DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts
Showing posts with label राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ. Show all posts

Monday, December 16, 2019

औरैया : शिक्षकों ने मांगे पूरी नहीं होने पर जताई नाराजगी, 18 दिसम्बर को होने वाले धरना प्रदर्शन को सफल बनाने की बनाई रणनीति

औरैया : शिक्षकों ने मांगे पूरी नहीं होने पर जताई नाराजगी, 18 दिसम्बर को होने वाले धरना प्रदर्शन को सफल बनाने की बनाई रणनीति।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Thursday, December 5, 2019

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के ज्ञापन पर आवश्यक कार्यवाही करते हुए अनुपालन किये जाने हेतु समस्त बीईओ को आदेश जारी, देखें

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के ज्ञापन पर आवश्यक कार्यवाही करते हुए अनुपालन किये जाने हेतु समस्त बीईओ को आदेश जारी, देखें


Monday, November 4, 2019

फतेहपुर : शिक्षकों के बहिष्कार से एआरपी पद का चयन फंसा, जनपद में 70 एआरपी पदों पर होना है चयन, चयन समिति की अध्यक्ष सीडीओ बोलीं- नवम्बर में पूरी होगी चयन प्रक्रिया

फतेहपुर : शिक्षकों के बहिष्कार से एआरपी पद का चयन फंसा, जनपद में 70 एआरपी पदों पर होना है चयन, चयन समिति की अध्यक्ष सीडीओ बोलीं- नवम्बर में पूरी होगी चयन प्रक्रिया।


जागरण संवाददाता, फतेहपुर: बेसिक शिक्षा में किए जा रहे समय-समय पर बदलाव के चलते शिक्षक-शिक्षिकाओं और शासन-प्रशासन के बीच बार बार तनाव की स्थिति पैदा हो रही है। 5 सितंबर से लागू हुए प्रेरणा एप के विरोध के बाद नए पद एआरपी (एकेडमिक रिसोर्स पर्सन) की चयन प्रक्रिया को लेकर बवंडर शुरू हो गया है। एक ओर चयन समिति की अध्यक्ष सीडीओ ने बीएसए के संग बैठक करके नवंबर माह में प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश जारी किए हैं।

शासन ने सहायक ब्लॉक समन्वयकों के पद खत्म कर देने के बाद नया पद एआरपी सृजित किया है। जिले के 13 ब्लॉकों में इसकी चयन प्रक्रिया की जानी है। चयन समिति में सीडीओ को अध्यक्ष वहीं बीएसए को सचिव का दायित्व दिया गया है। चयन के लिए 100 अंकों की परीक्षा में 60 अंक लिखित, 30 अंक पूर्व के शैक्षिक कार्यों का आकलन और 10 अंक के साक्षात्कार की नई प्रक्रिया खासी परेशानी में डालने वाली है। ऐसे में तमाम कार्यरत एबीआरसी का पत्ता पहले ही साफ हो जाएगा। जिले के 70 एबीआरसी में ब्लाक स्तरीय नेता ही इस पद में हैं। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राजेंद्र सिंह और महामंत्री विजय त्रिपाठी कहते हैं कि सामूहिक बैठक में निर्णय लिया गया है कि एआरपी के लिए कोई भी शिक्षक-शिक्षिका आवेदन नहीं करेंगे। इस सर्वसम्मति के निर्णय के इतर जो भी काम करेगा उसका संगठन से कोई नाता नहीं होगा। ऐसे शिक्षक और शिक्षिका का ब्लाक एवं जिला स्तर पर बहिष्कार कर दिया जाएगा।








फतेहपुर : परिषदीय शिक्षक संगठनों ने प्रेरणा एप और एआरपी चयन का किया विरोध, संगठन प्रतिनिधियों ने कहा- एआरपी चयन के लिए कोई शिक्षक नहीं करेगा आवेदन।

एआरपी पद के लिए आवेदन करने पर होगा बहिष्कार
04 Nov 2019
प्राथमिक शिक्षा से जुड़े संघों ने अकादमिक रिसोर्स पर्सन की चयन प्रक्रिया के मामले में एकजुटता दिखाते हुए इस पद के लिए किसी भी सदस्य द्वारा आवेदन न किए जाने का फैसला किया है। रविवार को विभिन्न संघों की संयुक्त बैठक में निर्णय लिया गया कि जो शिक्षक इस पद के लिए आवेदन करेगा, उसका सामूहिक बहिष्कार किया जाएगा एवं उसे सदस्य नहीं बनाया जाएगा।
कलेक्ट्रेट स्थित भीमराव पार्क में आयोजित बैठक में संघों के नेताओं ने एका दिखाते हुए एक सुर से कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में एआरपी पद के लिए आवेदन करना संभव नहीं है। प्राथमिक शिक्षक संघ, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ, पूमा शिक्षक संघ एवं विशिष्ट बीटीसी संघ ने एक मत होकर निर्णय किया कि इन संघों को कोई भी सदस्य आवेदन नहीं करेगा। जो शिक्षक आवेदन करेगा, उसका सामूहिक बहिष्कार किया जाएगा तथा संघ की सदस्यता भी नहीं दी जाएगी। संघीय निर्वाचन प्रक्रिया से भी उसे दूर रखा जाएगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि यदि मनोनयन द्वारा चयन किया जाता है तो भी वर्तमान एबीआरसीसी एवं कोई भी शिक्षक इस पद पर कार्य नहीं करेंगे। हिन्दुस्तान ने पहले ही इस संभावना की खबर ‘एआरपी पर प्रेरणा का साया' प्रकाशित की थी। इस अवसर पर आरएसएम के मांडलिक मंत्री सुरेश सिंह, प्राशिसं के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह, मंत्री विजय त्रिपाठी, आरएसएम के जिलाध्यक्ष अदीप सिंह, जूनियर शिक्षक संघ के अध्यक्ष रमेश सिंह, दिग्विजय सिंह, अनुराग मिश्र, शैलेन्द्र भदौरिया, ब्रजेश सिंह, लाल देवेन्द्र प्रताप सिंह दर्जनों शिक्षक नेता एवं सदस्य मौजूद रहे।
व्यावहारिकता पर भी दिया जाए बल: शिक्षक संघों का मानना है कि विभाग सिर्फ नियम थोपने पर आमादा है। जबकि कोई नया नियम लागू करने से पहले वस्तुस्थिति का आंकलन कर ग्राउन्ड जीरो से रिपोर्ट लेनी चाहिए। दूर दराज के क्षेत्रों में काम करने वाले शिक्षकों को किन समस्याओं का सामना करना पड़ता है, इसका भी ध्यान रखना चाहिए।










 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Friday, October 4, 2019

सीतापुर : अंतर्जनपदीय स्थानांतरण प्रक्रिया में 50% पुरुषों को भी अनिवार्य रूप से सम्मिलित किये जाने की मांग सहित अन्य बिंदुओं पर मा0 मुख्यमंत्री को मांगपत्र प्रेषित

सीतापुर : अंतर्जनपदीय स्थानांतरण प्रक्रिया में 50% पुरुषों को भी अनिवार्य रूप से सम्मिलित किये जाने की मांग सहित अन्य बिंदुओं पर मा0 मुख्यमंत्री को मांगपत्र प्रेषित


Tuesday, October 1, 2019

परिषदीय विद्यालयों, छात्रों, शिक्षक हित में विचार करने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने मा0 बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) को सौंपा 20 सूत्रीय मांग पत्र, देखें

परिषदीय विद्यालयों, छात्रों, शिक्षक हित में विचार करने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने मा0 बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) को सौंपा 20 सूत्रीय मांग पत्र, देखें






Monday, September 2, 2019

फतेहपुर : प्रेरणा एप के स्वरूप पर शिक्षकों ने जताया विरोध, नियम शर्तों में परिवर्तन कर लागू हो प्रेरणा एप

फतेहपुर : प्रेरणा एप के स्वरूप पर शिक्षकों ने जताया विरोध, नियम शर्तों में परिवर्तन कर लागू हो प्रेरणा एप।

*राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ*
03/09/2019










*प्राथमिक शिक्षक संघ*
02/09/2019

फतेहपुर : शिक्षकों ने प्रेरणा एप के खिलाफ खोला मोर्चा, आज से कोई शिक्षक मोबाइल से नहीं भेजेगा सूचना, पांच सितंबर को मनाएंगे शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस।







 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Saturday, August 31, 2019

कन्नौज : प्रेरणा एप के लिए शिक्षक हैं तैयार, लेकिन मिले एंड्रॉयड फोन, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सौंपा 15 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन, बीएसए और बीईओ कार्यालय को भी एप से जोड़ने की मांग

कन्नौज : प्रेरणा एप के लिए शिक्षक हैं तैयार, लेकिन मिले एंड्रॉयड फोन, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सौंपा 15 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन, बीएसए और बीईओ कार्यालय को भी एप से जोड़ने की मांग।







 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Wednesday, August 7, 2019

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा 08 अगस्त को प्रस्तावित गुरुवंदन कार्यक्रम में एमडीएम वितरण के पश्चात शिक्षकों की प्रतिभागिता हेतु अनुमति के सम्बन्ध में

हाथरस : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा 08 अगस्त को प्रस्तावित गुरुवंदन कार्यक्रम में एमडीएम वितरण के पश्चात शिक्षकों की प्रतिभागिता हेतु अनुमति के सम्बन्ध में



Friday, December 14, 2018

गोण्डा : प्रमोशन में दिलचस्पी नहीं ले रहे अफसर,राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के पदाधिकारियों ने बैठक कर आंदोलन की बनाई रणनीति

गोण्डा : प्रमोशन में दिलचस्पी नहीं ले रहे अफसर,राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के पदाधिकारियों ने बैठक कर आंदोलन की बनाई रणनीति।

Monday, December 3, 2018

एक ही परिसर में संचालित प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालयों की संविलयन प्रक्रिया निरस्त करने के सम्बन्ध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा अपर मुख्य सचिव (बेसिक शिक्षा) को पत्र प्रेषित

एक ही परिसर में संचालित प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालयों की संविलयन प्रक्रिया निरस्त करने के सम्बन्ध में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ द्वारा अपर मुख्य सचिव (बेसिक शिक्षा) को पत्र प्रेषित


Monday, November 12, 2018

जीवन जीने की कला सिखाते हैं शिक्षक : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के स्थापना दिवस समारोह में बोले डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा

जीवन जीने की कला सिखाते हैं शिक्षक : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के स्थापना दिवस समारोह में बोले डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा। 


Sunday, October 28, 2018

आगरा : रा0शै0महासंघ की मांग पर बेसिक शिक्षा में व्याप्त समस्याओं के समाधान हेतु बीएसए द्वारा समस्त बीईओ एवं लिपिकों को 10 सूत्रीय निर्देश जारी

आगरा : रा0शै0महासंघ की मांग पर बेसिक शिक्षा में व्याप्त समस्याओं के समाधान हेतु बीएसए द्वारा समस्त बीईओ एवं लिपिकों को 10 सूत्रीय निर्देश जारी


Saturday, October 6, 2018

झाँसी : विद्यालय में दर्ज अवकाश भी मान्य हो, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं को लेकर बीएसए को सौंपा ज्ञापन

झाँसी : विद्यालय में दर्ज अवकाश भी मान्य हो, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं को लेकर बीएसए को सौंपा ज्ञापन

Wednesday, September 26, 2018

झाँसी : बीईओ बंगरा पर अनियमितताओं के आरोप, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की मांग के साथ ही अनियमितताओं की जांच के संबंध में बीएसए को सौंपा ज्ञापन

झाँसी : बीईओ बंगरा पर अनियमितताओं के आरोप, राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की मांग के साथ ही अनियमितताओं की जांच के संबंध में सौंपा ज्ञापन

Monday, July 23, 2018

शिक्षा/शिक्षक हित में विचार करने हेतु राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने मा0 बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) को सौंपा 13 सूत्रीय मांग पत्र, देखें

दिनांक 20 - 07 - 2018 को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 के 7 सदस्यीय प्रतिनिधि मण्डल ने " बेसिक शिक्षा मंत्री - मान0 अनुपमा जायसवाल " से उनके निज आवास पर विशेष सचिव , बेसिक शिक्षा उ0प्र0 शासन व बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षा निदेशक मान0 सर्वेन्द्र विक्रम सिंह सहित विभिन्न विभागीय उच्चस्थ अधिकारियो की उपस्थिति में मुलाक़ात कर विभिन्न मांगो पर विस्तृत वार्ता की , व ज्ञापन सौपा ।
 लगभग डेढ घण्टे चली सकारात्मक , सार्थक और वृहद वार्ता में संगठन की अधिकाँश अनेको मांगो पर सहमति बनी।
  संगठन ने बैठक में निम्नलिखित मांगे पूर्ण किये जाने रखी।

1 -  01 अप्रैल 2004 के पूर्व लागू पुरानी पेंशन अविलम्ब बहाल की जाए ।

2 - बेसिक शिक्षा के शिक्षको / कर्मचारियों को भी राजकीय शिक्षको की भाति कैशलैस चिकित्सा सुबिधा  , अवकाश नकदीकरण , अवकाश यात्रा सुबिधा ( एल. टी. सी ) प्रदान की जाए।

3 - शिक्षको की बीमा राशि एक लाख से बढाकर दस लाख की जाए ।

4 - अनुदेशको का मानदेय बढाकर न्यूनतम 17,000 रू0 किया जाए।

5 - ग्रामीण क्षेत्रो  / दूरस्थ विद्यालयो / दूरस्थ विकास खण्डों में तैनात शिक्षको को दूरस्थ भत्ता दिया जाए।

6 - खण्ड शिक्षा अधिकारियो के 50% पद शिक्षको की पदोन्नति से भरे जाए ।

7 - मृतक शिक्षको के आश्रित को पूर्व की भाति उसकी शैक्षिक योग्यता नुसार शिक्षक के पद पर नियुक्ति प्रदान की जाए।

8 - मतदाता सूची / पुनरीक्षण जैसे आदि गैरशैक्षिणिक कार्यो से शिक्षको को पूर्णतया मुक्त रखा जाए ।

9  - रसोइयो के मानदेय में यथोचित बृद्धि करते हुए 10 माह के स्थान पर 11 - माह के मानदेय का भुगतान किया जाए।

10 - शिक्षको को चयन / प्रोन्नत वेतनमान के स्थान पर ए सी पी की सुबिधा का लाभ दिया जाए।

11 - प्र0अ0 प्राथमिक / स0अ0 उच्च प्राथमिक विद्यालय के पद पर पदोन्नति प्राप्त शिक्षको को न्यूनतम 17140 का वेतन प्रदान करने हेतु शासनादेश अविलम्ब जारीकिया जाए।

12 - अधिक उम्र के या बीमारी से ग्रसित शिक्षको का स्थानांतरण नीति के तहत स्थानांतरण नही किया जाए।

  इस अवसर पर अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री - मान0 ओमपाल सिंह जी , संरक्षक - अजीत सिंह जी , प्रदेश महामन्त्री - श्री भगवती सिंह जी , प्रदेश संयुक्त महामन्त्री - श्री भगवती सिंह जी ,संगठन मंत्री - श्री श्रीकृष्ण त्रिवेदी , मण्डल महामन्त्री लखनऊ - श्वेता सिंह , मण्डल महामन्त्री - पवन शंकर दीक्षित उपस्थित रहे।





Wednesday, July 4, 2018

फर्रूखाबाद : आरएसएम के मांग पत्र में प्रस्तुत शिक्षक समस्याओं के निस्तारण हेतु बीएसए का आदेश जारी, देखें

फर्रूखाबाद : आरएसएम के मांग पत्र में प्रस्तुत शिक्षक समस्याओं के निस्तारण हेतु बीएसए का आदेश जारी, देखें

Wednesday, June 27, 2018

ललितपुर : चयन वेतनमान के फलस्वरूप वित्तीय स्तरोन्नयन होने पर एक वेतन वृद्धि प्रदान करते हुए उच्चीकृत लेबल में वेतन निर्धारण करने की राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने की मांग

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 जनपद - ललितपुर के प्रतिनिधि मंडल ने मान0 जिलाधिकारी महोदय ललितपुर - श्री मानवेन्द्र सिंह जी एवम जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ललितपुर - श्री मायाराम जी को एक ज्ञापन सौपकर शासनादेशानुसार एक वेतन वृद्धि जोड़ते हुए अगले उच्च लेवल में चयन वेतनमान निर्धारण कराये जाने की मांग की।
जिलाध्यक्ष - रविकांत ताम्रकार ने कहा कि मूल शासनादेश दिनांक 22 -12-2016 के प्रस्तर 9 (1) व संलग्नक 6 तथा शासनादेश 10 अक्टूबर 2017 के संलग्नक - 3 व 4  में  उल्लिखित सुस्पष्ट व्यवस्थानुसार सुनिश्चित कैरियर योजनान्तर्गत चयन वेतनमान अर्थात वित्तीय स्तरोन्नयन का लाभ होने की स्थिति में एक वेतन बृद्धि जोड़ते हुए अगले उच्चीकृत लेवल में वेतन निर्धारण के स्पष्ट निर्देश है। जिसके क्रम में वित्त नियंत्रक बेसिक शिक्षा परिषद उ0प्र0 ने भी उक्त शासनादेश के प्रस्तर - 9( 1 ) के संलग्नक -6  अनुसार जिसमे एक वेतन वृद्धि जोड़कर अगले उच्च स्लेव में चयन  वेतनमान के निर्देश दिए गए।
किन्तु वित्त एवम् लेखाधिकारी द्वारा कहा जा रहा है कि वित्त नियंत्रक उ0प्र0 ने मौखिक मना किया है जो पूर्णतया गलत , अनुचित व शासनादेशो के विरूद्ध है
रविकांत ताम्रकार ने कहा कि मौखिक क्या होता है जबकि इसी उक्त शासनादेशानुसार माध्यमिक शिक्षा में भी चयन वेतनमान निर्धारण किया गया है।
तथा बेसिक शिक्षा व माध्यमिक शिक्षा में इसी उक्त शसनादेशानुसार ही वेतन निर्धारण , पदोन्नत वेतन निर्धारण व वार्षिक वृद्धि देय होती है फिर चयन वेतनमान निर्धारण के लिए अलग से आदेश क्यों ?
उन्होंने कहा कि उक्त मूल शासनादेश के क्रम में प्रदेश के अन्य कई जनपदों जैसे - झांसी , औरैया , गोरखपुर , बरेली व अन्य में एक वेतन वृद्धि जोड़कर चयन वेतनमान निर्धारण की कार्यवाही की गई है
   अतःउक्त शासनादेशो व निर्देशो के अनुपालन में जनपद ललितपुर में एक वेतन वृद्धि जोड़ते हुए अगले उच्च लेवल में चयन वेतनमान निर्धारण की कार्यवाही अविलम्ब की जाए ।
एवम शिक्षको की चयन वेतनमान की पत्रावलियां निजस्वार्थ विगत लगभग 8 माह से ब्लॉक स्तर पर लंबित रखने वाले अधिकारियो व जिला कार्यालय कार्यालय स्तर पर लम्बित रखने वाले लिपिक के विरूद्ध प्रशासनिक दंडात्मक कार्यवाही अमल में लाई जाए।
  अन्यथा संगठन शीघ्र ही प्रभावित शिक्षको के साथ अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन को बाध्य होगा।
इस मौके पर पं० अरविन्द तिवारी , हेमन्त तिवारी , कैलाश चन्द्र राणा , दिवाकर शुक्ला , सनिल सैनी , अरविन्द गौतम , हरभजन सिंह सिसौदिया , वीरेंद्र रजक , संजय सेन , देशभक्त चतुर्वेदी , राकेश शर्मा , दशरथ प्रसाद , महेंद्र साहू , अम्बरीष विश्वकर्मा , बालकिशन सोनी , उमाशंकर राठौर , अंशु नामदेव , वीर सिंह कुशवाहां , पुष्पेन्द्र जैन , कमलदास साध , शंकर लाल सेन आदि उपस्थित रहे।