DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label लोक सेवा आयोग. Show all posts
Showing posts with label लोक सेवा आयोग. Show all posts

Wednesday, May 2, 2018

एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा 24 जून को, हाईकोर्ट से कई याचिकाओं पर हुए आदेश के बाद आयोग ने तारीख में बदलाव किया, अवसर के लिए आवेदन पर उहापोह

इलाहाबाद : एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा 24 जून को होगी। उप्र लोकसेवा आयोग ने पहले इसे छह मई को निर्धारित किया था। हाईकोर्ट से कई याचिकाओं पर हुए आदेश के बाद आयोग ने तारीख में बदलाव किया है लेकिन, याचियों को परीक्षा में शामिल होने का अवसर देने के लिए उनके ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन के संबंध में ऊहापोह है।



आयोग से वेबसाइट पर जारी सूचना में याचियों से आवेदन लेने का जिक्र नहीं है। सहायक अध्यापक (प्रशिक्षित स्नातक श्रेणी पुरुष/महिला) भर्ती 2018 के लिए 16 अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन लिए गए थे। 10768 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आयोग को साढ़े सात लाख आवेदन प्राप्त हुए।



आयोग ने अपने परीक्षा कैलेंडर में इस परीक्षा की तारीख छह मई घोषित कर रखी थी। इस बीच आवेदन लिए जाने के दौरान अर्हता में फंसे पेंच को लेकर तमाम अभ्यर्थी हाईकोर्ट चले गए।

Saturday, April 21, 2018

आयोग परीक्षा टालने का करेगा एलान, अभ्यर्थियों के लिए खुलेगी वेबसाइट, राजकीय कालेजों की 10768 एलटी ग्रेड भर्ती का मामला

इलाहाबाद : उप्र लोकसेवा आयोग की एक और परीक्षा स्थगित होने जा रही है। राजकीय कालेजों की 10768 एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा अब छह मई को नहीं होगी। आयोग जल्द ही इसका औपचारिक एलान करेगा, साथ ही हंिदूी, कंप्यूटर, कला व उम्रसीमा मामले आदि के उन अभ्यर्थियों के लिए फिर वेबसाइट भी खोली जाएगी, जिनके संबंध में हाईकोर्ट ने पिछले दिनों निर्देश दिया है। सूत्रों की मानें तो अब यह परीक्षा जुलाई या उसके बाद कराई जा सकती है।

■  आयोग परीक्षा टालने का करेगा एलान अभ्यर्थियों के लिए खुलेगी वेबसाइट

■  अभ्यर्थियों से लिए जाएंगे आवेदन, सभी को दिया जाएगा मौका

राजकीय कालेजों की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा कराने का जिम्मा आयोग को मिला है। आयोग ऑनलाइन आवेदन भी ले चुका है, इन पदों के लिए करीब आठ लाख ने दावेदारी की है। इसी दौरान हंिदूी, कंप्यूटर, कला आदि की अर्हता और 2016 में आवेदन करने वालों की उम्र सीमा विवाद के प्रकरण सामने आए। अफसरों ने इनकी अनसुनी की तो वह हाईकोर्ट की शरण में पहुंचे। कोर्ट ने इस संबंध में कई अलग-अलग निर्देश जारी किए हैं, तमाम अभ्यर्थियों ने पिछले दिनों आयोग में हार्डकॉपी के जरिए आवेदन भी किया है, उसके बाद भी बड़ी संख्या में दावेदार रह गए हैं। इस परीक्षा की तारीख छह मई आयोग कैलेंडर में जारी कर चुका है, वह करीब आ रही है और आयोग चुप्पी साधे है।



प्रतियोगी मोर्चा के अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को आयोग में इस संबंध में ज्ञापन सौंपा और परीक्षा की तारीख बढ़ाने की मांग की। आयोग के अनु सचिव व मीडिया प्रभारी सुरेंद्र उपाध्याय ने प्रतियोगियों की समस्या सुनी और उन्हें आश्वस्त किया कि छह मई को प्रस्तावित परीक्षा नहीं होगी। इस संबंध में जल्द ही एलान किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि भर्ती की नियमावली व अर्हता को लेकर तमाम विवाद हैं उस संबंध में शासन से चर्चा करके दस दिनों के लिए वेबसाइट फिर से खोली जाएगी, ताकि जो अभ्यर्थी छूट गए हैं वह आवेदन कर सकें। इसमें आवेदन करने का सभी को मौका दिया जाएगा। उन्होंने परीक्षा जुलाई या उसके बाद होने का अनुमान व्यक्त किया है। यहां मोर्चा कमेटी के अध्यक्ष अनिल कुमार पाल, संयोजक विक्की खान, वरुण सिंह, अनुराग वर्मा आदि मौजूद रहे।

Wednesday, March 21, 2018

एलटी ग्रेड भर्ती को लेकर धरना अब भी जारी, ज्ञापन सौंप नियमों में बदलाव की मांग की

इलाहाबाद : उप्र लोकसेवा आयोग बीते 15 मार्च को 10768 पदों पर भर्ती का विज्ञापन जारी किया है। इसमें हिंदी सहित कई विषयों की अर्हता अन्य समकक्ष भर्तियों से भिन्न होने के कारण बखेड़ा खड़ा हो गया है। प्रतियोगी अर्हता बदलने की मांग पर अड़े हैं। हिंदी के प्रतियोगी इंटर में संस्कृत अनिवार्य करने का विरोध कर रहे हैं, वहीं कंप्यूटर के प्रतियोगी पीजीडीसीए को मान्य करने व बीटेक आदि उच्च डिग्रियों के साथ बीएड की अनिवार्यता खत्म करना चाहते हैं।


कला के प्रतियोगी भी बीएड को हर विषय में अनिवार्य करने से नाराज हैं। उनका कहना है कि माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उप्र की भर्तियों में मानक अलग है, जबकि राजकीय कालेजों की नियमावली अलग बना दी गई है। सचिव नीना श्रीवास्तव ने आयोग सचिव को पत्र भेजा है कि हिंदी आदि विषयों में इंटरमीडिएट एक्ट में क्या प्रावधान हैं। इसके बाद भी हल नहीं निकल रहा है। सोमवार को घेराव करने के बाद मंगलवार को भी प्रतियोगियों ने धरना देकर नियमों में बदलाव की मांग की है। सुनील भारतीय सहित तमाम प्रतियोगी डटे रहे।

Tuesday, March 20, 2018

कंप्यूटर, कला और हिंदी के अभ्यर्थियों ने घेरा शिक्षा निदेशालय, राजकीय कालेजों की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में अर्हता विवाद थम नहीं रहा

इलाहाबाद : राजकीय कालेजों की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में अर्हता विवाद थम नहीं रहा है। उप्र लोकसेवा आयोग व माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से स्थिति स्पष्ट करने के बाद अब प्रतियोगियों ने शिक्षा निदेशालय को आंदोलन स्थली बना दिया है। बड़ी संख्या में कंप्यूटर, कला व हिंदी के अभ्यर्थियों ने निदेशालय में माध्यमिक शिक्षा अपर निदेशक कार्यालय का घेराव किया। निदेशक माध्यमिक शिक्षा को संबोधित ज्ञापन भेजा है।



प्रतियोगियों का कहना है कि सपा शासन काल में तय हुई अर्हता से वह दावेदारी नहीं कर सकेंगे। हिंदी शिक्षक के दावेदार इंटर में संस्कृत की अनिवार्यता खत्म करने, कंप्यूटर शिक्षक माध्यमिक शिक्षा परिषद की पीजीडीसीए की अर्हता लागू करने या फिर बीटेक के साथ बीएड न मांगने की मांग कर रहे हैं, वहीं कला के अभ्यर्थी कहते हैं कि वह उनसे भी बीएड मांगा सही नहीं है। केंद्रीय विद्यालयों व अन्य राज्यों में बिना बीएड के कंप्यूटर शिक्षक रखे जा रहे हैं।



माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की तरह ही राजकीय कालेज की लिखित परीक्षा की अर्हता तय हो। अफसरों ने आश्वस्त किया है वह उनकी मांग से शासन को अवगत कराएंगे और जो भी संभव किया जाएगा। इससे प्रतियोगियों में उम्मीद जगी है कि भर्ती का विज्ञापन बदलेगा।


बीएफए व एमएफए ही रखा जाए : दृश्यकला छात्र मोर्चा के सुनील भारतीय का कहना है कि बीएफए व बीए पेंटिंग के छात्रों ने निदेशालय में एलटी ग्रेड कला शिक्षक भर्ती में बीएड हटवाने का ज्ञापन दिया है।

एलटी ग्रेड शिक्षक की दो अर्हताएं मान्य, माध्यमिक शिक्षा परिषद ने स्थिति स्पष्ट करते हुए उप्र लोकसेवा आयोग सचिव को भेजा पत्र

इलाहाबाद : राजकीय माध्यमिक कालेजों में 10768 एलटी ग्रेड शिक्षकों के चयन से पहले ही हिंदी  शिक्षक आदि पदों पर अर्हता का पेंच फंसा है। माध्यमिक कालेजों के शिक्षकों की अर्हता तय करने वाले माध्यमिक शिक्षा परिषद यानि यूपी बोर्ड ने इस संबंध में स्थिति स्पष्ट की है। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने उप्र लोकसेवा आयोग सचिव को इस संबंध में पत्र भेजा है कि उनके यहां हिंदी  शिक्षक की दो अर्हताएं मान्य हैं।


एलटी ग्रेड भर्ती में सपा शासनकाल की ही अर्हताएं घोषित होने से खफा अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को उप्र लोकसेवा आयोग कार्यालय पर प्रदर्शन किया था। वह अभ्यर्थी शनिवार को पहले शिक्षा निदेशालय पहुंचे, वहां अवकाश होने से माध्यमिक शिक्षा परिषद मुख्यालय पर सचिव को ज्ञापन सौंपा। सचिव ने उन्हें आश्वस्त किया कि वह आयोग को अर्हता की स्थिति करा रही हैं।


बोर्ड सचिव ने आयोग सचिव को भेजे पत्र में कहा है कि इंटरमीडिएट शिक्षा अधिनियम 1921 में हिंदी  शिक्षक की अर्हता 2016 में संशोधित हुई थी। हिंदी  शिक्षक की अर्हता इंटर में संस्कृत व हिंदी  में स्नातक तय हुई। इसका विरोध होने पर बोर्ड ने नियमावली में संशोधन करके दो नियम बनाए। बीए हिंदी  व इंटर संस्कृत अथवा बीए हिंदी  व संस्कृत विषय से उत्तीर्ण अब यह दोनों मान्य हैं। इससे अभ्यर्थियों ने खुशी मनाई। यहां अनिल कुमार पाल, विक्की खान, अंबुज त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

Sunday, March 11, 2018

कंप्यूटर शिक्षकों की होगी पहली बार भर्ती, एलटी ग्रेड भर्ती के जरिये लोक सेवा आयोग करेगा 10786 पदों पर शिक्षकों की भर्ती

कंप्यूटर शिक्षकों की होगी पहली बार भर्ती, एलटी ग्रेड भर्ती के जरिये लोक सेवा आयोग करेगा 10786 पदों पर शिक्षकों की भर्ती।