DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts

Tuesday, May 11, 2021

ललितपुर : शिक्षकों को नहीं मिल रहा समय पर वेतन, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमन्त्री को ज्ञापन भेज कर समस्या से कराया अवगत

  

ललितपुर ब्यूरो : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमन्त्री को एक ज्ञापन भेजा, जिसमें शिक्षकों को समय पर वेतन नहीं मिलने की समस्या से अवगत कराया। ज्ञापन में कहा गया कि कोरोना काल में शिक्षकों ने पूर्ण निष्ठा के साथ कार्य किया और कई शिक्षक-शिक्षणेत्तर कर्मचारी के मौत के आगोश में समा गये। शिक्षकों को शासनादेश के तहत माह के एक तारीख को वेतन दिया जाना चाहिये लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। अफसरों की लापरवाही का खामियाजा शिक्षकों को भुगतना पड़ रहा है। ज्ञापन में शिक्षकों को हर माह की एक तारीख को वेतन दिलाये जाने की माँग की है। 

ज्ञापन में कहा गया कि विभिन्न शासनादेशों व विभागीय निर्देशों के क्रम में शिक्षकों का वेतन प्रत्येक माह की 1 तारीख तक किये जाने के निर्देश हैं। वर्तमान में ई-पेमेंट व्यवस्था लागू होने अर्थात मानव सम्पदा पोर्टल पर पैरोल माड्यूल के माध्यम से ऑनलाईन भुगतान हर स्थिति में प्रतिमाह की एक तक किये जाने के निर्देश किये गये हैं, किन्तु शासनादेशों व वर्तमान में ऑनलाईन पैरोल माड्यूल व्यवस्था लागू होने के बाद भी अधिकारियो की लचर कार्यप्रणाली के चलते प्रत्येक माह की एक तारीख को वेतन भुगतान नहीं कर हमेशा 15 या 20 तारीख के पूर्व वेतन भुगतान नहीं किया जाता है जो निन्दनीय है। इस सम्बन्ध में संगठन द्वारा कई बार प्रशासनिक व विभागीय अधिकारियो को ज्ञापन दिये गये हैं। ज्ञापन में कहा गया कि वर्तमान में अति विषम कठिन परिस्थिति के दौर में जब कोरोना महामारी विकराल रूप धारण कर चुकी है व दर्जनों शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारी मौत के आगोश में समा चुके है तथा घर घर में लोग बीमार है और उन्हें पैसों की नितांत आवश्यकता है। ऐसी स्थिति में भी अधिकारियो की मनमानी के चलते शासनादेशों को ताक पर शिक्षको को वेतन माह की एक तारीख को उपलब्ध नही कराई जा रही है। शासनादेशों व विभागीय निर्देशों की खुलेआम धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं। ज्ञापन में शिक्षकों का माह अप्रैल के वेतन का अविलम्ब भुगतान कराकर शासनादेशों के तहत प्रतिमाह की 1 तारीख तक वेतन का भुगतान कराने व देरी से वेतन भुगतान के जिम्मेदार दोषी अधिकारियो के विरूद्ध अविलम्ब ठोस दंडात्मक अनुशासनात्मक कार्यवाही करने की माँग की गई। साथ ही चेतावनी दी कि यदि ऐसा नहीं किया गया तो आन्दोलन किया जायेगा ।

 ज्ञापन पर मण्डल अध्यक्ष अरविंद तिवारी, जिलाध्यक्ष रविकान्त ताम्रकार, जिला महामंत्री हरभजन सिंह, जिला मंत्री अनिल शर्मा, जिला संगठन मंत्री तृप्ति सिंह, जिला कोषाध्यक्ष कैलाशचन्द्र राणा ने हस्ताक्षर किये।


Saturday, May 1, 2021

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने किया मतगणना कार्य के बहिष्कार का ऐलान, स्थानीय प्रशासन/राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करने सबंधी संगठन के पत्र का संज्ञान न लिए जाने पर लिया निर्णय

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने किया मतगणना कार्य के बहिष्कार का ऐलान, स्थानीय प्रशासन/राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करने सबंधी संगठन के पत्र का संज्ञान न लिए जाने पर लिया निर्णय







Thursday, April 29, 2021

त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2021 की मतगणना में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन न किये जाने की स्थिति में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने दी सामूहिक बहिष्कार की चेतावनी, ज्ञापन देखें


त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2021 की मतगणना में कोरोना गाइडलाइन का पालन न किये जाने की स्थिति में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने दी सामूहिक बहिष्कार की चेतावनी, ज्ञापन देखें

Tuesday, April 27, 2021

पंचायत चुनाव की ड्यूटी करने वाले 135 शिक्षक, शिक्षा मित्र व अनुदेशकों की मृत्यु, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमंत्री से पंचायत चुनाव स्थगित करने व परिजनों को सहायता की मांग की

  

लखनऊ। प्रदेश में पंचायत चुनाव से संबंधित ड्यूटी करने वाले 135 शिक्षकों, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों की मृत्यु हो गई है। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने मुख्यमंत्री से पंचायत चुनाव तत्काल स्थगित कर संक्रमितों का निशुल्क इलाज व मृतकों के परिजनों को 50 लाख की सहायता व अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग की है।

महासभा के प्रवक्ता वीरेंद्र मिश्र ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कहा है कि कोविड 19 की भयंकर महामारी के बीच प्रदेश में पंचायत चुनाव कराए जा रहे हैं, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं। पंचायत चुनाव से जुड़े अधिकारी, कर्मचारी, शिक्षक व सुरक्षाकर्मी प्रतिदिन संक्रमित हो रहे हैं और अनगिनत मौतों के साथ जनमानस सहमा हुआ है। उन्होंने कहा है कि जिन शिक्षकों व कर्मचारियों की चुनाव में ड्यूटी लगी है उनके परिवारों में बेचैनी है। वर्तमान हालात को देखते हुए कोई भी चुनाव ड्यूटी नहीं करना चाहता है। चुनाव में प्रथम चरण के प्रशिक्षण से लेकर तीसरे चरण के मतदान तक हजारों शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशक कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जहां-जहां चुनाव हो चुके हैं चुके चुके वहां कोविड संक्रमण कई गुना बढ़ गया है।

मिश्र ने मुख्यमंत्री को बताया है कि चुनाव प्रशिक्षण व ड्यूटी के बाद अब तक हरदोई व लखीमपुर में 10-10, बुलंदशहर, हाथरस, सीतापुर, शाहजहांपुर में 8-8,भदोही, लखनऊ व प्रतापगढ़ में 7-7, सोनभद्र, गाजियाबाद व गोंडा में 6-6, कुशीनगर, जौनपुर, देवरिया, महाराजगंज व मथुरा में 5-5, गोरखपुर, ब बहराइच, उन्नाव व बलरामपुर में 4-4 तथा श्रावस्ती में तीन शिक्षक, शिक्षा मित्र या अनुदेशक की आकस्मिक मृत्यु हो चुकी है। उन्होंने कहा है कि महासंघ ने चुनाव से पूर्व शिक्षकों के टीकाकरण की मांग की थी। गृह मंत्रालय ने पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव में पोलिंग पार्टियों का टीकाकरण करने की अनुमति दे दी थी। इस आदेश के आधार पर प्रदेश में भी पंचायत चुनाव की पोलिंग पार्टियों का टीकाकरण किया जा सकता था। लेकिन महासंघ की मांग पर सरकार ने कोई ध्यान नहीं दिया।

महासंघ ने पत्र पर कार्यवाही के लिए बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी व प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार को भी भेजा है।



Wednesday, March 17, 2021

अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण/पारस्परिक अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण के अन्तर्गत शिक्षकों के कार्यमुक्त/ कार्यभार ग्रहण में आ रही समस्याओं के संबंध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का ज्ञापन

अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण/पारस्परिक अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण के अन्तर्गत शिक्षकों के कार्यमुक्त/ कार्यभार ग्रहण में आ रही समस्याओं के संबंध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का ज्ञापन।




Tuesday, March 16, 2021

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने की 30 मार्च को होली भाई दूज पर अवकाश घोषित करने की माँग, ज्ञापन देखें

  राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने की होली भाई दूज पर अवकाश घोषित करने की माँग, ज्ञापन देखें


Monday, January 25, 2021

वाराणसी : "शिक्षा क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगी नई नीति", राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा आयोजित संगोष्ठी में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री नीलिमा कटियार ने कहा



वाराणसी : उच्च शिक्षा राज्य मंत्री नीलिमा कटियार ने कहा कि नई शिक्षा नीति 2020 का उद्देश्य विद्यार्थियों को एक से अधिक विशिष्ट क्षेत्रों में गहन स्तर पर अध्ययन करने के लिए सक्षम बनाना है। इसमें स्वयं करके सीखने की प्रक्रिया पर बल दिया गया है वहीं जिस भारतीय संस्कृति की बदौलत देश कभी विश्व गुरु रहा उसे भी जोड़ने का प्रयास है। नई नीति शिक्षा के क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगी।

वह रविवार को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ तत्वावधान में धर्मसंघ शिक्षा मंडल (दुर्गाकुंड) में आयोजित 'कर्तव्य बोध दिवस व राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों की भूमिका' विषयक संगोष्ठी को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रही थीं।

मुख्य वक्ता महासंघ के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री ओम पाल ने कहा कि राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ हर वर्ष 13 से 25 जनवरी तक अपना कर्तव्य बोध दिवस मनाता है। विशिष्ट अतिथि पूर्वांचल विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष डा.दया शंकर मिश्र ने कहा कि सद्समाज का निर्माण करना शिक्षक का मुख्य दायित्व है। डा. निर्मला यादव ने कहा कि सशिक्षा के माध्यम से नवसमाज का निर्माण महासंघ का मूलमंत्र है संचालन महासंघ के जिलाध्यक्ष शशांक कुमार पांडेय व डा. उदयन मिश्र तथा धन्यवाद डा. रमा रूखैयार ने किया।

प्रदेश कार्यकारिणी के गठन की घोषणा : समारोह में महासंघ के प्रदेश कार्यकारिणी के गठन की घोषणा की गई। शशांक कुमार पांडेय को प्राथमिक संवर्ग का जिलाध्यक्ष बनाया गया।





Wednesday, August 26, 2020

परिषदीय विद्यालयों में शिक्षकों को पदोन्नति तिथि से उसी पद पर सीधी भर्ती हेतु निर्धारित न्यूनतम मूल वेतन 17140 अनुमन्य किये जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मांगपत्र

परिषदीय विद्यालयों में शिक्षकों को पदोन्नति तिथि से उसी पद पर सीधी भर्ती हेतु निर्धारित न्यूनतम मूल वेतन 17140 अनुमन्य किये जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मांगपत्र


परिषदीय शिक्षकों को अर्जित अवकाश, मेडिकल सुविधा एवं वाहन भत्ता दिए जाने तथा समय परिवर्तन सम्बन्धी नवीन आदेश को कोरोना काल मे स्थगित रखे जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मांगपत्र

परिषदीय शिक्षकों को अर्जित अवकाश, मेडिकल सुविधा एवं वाहन भत्ता दिए जाने तथा समय परिवर्तन सम्बन्धी नवीन आदेश को कोरोना काल मे स्थगित रखे जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मांगपत्र

Wednesday, August 5, 2020

कंटेनमेंट जॉन में निवास करने वाले शिक्षकों/कर्मचारियों को विशेष अवकाश स्वीकृत करने के सम्बन्ध में RSMUP का ज्ञापन

 कंटेनमेंट जॉन में निवास करने वाले शिक्षकों/कर्मचारियों को विशेष अवकाश स्वीकृत करने के सम्बन्ध में RSMUP का ज्ञापन

 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Wednesday, July 29, 2020

जालौन : शिक्षकों पर अनुचित दबाव बनाकर नियमविरुद्ध यू-डायस (DCF) ऑनलाइन भराने के सम्बन्ध में RSM द्वारा की गई शिकायत पर जांच का आदेश

जालौन : शिक्षकों पर अनुचित दबाव बनाकर नियमविरुद्ध यू-डायस (DCF) ऑनलाइन भराने के सम्बन्ध में RSM द्वारा की गई शिकायत पर जांच का आदेश





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Wednesday, July 8, 2020

बेसिक शिक्षा विभाग में संचालित आनलाइन व्यवस्थाओं व अन्य कार्यों के निष्पादन में शिक्षकों के समक्ष आ रही समस्याओं के सम्बन्ध में RSMUP ने महानिदेशक स्कूली शिक्षा व बेसिक शिक्षा निदेशक को भेजा पत्र

बेसिक शिक्षा विभाग में संचालित आनलाइन व्यवस्थाओं व अन्य कार्यों के निष्पादन में शिक्षकों के समक्ष आ रही समस्याओं के सम्बन्ध में RSMUP ने महानिदेशक स्कूली शिक्षा व बेसिक शिक्षा निदेशक को भेजा पत्र




Sunday, July 5, 2020

खण्ड शिक्षा अधिकारियों की लापरवाही पर शिक्षकों का वेतन रोकने के आदेश पर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने की आपत्ति

लखनऊ। 04 जुलाई : मानव सम्पदा पोर्टल पर सेवा विवरण व शैक्षिक अभिलेखों का 15 जुलाई तक अवलोकन कर डाटा सत्यापित न करने पर शिक्षकों का वेतन अवरुद्ध करने के फरमान पर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने महानिदेशक स्कूल शिक्षा को पत्र के माध्यम से न केवल मानव सम्पदा पोर्टल पर डाटा अपलोड की जमीनी हकीकत से अवगत कराया, बल्कि खण्ड शिक्षा अधिकारियों की लपरवाही पर शिक्षकों का वेतन अवरुद्ध करने को अन्याय बताया है।
राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 (प्राथमिक संवर्ग) के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद तिवारी व प्रदेश महामंत्री भगवती सिंह ने पत्र के माध्यम से अवगत कराया कि मानव संपदा पोर्टल पर सेवा संबंधी विवरण अपलोड किए जाने हेतु विभागीय आदेशोपरान्त शिक्षकों द्वारा 2-3 बार मानव सम्पदा फार्म खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में जमा किया जा चुका है। शिक्षकों की सेवा पुस्तिका व व्यक्तिगत पत्रावली भी खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में ही होती है, किन्तु खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यालय की लापरवाही के कारण प्रदेश के अधिकांश जनपदों में 40% से अधिक डाटा अपलोड नहीं हो पाया है। उन्होंने मांग की कि अध्यापकों का सेवा विवरण मानव सम्पदा पोर्टल पर पूर्ण रूपेण अपलोड कर दिए जाने संबंधी प्रमाणपत्र खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत किये जाने के पश्चात कम से कम 10 दिन का समय शिक्षकों/कार्मिकों को अपना डाटा चेक करने हेतु दिया जाना चाहिए।
अधिकांश जनपदों में मानव संपदा पोर्टल पर शिक्षकों को प्रति सेवा वर्ष मिलने वाले एक दिन के उपार्जित अवकाश का अंकन नहीं किया जा रहा है। अतः इस सम्बन्ध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर निर्देशित करने की मांग भी महासंघ ने की।




पत्र में उल्लेखित समस्याओं की महत्ता के दृष्टिगत उन्हें त्वरित निस्तारण कराने व शिक्षकों के सेवा विवरण मानव संपदा पोर्टल पर अपलोड किए जाने के कार्य को शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण कराने का की मांग महासंघ ने की जिससे शिक्षक समय से अपने सेवा विवरण चेक कर डाटा का सत्यापन कर सकें। कतिपय जनपदों में कायाकल्प के तहत कार्य न होने पर शिक्षकों को दोषी ठहराकर कार्रवाई करने को महासंघ ने अनुचित व अन्यायपूर्ण बताया है। महासंघ के माँगपत्र की  प्रदेशीय संयुक्त महामंत्री शिवशंकर सिंह, अयोध्या मण्डल महामंत्री पवन शंकर दीक्षित, जिलाध्यक्ष सीतापुर महेश मिश्रा व प्रदेश मीडिया प्रकोष्ठ सदस्य बृजेश श्रीवास्तव आदि पदाधिकारियों ने सराहना की है।

 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Monday, June 15, 2020

शिक्षकों के ग्रीष्मावकाश समाप्त कर अर्जित अवकाश (E.L.) प्रदान करने व अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण प्रक्रिया पूर्ण करने के संबंध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने बेसिक शिक्षा मंत्री को सौंपे माँगपत्र

शिक्षकों के ग्रीष्मावकाश समाप्त कर अर्जित अवकाश (E.L.) प्रदान करने व अंतर्जनपदीय स्थानान्तरण प्रक्रिया पूर्ण करने की मांग को लेकर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने बेसिक शिक्षा मंत्री को सौंपे ज्ञापन



Wednesday, June 3, 2020

परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षामित्रों, अनुदेशकों एवं रसोइयों को माह जून 2020 के मानदेय भुगतान हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का माँगपत्र

परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षामित्रों, अनुदेशकों एवं रसोइयों को माह जून 2020 के मानदेय भुगतान हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का माँगपत्र

Saturday, May 16, 2020

रुकी हुई अंतर्जनपदीय स्थानांतरण प्रक्रिया को 69000 शिक्षक भर्ती से पूर्व सम्पन्न किये जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का मांग पत्र

 रुकी हुई अंतर्जनपदीय स्थानांतरण प्रक्रिया को 69000 शिक्षक भर्ती से पूर्व सम्पन्न किये जाने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 का मांग पत्र


Wednesday, April 29, 2020

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के मंहगाई समेत अन्य भत्तों को रोके जाने के विरोध में मुख्यमंत्री महोदय को भेजा ज्ञापन

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के मंहगाई समेत अन्य भत्तों को रोके जाने के विरोध में मुख्यमंत्री महोदय को भेजा ज्ञापन



Wednesday, April 22, 2020

परिषदीय विद्यालयों में ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था की समस्याओं एवं समाधान हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मा0 बेसिक शिक्षा मंत्री के समक्ष ज्ञापन प्रस्तुत, देखें

परिषदीय विद्यालयों में ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था की समस्याओं एवं समाधान हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ का मा0 बेसिक शिक्षा मंत्री के समक्ष ज्ञापन प्रस्तुत, देखें



Monday, December 16, 2019

औरैया : शिक्षकों ने मांगे पूरी नहीं होने पर जताई नाराजगी, 18 दिसम्बर को होने वाले धरना प्रदर्शन को सफल बनाने की बनाई रणनीति

औरैया : शिक्षकों ने मांगे पूरी नहीं होने पर जताई नाराजगी, 18 दिसम्बर को होने वाले धरना प्रदर्शन को सफल बनाने की बनाई रणनीति।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, December 5, 2019

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के ज्ञापन पर आवश्यक कार्यवाही करते हुए अनुपालन किये जाने हेतु समस्त बीईओ को आदेश जारी, देखें

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के ज्ञापन पर आवश्यक कार्यवाही करते हुए अनुपालन किये जाने हेतु समस्त बीईओ को आदेश जारी, देखें