DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label कस्तूरबा गांधी विद्यालय. Show all posts
Showing posts with label कस्तूरबा गांधी विद्यालय. Show all posts

Tuesday, March 9, 2021

फतेहपुर : सात कस्तूरबा विद्यालयों में बनेंगी कंप्यूटर लैब, लैब में होंगे तीन-तीन कंप्यूटर, विद्यालय के लिए जारी की गई धनराशि

फतेहपुर : सात कस्तूरबा विद्यालयों में बनेंगी कंप्यूटर लैब, लैब में होंगे तीन-तीन कंप्यूटर, विद्यालय के लिए जारी की गई धनराशि

फतेहपुर :  जिले के सात कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में कंप्यूटर लैब खोली जाएंगी। 700 बालिकाओं को इसका सीधा लाभ मिलेगा। शासन ने चयनीत इन सातों विद्यालयों में तीन-तीन कंप्यूटर खरीदने के एक-एक लाख रुपये का बजट आवंटित किया है।


महिला शिक्षा में पिछड़े 10 ब्लाकों में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय संचालित हैं। इनमें से सात में कंप्यूटर लैब खोलने की स्वीकृति मिली है। इन विद्यालयों में रहने, खाने, कापी, किताब आदि की निःशुल्क व्यवस्था है। इन सभी विद्यालयों में कंप्यूटर शिक्षकों की तैनाती है, जो सिर्फ किताब से कंप्यूटर की पढ़ाई करा रहे हैं। कंप्यूटर न होने के कारण प्रयोगात्मक कक्षाएं नहीं चल पा रही हैं।

शासन ने पहले चरण में जिले के सात कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में कंप्यूटर लैब के लिए एक-एक लाख की धनराशि भेजी है। इन विद्यालयों में असोथर, बहुआ, हथगाम, हसवा, भिटौरा, मलवां, तेलियानी के कस्तूरबा विद्यालय शामिल हैं। दूसरे चरण में धाता, विजयीपुर, ऐरायां में कंप्यूटर लैब स्थापित की जाएंगी। यह कंप्यूटर सिर्फ बालिकाओं की प्रयोगात्मक कक्षाएं चलाने के लिए हैं। आफिस काम के लिए सभी विद्यालयों में पहले से ही एक-एक कंप्यूटर की व्यवस्था है।

कंप्यूटर खरीद के लिए पत्रावली अनुमोदन के लिए डीएम के यहां भेजी गई हैं। अनुमोदन के बाद  जेम पोर्टल से खरीद की जाएगी। चालू महीने के अंत तक खरीद कर ली जाएगी। - शिवेंद्र प्रताप सिंह, बीएसए।

Sunday, March 7, 2021

रायबरेली : KGBV में चयन हेतु विज्ञप्ति जारी, देखें

रायबरेली : KGBV में चयन हेतु विज्ञप्ति जारी, देखें।

रामपुर : KGBV में चयन हेतु विज्ञप्ति जारी, क्लिक करके देखें आवेदन पत्र प्रारूप सह विज्ञप्ति

रामपुर : KGBV में चयन हेतु विज्ञप्ति जारी, क्लिक करके देखें आवेदन पत्र प्रारूप सह विज्ञप्ति।


Monday, January 18, 2021

हरदोई : शिक्षकों की सेवा पुस्तिकाओं का रखरखाव रखेंगे बा लेखाकार, बा लेखाकारों को ब्लॉकों पर भी निभानी होगी जिम्मेदारियां

हरदोई : शिक्षकों की सेवा पुस्तिकाओं का रखरखाव रखेंगे बा लेखाकार, बा लेखाकारों को ब्लॉकों पर भी निभानी होगी जिम्मेदारियां

▪️महानिदेशक ने सुझाए 17 कार्य, बीएसए को जारी किए निर्देश


हरदोई : ब्लॉकों के परिषदीय शिक्षकों एवं शिक्षामित्रों से संबंधित सेवा पुस्तिकाओं के रखरखाव सहित 17 कार्यों का दायित्व कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों के लेखाकारों को सौंपा गया है। महानिदेशक ने इसको लेकर बीएसए को पत्र जारी किए हैं।


पिछले वर्ष जून में राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने बा स्कूलों में कार्यरत लेखाकारों को ब्लॉकों के भी संबंधित दायित्व निपटाने के निर्देश दिए थे। उस दौरान कार्यों को लेकर संशय था। अब निदेशक स्तर से बा लेखाकार, खंड कार्यालय में कार्यालय सहायक व स्टाफ के कार्य आवंटन को लेकर दायित्व निर्धारित किए गए हैं। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने बताया कि निदेशक स्तर से पत्र प्राप्त हो चुके हैं। खंड शिक्षा अधिकारियों को इस बारे में अवगत कराया गया है। जो दायित्व बताए गए हैं उनकी जिम्मेदारी कार्यरत लेखाकार व सहायकों की होगी। उन्होंने बताया कि लेखाकारों को शिक्षकों एवं शिक्षामित्रों से संबंधित सेवा पुस्तिकाओं व व्यक्तिगत पत्रावलियों का रखरखाव करना होगा। 

लेखा कार्यालय को वेतन फीडिंग उपलब्ध कराना, वेतन के अंतर को बिल जनरेट होने के बाद जांच करना, जीपीएफ पत्रावली का रखरखाव करना, स्थानांतरण से संबंधित अभिलेखों का रखरखाव करना, मृतक शिक्षकों से संबंधित अभिलेखों का रखरखाव, मानव संपदा फीडिंग, शिक्षामित्रों व अनुदेशकों से संबंधित व्यक्तिगत पत्रावलियों का रखरखाव, शिक्षकों, शिक्षामित्रों के मानदेय बिल आदि बनाने का दायित्व सौंपा गया है। बीएसए ने बताया कि सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को इस संबंध में दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं।