DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Friday, October 23, 2020

उच्च शिक्षा : शिक्षा शास्त्र का रिजल्ट आने की उम्मीद जगी, विज्ञापन- 47 के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती मामला।

उच्च शिक्षा : शिक्षा शास्त्र का रिजल्ट आने की उम्मीद जगी, विज्ञापन- 47 के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती मामला।

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसरों के खाली पदों के लिए उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने विज्ञापन संख्या 47 के तहत भर्ती निकाली थी। जिसके लिए 35 विषयों के सापेक्ष 34 का रिजल्ट घोषित किया जा चुका है। जबकि शिक्षा शास्त्र विषय का रिजल्ट अभी नहीं घोषित हुआ है। जल्द उक्त विषय का रिजल्ट जारी होने की उम्मीद है। ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसरों के खाली पदों के लिए उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने विज्ञापन संख्या 47 के तहत भर्ती निकाली थी। इसके तहत 35 विषयों में 1150 असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों की भर्ती निकाली गई। सारे विषयों में इंटरव्यू की प्रक्रिया आठ फरवरी को पूरी हो गई थी । इसमें 33 विषयों का रिजल्ट पहले ही जारी कर दिया गया था लेकिन, समाजशास्त्र व शिक्षाशास्त्र का मामला कोर्ट में लंबित होने के कारण रिजल्ट जारी नहीं किया गया। समाजशास्त्र का इंटरव्यू 13 नवंबर 2019 को शुरू होकर आठ फरवरी 2020 तक चला। इसके बीच अधिक अंक होने के बावजूद इंटरव्यू में न बुलाने के आरोप में चार अभ्यर्थियों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में याचिका दाखिल की थी। शिक्षा शास्त्र विषय में एमए और एमएड की डिग्री समतुल्य होने के विवाद के चलते रिजल्ट रूका रहा है। सुप्रीम कोर्ट के अभ्यर्थियों के पक्ष में फैसला आने के बाद रिजल्ट का रास्ता साफ हो गया। इस विषय में असिस्टेंट प्रोफेसर के 100 पद हैं। वहीं, आयोग उच्च शिक्षा निदेशालय की ओर से 2016 पदों का अधियाचन को उच्चतर शिक्षा आयोग को भेजा गया है। महिला क्षैतिज आरक्षण तय न होने के कारण विज्ञापन रूका हुआ है। सूत्रों की माने तो शासन जल्द ही इस मामले में स्थिति स्पष्ट कर सकता है। 


एनआईसी में 15 शिक्षकों को मिलेगा नियुक्ति पत्र : राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के लिए सहायक अध्यापक (एलटी ग्रेड) के लिए चयनित 15 नवनियुक्त शिक्षकों को जिलाधिकारी कैंपस स्थित एनआईसी में नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। प्रदेश की राजधानी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा चयनित 3317 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी विभागों के अध्यक्षों को निर्देश दिया था कि जिन विभागों के रिक्त पदों के अधियाचन लोक सेवा आयोग को नहीं भेजे गए हैं वे विभाग तत्काल आयोग को रिक्त पदों की जानकारी भेजें इसी सम्बंध में लोक सेवा आयोग ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर उन विभागों के नाम की जानकारी दी जिनसे रिक्त पदों पर अभी तक अधियाचन प्राप्त नहीं हुआ है। जिसमें ग्राम्य विकास विभाग, राजस्व विभाग, गृह विभाग, नगर विकास, वाणिज्य कर, वित्त सेवाए, शिक्षा, निबंधन, पंचायती राज, उपभोक्ता संरक्षण एवं बाट माप तथा वन्य एवं जीव जीव अनुभाग आदि शामिल हैं। इन विभागों से कोई भी अधियाचन चयन वर्ष 2019-20 के लिए प्राप्त नहीं हुये हैं।

No comments:
Write comments