DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, August 22, 2117

अब तक की सभी खबरें एक साथ एक जगह : प्राइमरी का मास्टर ● इन के साथ सभी जनपद स्तरीय अपडेट्स पढ़ें



स्क्रॉल करते जाएं और पढ़ते जाएं सभी खबरें एक ही जगह। जिस खबर को आप पूरा पढ़ना चाहें उसे क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

    Tuesday, August 14, 2018

    गोरखपुर : हेडमास्टर ने सैलरी से लगवाई बायोमेट्रिक मशीन, बढ़ गयी हाजिरी

    हेडमास्टर ने सैलरी से लगवाई बायोमेट्रिक मशीन, बढ़ गयी हाजिरी


    सीतापुर : समाज के ‘अनुराग’ से मिली पहचान, मिशन इंद्रधनुष के लिए बनाया अनूठा डिजिटल इंजेक्शन, शिक्षक ने अभिनव तरीकों से सजा दिया गुरुकुल


    संवादसूत्र, सीतापुर : किस्मत की रेत मुङो एड़ियां रगड़ने दे, मुङो यकीन है पानी यहीं से निकलेगा। अल्लामा इकबाल के इस सूत्र वाक्य को शिक्षक अनुराग मिश्र ने अपनी कामयाबी का मंत्र बना लिया। सर्व शिक्षा अभियान की सफलता के लिए अनुराग ने पेंसिल का निर्माण किया तो मिशन इंद्रधनुष को परवान चढ़ाने के लिए डिजिटल इंजेक्शन बनाकर शोहरत की बुलंदियों को छुआ। बेहतर गुरु के साथ जीवंत तस्वीरों में रंग भरने की कला ने उन्होंने विद्यालय को टीएलएम की प्रयोगशाला बना दिया। उनके इसी हुनर के चलते डायट प्राचार्य ने जिले के बेस्ट टीएलएम व विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया है।1खैराबाद ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय मुबारकपुर के प्रधानाध्यापक अनुराग मिश्र की कामयाबी सोशल मीडिया पर सुर्खियों में है। बच्चों को संस्कारवान शिक्षा देने के साथ ही नित नए प्रयोग करते हैं। स्कूल चलो अभियान की कामयाबी के लिए इनकी बनाई हुई 18 फिट लंबी पेंसिल जिला मुख्यालय पर अभियान का हिस्सा बनी। मिशन इंद्रधनुष की सफलता के लिए अनुराग ने 12 फिट लंबी डिजिटल इंजेक्शन तैयार किया। 1इसमें उम्र के निशान पर उंगली टच करते ही उम्र के हिसाब से लगने वाले टीका की जानकारी फ्लैश हो जाती है। डिजिटल इंजेक्शन से प्रभावित स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने इसे बेस्ट मॉडल के लिए महकमे को भेजा है। बिसवां तहसील मुख्यालय पर आयोजित मेले में खाने के बाद फेंके गए गत्ता, प्लास्टिक व कागज के गिलास से पॉल्यूशन मैन बनाकर तैयार कर दिया। इस पॉल्यूशन मैन की डीएम व तत्कालीन एसपी ने सराहना करते हुए इसे श्रेष्ठ मॉडल करार दिया था। बच्चों को बाडी पाट्र्स का ज्ञान कराने के लिए अनुराग ने डिजिटल मॉडल तैयार किया, जिसमें जिस पार्ट को टच करने पर उसका हंिदूी व अंग्रेजी में नाम फ्लैश हो जाता है। पेंटिंग के हुनर के चलते अनुराग ने विद्यालय की दीवारों पर महापुरुषों के विशालकाय चित्र उकेरे हैं।1 विद्यालय के स्पोट्र्स रूम को खेलों की सामग्री से सजाया है। इन्होंने मध्याह्न भोजन मेन्यू को गीत में पिरोया है। इसके अलावा भी विद्यालय में कई अनूठे और अभिनव तरीकों को देखने के लिए शिक्षक देखने आते हैं।मिशन इंद्र धनुष जागरूकता कार्यक्रम के तहत प्राथमिक विद्यालय मुबारकपुर में बनाई गई इंजेक्शन (फाइल फोटो)

    एल्बेंडाजॉल की राह में रोड़ा : निजी स्कूलों की मनमानी से छूटे सवा करोड़ बच्चे

    राज्य ब्यूरो, लखनऊ : स्वास्थ्य विभाग ने तो स्कूल न जाने वाले बच्चों की भी परवाह करते हुए उन्हें पेट के कीड़े मारने वाली दवा खिलाने के लक्ष्य में शामिल किया था, लेकिन निजी स्कूलों ने इसे लेकर न तो अपने विद्यार्थियों की सेहत की चिंता की और न ही सरकारी स्वास्थ्य कार्यक्रम का लिहाज किया। नतीजा यह हुआ कि प्रदेश में लगभग सवा करोड़ बच्चे कीड़े मारने की दवा खाने से वंचित रह गए।

    राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के महाप्रबंधक डॉ.हरिओम दीक्षित ने बताया कि यू-डाइस संस्था द्वारा किए गए स्कूलों के सर्वेक्षण के आधार पर छह से 19 साल तक के स्कूल जाने वाले कुल बच्चों में से करीब 80 फीसद को कीड़े मारने की दवा खिलाने के लक्ष्य में शामिल किया गया था। इसी तरह आंगनबाड़ी केंद्रों में जाने वाले एक से पांच साल तक के 80 फीसद बच्चों के साथ स्कूल या आंगनबाड़ी केंद्रों में न जाने वाले बच्चों को भी जनगणना के आंकड़ों के आधार पर शामिल करते हुए कुल 7.09 करोड़ बच्चों का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। चूंकि अगस्त 2016 में लक्ष्य के सापेक्ष 63.73 फीसद और फरवरी 2017 में 84.49 फीसद बच्चों को कीड़े मारने की दवा खिलाई गई थी, इसलिए इस बार इससे आगे जाने की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन निजी स्कूलों के असहयोग ने स्वास्थ्य विभाग को करीब 83 फीसद पर ही रोक दिया।

    निजी स्कूलों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता के अभाव ने भी बच्चों को सेहतमंद रखने वाली एल्बेंडाजॉल की राह में रोड़ा अटकाया है। स्वास्थ्य अधिकारियों का अनुभव बताता है कि कई जगह जहां ग्रामीणों को दवा पर विश्वास नहीं है तो कई जगह लापरवाही के कारण बच्चे इससे वंचित हो रहे है। डॉ. दीक्षित ने बताया कि छूटे बच्चों को 17 अगस्त के मॉपअप राउंड में शामिल करने के लिए सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को पत्र भेजा जा रहा है।

    58 हजार एससी छात्रों को वित्त विभाग का झटका, दशमोत्तर छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए धनराशि देने से वित्त विभाग ने किया मना

    58 हजार एससी छात्रों को वित्त विभाग का झटका

    राज्य ब्यूरो, लखनऊ : पिछले शैक्षिक सत्र में दशमोत्तर छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति पाने से वंचित रह गए अनुसूचित जाति (एससी) के 58 हजार से ज्यादा छात्रों को वित्त विभाग ने तगड़ा झटका दिया है। फंड की कमी बताते हुए वित्त विभाग ने इन छात्रों के लिए समाज कल्याण विभाग की ओर से मांगी गई 178 करोड़ रुपये की धनराशि देने से फिलहाल मना कर दिया है। अब निगाहें विधानमंडल के मानसून सत्र में सरकार की ओर से पेश किये जाने वाले अनुपूरक बजट पर लगी हैं।

    पिछले वित्तीय वर्ष में अनुसूचित जाति के 58093 छात्र दशमोत्तर छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति से वंचित रह गए थे। इनमें से 16,486 छात्र ऐसे हैं जिनके खाते में छात्रवृत्ति या शुल्क प्रतिपूर्ति की रकम ट्रांजेक्शन फेल हो जाने के कारण नहीं पहुंच सकी। इन छात्रों को पिछले सत्र की छात्रवृत्ति/शुल्क प्रतिपूर्ति के लिए समाज कल्याण विभाग ने वित्त विभाग से 29.61 करोड़ रुपये की मांग की है। 1 शुल्क प्रतिपूर्ति से वंचित बाकी 41,607 छात्रों में से 17032 ऐसे हैं जिन्हें फंड के अभाव में बीती 31 मार्च तक छात्रवृत्ति नहीं मिली या शुल्क प्रतिपूर्ति नहीं हो सकी। वहीं लगभग 20 हजार छात्र ऐसे हैं जिन्हें किन्हीं कारणों से संदेहास्पद (सस्पेक्ट) श्रेणी में डाल दिया गया था। बीती अप्रैल और मई में छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के वेबपोर्टल को खुलवाकर जिला स्तरीय समिति से इन छात्रों के बारे में निर्णय कराया गया। बाकी छात्र वे हैं जिनके शिक्षण संस्थानों ने उनके आवेदन फारवर्ड करते हुए उनमें फीस नहीं भरी थी। समाज कल्याण विभाग ने हस्तक्षेप कर आवेदन पत्रों में इन छात्रों की फीस भरवायी।

    लखनऊ : राष्ट्रीय कृमि मुक्त दिवस पर निजी स्कूलों ने नहीं किया आदेश का पालन, बच्चों को कृमिनाशक न देने पर नौ स्कूलों को नोटिस


    जागरण संवाददाता, लखनऊ: राष्ट्रीय कृमि मुक्त दिवस पर गत 10 अगस्त को सरकारी आदेशों की अवहेलना करने वाले नौ निजी स्कूलों को स्वास्थ्य विभाग ने नोटिस जारी किया है। इन स्कूलों ने अपने यहां पढ़ने वाले बच्चों को कृमिनाशक अल्बेंडाजोल की खुराक नहीं दी थी। 1सोमवार को इस बाबत मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेंद्र अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में गहन चर्चा हुई। बैठक में बेसिक शिक्षा अधिकारी व जिला विद्यालय निरीक्षक भी मौजूद रहे। सीएमओ की ओर से इन्हें निर्देश दिया गया कि वह निजी स्कूलों से समन्वय स्थापित कर आगामी 17 अगस्त को दूसरे राउंड में छूटे हुए सभी बच्चों को अनिवार्य रूप से अल्बेंडाजोल की खुराक दिलवाएं। ताकि राष्ट्रीय अभियान का लक्ष्य अधूरा न रहे। 1समीक्षा बैठक के दौरान कार्यक्रम से संबंधित समस्त सुपरवाइजरों, आशाओं व अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों को सभी छूटे बच्चों (पंजीकृत व गैरपंजीकृत) को हर हाल में अल्बेंडाजोल की गोली खिलाने के लिए निर्देशित किया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि जिला विद्यालय निरीक्षक से भी विशेष अनुरोध किया गया है कि वह सभी बोर्ड से जुड़े स्कूलों में इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए उचित कार्रवाई करें। इनको दिया गया नोटिस मिलेनियम पब्लिक स्कूल’ किड्जी स्कूल1’ टेंडर हार्ट स्कूल सेंट्रल एकेडमी’ सेंट क्लेयर कॉन्वेंट स्कूल1’ बेबी मार्टिन इंटरनेशनल स्कूल1’ लखनऊ पब्लिक इंटर कालेज1’ सेंट फ्रांसिस स्कूल, गोमतीनगर विस्तार1’ गुरुकुल एकेडमी, इंदिरानगर।’>>मुख्य चिकित्साधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिया गया फैसला1

    लखनऊ : दलित शिक्षकों ने बीएसए कार्यालय का किया घेराव,वेतन फ्रीज किए जाने से आक्रोशित थे शिक्षक


    वेतन फ्रीज होने के विरोध में सोमवार को सैकड़ों दलित शिक्षकों ने शिक्षा भवन का घेराव किया। शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा अधिकारी व लेखाधिकारी पर मनमानी का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ नारेबाजी की। शिक्षा भवन में मौजूद अधिकारियों ने काफी देर तक शिक्षकों से बातचीत कर उन्हें समझाने की कोशिश की। तब जाकर करीब दो घंटे में पूरा मामला शांत हुआ। .
    आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक अवधेश कुमार वर्मा ने बताया कि बीएसए ने शासनादेश का हवाला देते हुए 15 नवंबर 1997 से 28 अप्रैल 2012 तक अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आरक्षण का लाभ लेकर पदोन्नित पाने वाले परिषदीय स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाओं के वेतन फ्रीज किए।.
    '  .
    ' बीएसए पर मनमानी करने का लगाया आरोप 

    .

    महराजगंज : प्राथमिक विद्यालय पर गांव वालों द्वारा कब्जा/अतिक्रमण न हटाने के सम्बन्ध में ग्राम प्रधान पति ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर किया शिकायत, पठन-पाठन में हो रही है समस्या

    महराजगंज : स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम सभा सिधावें के प्राथमिक विद्यालय सहित पंचायत भवन पर कब्जा व सड़क किनारे गड्ढों में रखें गोबर को हटाने की बार बार कहने के बावजूद भी न हटाएं जाने पर इसकी शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर करते हुए कार्रवाई की मांग की है। सिधावे के ग्राम प्रधान पति पशुपति नाथ कसौधन ने सीएम पोर्टल पर शिकायत कर गांव के प्राथमिक विद्यालय में रखे ईंट, बालू तथा गांव के समीप रखे खाद्य गड्ढे को हटाने की मांग की मांग करते हुए कहा है कि बार- बार कहने के बावजूद भी गांव के लोग नहीं मानते हैं । ऐसे में विभागीय कार्रवाई आवश्यक है। जिससे संक्रामक बीमारियों के फैलने की आशंका है। साथ ही प्राथमिक विद्यालय भवन में ईट, बालू रखकर अतिक्रमण कर उसे पूरी तरह से कब्जा कर लिया गया है। जिसके वजह से विद्यालय के छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन में दिक्कत हो रही है।

    मदरसों के छात्रों को बताया जाएगा स्वतंत्रता दिवस का महत्व, मदरसा शिक्षा परिषद ने दिए निर्देश

    मदरसों के छात्रों को बताया जाएगा स्वतंत्रता दिवस का महत्व

    राज्य ब्यूरो, लखनऊ : स्वतंत्रता दिवस के दिन मदरसों में भी छात्र-छात्रओं को इस दिन का महत्व बताया जाएगा। उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने 15 अगस्त के दिन सभी मदरसों को स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाने के निर्देश दिए हैं। इसमें झंडा रोहण से लेकर राष्ट्रगान सहित कई सांस्कृतिक कार्यक्रम करने के निर्देश दिए गए हैं।

    बोर्ड ने इनका विवरण भी एक सप्ताह में भेजने के लिए कहा है। मदरसा बोर्ड ने मदरसों को सुबह आठ बजे झंडा रोहण करने के लिए कहा है। इसके बाद स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। स्वतंत्रता दिवस के महत्व के बारे में भी विस्तार से बताया जाएगा। मदरसों के छात्र-छात्रओं द्वारा राष्ट्रीय गीत पेश करने के लिए कहा गया है। इस दिन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों व शहीदों के बारे में भी जानकारी देने के निर्देश दिए गए हैं।

    बोर्ड के रजिस्ट्रार एसएन पाण्डेय ने बताया कि सभी मदरसों में पौधरोपण करने व राष्ट्रीय एकता पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने के लिए कहा गया है। खेल-कूद प्रतियोगिताएं भी आयोजित करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि मदरसों में उत्कृष्ट कार्यक्रमों को प्रोत्साहित किया जाएगा। स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम का विवरण एक सप्ताह में बोर्ड को उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है।

    2022 तक विश्वविद्यालय व कॉलेजों की गुणवत्ता होगी दुरुस्त, नैक ग्रेडिंग होगा आधार, न्यूनतम 2.5 की ग्रेडिंग होगी जरूरी

    2022 तक विवि व कॉलेजों की गुणवत्ता होगी दुरुस्त

    जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली: उच्च शिक्षण संस्थानों की गुणवत्ता को बेहतर बनाने में जुटी सरकार ने फिलहाल इस दिशा में एक बड़ा कदम बढ़ाया है। इसके तहत 2022 तक देश भर के सभी विश्वविद्यालय और कॉलेज न्यूनतम गुणवत्ता से लैस होंगे। यूजीसी ने इसे लेकर पूरी योजना तैयार कर ली है जो जल्द ही विवि और कॉलेजों में चरणबद्ध तरीके से लागू होगी। मौजूदा समय में देश भर में 903 विश्वविद्यालय और करीब 39 हजार कॉलेज हैं। इनमें 45 केंद्रीय विवि, 352 राज्य विवि और 262 निजी विवि हैं।

    योजना के तहत विवि और कॉलेजों में वह सभी संसाधन और सुविधाएं जुटाई जाएंगी, जो राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) की न्यूनतम ग्रेडिंग (2.5) हासिल करने के लिए जरूरी हैं। फिलहाल यूजीसी ने विवि और कॉलेजों से मौजूदा संसाधनों का नैक की ग्रेडिंग के आधार पर आंकलन करने को कहा है, ताकि बाकी जरूरी सुविधाओं को जुटाया जा सके। यूजीसी ने इस दौरान गुणवत्ता के जिन मापदंड को आधार बनाया है, उनमें स्नातक में प्रवेश लेने वाले कम से कम से पचास फीसद छात्रों को सुनिश्चित रोजगार देने या स्वरोजगार के लायक बनाना है। इसके तहत इन संस्थानों में पढ़ने वाले दो-तिहाई छात्रों को सामाजिक गतिविधियों से जोड़ना जैसी पहल शामिल है। शिक्षकों के दस फीसद से ज्यादा पदों को खाली न रखना, शत-प्रतिशत शिक्षकों को समय-समय पर प्रशिक्षण देना, स्कूलों की तरह लर्निग आउटकम कोर्स तैयार करना, शोध कार्यो को बढ़ावा देना आदि शामिल है।

    >>यूजीसी ने बनाई योजना, नैक के न्यूनतम मापदंड को करेंगे पूरा

    >>नैक ग्रेडिंग होगा आधार, न्यूनतम 2.5 की ग्रेडिंग होगी जरूरी

    फतेहपुर : प्राथमिक विद्यालय अस्ती में बनी ग्रीन आर्मी, स्वच्छ्ता संदेश और पौधरोपण की एक नई पहल

    फतेहपुर : प्राथमिक विद्यालय अस्ती में बनी ग्रीन आर्मी, स्वच्छ्ता संदेश और पौधरोपण की एक नई पहल।

    महराजगंज : बेसिक शिक्षा विभाग के पाठ्यक्रम में जिले के दो शिक्षकों का आडियो वर्जन भी हुआ तैयार, महान व्यक्तित्व के पाठ्यक्रम में जिले के दो शिक्षकों का आडियो वर्जन होने को बीएसए ने जिले के लिए बताया गौरवपूर्ण

    महराजगंज : बेसिक शिक्षा विभाग के पाठ्यक्रम में जिले के दो शिक्षकों का आडियो वर्जन भी तैयार किया गया है। कक्षा आठ के महान व्यक्तित्व नामक किताब में सुरेंद्र प्रसाद व आरती साहू नामक शिक्षकों के आडियो वर्जन को शामिल किया गया है। आडियो वर्जन में सुरेंद्र प्रसाद जहां डा. भीमराव अंबेडकर व आचार्य विनोबा भावे के जीवन पर चर्चा करेंगे वहीं आरती साहू स्वामी रामकृष्ण परमहंस, सर्वपल्ली डा. राधाकृष्णन एवं मौलाना अबुल कलाम आजाद का इतिहास मनोरंजक तरीके से प्रस्तुत करेंगी। पाठ्यक्रम में जिले के दो शिक्षकों का आडियो वर्जन शामिल होना विभाग व शिक्षकों के लिए गौरवपूर्ण है। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद द्वारा प्रतिभाशाली शिक्षकों को नवाचार व शिक्षा क्षेत्र में दिए जा रहे उल्लेखनीय योगदान के कारण समय-समय पर आमंत्रित कर उनकी प्रतिभा को निखारने की पहल की जाती है। कहानी सुनाने की प्रतियोगिता के तहत सदर ब्लाक की मटिहनिया चौधरी की शिक्षिका आरती साहू तथा परतावल ब्लाक के डेरवा के प्रधानाध्यापक सुरेंद्र प्रसाद को महान विभूतियों पर कहानी सुनाने के लिए आमंत्रित किया गया। शिक्षकों के बेहतर प्रस्तुतिकरण को देखते हुए परिषद ने उन्हें महान विभूतियों से जुड़े कहानियों का आडियो वर्जन तैयार करने का निर्देश दिया। कक्षा आठ के महान व्यक्तित्व के पाठ्यक्रम में आरती ने पाठ 19 पर स्थित स्वामी रामकृष्ण परमहंस, पाठ 25 पर स्थित डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन व पाठ 26 पर स्थित मौलाना अबुल कलाम आजाद के जीवन पर तथा सुरेंद्र प्रसाद ने पाठ 27 पर स्थित डा. भीमराव आंबेडकर व पाठ 28 पर स्थित आचार्य विनोबा भावे पर अपना आडियो वर्जन तैयार किया। परिषद ने नवीनतम तकनीकी का इस्तेमाल करते हुए इस बार क्यूआर कोड के माध्यम से किताब के सभी पाठ्यक्रम को जोड़ दिया है। आडियो वर्जन में दोनो शिक्षकों की आवाज में महान विभूतियों के बारे में जाना जा सकता है। आडियो वर्जन में शामिल होना दोनों शिक्षकों के लिए गौरवपूर्ण है।

    शिक्षकों को उनके प्रयासों का मिला इनाम : बीएसए
    जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश प्रसाद शुक्ला ने कहा कि महान व्यक्तित्व के पाठ्यक्रम में जिले के दो शिक्षकों का आडियो वर्जन होना जिले के लिए गौरवपूर्ण है। अन्य शिक्षकों को भी इस तरह के प्रयास कर जिले का नाम रोशन करना चाहिए।

    महराजगंज : एससी/एसटी बेसिक टीचर्स एसोसिएशन ने बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न के विरोध में बीएसए कार्यालय गेट पर अर्धनग्न होकर किया प्रदर्शन, पिछले दस दिनों से धरना जारी

    महराजगंज : एससी/एसटी बेसिक टीचर्स एसोसिएशन ने बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न के विरोध में सोमवार को बीएसए कार्यालय गेट पर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। शिक्षकों ने कहा कि उनके द्वारा अपनी जायज मांगों को लेकर पिछले 10 दिनों से धरना दिया जा रहा है लेकिन मांगों को पूरा करने को लेकर जिम्मेदार गंभीर नहीं दिख रहे हैं। यदि समस्याएं दूर नहीं हुई तो एसोसिएशन चुप नहीं बैठेगा। प्रदेश कार्यकारिणी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामचंद्र कन्नौजिया ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा निरंतर दलित शिक्षकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। संगठन ने अपनी आठ सूत्रीय मांगों से संबंधित पत्र बीएसए को सौंप कर समस्या का निदान कराने की मांग की थी लेकिन जिम्मेदारों ने ध्यान नहीं दिया। मंत्री हरेराम गौतम ने कहा कि दलित शिक्षकों के साथ विभाग द्वारा सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। जिलाध्यक्ष रामदुलारे ने कहा कि दलित शिक्षक एकजुट रहकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि 17 अगस्त को प्रदेश के सभी जिलों में दलित शिक्षकों द्वारा डीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा जाएगा। संचालन महामंत्री अनिल कुमार ने किया। नर्वदाचंद व गामा प्रसाद ने भी अपने विचार रखे। इस दौरान कृष्णदेव, मुन्नालाल, देशबंधु, अखिलेश कुमार, गौतम ऋषि, गणोशंचद,बैजनाथ प्रसाद, जैनेंद्र, संजीव कुमार, दिनेश कुमार, रामभवन, रामगति राव, श्रीनिवास, राजेश्वर प्रसाद, मनोज कुमार,सतीश कुमार समेत अन्य शिक्षक मौजूद रहे।

    Monday, August 13, 2018

    हाथरस : मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत आधार नामांकन की सूचना एवं बच्चों के आधार से जोड़े जाने के उपरांत डुप्लिकेट नामों को हटाए जाने के सम्बंध में आदेश, देखें

    हाथरस : मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत आधार नामांकन की सूचना एवं बच्चों के आधार से जोड़े जाने के उपरांत डुप्लिकेट नामों को हटाए जाने के सम्बंध में आदेश, देखें

    अलीगढ़ : आंगनबाड़ी केंद्र के 3 से 6 वर्ष के बच्चों की भोजन योजना हेतु परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को अपेक्षित सहयोग करने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें

    अलीगढ़ : आंगनबाड़ी केंद्र के 3 से 6 वर्ष के बच्चों की भोजन योजना हेतु परिषदीय विद्यालयों के प्र0अ0 को अपेक्षित सहयोग करने सम्बन्धी आदेश जारी, देखें



    अलीगढ़ : परिषदीय विद्यालयों में 20 से 28 अगस्त तक प्रथम सत्र परीक्षा संपादित कराये जाने सम्बन्धी बीएसए का आदेश, परीक्षा स्कीम सह आदेश देखें

    अलीगढ़ : परिषदीय विद्यालयों में 20 से 28 अगस्त तक प्रथम सत्र परीक्षा संपादित कराये जाने सम्बन्धी बीएसए का आदेश, परीक्षा स्कीम सह आदेश देखें



    हाथरस : 15 अगस्त 2018 को ध्वजारोहण के समय एन.डी.डी. पर परिचर्चा के सम्बन्ध में बीएसए का आदेश जारी, देखें

    हाथरस : 15 अगस्त 2018 को ध्वजारोहण के समय एन.डी.डी. पर परिचर्चा के सम्बन्ध में बीएसए का आदेश जारी, देखें

    गोरखपुर : कक्षा-5 उत्तीर्ण छात्रों का नामांकन कक्षा-6 में कराने हेतु व विश्लेषण विकास खण्ड, न्यायपंचायत, तथा विद्यालयवार प्रेषण के सम्बन्ध में

    कक्षा-5 उत्तीर्ण छात्रों का नामांकन कक्षा-6 में  कराने हेतु व विश्लेषण विकास खण्ड, न्यायपंचायत, तथा विद्यालयवार प्रेषण के सम्बन्ध में


    फतेहपुर : स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त ) के अवसर पर विद्यालयों व  कार्यालयों में विभिन्न कार्यक्रमों आदि के संबंध में दिशा निर्देश जारी, झंडारोहण कार्यक्रम प्रातः 8 बजे होगा सम्पन्न

    फतेहपुर : स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त ) के अवसर पर विद्यालयों व  कार्यालयों में विभिन्न कार्यक्रमों आदि के संबंध में दिशा निर्देश जारी, झंडारोहण कार्यक्रम प्रातः 8 बजे होगा सम्पन्न।




    ★  जिला प्रशासन द्वारा जारी कार्यक्रम विवरण क्लिक करके देखें
    ■  Fatehpur Live :  स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त 2018) के राष्ट्रीय पर्व पर जिला प्रशासन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों का विवरण और निर्देश जारी, देखें क्लिक करके पूरा विवरण / आदेश



    फतेहपुर : मानव सम्पदा मानव संसाधन प्रणाली के लिए अध्यापकों का सैलरी डाटा आधार से लिंक कराये जाने के सम्बन्ध में आदेश जारी

    फतेहपुर : मानव सम्पदा मानव संसाधन प्रणाली के लिए अध्यापकों का सैलरी डाटा आधार से लिंक कराये जाने के सम्बन्ध में आदेश जारी।