DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कैसरगंज कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महाराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फर नगर मुजफ्फरनगर मुज़फ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी मैनपूरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Monday, May 1, 2017

संभल : नौनिहाल भी करेंगे विज्ञान के प्रयोग, जिले के 16 जूनियर हाईस्कूल में बनेंगी प्रयोगशालाएं

शिक्षक भी किए जाएंगे नियुक्त, स्कूलों में 45 हजार रुपये की लागत से विज्ञान की प्रयोगशाला का कराया जाएगा निर्माण
तैयारी

अब नौनिहाल भी लैब में विज्ञान के प्रयोग कर सकेंगे। बेसिक शिक्षा विभाग विज्ञान की प्रयोगशालाओं का निर्माण करा रहा है। सम्भल जनपद में 16 जूनियर हाईस्कूलों में प्रयोगशालाओं का निर्माण कराया जाएगा। इनमें विज्ञान के शिक्षकों की नियुक्ति भी की जाएगी।

बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले नौनिहाल भी अब निजी विद्यालयों की तरह आधुनिक तरीके से शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे। विज्ञान और गणित की शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से जिले के 16 उच्च प्राथमिक विद्यालयों को राष्ट्रीय आविष्कार अभियान योजना के अंतर्गत चयनित किया गया है। इन स्कूलों में 45 हजार रुपये की लागत से विज्ञान की प्रयोगशाला का निर्माण कराया जाएगा, जिससे बच्चे प्रयोगों के माध्यम से विज्ञान की जटिलताओं को आसानी से समझ सकेंगे। साथ ही चयनित किए गए इन स्कूलों को मॉडल स्कूल के रूप में भी विकसित किया जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों में संसाधनों की कमी के कारण बच्चे गणित और विज्ञान जैसे विषयों में निजी स्कूलों के बच्चों के मुकाबले काफी पीछे रह जाते हैं। इस समस्या के निदान के लिए ही प्रयोगशालाएं बनाई जा रही हैं।

प्रत्येक ब्लाक के दो स्कूलों का किया चयन : प्रत्येक ब्लाक में दो जूनियर हाईस्कूलों का चयन किया गया है। बनियाखेड़ा ब्लाक में अहलेदादपुर और आटा के जूनियर हाईस्कूलों में प्रयोगशाला बनाई जाएगी। इसके लिए प्रत्येक विद्यालय को 45 हजार रुपये की राशि का आवंटन किया गया है। इस रकम से स्कूल में प्रयोगशाला के निर्माण के साथ-साथ विज्ञान व गणित के शिक्षण में प्रयोग की जाने वाले उपकरणों की खरीदारी भी होगी। विद्यालयों को वैज्ञानिक उपकरणों, मॉडलों और चित्रों के माध्यम से सजाया जाएगा। लैब बनने के बाद इन स्कूलों में बच्चों को प्रोजेक्टर से विज्ञान की बारीकियां सिखाई जाएंगी।प्रयोगशालाओं का निर्माण कराया जा रहा है। जिन जूनियर हाईस्कूलों का चयन किया गया है, उनमें कमरे पहले से ही बने हैं। इन 45 हजार रुपये से उपकरण खरीदें जाएंगे। प्रयोगशाला के रखरखाव में भी खर्च किए जा सकते हैं। यह योजना अभी ट्रायल के रूप में शुरू हुई है। सफल होने पर सरकार की मंशा प्रत्येक जूनियर हाईस्कूल में प्रयोगशाला बनाने की है।  डॉ. सत्यनारायण, बेसिक शिक्षाधिकारी, सम्भल।

No comments:
Write comments