DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, April 30, 2020

मंहगाई भत्ते की अग्रिम तीन किस्तों को बहाल करने की मांग करते हुए PSPSA ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

मंहगाई भत्ते की अग्रिम तीन किस्तों को बहाल करने की मांग करते हुए PSPSA ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

लॉक डाउन की अवधि में माध्यमिक विद्यालयों में वेतन सम्बन्धी एवं अन्य आवश्यक कार्य हेतु दो कार्मिकों को पास निर्गत किये जाने के सम्बन्ध में आदेश जारी

लॉक डाउन की अवधि में माध्यमिक विद्यालयों में वेतन सम्बन्धी एवं अन्य आवश्यक कार्य हेतु दो कार्मिकों को पास निर्गत किये जाने के सम्बन्ध में आदेश जारी

यूपी बोर्ड से संबद्ध विद्यालयों में चल रही वर्चुअल क्लास की "सच्चाई" सीएम को बताएगा शिक्षक संघ

यूपी बोर्ड से संबद्ध विद्यालयों में चल रही वर्चुअल क्लास की "सच्चाई" सीएम को बताएगा शिक्षक संघ।




 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

उच्च शिक्षा में नए सत्र से समान पाठ्यक्रम लागू करने का प्रदेश सरकार ने लिया फैसला

उच्च शिक्षा में नए सत्र से समान पाठ्यक्रम लागू करने का प्रदेश सरकार ने लिया फैसला।











 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

CBSE : 10वीं- 12वीं बोर्ड की लंबित परीक्षाएं कराने की तैयारी, HRD मंत्रालय ने राज्यों को उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के दिए निर्देश

सीबीएसई ने कहा- जरूर होंगी 10वीं 12वीं की परीक्षा, फैसले में कोई बदलाव नहीं

CBSE : दसवीं  नहीं होंगी परीक्षाएं, 12वीं की लॉकडाउन के बाद




सीबीएसई ने कहा है कि 10वीं और 12वीं की शेष परीक्षाओं के आयोजन को लेकर उसके फैसले में कोई बदलाव नहीं किया गया है। लॉकडाउन खत्म होने और स्थिति सामान्य होने के बाद ही सीबीएसई मुख्य 29 विषयों के पेपरों का कार्यक्रम जारी करेगी। सीबीएसई ने इस खबर को बेबुनियाद बताया कि बोर्ड ने दसवीं और बारहवीं बोर्ड की परीक्षाओं के बारे में कोई नया फैसला किया है। सीबीएसई ने यह भी कहा कि परीक्षा की सूचना 10 दिन पहले दी जाएगी। लॉकडाउन खत्म होने के बाद स्थिति की समीक्षा करने के बाद ही पेपरों के आयोजन का फैसला लिया जाएगा। सीबीएसई ने बुधवार को ट्वीट कर कहा- ''10वीं सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। यह फिर से दोहराया जाता है कि बोर्ड 10वीं और 12वीं कक्षा के 29 मुख्य विषयों की परीक्षा कराने के अपने उस फैसले पर कायम है जिसका उल्लेख उसने 1 अप्रैल 2020 को जारी सर्कुलर में भी किया था।'

1 अप्रैल 2020 को जारी सर्कुलर में सीबीएसई ने कहा है कि परीक्षा के नए शेड्यूल को लेकर कोई भी फैसला हायर एजुकेशन अथॉरिटी से सलाह मशविरा करने के बाद लिया जाएगा। नई तारीखें एंट्रेंस एग्जाम व एडमिशन की डेट्स को ध्यान में रखकर तय की जाएंगी। इसी सर्कुलर में सीबीएसई ने पहली कक्षा से 8वीं तक के सभी छात्रों को प्रमोट करने का ऐलान किया था। और साथ ही कहा था कि 9वीं और 11वीं के छात्र इंटरनल असेसमेंट, टेस्ट, प्रोजेक्ट वर्क के आधार पर पास किए जाएंगे।




                                         
सीबीएसई की यह प्रतिक्रिया उन अटकलों के बाद आई हैं जो कि दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बयान के बाद पैदा हुई थीं। दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक से कहा था कि कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन की वजह से 10वीं और 12वीं कक्षा की लंबित बोर्ड परीक्षा को आयोजित कराना अभी व्यावहारिक नहीं है। उन्होंने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री की अध्यक्षता में राज्यों के शिक्षा मंत्रियों की हुई बैठक में यह अनुशंसा की। सिसोदिया ने कहा था, ''सामाजिक दूरी की जरूरत की वजह से 10वीं और 12वीं के बाकी विषयों की बोर्ड परीक्षाएं मई या जून में भी कराना व्यावहारिक नहीं है। परीक्षा में देरी से अकादमिक सत्र भी प्रभावित होगा। अन्य राज्यों का अपना शिक्षा बोर्ड है लेकिन दिल्ली के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) है। सीबीएसई के अधिकतर छात्र दिल्ली से आते हैं। मैं मानव संसाधन विकास मंत्री से अपील करता हूं कि वह सीबीएसई को, नौवीं और 11वीं कक्षा के छात्रों के प्रमोट करने फार्मूले को अपनाने के लिए कहें। इस अनिश्चित समय में मैं नहीं जानता कि हम दोबारा परीक्षा करा पाएंगे भी या नहीं। इसलिए आतंरिक मूल्यांकन (इंटरनल असेसमेंट) और अब तक हो चुकी परीक्षा के आधार पर 10वीं और 12वीं की कक्षा के छात्रों का भी मूल्यांकन किया जाना चाहिए।

cbse press release
CBSE 10th and 12th Result 2020: जल्द शुरू होगा सीबीएसई बोर्ड परीक्षा उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन

जल्द शुरू होगा सीबीएसई बोर्ड परीक्षा उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बुधवार कहा, "हम कोशिश कर रहे हैं कि सीबीएसई बोर्ड 10वीं 12वीं के जो पेपर हो चुके हैं, उनकी उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन का कार्य शुरू कर दिया जाए।"
उन्होंने कहा "अब सीबीएसई के 10वीं व 12वीं बोर्ड के शेष बचे 83 पेपरों में से 29 विषयों की परीक्षा होगी। शेष वैकल्पिक विषयों के मार्क्स उनके इंटरनल असेसमेंट के आधार पर होगा। हालात सामान्य होती ही सीबीएसई के 29 विषयों की परीक्षाएं शुरू होंगी। विद्यार्थी अपनी पढ़ाई जारी रखें।"

सीबीएसई परीक्षा हालात सुधरते ही 10 दिन में, NEET व JEE पर बनी टास्क फोर्स: रमेश पोखरियाल निशंक


मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने बोर्ड परीक्षाएं न करवाए जाने की अटकलों को भी खारिज किया है। मंत्रालय का कहना है कि हालात सामान्य होते ही 10वीं व 12वीं कक्षा की रह गई बोर्ड परीक्षाएं करवा ली जाएंगी।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के मुताबिक सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं की तारीख सुनिश्चित करेगी। लॉकडाउन समाप्त होने के उपरांत छात्रों को परीक्षाओं की तिथि के बारे में जानकारी दे दी जाएगी। बोर्ड परीक्षाओं से कम से कम 10 दिन पहले छात्राओं को परीक्षा की तारीख को लेकर सूचित कर दिया जाएगा।









 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Wednesday, April 29, 2020

विश्वविद्यालयों में अगस्त 2020 से नवीन शैक्षिक सत्र प्रारंभ करने का UGC का सुझाव, प्रेस नोट देखें

विश्वविद्यालयों में अगस्त 2020 से नवीन शैक्षिक सत्र प्रारंभ करने का UGC का सुझाव, प्रेस नोट देखें।

विवि की परीक्षाएं अब जुलाई में, नया सत्र सितम्बर से शुरू करने की तैयारी

UGC का सुझाव - अब तीन के बजाय दो घण्टे की हो परीक्षा

विवि के लिए UGC का निर्देश, ऑनलाइन हो 25% पढ़ाई।

हर विवि में कोविड प्रकोष्ठ के गठन का निर्देश।

स्थिति सामान्य न हुई तो इंटरनल असेसमेंट से करें पास - UGC



राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उ0प्र0 ने शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के मंहगाई समेत अन्य भत्तों को रोके जाने के विरोध में मुख्यमंत्री महोदय को भेजा ज्ञापन

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश ने शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के मंहगाई समेत अन्य भत्तों को रोके जाने के विरोध में मुख्यमंत्री महोदय को भेजा ज्ञापन



स्कूलों के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाना अनिवार्य

स्कूलों के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाना अनिवार्य

अलीगढ़ : कोरोना पॉजिटिव शिक्षक की हालत बिगड़ी

अलीगढ़ : कोरोना पॉजिटिव शिक्षक की हालत बिगड़ी

हाथरस : समस्त शिक्षकों/कर्मचारियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप इंस्टाल करने एवं वांछित प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में

हाथरस : समस्त शिक्षकों/कर्मचारियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप इंस्टाल करने एवं वांछित प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में

हाथरस : शिक्षक-शिक्षिकाओं के परिचय पत्र बनवाने हेतु निर्धारित प्रारूप पर सूचनाएं उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में

हाथरस : शिक्षक-शिक्षिकाओं के परिचय पत्र बनवाने हेतु निर्धारित प्रारूप पर सूचनाएं उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में



हाथरस : बीएसए कार्यालय में आदर्श व्यवस्था स्थापित करने एवं शासकीय कार्यों के दृष्टिगत चतुर्थ श्रेणी कर्मियों का ड्यूटी रोस्टर जारी, देखें

हाथरस : बीएसए कार्यालय में आदर्श व्यवस्था स्थापित करने एवं शासकीय कार्यों के दृष्टिगत चतुर्थ श्रेणी कर्मियों का ड्यूटी रोस्टर जारी, देखें


जनपदों में विद्यालय प्रबंधन सामिति के स्तर तक वित्तीय प्रबंधन हेतु PFMS प्रणाली होगी लागू

जनपदों में विद्यालय प्रबंधन सामिति के स्तर तक वित्तीय प्रबंधन हेतु PFMS  प्रणाली होगी लागू






दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल के माध्यम से कक्षा 10 व 12 के कक्षा शिक्षण हेतु आदेश जारी, देखें शेड्यूल

यूपी बोर्ड : 10 वीं व 12वीं के छात्रों के लिए अच्छी खबर, 01 मई से दूरदर्शन पर होगा शैक्षिक प्रसारण। 

UP Board: 10वीं/12वीं छात्र डीडी स्वयंप्रभा चैनल से रख सकते हैं पढ़ाई जारी, जानें हाई स्कूल और इंटरमीडिएट शेड्यूल।


दूरदर्शन का स्वयंप्रभा चैनल घर बैठे दे रहा शिक्षा


सीबीएससी के बाद यूपी बोर्ड ने भी विद्यार्थियों की पढ़ाई करायी शुरू

स्मार्टफोन न रखने वाले विद्यार्थी भी उठा सकेंगे ई-क्लास का लाभ


कोरोना वायरस के प्रसार से बचाव के लिए लॉकडाउन 3.0 शुरू हो गया है। शासन ने लॉकडाउन 2.0 शुरू होने के पहले ही ऑनलाइन पढ़ाई की तैयारी शुरू कर दी थी, जो अब धीरे-धीरे आगे बढ़ रही है। गूगल क्लास, ज़ूम ऐप तथा वॉट्सऐप ग्रुप से शुरू हुई ऑनलाइन पढ़ाई अब दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल तक पहुँच गयी है। ऑनलाइन पढ़ाई के बदलते स्वरूप से विद्यार्थी, अभिभावक व शिक्षक कुछ परेशान भी हैं, लेकिन कमियों में लगातार सुधार की प्रक्रिया चल रही है।


 दूरदर्शन पर पढ़ाई शुरू होने से गरीब व वंचित वर्ग के विद्यार्थी भी लाभ ले पा रहे हैं, जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है। ग्रामीण क्षेत्र में नेटवर्क न होने से कई विद्यार्थी ऑनलाइन क्लास में शामिल नहीं हो पा रहे थे, लेकिन अब यह विद्यार्थी भी घर बैठे पढ़ाई कर सकेंगे। शासन ने ई-क्लास को अब दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल से प्रारम्भ की है। अभी जून तक स्कूल खुलने की सम्भावना नहीं है, इसीलिए सरकार ने इस चैनल के माध्यम से शिक्षा को गति देने की योजना बनायी है। शिक्षक, विद्यार्थी व अभिभावकों को इस योजना से जोड़ा जा रहा है। 


 माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा बच्चों की शिक्षा के लिए विभिन्न माध्यम से ई-कक्षा चलायी जा रही है। 1 मई से दूरदर्शन पर स्वयंप्रभा चैनल से बच्चों की पढ़ाई शुरू हुई है, जिसमें बच्चे भी दिलचस्पी ले रहे हैं। इससे जिन विद्यार्थियों व अभिभावकों के पास स्मार्टफोन नहीं है, वह भी ऑनलाइन शिक्षा का उपयोग कर सकेंगे। 


 शैक्षिक प्रसारण सरकार की सार्थक पहल है। इससे स्मार्टफोन से वंचित परिवार के बच्चे भी घर बैठकर शिक्षा का लाभ ले सकेंगे। पूर्व माध्यमिक विद्यालय भोजला की शिक्षिका प्रीति गुप्ता का कहना है कि इससे लॉकडाउन में विद्यार्थी बगैर किसी खर्च के अध्ययन कर पाएंगे। इसके लिए अतिरिक्त खर्च भी नहीं उठाना पड़ेगा। दूरदर्शन गाँव-गाँव में देखा जाता है। 


 स्वयंप्रभा चैनल से आम व गरीब वर्ग के विद्यार्थियों को भी घर बैठे शिक्षा मिल रही है। इससे विद्यार्थी कोरोना वायरस से बचाव करते हुए घर रहकर पढ़ाई कर सकते हैं। अंजना वर्मा का कहना है कि इससे बच्चों व अभिभावकगण दोनों को बगैर किसी अतिरिक्त खर्च व परेशानी के शिक्षा मिलने लगी है। शासन ने वंचित वर्ग की परेशानी को दूर कर दिया है। दूरदर्शन की ई-क्लास से काफी लाभ होगा।


दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल के माध्यम से कक्षा 10 व 12 के कक्षा शिक्षण हेतु आदेश जारी।




UP Board हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के लिए क्लास का प्रसारण डीडी स्वयंप्रभा चैनल पर सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक हर रोज दो घंटे किया जाएगा।...

नई दिल्ली | UP Board: लॉक डाउन के कारण न सिर्फ बोर्ड की परीक्षाओं के आयोजन और बोर्ड परीक्षा परिणामों की घोषणा के कार्य बाधित हुए है, बल्कि नये शैक्षणिक सत्र के लिए क्लासेस शुरु करने को लेकर समग्र हल अभी तक नहीं मिला पाया है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानि यूपी बोर्ड ने इस दिशा में कई महत्वपूर्ण कर रहा है, जिसके तहत ऑनलाइन कक्षाओं के आयोजन से लेकर इंटरनेट व आवश्यक डिवाइस की अनुपलब्धता की स्थिति में टेलीविजन पर दिल्ली दूरदर्शन (डीडी) के स्वयंप्रभा चैनल पर कक्षाओं के आयोजन की तैयारी की है।

 
यूपी बोर्ड के इन प्रयासों का उद्देश्य कोविड-19 के दौर में छात्रों की पढ़ाई का नुकसान कम से कम होने देना है, विशेषतौर पर उन छात्रों के लिए जो कि वर्ष 2021 की आयोजित की जाने वाली बोर्ड परीक्षाओं में सम्मिलित होने जा रहे हैं।

यूपी बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट कक्षाओं के लिए शेड्यूल के अनुसार डीडी स्वयंप्रभा चैनल पर सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक दो घंटे हर रोज कक्षाओं का प्रसारण किया जाएगा। इनमें से प्रत्येक कक्षा की अवधि 30 मिनट निश्चित की गयी है। इन कक्षाओं का फिर से प्रसारण उसी दिन शाम को किया जाएगा।


यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की कक्षाओं डीडी स्वयंप्रभा चैनल पर प्रसारण के लिए विभिन्न विषयों की रिकॉर्डिंग एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय में की जा रही है। प्रसारण के लिए जिन विषयों को प्रमुखता से शामिल किया गया है, उनमें हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, आदि प्रमुख हैं।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद में माध्यमिक शिक्षा के लिए प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला के अनुसार ऐसे समय में जबकि स्कूलों के फिर से खुलने की तिथियों को लेकर अनिश्चितता बरकरार है तो हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के छात्र स्पेशल क्लासेस के माध्यम में पढ़ाई जारी रख सकते हैं।