DISTRICT WISE NEWS

अंबेडकरनगर अमरोहा अमेठी अलीगढ़ आगरा आजमगढ़ इटावा इलाहाबाद उन्नाव एटा औरैया कन्नौज कानपुर कानपुर देहात कानपुर नगर कासगंज कुशीनगर कौशांबी कौशाम्बी गाजियाबाद गाजीपुर गोंडा गोण्डा गोरखपुर गौतमबुद्ध नगर गौतमबुद्धनगर चंदौली चन्दौली चित्रकूट जालौन जौनपुर ज्योतिबा फुले नगर झाँसी झांसी देवरिया पीलीभीत फतेहपुर फर्रुखाबाद फिरोजाबाद फैजाबाद बदायूं बरेली बलरामपुर बलिया बस्ती बहराइच बागपत बाँदा बांदा बाराबंकी बिजनौर बुलंदशहर बुलन्दशहर भदोही मऊ मथुरा महराजगंज महोबा मिर्जापुर मीरजापुर मुजफ्फरनगर मुरादाबाद मेरठ मैनपुरी रामपुर रायबरेली लखनऊ लख़नऊ लखीमपुर खीरी ललितपुर वाराणसी शामली शाहजहाँपुर श्रावस्ती संतकबीरनगर संभल सहारनपुर सिद्धार्थनगर सीतापुर सुलतानपुर सुल्तानपुर सोनभद्र हमीरपुर हरदोई हाथरस हापुड़

Friday, October 9, 2020

गोण्डा : बेसिक शिक्षा विभाग में फिर मिले 8 फर्जी शिक्षक‚ हुए बर्खास्त

गोण्डा : बेसिक शिक्षा विभाग में फिर मिले 8 फर्जी शिक्षक‚ हुए बर्खास्त


09 Oct 2020
गोण्ड़ा । बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जी भर्तियों के खुलासे का सिलसिला लगातार जारी है। गुरुûवार को फिर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने ऐसे 8 शिक्षकों को बर्खास्त किये जाने का आदेश दे दिया‚ जिनके सत्यापन में पता सही नहीं मिला। ऐसे शिक्षक तैनाती वाले विद्यालयों में भी लगातार अनुपस्थित चल रहे हैं। 


बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़़ा करते हुए शिक्षक की नौकरी हासिल करने वालों की एक लम्बी फेहरिस्त तैयार होती जा रही है। कुछ वर्ष से ऐसे शिक्षकों के अभिलेखों व पते का सत्यापन शुरू हुआ‚ तो लगातार गड़़बडि़़यां सामने आ रही हैं। गुरुûवार को बीएसए ड़ा. इन्द्रजीत प्रजापति ने बताया कि शिक्षा क्षेत्र मुजेहना के प्राथमिक विद्यालय त्रिभुवन नगर ग्रंट में देवेन्द्र प्रताप सिंह 2016 में तैनात किये गये थे। मानव संपदा पोर्टल पर जब उनसे सम्बन्धित जानकारी फीड़ की जाने लगी‚ तो उनकी नियुक्ति फिरोजाबाद जनपद में पायी गयी। विभाग द्वारा रजिस्टर्ड़ ड़ाक से उनके पते का सत्यापन किया गया‚ तो वह भी सही नहीं पाया गया। 


वहीं फिरोजाबाद के ही निवासी कविराज विमल की नियुक्ति शिक्षा क्षेत्र बभनजोत के प्राथमिक विद्यालय केशवनगर ग्रंट में 2016 में हुई थी‚ कविराज विमल को भी कई बार विभाग द्वारा उपस्थित होकर साIय प्रस्तुत करने को कहा गया‚ लेकिन न तो वे उपस्थित हुए और न ही उनके मूल निवास के पते की पुष्टि हुई। 


इसी प्रकार विकास खंड़ हलधरमऊ के प्राथमिक विद्यालय सेल्हरी में तैनात अमित कुमार वर्ष 2017 से लगातार अनुपस्थित हैं। खंड़ शिक्षा अधिकारी हलधरमऊ द्वारा उनकी लगातार अनुपस्थिति की सूचना विभाग को दी गयी तथा रजिस्टर्ड़ ड़ाक से उनके मूल पते पर संपर्क करने का प्रयास किया गया‚ लेकिन अमित कुमार उपस्थित नहीं हुए। 


शिक्षा क्षेत्र छपिया के प्राथमिक विद्यालय सिकरी तप्पाकोट में तैनात विनोद यादव के भी लगातार विद्यालय से अनुपस्थित होने की रिपोर्ट खंड़ शिक्षा अधिकारी द्वारा दी गयी। विनोद यादव का भी मूल पता फर्जी पाया गया।


 नवाबगंज के प्राथमिक विद्यालय कोल्हनपुर विशेन में तैनात सहायक अध्यापिका नेहा गर्ग 14 जनवरी 2020 से लगातार अनुपस्थित हैं‚ प्रसूता अवकाश पर जाने के बाद से उन्होंने विद्यालय से कोई संपर्क स्थापित नहीं किया। विभाग द्वारा स्पष्टीकरण व साIय देने की नोटिस दी गयी‚ जिस पर भी उनकी ओर से कोई जवाब नहीं मिला। 


शिक्षा क्षेत्र के हलधरमऊ के प्राथमिक विद्यालय मुरावन पुरवा में नियुक्ति अनिल कुमार वर्ष 2018 से लगातार अनुपस्थित रहने के कारण नो वर्क–नो पे के सिद्धान्त पर विभाग द्वारा नोटिस दी गयी‚लेकिन उनकी ओर से भी कोई जवाब नहीं दिया गया। शिक्षा क्षेत्र वजीरगंज के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नियामतपुर में सहायक अध्यापक नरेन्द्र सिंह भी लगातार वर्ष 2019 से अनुपस्थित हैं। विभाग द्वारा उन्हे सेवापुस्तिका में अंकित पते पर नोटिस दी गयी‚ लेकिन अधूरे पते के चलते रजिस्ट्री वापस आ गयी। ॥ बीएसए ड़ा. इन्द्रजीत प्रजापति ने शिक्षकों के पते का सत्यापन कराने के बाद की कार्रवाई॥

No comments:
Write comments