DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़
Showing posts with label नियुक्ति पत्र. Show all posts
Showing posts with label नियुक्ति पत्र. Show all posts

Friday, November 2, 2018

फतेहपुर : शिक्षक भर्ती : 17 अभ्यर्थियों को अब तक नहीं मिले नियुक्ति पत्र, अभ्यर्थियों ने बीएसए कार्यालय में डाला डेरा

फतेहपुर : शिक्षक भर्ती : 17 अभ्यर्थियों को अब तक नहीं मिले नियुक्ति पत्र, अभ्यर्थियों ने बीएसए कार्यालय में डाला डेरा।

Friday, September 28, 2018

गोरखपुर : 68,500 शिक्षक चयन में चयनित शिक्षकों के नियुक्ति पत्र में हुई त्रुटियों में संशोधन हेतु निर्देश जारी, देखें

68,500 शिक्षक चयन में चयनित शिक्षकों के नियुक्ति पत्र में हुई त्रुटियों में संशोधन हेतु निर्देश जारी, देखें


Sunday, September 9, 2018

कौशांबी : हाथों-हाथ मांगा नियुक्ति पत्र मिली फोटो कॉपी, डाक से नियुक्ति पत्र भेजने का शिक्षकों ने किया विरोध

हाथों-हाथ मांगा नियुक्ति पत्र मिली फोटो कॉपी

शिक्षकों ने शनिवार को फिर घेरा डीएम का आवास, डाक से नियुक्ति पत्र भेजने का करते रहे सभी विरोध
368
405
19 शिक्षकों की प्रमाण पत्रों पर संदेह, रोका नियुक्ति पत्र

जासं, कौशांबी : 41556 शिक्षकों में से 405 शिक्षकों को कौशांबी में शिक्षक पद पर नियुक्ति किया जाना था। इसके लिए एक सितंबर से ही कार्रवाई चल रही है। कई दिनों से शिक्षकों के दस्तावेजों की जांच हो रही थी। 19 शिक्षकों के दस्तावेज संदिग्ध मिले हैं। उनको रोकर अन्य शिक्षकों को नियुक्ति पत्र डाक के माध्यम से भेजा जा चुका है। कौशांबी जिले में 405 शिक्षकों को तैनात किया जाना था। इसके लिए अलग-अलग चरणों में 316 व 89 शिक्षकों की सूची जिले में भेजी गई। एक सितंबर से छह सितंबर के मध्य शिक्षकों को काउंसिलिंग व विद्यालय आवंटन की प्रक्रिया चली। इस दौरान केवल 387 शिक्षक ही उपस्थित हुए। 18 शिक्षकों ने जिले में नौकरी करने को लेकर रुचि नहीं दिखाई। पांच सितंबर से ही शिक्षकों के दस्तावेजों की जांच हो रही थी। विभागीय जांच में 19 शिक्षकों के दस्तावेजों को लेकर अधिकारियों को संदेह हुआ। इसके बाद उनके नियुक्ति पत्र रोक दिया गया। शुक्रवार की रात शेष बचे 368 शिक्षकों को डाक के माध्यम से नियुक्ति पत्र भेजा जा चुका है।

जागरण संवाददाता, कौशांबी : शिक्षक डाक से नियुक्ति पत्र भेजे जाने का विरोध कर रहे हैं। वह हाथों हाथ नियुक्ति पत्र मांग रहे है। मांग को लेकर उन्होंने शनिवार को एक बार फिर डीएम आवास का घेराव किया। वहां से सभी को बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय वापस का दिया गया। शिक्षकों ने डाक से नियुक्ति पत्र मिलने में देरी होने की बात कही और शोर मचाने लगे। इसी दौरान किसी ने दूसरी प्रति देने का विकल्प दिया। जिस पर सभी को नियुक्ति पत्र की फोटो कॉपी उपलब्ध करा दी गई।

काउंसिलिंग व विद्यालय आवंटन के प्रक्रिया के बाद से ही शिक्षक बेसिक शिक्षा अधिकारी पर हाथों हाथ नियुक्ति पत्र दिए जाने का दबाव बना रहे है। अपनी इस मांग को लेकर लगातार तीन दिनों से शिक्षक प्रदर्शन करते आ रहे है। इसके बाद भी नियमों का हवाला देते हुए उनको हाथों हाथ नियुक्ति पत्र नहीं दिया। शनिवार को शिक्षकों ने एक बार फिर नियुक्ति पत्र दिए जाने का दबाव और डीएम आवास का घेराव किया। इस पर सभी को बीएसए कार्यालय भेज दिया गया। वहां उनकों बताया किया कि नियुक्ति पत्र भेजा जा चुका है। ऐसे में दोबारा नियुक्ति पत्र दिया जाना संभव नहीं है। यह नियम के भी विपरीत होगा। बीएसए से वार्ता के बाद फोटो कॉपी दिए जाने पर शिक्षक सहमत हो गए। सभी को बीएसए कार्यालय से नियुक्ति पत्र की फोटो कॉपी उपलब्ध करा दी गई। इसके बाद वह चले गए। बीएसए सत्येंद्र सिंह ने बताया कि फोटो कॉपी उनकी संतुष्टि के लिए दी गई है। बिना मूल प्रति के किसी को विद्यालय में ज्वांइन नहीं कराया जाएगा। पूर्व में कुछ शिक्षकों ने गलत पता दे दिया था। इससे फर्जी शिक्षकों की जांच में समस्या आई थी।

नियुक्ति पत्र नहीं मिलने को लेकर डीएम आवास के सामने प्रदर्शन करते शिक्षकलोगों के भेजे गए नियुक्ति पत्रको कौशांबी में होना था नियुक्तशिक्षकों से काउंसिलिंग के दौरान जो दस्तावेज जमा कराया गया था। उनकी साथ ही साथ जांच भी हो रहे थे। कुछ शिक्षकों के प्रमाण पत्र व अन्य दस्तावेज को लेकर संदेह है। इस लिए उनके नियुक्ति पत्र रोकर अन्य के जारी कर दिया गया है। सभी को शुक्रवार की रात रेलवे डाक घर इलाहाबाद से पोस्ट भी किया जा चुका है। शिक्षकों को सोमवार मंगलवार तक नियुक्ति पत्र मिल जाएगा।

सत्येंद्र सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

Saturday, September 8, 2018

फतेहपुर : नियुक्ति पत्र ने दिलाई सपनों को मंजिल, 677 महिला और दिव्यागों को बांटे गए नियुक्ति पत्र

नियुक्ति पत्र ने दिलाई सपनों को मंजिल

677 महिला व दिव्यांगों को बांटे गए नियुक्ति पत्र, 13 काउंटर बनाकर कराया गया वितरण

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : प्रशिक्षु बनकर बेरोजगारी का तमगा लिए घूम रह युवक- युवतियों के चेहरे में मुस्कान उस वक्त बढ़ गई जब हाथों में नियुक्ति पत्र आया। मन ही मन अध्यापकों ने ईश्वर को धन्यवाद दिया तो परिजनों की जुबान से निकल आया कि बिटिया की पढ़ाई लिखाई काम आ गई। राजकीय इंटर कॉलेज के कैंपस में सुबह पहर से नियुक्ति पत्र पाने के लिए मेले जैसा माहौल रहा।

लिखित परीक्षाफल के बाद गुरुजन बनने का रास्ता साफ हो गया था, असली खुशी तो तब दिखी जब शुक्रवार को हाथों में विद्यालय का नाम लिखा हुआ नियुक्ति पत्र मिला। चेहरे की रंगत व मन के भाव ऐसे बदले कि खुशी खुद ब खुद झलक आई। तपाक से मोबाइल में परिजनों को नियुक्ति पत्र मिलने की बात बताई और जिला अस्पताल जाकर मेडिकल बनाने की बात बताई। चयन समिति के दिशा निर्देश पर खंड शिक्षाधिकारी मुख्यालय राकेश सचान सुबह पहर से नियुक्ति पत्र वितरण की तैयारी में व्यस्त दिखे। सुबह 10 बजे वितरण की घोषणा के बजाए वितरण का काम दोपहर 12 बजे शुरू हो पाया। डेढ़ घंटे के समयावधि में जिले के 677 महिला एवं दिव्यांगों को 13 काउंटरों से नियुक्ति पत्र वितरित किए गए। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि शनिवार को पुरुष सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित किए जाएंगे। सभी ब्लाकों में सोमवार से नए शिक्षक-शिक्षिकाएं ज्वाइन करेंगे।

मेडिकल के लिए भीड़, अवकाश निरस्त: नव नियुक्त शिक्षक-शिक्षिकाओं को मेडिकल बनाए जाने के लिए अतिरिक्त स्टाफ की नियुक्ति की। दिनभर में 787 मेडिकल बनाने का काम हुआ। कार्यवाहक सीएमएस विवेक निगम ने बताया कि शनिवार को माह का द्वितीय शनिवार है। इस दिन अवकाश रहता है लेकिन नव नियुक्त शिक्षकों के मेडिकल बनाए जाने के काम को देखते हुए संबंधित स्टाफ का अवकाश निरस्त कर दिया गया है। शनिवार को शुक्रवार की तरह ही मेडिकल प्रमाण पत्र बनाए जाएंगे।

मास्साब का नाम सही, पिता का नाम गलत : नियुक्ति पत्र हाथ में आने के बाद खुशी से लबरेज शिक्षिकाओं के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। लेकिन पिता और पति का नाम गलत देखते ही परेशान हो उठी। गेट पर लगे सुरक्षा कर्मियों से अनुमति लेकर प्रशासनिक कक्ष में दाखिल होकर हड़बड़ी में गड़बड़ हो जाने की दिक्कत बताई। वितरण व्यवस्था देख रहे खंड शिक्षाधिकारी मुख्यालय राकेश सचान ने समस्या सुनकर समझाया कि जल्दबाजी के चक्कर में गलती हो गई है। इसे सुधार दिया जाएगा। इससे पहले वह इसी नियुक्ति पत्र के आधार पर विद्यालय जाकर ज्वाइन करें। 1तीनों ब्लाक की सभी सीटें भरीं : प्राथमिक विद्यालयों की भर्ती प्रक्रिया में महिला एवं दिव्यागों के स्कूल आवंटन पर गौर करें तो जिले के 13 ब्लाकों में देवमई, मलवां और तेलियानी में अब कोई भी शिक्षक का पद रिक्त नहीं बचा है। वितरण के बाद हुई पड़ताल में यह उजागर हो चुका है। पुरुषों के रोस्टर से विद्यालय आवंटन की प्रक्रिया में अब बचे 7 ब्लाकों में ही 1004 शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी

Friday, September 7, 2018

फतेहपुर : नियुक्ति पत्र न मिलने पर चयनित शिक्षकों ने किया हंगामा, 7 और 8 सितम्बर को बांटे जाएंगे नियुक्ति पत्र - बीएसए

जागरणजासं, फतेहपुर : प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापक पद पर चयनित शिक्षकों ने गुरुवार को प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने आरोप लगाया कि एक दिन पहले महिला एवं दिव्यांगों को नियुक्ति पत्र दिए जाने से भविष्य में वरिष्ठता सूची में इसका असर पड़ेगा। इसलिए सभी लोगों को एक साथ नियुक्ति पत्र दिए जाएं। जिससे कि एक समान वरिष्ठता नौकरी में जुड़ सके।

सहायक अध्यापकों की चयनित सूची को महिला, दिव्यांग एवं पुरुष वर्ग में बांटा गया है। सुबह पहर से बीएसए दफ्तर में पुरुष चयनित शिक्षकों का सुबह पहर से जमावड़ा लगा रहा। नियुक्ति पत्र बांटे जाने की जानकारी जुटाते रहे। बीएसए के निर्देश पर सूचना पट्ट सहित कई जगहों पर सूचना चस्पा कर दी गई। जिसमें दर्शाया गया कि महिला एवं दिव्यांगों को शुक्रवार 7 सितंबर एवं पुरुषों को 8 सितंबर को नियुक्ति पत्र दिए जाएंगे। सूचना संज्ञान में आते ही चयनित अभ्यर्थियों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया कि इससे वरिष्ठता प्रभावित होगी। बीएसए ने हंगामा काट रहे लोगों को विश्वास दिलाया लेकिन बात नहीं बनी। यह लोग पहले डायट प्रचार्य के पास पहुंचे तो उन्होंने अन्याय न होने की बात रखकर लौटा दिया तो यह लोग कलेक्ट्रेट पहुंचे और प्रदर्शन करके जिला प्रशासन को ज्ञापन दिया।

जबरिया प्रदर्शन किया: बीएसए बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि चयनित शिक्षकों को बुलाकर पूरी प्रक्रिया बता दी गई है। कि शुक्रवार और शनिवार को नियुक्ति पत्र बांटे जाएंगे। सोमवार से पहले कोई भी खंड शिक्षाधिकारी किसी को ज्वाइन नहीं कराएगा फिर वरिष्ठता कहां से प्रभावित हो जाएगी। अनावश्यक रूप से सरकारी काम प्रभावित कर रहे थे तो पुलिस बुलानी पड़ी है।कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करते चयनित शिक्षक’ जागरणअब शिक्षकों की संख्या पर्याप्त हो गई है। शैक्षिक स्तर बनाने में बहानेबाजी काम नहीं आएगी। इस जिम्मेदारी की कसौटी में सभी को खरा उतरना होगा। इसके लिए पूरे प्रयास किए जाएंगे। -शिवेंद्र प्रताप सिंह, बीएसए


जीआइसी से बांटे जाएंगे नियुक्ति पत्र



जागरण संवाददाता, फतेहपुर : जिले के प्राथमिक विद्यालयों में तैनाती पाए 1683 सहायक अध्यापकों को जीआईसी से नियुक्ति पत्र वितरित किए जाएंगे। इसके लिए बीएसए गुरुवार को तैयारियों को अंजाम देते रहे। खंड शिक्षाधिकारियों को काउंटर प्रभारी बनाकर उनके सहायक भी नियुक्त कर दिए हैं। 1सहायक अध्यापक के पद पर चयनित महिला, पुरुष एवं दिव्यांग शिक्षक-शिक्षिकाओं को नियुक्ति पत्र दिए जाने के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया है। जिले के 13 ब्लाकों के अलग अलग काउंटर उसी तर्ज पर लगाए जाएंगे जिसमें काउंसिलिंग काउंटर बनाया गया था।


 राजकीय इंटर कॉलेज की नई बिलिं्डग में नियुक्ति पत्र वितरण का जिम्मा खंड शिक्षाधिकारियों को बनाकर दिया गया है। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि 7 सितंबर को महिला एवं दिव्यांग तथा 8 सितंबर को पुरुष वर्ग के नियुक्ति पत्र वितरित किए जाएंगे। सुबह 10 बजे ब्लाक के काउंटर में पहुंच कर चयनित शिक्षक-शिक्षिकाएं नियुक्ति पत्र पा सकेंगे।


Wednesday, September 5, 2018

फतेहपुर : निःशक्त, महिला शिक्षकों को स्कूल आवंटन आज, तैयारी पूरी, दो सौ शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिलाने बीएसए बसों से ले गए लखनऊ

फतेहपुर : निःशक्त, महिला शिक्षकों को स्कूल आवंटन आज, तैयारी पूरी, दो सौ शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिलाने बीएसए बसों से ले गए लखनऊ।