DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Sunday, January 29, 2017

रामपुर : उड़नदस्तों से हटाने के बाद भी बीईओ की लापरवाही, समय से नहीं दिए इनपुट, 6000 शिक्षकों का वेतन लटका, शिक्षक संघ की मांग :लापरवाही में कार्रवाई करें बीएसए

जनपद के छह हजार प्राइमरी शिक्षकों का वेतन लटक गया है। शिक्षकों को जनवरी का वेतन समय से नहीं मिल सकेगा। चुनाव में लगे उड़नदस्तों से हटाने के बाद भी चार खंड शिक्षाधिकारियों ने शिक्षकों का वेतन जारी करने के लिए इनपुट नहीं दिए। इससे शिक्षकों में रोष है। जनपद में करीब छह हजार प्राइमरी शिक्षक हैं। शिक्षकों को हर माह एक तारीख को वेतन दिए जाने का आदेश है। वेतन जारी किए जाने का शासन से शेड्यूल बना है।इस पर अमल नहीं हो पा रहा है। शेड्यूल के हिसाब से 25 तारीख तक खंड शिक्षाधिकारियों की ओर से इनपुट दिया जाना है, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। अब भी सिर्फ तीन ब्लाकों से भी खंड शिक्षाधिकारियों ने इनपुट दिए हैं। शाहबाद, मिलक और सैदनगर ब्लाक के ही इनपुट बीएसए कार्यालय को प्राप्त हुए हैं।जबकि , चमरौआ, बिलासपुर, स्वार और शहर के खंड शिक्षाधिकारी-नगर शिक्षाधिकारी ने इनपुट नहीं दिए हैं। इसलिए शिक्षकों को एक तारीख को वेतन नहीं मिलेगा। जिले के सभी बीईओ को उड़नदस्ता प्रभारी बनाया गया था, लेकिन विभाग के काम को देखते हुए उड़नदस्ता प्रभारी के पद से हटा दिया गया था। फिर भी शिक्षकों का वेतन समय से नहीं मिल पा रहा है, जिससे बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षकों में रोष है। सातवें आयोग के मुताबिक वेतन का भुगतान करेंरामपुर। प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन ने बीएसए को पत्र सौंपा है। इसमें कहा गया हैकि समस्त शिक्षक एवं शिक्षणोत्तर कर्मचारियों को जनवरी का वेतन सातवें वेतन आयोग के हिसाब से दिया जाना है।लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। पुराने वेतनमान के हिसाब से ही वेतन दिए जाने की तैयारी की जा रही है। इससे शिक्षकों को आर्थिक नुकसान होगा। शिक्षकों में रोष है। इससे आयकर में भी शिक्षकों को परेशानी होगी। इसलिए जनवरी माह से ही सातवे वेतन आयोग के हिसाब से वेतन दिया जाए। पत्र पर प्रदेश उपाध्यक्ष अजहर, असद सईद खां, सौरभ गुप्ता, मोहम्मद खतीब, विकास गुप्ता, फिजा, मनीषा, नाजिश, सलीम अहमद, रहमत अली, आलिया, शारिक जावेद खां आदि के हस्ताक्षर हैं।
रामपुर। प्राथमिक शिक्षक संघ ने बीएसए को पत्र देकर कहा है कि शिक्षकों का वेतन दिए जाने में लापरवाही की जा रही है। कुछ खंड शिक्षाधिकारी समय से इनपुट नहीं दे रहे हैं। जिससे शिक्षकों का वेतन समय पर नहीं मिल पा रहा है। ऐसे लापरवाह बीईओ के खिलाफ कार्रवाई की जाए। पत्र पर जिलाध्यक्ष कैलाश बाबू, जिला मंत्री आनंद प्रकाश शर्मा, जफर बेग आदि के हस्ताक्षर हैं।
विधानसभा चुनाव में व्यस्तता के चलते देर हो गई है।फिर भी संबंधित खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे सोमवार को इनपुट दें, ताकि शिक्षकों के वेतन की प्रक्रिया पूरी हो सके। एसके तिवारी, बीएसए


No comments:
Write comments