DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Tuesday, August 22, 2119

अब तक की सभी खबरें एक साथ एक जगह : प्राइमरी का मास्टर ● इन के साथ सभी जनपद स्तरीय अपडेट्स पढ़ें


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।




स्क्रॉल करते जाएं और पढ़ते जाएं सभी खबरें एक ही जगह। जिस खबर को आप पूरा पढ़ना चाहें उसे क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

    Tuesday, August 20, 2019

    गोरखपुर : दो पालियों में कल होगी सह-समन्वयक चयन परीक्षा, लिखित परीक्षा के बाद कराया जाएगा साक्षात्कार

    दो पालियों में कल होगी सह समन्वयक परीक्षा


    • August 20, 2019
    जागरण संवाददाता, गोरखपुर : जिले में सह समन्वयक (एबीआरसी) के चयन के लिए परीक्षा 21 अगस्त को दो पालियों में होगी। लिखित परीक्षा के बाद उसी दिन साक्षात्कार लिया जाएगा। प्रथम पाली की परीक्षा सुबह नौ से 10 बजे तक होगी। इसमें सामाजिक विषय व अंग्रेजी के 121 अभ्यर्थी प्रतिभाग करेंगे। दूसरे पाली की परीक्षा 10.30 बजे से 11.30 बजे तक होगी। इसमें विज्ञान, गणित व हिन्दी के कुल 178 अभ्यर्थी सम्मिलित होंगे।
    सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी परीक्षा: जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह ने बताया कि परीक्षा सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी। कुल 299 अभ्यर्थी शामिल होंगे। डायट के हाल में परीक्षा होगी। परीक्षा के बाद उसी दिन सभी का साक्षात्कार होगा और उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन भी किया जाएगा। परीक्षा में सभी बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे। हर ब्लॉक में पांच सह समन्वयक की तैनाती होनी है। परीक्षा करीब डेढ़ वर्ष के अंतराल के बाद हो रही है।
    परीक्षा परिणाम में अभ्यर्थियों का मेरिट के अनुसार क्रमांक व उनके प्राप्तांक भी जारी किए जाएंगे। मेरिट के आधार पर ही उन्हें उनके विकल्प के अनुसार ब्लॉक आवंटित किया जाएगा।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    मदरसा बोर्ड परीक्षा का बदलेगा स्वरूप, लघु उत्तरीय व दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों को किया जाएगा शामिल, प्रत्येक विषय का होगा केवल एक प्रश्नपत्र

    मदरसा बोर्ड परीक्षा का बदलेगा स्वरूप, लघु उत्तरीय व दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों को किया जाएगा शामिल, प्रत्येक विषय का होगा केवल एक प्रश्नपत्र।

    मदरसा बोर्ड की परीक्षा का बदलेगा स्वरूप
    August 20, 2019 
     
    राज्य ब्यूरो, लखनऊ : उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद अपने परीक्षा स्वरूप में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। प्रश्नपत्रों का पुराना व बोङिाल स्वरूप बदलकर इसे आसान व सरल बनाया जा रहा है। इसमें लघु उत्तरीय, दीर्घ उत्तरीय व बहु विकल्पीय प्रश्नों को जोड़ा जा रहा है। अन्य बोर्ड की तर्ज पर मदरसा बोर्ड भी एक विषय का एक प्रश्नपत्र आयोजित करेगा। इसके लिए पाठ्यक्रम का भी पुनर्गठन किया जा रहा है।
    दरअसल, उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद अरसे से पुराने र्ढे पर चल रहा था। प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी तब से मदरसा बोर्ड में भी सुधार किए जा रहे हैं। फर्जी मदरसों पर लगाम लगाने के लिए मदरसा पोर्टल में इनका पंजीकरण कराने के बाद अब बोर्ड अपने परीक्षा पैटर्न में भी बदलाव करने जा रहा है।

    ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि मदरसों के छात्र-छात्रएं भी दूसरे बोर्ड के युवाओं के साथ मुकाबला कर सकें। मदरसा बोर्ड से मिलने वाली डिग्री की अहमियत बढ़े इसके भी प्रयास किए जा रहे हैं।

    इसी के तहत मदरसा बोर्ड वर्ष 2020 में पाठ्यक्रम का भी पुनर्गठन करने जा रहा रहा है। इसके तहत जिस विषय का पाठ्यक्रम बड़ा है उसके प्रश्नपत्रों में एक से अधिक खंड होंगे। सभी खंडों से प्रश्नों को हल करना जरूरी होगा। बोर्ड ने यह भी तय किया है कि मुंशी व मौलवी के लिए अब अनिवार्य पांच विषयों थियोलॉजी, अरबी साहित्य/फारसी साहित्य, उर्दू साहित्य, सामान्य अंग्रेजी व सामान्य हिंदी के केवल एक-एक प्रश्नपत्र होंगे।

    इसी प्रकार वैकल्पिक विषय गणित, गृह विज्ञान, लॉजिक एंड फिलास्फी, सामाजिक अध्ययन, विज्ञान एवं तिब में एक विषय की परीक्षा देनी होगी।

    आलिम में भी अनिवार्य चार विषयों थियोलॉजी, अरबी साहित्य/ फारसी साहित्य, उर्दू साहित्य व सामान्य अंग्रेजी का एक-एक प्रश्नपत्र देना होगा। वैकल्पिक विषयों गृह विज्ञान, सामान्य हिन्दी, लॉजिक एंड फिलास्फी, सामाजिक अध्ययन, विज्ञान, तिब एवं टाइ¨पग में से एक प्रश्नपत्र देना होगा।

    पाठ्यक्रम का पुनर्गठन इस तरह से किया जा रहा है ताकि मदरसा बोर्ड के छात्र भी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल हो सकें। उन्हें दीनी तालीम के साथ ही दुनियावी तालीम भी मिल सके। इसलिए पाठ्यक्रम समिति यह देखेगी कि इसमें क्या नया जोड़ा जाए व क्या हटाया जाए।

    मदरसों का परीक्षा शुल्क बढ़ाने की तैयारी
    मदरसा बोर्ड शीघ्र ही परीक्षा शुल्क बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। कई वर्षो से मदरसा बोर्ड ने परीक्षा शुल्क नहीं बढ़ाया है। इसलिए इसमें 30 से 50 फीसद तक की बढ़ोत्तरी करने की तैयारी है। आज भी मदरसों में 150 से 250 रुपये ही परीक्षा शुल्क लिया जा रहा है।




     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    फतेहपुर : मध्यान्ह भोजन कन्वर्जन कास्ट भेजने की व्यवस्था में हुआ बदलाव, यूपीएस में भेजी गई धनराशि, विलय के बाद प्राथमिक विद्यालयों के खातों में धन भेजने की मनाही

    फतेहपुर : मध्यान्ह भोजन कन्वर्जन कास्ट में बदलाव, यूपीएस में भेजी गई धनराशि, विलय के बाद प्राथमिक विद्यालयों के खातों में धन भेजने की मनाही।

    जागरण संवाददाता, फतेहपुर : प्राथमिक विद्यालयों का उच्च प्राथमिक विद्यालयों (यूपीएस) में विलय करने के बाद मध्याह्न भोजन की कन्वर्जन कास्ट भेजने की नई व्यवस्था लागू की गई है। प्राथमिक विद्यालयों में कन्वर्जन कास्ट न भेजने की नवीन व्यवस्था में डीएम ने अनुमोदन की मुहर लगा दी है। डीएम के आदेश के बाद बीएसए ने विलय के सभी उच्च प्राथमिक विद्यालयों में यह राशि भेज दी है।
    मध्याह्न भोजन के तहत प्राथमिक, उच्च प्राथमिक और इंटर कॉलेजों में कक्षा 8 तक के छात्र-छात्रओं को दोपहर का गर्मागर्म भोजन एमडीएम परोसे जाने की व्यवस्था है। इस व्यवस्था में शासन का प्रतिमाह 90 लाख रुपया खर्च होता है। प्राथमिक विद्यालयों के विलय के बाद एक ही विद्यालय के दो बैंक खातों के संचालन को लेकर उहापोह मची हुई थी। विलय की नई व्यवस्था के तहत अब उच्च प्राथमिक विद्यालयों में ही कन्वर्जन कास्ट भेजने का निर्देश है। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि नई व्यवस्था के तहत विलय के बाद उच्च प्राथमिक विद्यालयों में धनराशि भेज दी गई है। प्राथमिक, उच्च प्राथमिक और इंटर कॉलेजों में सितंबर माह तक की कन्वर्जन कास्ट भेजी गई है।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    फतेहपुर : मानक से खिलवाड़, अलमारियों में सामान, खेलकूद का सामान व पुस्तक खरीद में गड़बड़ी की आशंका, भौतिक सत्यापन कर 21 विद्यालयों को बीएसए ने दिया नोटिस

    फतेहपुर : मानक से खिलवाड़, अलमारियों में सामान, खेलकूद का सामान व पुस्तक खरीद में गड़बड़ी की आशंका, भौतिक सत्यापन कर 21 विद्यालयों को बीएसए ने दिया नोटिस।

    मानक से खिलवाड़, अलमारियों में सामान


    • August 20, 2019
    जागरण संवाददाता, फतेहपुर : परिषदीय विद्यालयों में खेलकूद का सामान और पुस्तकों की खरीद में अनियमितता सामने आई है। बीएसए ने 21 विद्यालयों का भौतिक निरीक्षण किया तो खरीद में मानकों को दरकिनार किए जाने की पुष्टि हुई। अलमारियों में सामान बंद होने के चलते उपयोग शून्य मिला। बीएसए ने सभी विद्यालयों को नोटिस दी है। इस कार्रवाई से प्रधानाध्यापकों में खलबली मची है।
    पुस्तकालय स्थापना और खेलकूद का सामान खरीदने के लिए शासन ने प्राथमिक विद्यालयों को 5-5 हजार और उच्च प्राथमिक विद्यालयों को 10-10 हजार रुपये दिए थे। खेलकूद का सामान और किताबों की खरीदारी प्रधानाध्यापकों को करनी थी। बीएसए ने बीते माह में विद्यालयों का निरीक्षण किया। जिसमें पाया कि दोनों मदों में मानक के अनुसार खरीदारी नहीं की गई। आधे-अधूरे सामान खरीद उन्हें ताले में रखा गया है, जिससे बच्चों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा। बीएसए यह भी स्वीकार करते हैं कि जून में भेजी गई धनराशि से खरीदारी का निरीक्षण नहीं करवाते तो जिम्मेदार घपलेबाजी कर डालते।
    इन विद्यालयों को दी गई नोटिस: प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय बकंधा, उच्च प्रा. विद्यालय सनगांव, प्राथमिक व उच्च प्रा. विद्यालय एकारी, प्राथमिक व उच्च प्रा. विद्यालय टीसी, उच्च प्राथमिक विद्यालय बिलंदा प्रथम, बिलंदा द्वितीय, उच्च प्राथमिक विद्यालय महात्मा गांधी खेलदार, प्राथमिक विद्यालय कटरा अब्दुलगनी, प्राथमिक व उच्च प्रा. विद्यालय लाला बाजार, आदर्श पूर्व माध्यमिक खेलदार, प्राथमिक विद्यालय मलवां, प्राथमिक विद्यालय बिलंदा द्वितीय, प्राथमिक व उच्च प्रा. विद्यालय औंग, प्राथमिक व उच्च प्रा. विद्यालय सौंरा, उच्च प्राथमिक विद्यालय मौहार।




     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    माध्यमिक शिक्षक संघ के एक गुट ने विरोध करते हुए जलाई शिक्षा अधिकरण की प्रतियां


    माध्यमिक शिक्षक संघ के एक गुट ने विरोध करते हुए जलाई शिक्षा अधिकरण की प्रतियां। 




    श्रमिकों के बच्चों को प्राविधिक शिक्षा में आर्थिक सहायता, डिग्री से लेकर डिप्लोमा और सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने पर मिलेगी मदद



    श्रमिकों के बच्चों को प्राविधिक शिक्षा में आर्थिक सहायता, डिग्री से लेकर डिप्लोमा और सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने पर मिलेगी मदद। 




    शिक्षा सेवा अधिकरण की स्थापना को लेकर लखनऊ और प्रयागराज के वकील आमने सामने, अनशन और आंदोलन के साथ साथ समर्थन मांगने का सिलसिला जारी


     
    शिक्षा सेवा अधिकरण की स्थापना को लेकर लखनऊ और प्रयागराज के वकील आमने सामने, अनशन और आंदोलन के साथ साथ समर्थन मांगने का सिलसिला जारी।  









    निजी विश्वविद्यालयों की स्थापना से बढ़ेंगे रोजगार के मौके, 45 निजी विवि की स्थापना के लिए सरकार ने किए सहमति पत्र पर हस्ताक्षर

    निजी विश्वविद्यालयों की स्थापना से बढ़ेंगे रोजगार के मौके, 45 निजी विवि की स्थापना के लिए सरकार ने किए सहमति पत्र पर हस्ताक्षर।






     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    प्रयागराज : 98 शिक्षकों का पारस्परिक समायोजन का बीएसए ने किया आदेश, एक सप्ताह में कार्यभार ग्रहण करने का दिया निर्देश

    प्रयागराज : बीएसए ने जनपदीय समायोजन समिति के अनुमोदन के बाद 98 शिक्षकों का किया पारस्परिक समायोजन का आदेश, एक सप्ताह में कार्यभार ग्रहण करने का दिया निर्देश।










     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    लखीमपुर-खीरी : बेसिक शिक्षा विभाग में जूनियर बीईओ को मुख्यालय का दे दिया प्रभार, बीईओ के किए गए तबादलों को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म

    लखीमपुर-खीरी : बेसिक शिक्षा विभााग मेंं जूनियर बीईओ को मुख्यालय का दे दिया प्रभार, बीईओ के किए गए तबादलों को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    औरैया : अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में शिक्षकों जल्द होगी तैनाती, डायट ने कराई गई परीक्षा का परिणाम किया जारी

    औरैया : अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में शिक्षकों जल्द होगी तैनाती, डायट ने कराई गई परीक्षा का परिणाम किया जारी।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    कन्नौज : खतरे में जिले के चार हजार नौनिहालों की जिन्दगी, गोण्डा प्राथमिक विद्यालय में छत गिरने के बाद भी नहीं चेत रहे जिम्मेदार अफसर

    कन्नौज : खतरे में जिले के चार हजार नौनिहालों की जिन्दगी, गोण्डा प्राथमिक विद्यालय में छत गिरने के बाद भी नहीं चेत रहे जिम्मेदार अफसर।






     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    प्रतापगढ़ : शिक्षकों के समायोजन पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, 195 शिक्षकों में 97 ने हाईकोर्ट का खटखटाया था दरवाजा

    प्रतापगढ़ : शिक्षकों के समायोजन पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, 195 शिक्षकों में 97 ने हाईकोर्ट का खटखटाया था दरवाजा।












     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    उन्नाव : काउंसिलिंग से दूर रहे शिक्षकों का भी कर दिया समायोजन, न समायोजन सूची में नाम और न काउंसिलिंग के भागीदार, फिर भी चढ़ा दिया समायोजन सूची में नाम

    उन्नाव : काउंसिलिंग से दूर रहे शिक्षकों का भी कर दिया समायोजन, न समायोजन सूची में नाम और न काउंसिलिंग के भागीदार, फिर भी चढ़ा दिया समायोजन सूची में नाम।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    Monday, August 19, 2019

    मीरजापुर : 30 सितम्बर तक नामांकन वृद्धि न होने पर 50 से कम नामांकन वाले विद्यालयों को निकटस्थ विद्यालयों से सम्बद्ध कर संचालन किये जाने के सम्बन्ध में, देखें

    मीरजापुर : 30 सितम्बर तक नामांकन वृद्धि न होने पर 50 से कम नामांकन वाले विद्यालयों को निकटस्थ विद्यालयों से सम्बद्ध कर संचालन किये जाने के सम्बन्ध में, देखें

    ■ रामपुर : अब परखा जाएगा परिषदीय शिक्षकों का सामान्य ज्ञान, अफसरों की निगरानी में योजना बनाकर शिक्षकों की परीक्षा कराने की तैयारी



    ■  रामपुर :  अब परखा जाएगा परिषदीय शिक्षकों का सामान्य ज्ञान, अफसरों की निगरानी में योजना बनाकर शिक्षकों की परीक्षा कराने की तैयारी। 





    परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को टैबलेट दिए जाने की तैयारी शुरू, विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की हाजिरी का रखा जाएगा पूरा रिकॉर्ड, राज्य एवं जिला स्तर पर बनेगा कंट्रोल रूम

    परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को टैबलेट दिए जाने की तैयारी शुरू, विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की हाजिरी का रखा जाएगा पूरा रिकॉर्ड, राज्य एवं जिला स्तर पर बनेगा कंट्रोल रूम






    फतेहपुर : 23 मान्यता प्राप्त स्कूलों की खत्म होगी मान्यता, अमान्य स्कूल का संचालन मिला तो सम्बन्धित बीईओ के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई : डीएम

    फतेहपुर : 23 मान्यता प्राप्त स्कूलों की खत्म होगी मान्यता, अमान्य स्कूल का संचालन मिला तो सम्बन्धित बीईओ के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई : डीएम।





     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

    माध्यमिक : सहायता प्राप्त स्कूलों की शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़ा का हुआ खुलासा, फर्जी वेबसाइट से किया सत्यापन

    माध्यमिक : सहायता प्राप्त स्कूलों की शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़ा का हुआ खुलासा, फर्जी वेबसाइट से किया सत्यापन।




     व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।