DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label अवकाश. Show all posts
Showing posts with label अवकाश. Show all posts

Monday, May 10, 2021

कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत शासन के निर्देश के बाद प्रदेश के समस्त माध्यमिक विद्यालयों में 20 मई तक पठन-पाठन बन्द करने सम्बंधी आदेश जारी

कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत शासन के निर्देश के बाद प्रदेश के समस्त माध्यमिक विद्यालयों में 20 मई तक पठन-पाठन बन्द करने सम्बंधी आदेश जारी


प्रयागराज : प्रदेश में सभी माध्यमिक कालेजों व उच्च शिक्षा संस्थानों को 20 मई तक बंद कर दिया गया है। उच्च शिक्षा व माध्यमिक शिक्षा विभाग ने सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने रविवार को ही कोरोना कर्फ्यू की समय सीमा बढ़ाते हुए इस संबंध में निर्देश दिए थे। माध्यमिक कालेजों व उच्च शिक्षा संस्थानों को पहले 15 मई तक बंद रखने के निर्देश थे, अब समय सीमा 20 मई तक बढ़ा दी गई है। 

इस दौरान कालेजों के परिसर में किसी भी शिक्षक, विद्यार्थी, कर्मचारी व अधिकारी की उपस्थिति नहीं रहेगी। साथ ही इस अवधि में ऑनलाइन परीक्षाएं व कक्षाएं भी स्थगित रहेंगी। ऑनलाइन कक्षाएं भी नहीं चलेंगी।


Monday, April 19, 2021

कोविड-19 की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों तथा अनुदेशकों को घर से कार्य करने (Work from Home) की सुविधा देने का बेसिक शिक्षा मंत्री का एलान

कोविड-19 की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों तथा अनुदेशकों को घर से कार्य करने (Work from Home) की सुविधा देने का बेसिक शिक्षा मंत्री का एलान




परिषदीय स्कूलों के शिक्षक व शिक्षामित्र घर से करेंगे काम, 30 अप्रैल तक शिक्षण कार्य बंद।


लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशक अब विभागीय कार्य घर से कर सकेंगे। यह निर्देश बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा. सतीश कुमार द्विवेदी ने कोविड-19 की वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए दिया है। शिक्षक व शिक्षामित्र अभी तक स्कूल जाकर कार्य कर रहे थे। उन्हें घर से कार्य करने (वर्क फ्रॉम होम) की सुविधा की अनुमति दे दी गई। 

इस संबंध में परिषद सचिव प्रताप सिंह बघेल ने सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किया है। मंत्री डा. द्विवेदी ने कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्कूलों में शिक्षण कार्य पहले ही बंद कर दिए गए थे लेकिन, वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए शिक्षकों, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों को भी घर से काम करने की सुविधा दी जा रही है। उन्हें पंचायत चुनाव और अन्य आवश्यक कार्यो में दिए जाने वाले दायित्वों को निभाना होगा।

 परिषद सचिव ने बीएसए को भेजे आदेश में कहा है कि प्रदेश में कक्षा एक से आठ तक के सभी स्कूलों का 30 अप्रैल तक शिक्षण कार्य बंद किए जाने के आदेश दिए गए थे। अब सभी को विभागीय कार्य घर से करना होगा।

Thursday, April 15, 2021

दिल्ली सरकार ने किया स्कूलों में गर्मी की छुट्टियों का ऐलान, 11 मई से 30 जून तक बंद रहेंगे स्कूल

दिल्ली सरकार ने किया स्कूलों में गर्मी की छुट्टियों का ऐलान, 11 मई से 30 जून तक बंद रहेंगे स्कूल


दिल्ली सरकार ने अकादमिक वर्ष 2021-22 के लिए सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में 11 मई से 30 जून तक ग्रीष्मावकाश की घोषणा की है। गुरुवार को जारी अवकाश कैलेंडर के मुताबिक शरद ऋतु ब्रेक 12 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक करेगा। वहीं, सर्दियों की छुट्टियां 1 जनवरी 2022 से 15 जनवरी 2022 तक रहेंगी। 


ग्रीष्मावकाश के दौरान 28, 29 और 30 जून के दिन शिक्षकों के लिए कार्यदिवस रहेंगे। छुट्टियों के दौरान स्कूल प्रमुख स्टाफ को एडमिशन, परीक्षा और अकादमिक कार्यों के लिए बुला सकता है। इस दौरान कोविड-19 बचाव संबंधी गाइडलाइंस का पूरा पालन किया जाएगा।

Friday, April 9, 2021

बरेली : कक्षा 12 तक के सभी स्कूल कालेज 20 अप्रैल तक बन्द

बरेली : कक्षा 12 तक के सभी स्कूल कालेज 20 अप्रैल तक बन्द


परीक्षाओं वाले स्कूल छोड़कर बाकी बंद : डीएम बरेली ने पहली से 12 तक सभी सरकारी और निजी स्कूल और शैक्षणिक संस्थानों को 20 अप्रैल तक के लिए बंद करने के निर्देश जारी किए हैं।  उन्होंने विकल्प दिया है कि जिन शैक्षणिक संस्थानों में परीक्षाएं या प्रैक्टिकल चल रहे हैं। उन्हें कोविड प्रोटोकाल का अनुपालन कराते हुए परीक्षा करानी होंगी।


लखनऊ : 15 अप्रैल तक स्कूल पूरी तरह रहेंगे बन्द, शिक्षकों को भी नहीं जाना होगा स्कूल

लखनऊ : 15 अप्रैल तक स्कूल पूरी तरह रहेंगे बन्द, शिक्षकों को भी नहीं जाना होगा स्कूल


लखनऊ। लोग कंफ्यूज न हों, खासकर स्कूल प्रबंधन। स्कूल बंद का मतलब पूरी तरह से बंद है। टीचरों को भी स्कूल नहीं आना है। परीक्षा और प्रैक्टिकल के लिए छूट दी गई है, वो भी कोरोना प्रोटोकॉल के सख्त पालन के दायरे के तहत। 


यह जानकारी जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने एक बार फिर बृहस्पतिवार को अमर उजाला की ओर से 'जागो लखनऊ जागो' मुहिम के तहत आयोजित बेबिनर में दी. कोरोना संक्रमण के चलते बुधवार को जिलाधिकारी ने स्कूल बंद करने की घोषणा की थी, लेकिन स्पष्ट आदेश न होने की वजह से कुछ स्कूलों ने शिक्षकों को बुला लिया था। वेबिनार में जिलाधिकारी ने आदेशों को स्पष्ट करते हुए कहा कि आने वाले समय में समीक्षा की जाएगी, जैसे हालात होंगे, उसी के आधार पर फैसले होंगे।


आदेश की स्पष्ट जानकारी न  होने पर स्कूल पहुंचे शिक्षक
लखनऊ। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश की ओर से बुधवार को जारी स्कूल बंद के आदेशों के बावजूद बृहस्पतिवार को कई निजी और सरकारी स्कूलों में शिक्षक तय समय पर पहुंच गए। बताया गया कि उन्हें आदेश की स्पष्ट जानकारी नहीं थी। जब पता चला कि शिक्षकों को भी छात्रों की तरह स्कूल नहीं आना है तो वे वापस लौट गए। इसके अलावा परिषदीय विद्यालय, राजकीय और सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में भी कई शिक्षक स्कूल पहुंच गए। 


अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य साहेब लाल मिश्रा ने बताया कि सुबह काफी शिक्षक कॉलेज पहुंच गए थे। बाद में बताया गया कि कॉलेज पूर्ण रूप से बंद है, जिसके बाद जे वापस लौट गए। नगर क्षेत्र समेत काकोरी, बीकेटी, मोहनलालगंज व अन्य ब्लॉकों के परिषदीय विद्यालयों में भी शिक्षक पहुंचे थे, जिन्हें बाद में कार्यवाहक बीएसए पीएन सिंह की तरफ से शिक्षकों को विद्यालय न आने का आदेश मोबाइल पर फॉरिवर्ड कराकर शिक्षकों को वापस भेजा गया।

लखनऊ। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा है की 15 अप्रैल तक स्कूलों के बंद रहने के दौरान न कोई ट्रेनिंग होगी और न ही कोई शिक्षक स्कूल जाएगा। केवल उन्हीं में शिक्षक व बच्चे स्कूल जाएंगे जहां परीक्षाएं व प्रैक्टिकल चल रहे होंगे। इसके अलावा सब कुछ बंद रहेगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने आदेश में स्पष्ट किया है। सरकारी, अर्द्ध सरकारी तथा प्राइवेट सहित सभी स्कूलों को इसका आदेश मानना होगा।


Thursday, April 1, 2021

यूपी में 8वीं तक के स्कूल चार तक रहेंगे बंद, शासनादेश जारी

यूपी में 8वीं तक के स्कूल चार तक रहेंगे बंद, शासनादेश जारी


लखनऊ : कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से प्रदेश में कक्षा आठ तक के सभी सरकारी, सहायताप्राप्त और निजी स्कूलों को तीन अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश के बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने बुधवार को इस बारे में शासनादेश जारी कर दिया है।



कोरोना संक्रमण बढ़ने पर प्रदेश में कक्षा आठ तक के सभी सरकारी, सहायताप्राप्त और निजी स्कूलों में 24 से 31 मार्च तक होली का अवकाश घोषित कर दिया गया था। चार अप्रैल को रविवार का साप्ताहिक अवकाश है। लिहाजा आठवीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को तीन अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश के बाद विद्यालय अब चार अप्रैल तक बंद रहेंगे।

Wednesday, March 24, 2021

महराजगंज : 24 से 31 मार्च तक कक्षा 01 से 08 तक के समस्त परिषदीय एवं निजी विद्यालय बन्द रहने के सम्बन्ध में बीएसए का पत्र जारी

महराजगंज : होली के पर्व पर तत्काल प्रभाव से 24 से 31 मार्च तक कक्षा 01 से 08 तक के समस्त परिषदीय एवं निजी विद्यालय बन्द रहने के सम्बन्ध में बीएसए का पत्र जारी।



Monday, March 22, 2021

आफत: होली के दिन कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों का रिजल्ट बनाएंगे परिषदीय स्कूलों के शिक्षक

आफत: होली के दिन कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों का रिजल्ट बनाएंगे परिषदीय स्कूलों के शिक्षक

परिषदीय स्कूलों में होली के अवकाश पर संशय, महानिदेशक स्कूल शिक्षा के पत्र में छुट्टी का जिक्र नहीं


■ रविवार 28 मार्च को होली जलेगी और सोमवार को 29 मार्च को रंगोत्सव है।

■ बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों की वार्षिक परीक्षा की समय सारिणी जारी हो गई है। 

■ महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को जिस तरह के निर्देश दिए हैं उससे शिक्षक परेशान हैं।

प्रयागराज । प्रदेश में बेसिक स्कूलों में सिर्फ दो दिन यानी 25 व 26 मार्च को वार्षिक परीक्षा कराने के बाद 31 मार्च तक परीक्षाफल भी तैयार हो जाएगा। इसी बीच शिक्षकों को 27 से 30 मार्च के बीच में मूल्यांकन भी करना होगा। यानी होली के अवकाश पर संशय है। महानिदेशक स्कूली शिक्षा के अधिकारियों के लिए जारी निर्देश का तो यही अर्थ निकाला जा रहा है कि प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में इस बार होली का अवकाश नहीं होगा।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों की वार्षिक परीक्षा की समय सारिणी जारी हो गई है। महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को जिस तरह के निर्देश दिए हैं उससे शिक्षक परेशान हैं कि इस बार होली का अवकाश क्या नहीं होगा। इस बार रविवार 28 मार्च को होली जलेगी और सोमवार को 29 मार्च को रंगोत्सव है। इसके बाद 30 मार्च को भाईदूज का पर्व है। इसी दौरान महानिदेशक स्कूली शिक्षा ने मूल्यांकन व परिणाम तैयार करने का आदेश दिया है।


परिषद मुख्यालय वैसे तो प्रयागराज में है, लेकिन परिषदीय स्कूलों के संबंध में दिशा-निर्देश देने की परिपाटी इधर काफी बदली हुई है। अभी तक आमतौर जो आदेश परिषद सचिव की ओर से जारी होते रहे हैं वे आदेश अब शासन और महानिदेशक स्तर से जारी हो रहे हैं। पिछले महीनों में शिक्षकों के तबादले का आदेश बेसिक शिक्षा निदेशक की ओर से निर्गत हुआ था। पिछले वर्षों तक वार्षिक परीक्षा की सूचनाएं सचिव स्तर से ही जारी होती रही हैं। इस बार महानिदेशक ने निर्देश भेजें हैं।


वार्षिक परीक्षा की समय सारिणी के अनुसार जिलों में 22 मार्च तक विकासखंड व संकुल स्तर के विद्यालय तक निर्देश भेजे जाएंगे। 24 को प्रश्नपत्र मुद्रित कराकर वितरित होंगे, वार्षिक परीक्षा 25 व 26 को कराई जाएगी। मूल्यांकन व परीक्षाफल 27 से 30 मार्च तक तैयार किया जाएगा, जबकि 31 मार्च को परीक्षाफल वितरित होगा।


यह भी देखें - 


Primary School Exam Result 2021: परिषदीय स्कूलों के शिक्षक होली के त्योहार पर बच्चों की कॉपियां जांचेंगे और रिजल्ट तैयार करेंगे। महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरन आनंद की ओर से 19 मार्च को जारी समय सारिणी के अनुसार कक्षा एक से आठ तक के बच्चों की वार्षिक परीक्षाएं 25 व 26 मार्च को होंगी।


27 से 30 मार्च तक शिक्षक कॉपियों का मूल्यांकन करेंगे और रिजल्ट बनाएंगे। 28 मार्च रविवार को होलिका दहन और 29 मार्च को होली का अवकाश है। प्रयागराज में परंपरा के अनुसार 30 मार्च को बड़ी होली मनाई जाएगी। ऐसे में 28 से 30 मार्च तक पूरी तरह से होली का माहौल रहेगा।


इस दौरान लोगों के एक-दूसरे के घर आने जाने का सिलिसला चल रहा होता है। ऐसे में 31 मार्च को परीक्षाफल घोषित करना है। शिक्षक इस बात को लेकर परेशान हैं कि 27 मार्च को एक दिन में कॉपियां जांचकर रिजल्ट तैयार नहीं किया तो होली में खलल पड़ना तय है।


बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा के अनुसार कक्षा तीन से आठ तक के तीन लाख से अधिक छात्र-छात्राएं वार्षिक परीक्षा में सम्मिलित होंगे।

इनका कहना है
प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र कुमार श्रीवास्तव ने कहा, "हिन्दुओं के इतने महत्वपूर्ण पर्व की अनदेखी करके परीक्षा का कार्य कराना ठीक नहीं है। कोरोना को देखते हुए 50 प्रतिशत बच्चों को ही बुलाने का शासनादेश है। ऐसे में कैसे दो दिन में परीक्षा हो जाएगी। क्या नियम बदल दिया गया। परीक्षा इतनी आवश्यक थी तो पहले भी हो सकती थी।"

Sunday, March 21, 2021

बेसिक शिक्षकों की मांग : होली पर दें दो दिन का अवकाश

बेसिक शिक्षकों की मांग : होली पर दें दो दिन का अवकाश 


प्रदेश के परिषदीय विद्यालयों की परीक्षाएं 25 एवं 26 मार्च को होंगी। दो दिन में परीक्षा पूरी करने के बाद 27 से 30 मार्च के बीच स्कूलों को बच्चों कौ उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन पूरा करके 31 मार्च को परीक्षाफल जारी करना होगा। इससे पहले 23 एवं 24 मार्च को विद्यालयों को प्रश्नपत्र का वितरण सहित परीक्षा तैयारी का कार्यक्रम रखा गया है। होली के त्योहार के बीच कैसे रिपोर्ट कार्ड लेने आ पाएंगे। 




कॉपियों के मूल्यांकन एवं परीक्षाफल तैयार करने के निर्देश के बाद भी शिक्षकों ने 30 मार्च को अवकाश घोषित करने की मांग की है। 27 से 30 मार्च के बीच तय मूल्यांकन एवं परीक्षाफल तैयार करने के कार्यक्रम के बीच 28 मार्च को रविवार के साथ होलिका दहन है, 29 मार्च को होली का मुख्य पर्ज है। 30 मार्च को परीक्षा संबंधी कार्य शिक्षकों के लिए करना कठिन होगा। 


वैचारिक शिक्षक बेलफेयर एसोसिएशन ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को पत्र भेजकर 30 मार्च को होली का अवकाश घोषित करने की मांग की है प्रदेश के महानिदेशक स्कूल शिक्षा की ओर से जारी कार्यक्रम के अनुसार 23, 24 मार्च परीक्षा संबंधी तैयारी और 25 एवं 26 मार्च को परीक्षा के बाद 27 से 30 मार्च के बीच मूल्यांकन एवं परीक्षाफल तैयार करने की योजना हैं। वैचारिक शिक्षक बेलफेयर एसोसिएशन के ज्ञान प्रकाश सिंह एवं यशवंत चौधरी ने होली के त्यौहार के लिए दो दिन के अवकाश की मांग की है।


क्या परिषदीय स्कूलों में नहीं होगा होली का अवकाश? 

प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों की वार्षिक परीक्षा की समय सारिणी जारी हो गई है। महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को जिस तरह के निर्देश दिए हैं उससे शिक्षक परेशान हैं कि इस बार होली का अवकाश क्या नहीं होगा? वजह, रविवार 28 मार्च को होली जलेगी और सोमवार को 29 मार्च को रंगोत्सव है। वहीं, 30 मार्च को भाईदूज का पर्व है। महानिदेशक ने इसी दौरान मूल्यांकन व परिणाम तैयार करने का आदेश दिया है।

Tuesday, March 16, 2021

जूनियर शिक्षक संघ ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को पत्र लिख होली पर एक दिवसीय अतिरिक्त अवकाश की रखी मांग

जूनियर शिक्षक संघ ने सचिव बेसिक शिक्षा परिषद को पत्र लिख होली पर एक दिवसीय अतिरिक्त अवकाश की रखी मांग




Friday, March 12, 2021

हाथरस : जनपदीय अवकाश तालिका वर्ष 2021 जारी

हाथरस : जनपदीय अवकाश तालिका वर्ष 2021 जारी


Wednesday, February 10, 2021

मौनी अमावस्या : दिनांक 11 फरवरी 2021 दिन गुरुवार को इन जिलों में अवकाश हुआ घोषित। देखें जिलों का नाम (लगातार अपडेटेड)

मौनी अमावस्या : दिनांक 11 फरवरी 2021 दिन गुरुवार को इन जिलों में अवकाश हुआ घोषित। (लगातार अपडेटेड)

 
प्रतापगढ़


कौशाम्बी
मीरजापुर


सुल्तानपुर

Saturday, January 30, 2021

फतेहपुर : जनपदीय बेसिक शिक्षा परिषद अवकाश तालिका वर्ष 2021 करें डाउनलोड

फतेहपुर : जनपदीय बेसिक शिक्षा परिषद अवकाश तालिका वर्ष 2021 करें डाउनलोड।


Friday, January 29, 2021

हाथरस : चिकित्सीय अवकाश स्वीकृति एवं मातृत्व/सीसीएल पश्चात जॉइनिंग सम्बन्धी नवीन निर्देश जारी

हाथरस : चिकित्सीय अवकाश स्वीकृति एवं मातृत्व/सीसीएल पश्चात जॉइनिंग सम्बन्धी नवीन निर्देश जारी


Wednesday, January 13, 2021

गोरखपुर : जनपदीय वार्षिक अवकाश तालिका जारी, देखें

जनपदीय वार्षिक अवकाश तालिका जारी, देखें

Monday, January 11, 2021

इस बार आधी जून से ही खुल जाएंगे बेसिक स्कूल, भरी गर्मी में कक्षाएं लगवाने का विरोध

इस बार आधी जून से ही खुल जाएंगे बेसिक स्कूल, भरी गर्मी में कक्षाएं लगवाने का विरोध


★ विरोध

● नए सत्र में 20 मई से 15 जून तक ही होगी गर्मी की छुट्टी

● भरी गर्मी में कक्षाएं लगवाने का शिक्षक कर रहे विरोध


बरेली : नए शैक्षिक सत्र में बेसिक स्कूल 16 जून से ही खुल जाएंगे। इस बार शासन ने गर्मी की छुट्टियों में कटौती की है। इन की जगह सर्दियों में 15 दिन की छुट्टी की जाएगी। जून की भीषण गर्मी में कक्षाएं लगाने का परिषदीय शिक्षक विरोध कर रहे हैं। बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने वर्ष 2021 के लिए अवकाश तालिका जारी की है। 


इसके अनुसार गर्मी की छुट्टियां 20 मई से शुरू होकर 15 जून तक रहेंगी। शीतकालीन अवकाश 31 दिसंबर से 14 जनवरी तक होगा। वर्ष 2020 में शीतकालीन अवकाश नहीं हुआ था। जबकि गर्मी की छुट्टियां 21 मई से शुरू होकर 30 जून तक थी। आप यह खबर प्राइमरी का मास्टर डॉट इन पर पढ़ रहे हैं। 1 अप्रैल से 30 सितंबर तक स्कूलों का समय सुबह 8 से 2 बजे तक और 1 अक्टूबर से 31 मार्च तक सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा । ग्रीष्म काल में इंटरवल 10:30 बजे से 11:00 बजे तक और शीतकाल में 12 बजे से 12:30 बजे तक होगा। हरितालिका तीज, करवा चौथ संकटाचतुर्थी, ललई छठ, अहोई अष्टमी का अवकाश सिर्फ शिक्षिकाओं और बालिकाओं के लिए ही होगा।


■ जून की गर्मी में कक्षाएं सही नहीं

प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय संगठन मंत्री हरीश बाबू शर्मा ने कहा कि पूर्व वर्षों की तुलना में अवकाश लगातार कम हो रहे हैं। ग्रीष्मकालीन स्कूलों का समय बेहद असुविधाजनक है। जून के महीने में गर्मी बहुत ज्यादा होती है। उस वक्त कक्षाएं लगाना भी सही नहीं होगा। यूटा के जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने कहा कि बेसिक स्कूल छुट्टियों के लिए बदनाम हैं। जबकि अन्य विभागों की तुलना में बेसिक में छुट्टी कम हैं।

Wednesday, December 30, 2020

विशेष परिस्थिति में शिक्षामित्र/अनुदेशकों को एक साथ 4 आकस्मिक अवकाश स्वीकृत किये जाने सम्बन्धी बीएसए हाथरस का आदेश जारी, देखें

विशेष परिस्थिति में शिक्षामित्र/अनुदेशकों को एक साथ 4 आकस्मिक अवकाश स्वीकृत किये जाने सम्बन्धी बीएसए हाथरस का आदेश जारी, देखें






Tuesday, December 29, 2020

हाथरस : पंचायत चुनाव तैयारी के चलते CCL / मेडिकल अवकाश सामान्यतः देय न होने के सम्बन्ध में आदेश, देखें

हाथरस : पंचायत चुनाव तैयारी के चलते CCL / मेडिकल अवकाश सामान्यतः देय न होने के सम्बन्ध में आदेश, देखें



Thursday, December 24, 2020

माध्यमिक शिक्षा विभाग की अवकाश तालिका वर्ष 2021 जारी, करें डाउनलोड। DOWNLOAD SECONDARY EDUCATION HOLIDAY LIST

माध्यमिक शिक्षा विभाग की अवकाश तालिका वर्ष 2021 जारी, करें डाउनलोड। DOWNLOAD SECONDARY EDUCATION HOLIDAY LIST 


माध्यमिक विद्यालयों के लिए अवकाश कैलेंडर जारी, अगले साल होगी 235 दिन पढ़ाई


माध्यमिक शिक्षा विभाग के राजकीय, सहायता प्राप्त और वित्तविहीन विद्यालयों में 2021 में 235 दिन पढ़ाई होगी। वहीं ग्रीष्मकालीन अवकाश 21 मई से 30 जून तक होगा। 365 दिन में से 15 दिन विभिन्न प्रकार के अवकाश रहेंगे। विभाग ने बुधवार को विद्यालयों के लिए 2021 का अवकाश कैलेंडर जारी किया है।


माध्यमिक शिक्षा निदेशक विनय कुमार पांडेय ने बताया कि विद्यालयों में कार्यरत विवाहित महिलाओं को करवा चौथ का अवकाश दिया जाएगा। स्थानीय अवकाश जिलाधिकारी की ओर से निर्धारित किया जाएगा। राष्ट्रीय पर्वों पर शिक्षण संस्थाओं में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा 2021 का आयोजन 15 दिन में किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि 2020 में विद्यालयों में 231 दिन पठन-पाठन के लिए निर्धारित किए गए थे।


■   ये रहेंगे अवकाश
14 जनवरी - मकर सक्रांति
 20 जनवरी - गुरु गोविंद सिंह जयंती
 26 जनवरी - गणतंत्र दिवस
 16 फरवरी - बसंत पंचमी
 26 फरवरी - मो. हजरत अली का जन्म दिन
27 फरवरी - संत रविदास जयंती
 11 मार्च- महाशिवरात्रि
 28 मार्च - होलिकादहन
29 मार्च - होली
2 अप्रैल - गुड फ्राइडे
5 अप्रैल - ईस्टर मनडे
14 अप्रैल- डॉ. भीमराव आंबेडकर जयंती
21 अप्रैल - राम नवमी
25 अप्रैल - महावीर जयंती
14 मई - ईद-उल-फितर
21 मई से 30 जून तक ग्रीष्मावकाश
21 जुलाई- बकरीद
15 अगस्त - स्वाधीनता दिवस
19 अगस्त - मोहर्रम
22 अगस्त - रक्षाबंधन
30 अगस्त - जन्माष्टमी
19 सितंबर - अनंत चतुर्दशी
28 सितंबर - चेहल्लुम
2 अक्तूबर - महात्मा गांधी जयंती
14 अक्तूबर - महानवमी
15 अक्तूबर - दशहरा
19 अक्तूबर - बारावफात
3 नवंबर - नरक चतुर्दशी
4 नवंबर - दीपावली
5 नवंबर - गोवर्धन पूजा
6 नवंबर - भैया दूज एवं चित्रगुप्त जयंती
19 नवंबर - गुरुनानक जयंती
24 नवंबर - गुरु तेग बहादुर शहीद दिवस
25 दिसंबर - क्रिसमस डे
 

Monday, December 21, 2020

शासन का स्पष्ट आदेश, इस साल शिक्षकों को नहीं मिलेगा शीतकालीन अवकाश

शासन का स्पष्ट आदेश, इस साल शिक्षकों को नहीं मिलेगा शीतकालीन अवकाश




परिषदीय स्कूलों में इस वर्ष नहीं होगा शीतकालीन अवकाश, विभाग ने शिक्षकों में फैले भ्रम को लेकर दी सफाई


लखनऊ। प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में शैक्षिक सत्र 2020-21 में शीतकालीन अवकाश नहीं होगा। बेसिक शिक्षा विभाग ने 2021-22 के शीतकालीन एवं ग्रीष्मकालीन अवकाश को लेकर जारी आदेश को लेकर फैले भ्रम के बाद विभाग ने अपनी सफाई दी है। विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने 14 अगस्त को टाइम एंड मोशन स्टडी के आधार पर शैक्षणिक कार्यों के लिए समय अवधि कार्य निर्धारण का आदेश जारी किया था। इसमें पांचवें बिंदु पर शैक्षिक सत्र 2021-22 में 31 दिसंबर से 14 जनवरी तक शीतकालीन अवकाश और 20 मई से 15 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया है। 

इस पर शिक्षकों और विद्यार्थियों में चर्चा थी कि इस साल 31 दिसंबर से 14 जनवरी 2021 तक शीतकालीन अवकाश रहेगा। लखनऊ के बीएसए दिनेश कुमार ने बताया कि जारी आदेश 2021-22 के लिए है। लिहाजा इस सत्र में अबकाश नहीं होगा। स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने बताया कि इस साल कोरोना संक्रमण के कारण स्कूलों का संचालन नहीं हो रहा है, लेकिन स्कूलों में शिक्षकों से शैक्षिक गतिविधियों से जुड़े दूसरे कराए जाने हैं।

प्रदेश के प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों को इस सत्र से शीतकालीन अवकाश नहीं मिलेगा। शासनादेश में स्पष्ट किया गया है कि शिक्षकों को शीतकालीन अवकाश सत्र 2021- 22 से दिया जाएगा। इस संबंध में 14 अगस्त 2020 को अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने एक आदेश भी जारी कर रखा है। इसमें उन्होंने टाइम एंड मोशन स्टडी के आधार पर शैक्षणिक कार्यों के लिए समय अवधि एवं कार्य निर्धारण की बात लिखी थी। इसमें बिंदु संख्या 5 पर ग्रीष्मकालीन एवं शीतकालीन अवकाश के बारे में स्पष्ट बताया गया है।


आदेश में 2021-22 से ग्रीष्मकालीन व शीतकालीन अवकाश की बात कही गई है। शीतकालीन अवकाश 31 दिसंबर से 14 जनवरी तक रहेगा। जबकि ग्रीष्मकालीन अवकाश 20 मई से 15 जून तक रहेगा। ग्रीष्म काल के पश्चात 16 जून से नया सत्र शुरू होगा। बीएसए लखनऊ दिनेश कुमार ने बताया कि कुछ जगह इसी सत्र से शीत कालीन अवकाश होने की भ्रामक सूचना वायरल हो रही है। यह सही नहीं है। इस सत्र में स्कूलों में शीत कालीन अवकाश नहीं होगा। 



छुट्टी मामले में अफसरों की फटकार के बाद बैकफुट पर प्रतापगढ़ बीएसए


प्रतापगढ़। परिषदीय स्कूलों में 25 दिसंबर से दस जनवरी तक अबकाश बताने वाले बीएसए के सुर अफसरों कौ फटकार मिलते ही बदल गए। उन्होंने कहा कि यह अवकाश अगले वर्ष के लिए है। इधर, बीएसए सोशल मीडिया पर भी स्कूलों के खुले रहने की जानकारी देते रहे। शनिवार को अमर उजाला में जिले के प्राइमरी और मिडिल स्कूलों में 25 दिसंबर से दस जनवरी तक अवकाश रहने की खबर प्रकाशित होने के बाद शिक्षक सोशल मीडिया पर खुशी का इजहार करने लगे। 


विभागीय अफसरों के अधिकृत ग्रुपों में खबर चलने के बाद लखनऊ में बैठे अफसरों ने बीएसए को फोनकर फटकार लगाई और बताया कि वर्ष 2021-22 के शैक्षिक सत्र के लिए यह अवकाश निश्चित किया गया है। इधर बीएसए अशोक कुमार सिंह ने बताया कि मैंने उस समय ध्यान नहीं दिया था।