी मामलों में अफसरों की भूमिका पूरी तरह से संदिग्धता के घेरे में है।

नौनिहालों को मध्याह्न भोजन में दूध वितरण में धांधली के मसले पर प्रशासन हरकत में आ गया है। घपले का खुलासा करती हिन्दुस्तान की खबर को गम्भीरता से लेते हुए डीएम ने बीएसए से रिपोर्ट तलब की है। रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी। शाहबाद नगर क्षेत्र के नौ स्कूलों में मिड-डे मील वितरण की जिम्मेदारी रामपुर की एनजीओ के पास है। सरकार के आदेश के बाद जुलाई 2016 से बच्चों को प्रत्येक बुधवार को मध्याह्न भोजन के रूप में तहरी के साथ दूध वितरण किया जाना था। लेकिन शाहबाद नगर क्षेत्र में इसमें बड़ा खेल किया गया। महज पहले बुधवार को बच्चों को दूध दिया गया। उसके बाद तब से आज तक बच्चों को दोबारा दूध नहीं मिला। अब आकर घपला पकड़ गया। जिसके बाद महकमे में हड़कम्प मचा और आनन-फानन में एनजीओ को नोटिस जारी कर दिया गया। वेतन काटने की बात भी जिम्मेदार कह रहे है। इस खबर को हिन्दुस्तान ने अपने बुधवार के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया। इसके बाद जिला प्रशासन में भी हड़कम्प मच गया। तत्काल डीएम डा. राजशेखर ने बीएसए से आख्या तलब की है।

Wednesday, January 11, 2017

एटा : मध्याह्न भोजन योजनान्तर्गत छात्रों को पूरे सप्ताह निर्धारित मेन्यू के अनुसार तथा सप्ताह में एक दिवस गरम दूध तथा फल का वितरण सुनिश्चित कराये जाने को बीएसए ने समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारियों को किया निर्देशित

एटा : मध्याह्न भोजन योजनान्तर्गत छात्रों को पूरे सप्ताह निर्धारित मेन्यू के अनुसार तथा सप्ताह में एक दिवस गरम दूध तथा फल का वितरण सुनिश्चित कराये जाने को बीएसए ने समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारियों को किया निर्देशित 

 

Wednesday, November 30, 2016

गोरखपुर : प्रधान व कोटेदार की लड़ाई में भोजन को तरस रहे नौनिहाल, दूध तथा फल का वितरण भी नहीं

स्थानीय स्तर पर लापरवाही और बड़े अफसरों के लालफीताशाही में नौनिहाल दोपहर में स्कूल पर भोजन के लिए पंद्रह दिन से तरह रहे हैं। सहजनवां ब्लाक के उच्च माध्यमिक व प्राथमिक विद्यालय कसरवल के बच्चों को भूखे रहने के पीछे ग्राम प्रधान तथा कोटेदार की आपसी लड़ाई बताई जा रही है। खाद्यान्न खत्म होने के बाद विद्यालय में खाना नहीं बन रहा है, जबकि जिम्मेदार अफसरों तक बात पहुंचाने का दावा कर हैं।

सहजनवां ब्लाक क्षेत्र के कसरवल स्थित उच्च प्राथमिक एवं प्राथमिक विद्यालय में 15 दिन से मध्याह्न् भोजन सहित विशेष डाइट भी बंद है। विभागीय सूचना होने के बावजूद इसका कोई हल नहीं निकलता दिख रहा है, जिसके कारण बच्चों को दोपहर का भोजन नहीं मिल पा रहा है। ब्लाक क्षेत्र के ग्राम सभा कसरवल में स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय तथा प्राथमिक विद्यालय दो अलग-अलग जगह स्थित हैं लेकिन दोनों में करीब 15 दिनों से छात्रों को दोपहर का भोजन नहीं मिल पा रहा है। इस बात की सूचना अध्यापकों ने ग्राम प्रधान से लेकर विभागीय अधिकारियों को दे रखी है, जिसमें कहा गया है कि खाद्यान्न के अभाव में छात्र-छात्रओं को भोजन नहीं मिल पा रहा है। दूध तथा फल का वितरण भी नहीं किया जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि छात्रों के भोजन में व्यवधान का कारण ग्राम प्रधान तथा कोटेदार के बीच का विवाद है।

Wednesday, November 16, 2016

महराजगंज : एमडीएम वितरण में अनियमितता के कारण 212 स्कूलों को दिए जा चुके हैं नोटिस

महराजगंज : एमडीएम वितरण में अनियमितता के कारण 212 स्कूलों को दिए जा चुके हैं नोटिस।

Monday, November 7, 2016

समाजवादी पौष्टिक आहार योजनान्तर्गत वितरित फल एवं दूध की गुणवत्ता का निरीक्षण कराने विषयक, सहायक शिक्षा निदेशक(बे०) कानपुर मण्डल ने जारी किए समस्त बीएसए को निर्देश, निर्देश देखें


समाजवादी पौष्टिक आहार योजनान्तर्गत वितरित फल एवं दूध की गुणवत्ता का निरीक्षण कराने विषयक, सहायक शिक्षा निदेशक(बे०) कानपुर मण्डल ने जारी किए समस्त बीएसए को निर्देश, निर्देश देखें

Wednesday, October 26, 2016

अक्षयपात्र संस्था के दूध का सैंपल हुआ फेल, MDM योजना के तहत स्कूलो मे दूध करती है सप्लाई, अमूल कंपनी, वितरक पर की गई कार्रवाई

@ETVUPLIVE
मथुरा-अक्षयपात्र संस्था के दूध का सैंपल हुआ फेल,MDM योजना के तहत स्कूलो मे दूध करती है सप्लाई,अक्षयपात्र,अमूल कंपनी,वितरक पर की गई कार्रवाई

Monday, September 26, 2016

बलिया : दूध न मिलने पर 58 शिक्षकों का रोका वेतन, बीएसए ने की कार्रवाई, संबंधित ग्राम प्रधानों पर कार्रवाई को लिखा डीपीआरओ को पत्र

मध्याह्न भोजन योजना मीनू के अनुसार बुधवार को स्कूली बच्चों को दूध नहीं देने पर 58 प्रधानाध्यापकों पर कार्रवाई करते हुए बीएसए ने उनका वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया। वहीं संबंधित ग्राम प्रधानों पर कार्रवाई के लिए जिला पंचायत राज अधिकारी को पत्र भी लिखा। विभागीय जांच में बीएसए ने पाया कि जनपद के 13 ब्लाकों के 58 विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों ने सितंबर माह में किसी भी दिन एमडीएम के मेन्यू का पालन नहीं किया है। 1 यहां तक कि शासन के निर्देश पर शुरू की गयी दूध देने की योजना को भी प्रधानाध्यापकों ने अंगूठा दिखा दिया है। इसमें बैरिया ब्लाक के तीन, बांसडीह के दो, बेलहरी पांच, बेरूआरबारी एक, चिलकहर के तीन, दुबहर के नौ, हनुमानगंज के तीन, मुरलीछपरा के 11, नगरा के दो, नवानगर के पांच, पंदह के एक, रेवती व सोहांव के पांच-पांच विद्यालय शामिल है। बीएसए ने इन प्रधानाध्यापकों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए अग्रिम आदेश तक वेतन पर रोकने का निर्देश दिया है। चेतावनी देते हुए कहा कि बेसिक शिक्षा से संबंधित सभी योजना को संबंधित प्रधानाध्यापक व अध्यापक पूरी तन्मयता से संचालित करें। किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। वहीं, मनियर तथा सीयर शिक्षा क्षेत्र में एमडीएम में उम्दा प्रदर्शन पर संबंधित खंड शिक्षा अधिकारियों को सम्मानित करने का निर्णय भी लिया।