DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्धनगर चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Thursday, December 31, 2015

जालौन : शिक्षकों की समस्याओं को लेकर राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ बीएसए से मिला, शीघ्र निराकरण का मिला आश्वासन

उरई। शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं को लेकर बुधवार को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की जिला इकाई ने बेसिक शिक्षाधिकारी से भेंट की और उन्हें एक लिखित ज्ञापन सौंपा। बेसिक शिक्षाधिकारी राजेश वर्मा ने सभी मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार का आश्वासन दिया है। संघ के जिलाध्यक्ष राजेंद्र राजपूत और प्रभारी अरविंद नगायच ने बीएसए को बताया कि जूनियर विद्यालयों में तैनात किये गये विज्ञान एवं गणित के शिक्षकों को सत्यापन की औपचारिकता में हो रहे विलंब की वजह से कई माह गुजर जाने के बावजूद वेतन नही मिला है। इस स्थिति का तत्काल प्रभावी समाधान किया जाये। एक अन्य मांग में महासंघ ने शिक्षा मित्र से अध्यापक बने शिक्षकों को अवशेष वेतन तथा एरियर का एक साथ भुगतान कराने व नदीगांव के बिल लिपिक महेंद्र कुमार द्वारा इस मामले में उनके शोषण को रुकवाने का भी आग्रह किया। पदोन्नति प्राप्त शिक्षकों के लंबित देयक भुगतान का मामला भी महासंघ के पदाधिकारियों ने उठाया। क्लास के पहले घंटे में प्रधानाध्यापकों से एसएमएस के जरिए बच्चों की उपस्थिति संख्या मांगने की व्यवस्था के बाबत व्यवहारिक कठिनाइयों से बीएसए को अवगत कराया गया। शीतकालीन स्थिति में विद्यालयों का समय सुबह 10 से शाम 3 बजे तक करने, डयूटी से बचने के लिए जिला कार्यालय अथवा विकास खंड कार्यालय में अपनी तैनाती कराने वाले शिक्षकों को उनके मूल विद्यालय में भेजने, विद्यालयों की रंगाई-पुताई का पूरा बजट देने, शिक्षकों को एमडीएम से पृथक करने, अदेयता प्रमाणपत्र की व्यवस्था का सरलीकरण करने और प्रधानाध्यापकों व जूनियर विद्यालयों में सहायक शिक्षकों की कमी को पूरा करने के लिए अतिशीघ्र पदोन्नतियां करने की मांग भी इसमें की गई।





इस मौके पर संगठन के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र राजपूत , अध्यक्ष संघर्ष समिति इलयास मंसूरी , जिला उपाध्यक्ष नृपेंद्र देव सिंह , जिला प्रभारी अरविन्द नगायच ,जिला संरक्षक प्रकाश नारायण पाठक, कार्यवाहक जिला मंत्री अरुण पांचाल ,जिला कोषाध्यक्ष अशोक तिवारी, जिला उपाध्यक्ष अजहर अंसारी, जिला उपाध्यक्ष शोएब अंसारी, जिला संगठन मंत्री तनवीर अहमद, जिला ऑडिटर सुरेश वर्मा, जिला मीडिया प्रभारी विकास गुप्ता, ब्लाक अध्यक्ष जालौन बृजेश श्रीवास्तव, ब्लाक अध्यक्ष कदौरा रमाकांत व्यास, ब्लाक अध्यक्ष नदीगांव विनय मिश्रा, ब्लाक अध्यक्ष डकोर विकास त्रिपाठी, ब्लाक मंत्री डकोर संतोष विश्वकर्मा, नगर अध्यक्ष उरई मजरूल हसन, सदस्य जिला कार्य कारिणी जावेद खान, हिमांशु समाधिया, शिवशंकर सोनी, जितेन्द्र यादव, देवेन्द्र यादव, ध्रुव कुमार, आसिफ, आशीष निरंजन आदि शिक्षक मौजूद रहे ।

No comments:
Write comments